Submit your post

Follow Us

MBA कपल स्टेशन के बाहर ठेला क्यों लगाता है, वजह जानकर चेहरे पर मुस्कान आ जाएगी

5
शेयर्स

सोशल मीडिया पर एक पोस्ट वायरल हो रही है. मुंबई की दीपाली भाटिया की. पोस्ट पढ़कर आपके चेहरे पर मुस्कान ख़ुद-ब-ख़ुद तैर जाती है. ये पोस्ट ऐसा है कि आपका दिन बना दे. दीपाली ने जो कहानी सुनाई है वो कम कही सुनी जाती है. ये वो कहानियां हैं जो इंसान के इंसान होने को मायने देती हैं. ख़ुद के लिए जिए तो क्या जिए? दीपाली बताती हैं कि क्यों एक पति-पत्नी जो अच्छा ख़ासा कमाते हैं वो रोज़ दफ़्तर जाने से पहले नाश्ते की टपरी लगाते हैं. क्यों लगाते हैं? यही बात आपके मुस्कुराने की वजह बनेगी.

दीपाली भाटिया ने दो अक्टूबर को फेसबुक पर एक पोस्ट डाला. उन्होंने लिखा,

मुंबई की भागती-दौड़ती दुनिया में, जहां हमारे पास रुक कर सोचने के लिए वक्त नहीं हैं. यहां दो ऐसे सुपर हीरो हैं, जो खुद से ज्यादा किसी और के लिए सोचते हैं. 2 अक्टूबर की सुबह हम अच्छे खाने की तलाश में कांदिवली स्टेशन के बाहर पहुंचे. हम एक छोटे से स्टॉल पर गए. यहां पोहा, उपमा, पराठे, इडली बिक रही थी. स्टॉल लगाने वाला कपल गुजराती परिवार से लग रहा था. कुछ खाने के बाद मैंने बातचीत शुरू की. पता चला कि उनका नाम अंकुश आगम शाह और अश्वनी शिनॉय शाह है. मैंने उनसे पूछा कि वे इस तरह सड़क पर फूड कैसे बेच रहे हैं? उन्होंने जो बताया उसे सुनकर मैं बहुत खुश हुई.

दीपाली ने आगे लिखा,

कपल बहुत अच्छे परिवार से है. दोनों एमबीए हैं. नौकरी करते हैं. ये कपल सुबह 4 बजे से 10 बजे तक यहां स्टॉल लगाता है.वो इसलिए कि उनके यहां जो खाना बनाने वाली अम्मा आती हैं वो 55 साल की हैं. पति लकवे के शिकार हैं. पैसों की कमी के चलते वो अपने पति का इलाज नहीं करा पा रही थीं. ऐसे में कपल ने उनकी मदद करने की सोची. और कांदिवली स्टेशन के बाहर स्टॉल लगाना शुरू किया. वे यहां अम्मा के बनाए समान बेचते हैं. और इस पैसे से उनकी मदद करते हैं. सुबह स्टॉल लगाते हैं फिर ऑफिस के लिए निकल जाते हैं.

दीपाली ने लिखा कि अंकुश आगम शाह और अश्वनी शिनॉय शाह जैसे लोगों को सलाम. जो कई लोगों के लिए सच्चे हीरो हैं.


दीपाली ने ये पोस्ट दो अक्टूबर को शेयर की थी. इस दिन राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जयंती मनाई गई. 4 अक्टूबर को खबर लिखे जाने तक इस पोस्ट को 15 हजार लोग लाइक कर चुके हैं. 1800 कमेंट इस पोस्ट पर आ चुके हैं. पांच हजार से ज्यादा बार यह पोस्ट शेयर हो चुकी हैं. हर कोई इस कपल की तारीफ कर रहा है. दुआएं दे रहा है.

इस तरह के लोगों की कहानियां सामने आनी चाहिए. ताकि इंसानियत पर भरोसा बना रहे. उम्मीदें बरकरार रहें.


दिल्ली में 2008 के बाद खुले सारे जिम, योगा और फिटनेस सेंटर बंद क्यों हो रहे हैं?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

10 नंबरी

बॉर्डर: एक ऐसी फिल्म जो देशभक्ति का दूसरा नाम बन गई

फिल्म के बीस डायलॉग जिन्हें आज भी याद किया जाता है.

सैनिकों के लिए फिल्में भारत में सिर्फ ये एक आदमी बनाता है

1962, 1971 और 1999 के वॉर पर उन्होंने फिल्में बनाईं. आज हैप्पी बड्डे है.

क्या काम कर पाएगा 'दबंग 3' को प्रमोट करने का ये तिकड़म?

'दबंग 3' को सलमान खान नहीं ये प्रमोट करेंगे.

विकी कौशल के छोटे भाई की आने वाली फिल्म का शाहरुख़-सलमान से क्या कनेक्शन है?

सनी कौशल की 'भंगड़ा पा ले' पंजाब में खूब चल सकती है.

रानी की 'मर्दानी 2' तो बाद में आएगी, इसका ये डायलॉग अभी से सुपरहिट हो गया

'मर्दानी 2' के इस पहले वीडियो को देखकर दो बातें याद रह जाएंगी.

कोई नहीं कह सकता कि वो ऋषिकेश मुखर्जी से महान फ़िल्म निर्देशक है

ऋषि दा और उनकी फिल्मों की ये 8 बातें सबको जाननी चाहिए. आज ही के दिन पैदा हुए थे.

वो लैजेंड एक्टर महमूद, जिसने राजेश खन्ना को थप्पड़ लगाकर स्टारपना निकाल दिया था

जो खुद को अमिताभ बच्चन का दूसरा बाप कहता था.

ए.आर रहमान के हीरो की तुलना फिल्म रिलीज़ होने से पहले ही सलमान खान के साथ क्यों हो रही है?

रहमान ने इस लड़के से जितनी मेहनत फिल्म से पहले करवा दी है, वो सुनकर बाकी स्टार्स को तारे नज़र आने लगेंगे.

कौन हैं रितेश अग्रवाल जो इतनी कम उम्र में 7500 करोड़ के मालिक बन गए

सोचिए सबसे अमीर भारतीय कौन है?

बर्थडे: इन 5 चीजों के लिए देश मनमोहन सिंह को थैंक्यू बोलेगा

मनमोहन सिंह के पास जब मंत्री बनने की खबर आई तो इनको लगा कि मजाक है...