Submit your post

Follow Us

MBA कपल स्टेशन के बाहर ठेला क्यों लगाता है, वजह जानकर चेहरे पर मुस्कान आ जाएगी

सोशल मीडिया पर एक पोस्ट वायरल हो रही है. मुंबई की दीपाली भाटिया की. पोस्ट पढ़कर आपके चेहरे पर मुस्कान ख़ुद-ब-ख़ुद तैर जाती है. ये पोस्ट ऐसा है कि आपका दिन बना दे. दीपाली ने जो कहानी सुनाई है वो कम कही सुनी जाती है. ये वो कहानियां हैं जो इंसान के इंसान होने को मायने देती हैं. ख़ुद के लिए जिए तो क्या जिए? दीपाली बताती हैं कि क्यों एक पति-पत्नी जो अच्छा ख़ासा कमाते हैं वो रोज़ दफ़्तर जाने से पहले नाश्ते की टपरी लगाते हैं. क्यों लगाते हैं? यही बात आपके मुस्कुराने की वजह बनेगी.

दीपाली भाटिया ने दो अक्टूबर को फेसबुक पर एक पोस्ट डाला. उन्होंने लिखा,

मुंबई की भागती-दौड़ती दुनिया में, जहां हमारे पास रुक कर सोचने के लिए वक्त नहीं हैं. यहां दो ऐसे सुपर हीरो हैं, जो खुद से ज्यादा किसी और के लिए सोचते हैं. 2 अक्टूबर की सुबह हम अच्छे खाने की तलाश में कांदिवली स्टेशन के बाहर पहुंचे. हम एक छोटे से स्टॉल पर गए. यहां पोहा, उपमा, पराठे, इडली बिक रही थी. स्टॉल लगाने वाला कपल गुजराती परिवार से लग रहा था. कुछ खाने के बाद मैंने बातचीत शुरू की. पता चला कि उनका नाम अंकुश आगम शाह और अश्वनी शिनॉय शाह है. मैंने उनसे पूछा कि वे इस तरह सड़क पर फूड कैसे बेच रहे हैं? उन्होंने जो बताया उसे सुनकर मैं बहुत खुश हुई.

दीपाली ने आगे लिखा,

कपल बहुत अच्छे परिवार से है. दोनों एमबीए हैं. नौकरी करते हैं. ये कपल सुबह 4 बजे से 10 बजे तक यहां स्टॉल लगाता है.वो इसलिए कि उनके यहां जो खाना बनाने वाली अम्मा आती हैं वो 55 साल की हैं. पति लकवे के शिकार हैं. पैसों की कमी के चलते वो अपने पति का इलाज नहीं करा पा रही थीं. ऐसे में कपल ने उनकी मदद करने की सोची. और कांदिवली स्टेशन के बाहर स्टॉल लगाना शुरू किया. वे यहां अम्मा के बनाए समान बेचते हैं. और इस पैसे से उनकी मदद करते हैं. सुबह स्टॉल लगाते हैं फिर ऑफिस के लिए निकल जाते हैं.

दीपाली ने लिखा कि अंकुश आगम शाह और अश्वनी शिनॉय शाह जैसे लोगों को सलाम. जो कई लोगों के लिए सच्चे हीरो हैं.


दीपाली ने ये पोस्ट दो अक्टूबर को शेयर की थी. इस दिन राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जयंती मनाई गई. 4 अक्टूबर को खबर लिखे जाने तक इस पोस्ट को 15 हजार लोग लाइक कर चुके हैं. 1800 कमेंट इस पोस्ट पर आ चुके हैं. पांच हजार से ज्यादा बार यह पोस्ट शेयर हो चुकी हैं. हर कोई इस कपल की तारीफ कर रहा है. दुआएं दे रहा है.

इस तरह के लोगों की कहानियां सामने आनी चाहिए. ताकि इंसानियत पर भरोसा बना रहे. उम्मीदें बरकरार रहें.


दिल्ली में 2008 के बाद खुले सारे जिम, योगा और फिटनेस सेंटर बंद क्यों हो रहे हैं?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

10 नंबरी

इबारत : शरद जोशी की वो 10 बातें जिनके बिना व्यंग्य अधूरा है

आज शरद जोशी का जन्मदिन है.

इबारत : सुमित्रानंदन पंत, वो कवि जिसे पैदा होते ही मरा समझ लिया था परिवार ने!

इनकी सबसे प्रभावी और मशहूर रचनाओं से ये हिस्से आप भी पढ़िए

गिरीश कर्नाड और विजय तेंडुलकर के लिखे वो 15 डायलॉग, जो ख़ज़ाने से कम नहीं!

आज गिरीश कर्नाड का जन्मदिन और विजय तेंडुलकर की बरसी है.

पाताल लोक की वो 12 बातें जिसके चलते इस सीरीज़ को देखे बिन नहीं रह पाएंगे

'जिसे मैंने मुसलमान तक नहीं बनने दिया, आप लोगों ने उसे जिहादी बना दिया.'

ऑनलाइन देखें वो 18 फ़िल्में जो अक्षय कुमार, अजय देवगन जैसे स्टार्स की फेवरेट हैं

'मेरी मूवी लिस्ट' में आज की रेकमेंडेशन है अक्षय, अजय, रणवीर सिंह, आयुष्मान, ऋतिक रोशन, अर्जुन कपूर, काजोल जैसे एक्टर्स की.

कैरीमिनाटी का वीडियो हटने पर भुवन बाम, हर्ष बेनीवाल और आशीष चंचलानी क्या कह रहे?

कैरी के सपोर्ट में को 'शक्तिमान' मुकेश खन्ना भी उतर आए हैं.

वो देश, जहां मिलिट्री सर्विस अनिवार्य है

क्या भारत में ऐसा होने जा रहा है?

'हासिल' के ये 10 डायलॉग आपको इरफ़ान का वो ज़माना याद दिला देंगे

17 साल पहले रिलीज़ हुई इस फ़िल्म ने ज़लज़ला ला दिया था

4 फील गुड फ़िल्में जो ऑनलाइन देखने के बाद दूसरों को भी दिखाते फिरेंगे

'मेरी मूवी लिस्ट' में आज की रेकमेंडेशंस हमारी साथी स्वाति ने दी हैं.

आर. के. नारायण, जिनका लिखा 'मालगुडी डेज़' हम सबका नॉस्टैल्जिया बन गया

स्वामी और उसके दोस्तों को देखते ही बचपन याद आता है