Submit your post

Follow Us

26/11 अटैक में शहीद मेजर संदीप पर बनी फिल्म के टीज़र की सबसे रोचक बात पता है आपको?

‘मेजर’ फ़िल्म का टीज़र आया है. ये फ़िल्म 26/11 अटैक में शहीद हुए मेजर संदीप उन्नीकृष्णन की बायोपिक है. क्या हैं ‘मेजर’ के टीज़र की ख़ास बातें आइए जानते हैं.

#स्टोरी

फ़िल्म में मेजर संदीप उन्नीकृष्णन के बचपन से लेकर 26/11 हमले में बहादुरी से लड़ते हुए शहीद होने तक की कहानी है. संदीप का जन्म बेंगलुरु के एक मलयाली परिवार में हुआ था. उनके माता-पिता दोनों ही ISRO में उच्च पदों पर पोस्टेड थे. संदीप को बचपन से ही आर्मी में जाने का मन था. पढाई पूरी कर 1999 में संदीप आर्मी में लेफ्टेनेंट के पद पर भर्ती हुए थे. भर्ती के कुछ समय बाद ही संदीप ने कारगिल युद्ध में जबरदस्त कौशल दिखाया था. इस युद्ध के कुछ सालों बाद ही उन्हें कैप्टन और बाद में मेजर की रैंक सौंप दी गई थी. आने वाले सालों में कश्मीर, गुजरात, सियाचिन जैसी जगहों पर भी संदीप ने कुछ वर्ष गुज़ारे. इसके बाद संदीप का चयन नेशनल सिक्योरिटी गार्ड फ़ोर्स में हो गया. जिसके कुछ दिन बाद ही वो 51 SAG में ट्रेनिंग ऑफिसर के पद पर लग गए.  26/11 को मेजर संदीप 51 SAG के टीम कमांडर थे. जहां उन्होंने अपनी टीम को खतरे में ना डालते हुए अकेले ही चार-चार आतंकवादियों को चित करते हुए शहादत दी थी. उनकी बहादुरी का अनुमान उनके अंतिम शब्दों से साफ़ लगाया जा सकता है जो ‘मेजर’ के टीज़र में भी सुनाई पड़ते हैं’.

“Do not come up, I will handle them”

मेजर संदीप उन्नीकृष्णन ने अपने शौर्य का परिचय देते 26/11 अकेले ही कई आतंवादियों का मुकाबला किया था.
मेजर संदीप उन्नीकृष्णन ने अपने शौर्य का परिचय देते 26/11 अकेले ही कई आतंवादियों का मुकाबला किया था.

#टीज़र कैसा है

26/11 हमले को कई बार होटल मुंबई’,’द अटैक्स ऑफ़ 26/11′ जैसी कई फ़िल्मों में ताज होटल स्टाफ़, पुलिस वालों के नज़रिए से दिखाया गया है. अमेज़न पर जल्द ही ‘मुंबई डायरीज़’ सीरीज 26/11 को डॉक्टर्स के नज़रिए से बतलाने भी आ रही है. मगर ‘मेजर’ में 26/11 हमले को पहली बार मेनस्ट्रीम में एक कमांडो की नज़र से दिखाया जाएगा. फ़िल्म का मेन फोकस मेजर संदीप रहेंगे. फ़िल्म उनके बचपन से शुरू होकर, उनके निजी जीवन से होते हुए, 26/11 को ‘ऑपरेशन टोर्नेडो’ में उन्होंने कैसे आतंकवादियों का सामने करते हुए प्राण गंवाए उसे दिखलाएगी.

वैसे तो टीज़र में जितना दिखा उस हिसाब से ‘मेजर’ इंट्रेस्टिंग फ़िल्म लग रही है. जो माइनर कमी निकल कर आती है वो ये है कि एक्शन सीन्स में स्टंट उतने स्मूथ नहीं लगते. साफ़ मालूम पड़ता है कि एक्टर हारनैस से बंधा है. कुछ जगह एक्शन रियल कम ड्रामेटाइज्ड ज्यादा दिखता है. अगर ये छुटपुट कमियां नज़रंदाज़ करें तो, ‘मेजर’ का इंतज़ार करना टोटल वर्थ इट है.

अगर एक्शन ओवर दी टॉप होने की बजाय रियल रहता जो ज्यादा लगता.
अगर एक्शन ओवर दी टॉप होने की बजाय रियल रहता जो ज्यादा अच्छा लगता.

#फ़िल्म की कास्ट

मेजर संदीप की मुख्य भूमिका में अदिवी सेष हैं. यहां अदिवी इस रोल के लिए एक परफेक्ट कास्टिंग हैं. क्यूंकि अदिवी का चेहरा बहुत हद तक मेजर संदीप से मेल खाता है. मेजर संदीप के लव इंटरेस्ट के किरदार में सई मांजरेकर हैं. जिन्होंने ‘दबंग 3’ से सलमान खान के अपोजिट डेब्यू किया था. मेजर संदीप के पिता की भूमिका प्रकाश राज निभा रहे हैं. और मेजर संदीप की मां के रोल को अदा कर रही हैं रेवथी. इन्हें आपने ‘2 स्टेट्स’ में आलिया भट्ट के माँ के रोल में देख रखा होगा. इन मुख्य किरदारों के अलावा मुरली शर्मा ,शोभिता धूलिपाला भी फ़िल्म में आपको नज़र आएंगे.

रेवाथी जी मेजर संदीप की मां के रोल को अदा कर रही हैं.
रेवाथी जी मेजर संदीप की मां के रोल को अदा कर रही हैं.

#डायरेक्टर-रायटर

‘मेजर’ को डायरेक्ट किया है शशि किरन टिक्का ने. और इस फ़िल्म को लिखा खुद अदिवी सेष ने है. शशि की ‘मेजर’ से पहले 2018 में फ़िल्म आई थी ‘गूदाचारी’. इस फ़िल्म में भी मुख्य भूमिका में अदिवी थे. ‘मेजर’ की तरह ‘गूदाचारी’ को भी अदिवी ने ही लिखा था. अदिवी की पहली फ़िल्म ‘कर्मा’ में भी शशि किरन डायरेक्शन टीम का हिस्सा थे. वहीँ पर इन दोनों की दोस्ती हुई थी. ‘मेजर’ के निर्माता खुद साउथ के स्टार महेश बाबू हैं. महेश ये फ़िल्म सोनी पिक्चर्स के साथ मिलकर प्रड्यूस कर रहे हैं.

#रिलीज़ डेट

‘मेजर’ 2 जुलाई को देशभर के सिनेमाघरों में रिलीज़ होगी. ये फ़िल्म तेलुगु, हिंदी और मलयालम भाषा में भी रिलीज़ की जाएगी. सोशल मीडिया पर सलमान खान ने भी फ़िल्म का टीज़र शेयर करते हुए खूब तारीफ़ की है.


ये स्टोरी दी लल्लनटॉप में इंटर्नशिप कर रहे शुभम ने लिखी है.


वीडियो: ‘स्पाइडरमैन’ वाले एक्टर जेम्स फ्रेंको की को-स्टार ने उन्हें दरिंदा क्यों कहा?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

10 नंबरी

अप्रैल-मई में ये 16 धुआंधार फिल्में और वेब सीरीज़ ऑनलाइन आ रही हैं

बस कैलेंडर मार्क कर लीजिए.

10 साल बीते, अब कहां हैं अन्ना आंदोलन और इंडिया अगेंस्ट करप्शन की नींव रखने वाले चेहरे

कोई CM बन गया, कोई सब कुछ छोड़कर कॉर्पोरेट जॉब कर रहा.

मुख्तार अंसारी तो बांदा जेल पहुंच रहे हैं, लेकिन यूपी के बाकी चर्चित कैदी कहां हैं?

आजम खान से लेकर अतीक अहमद तक, सबके बारे में जानिए.

मार्च में जो धुरंधर स्मार्टफ़ोन लॉन्च हुए, उनमें ये खूबियां और ये कमियां हैं

कीमत, फीचर यहीं कंपेयर करके तय कर लीजिए ये फोन लेकर घाटे में तो नहीं रहेंगे.

अप्रैल में कौन-कौन से स्मार्टफ़ोन देश में लॉन्च होने वाले हैं?

सैमसंग से लेकर नोकिया, रियलमी से लेकर शाओमी भी लाइन में हैं.

IPL में कप्तान बदलने और ना बदलने वाली टीमों का कितना फायदा-नुकसान हुआ?

कप्तान बदलकर जीतने का क्या चांस होता है, जान लो.

Gmail के ये 5 फीचर जान लेंगे तो आप ईमेल के खेल में अलग ऊंचाई पर पहुंच जाएंगे!

जीमेल के ये फीचर कम इस्तेमाल किए जाते हैं, मगर हैं बड़े काम के

रॉकेट्री ट्रेलर: उस साइंटिस्ट की कहानी, जिसे उसकी देशभक्ति की सज़ा मिली

हिंदी सिनेमा के 'मैडी' यानी आर माधवन की लिखी और डायरेक्ट की हुई पहली फिल्म का ट्रेलर कैसा है?

इस अप्रैल फ़ूल पर फूल बनाने के चार धांसू तरीके सीख लीजिए

कसम से, फूल ही बनाना सिखा रहे हैं. This is not a drill.

'April Fool' के अलावा 1 अप्रैल को इन वजहों के लिए भी याद रखना

इस दिन दुनिया को और भी बहुत कुछ मिला है.