Submit your post

Follow Us

सैफ अली खान की वो फिल्म, जिसका इंतज़ार 'सेक्रेड गेम्स' से दुगनी बेसब्री से किया जाना चाहिए

674
शेयर्स

‘सेक्रेड गेम्स’ के सीज़न 2 की वजह से सैफ अली खान पिछले कुछ समय से लगातार चर्चा में थे. 15 अगस्त को सीरीज़ के नेटफ्लिक्स पर फायर होने के ठीक अगले दिन सैफ की ओर से पब्लिक के लिए एक और सरप्राइज़ आया. ये सरप्राइज़ है उनकी आने वाली फिल्म ‘लाल कप्तान’ का टीज़र. और यकीन मानिए ये टीज़र ‘सेक्रेड गेम्स’ से कहीं ज़्यादा एक्साइटिंग और इंट्रेस्टिंग लग रहा है. हमें ऐसा क्यों लग रहा है, इसके पीछे की वजह हम आपको नीचे बता रहे हैं.

1) शुरुआत टीज़र से करते हैं. इस क्लिप में सैफ एक नागा साधु के किरदार में नज़र आ रहे हैं, जो अपने माथे पर राख मल रहा है. साथ ही जब वो कैमरे की ओर घूरते हैं तो नेपथ्य से सैफ की ही आवाज़ में- ‘हर राम का अपना रावण, हर रावण का अपना दशहरा’ सुनने को मिलता है. इसे सुनकर फिल्म से काफी सीरियस एंटरटेमेंट की उम्मीद जाग रही है. और सैफ से भी एक्सपेक्टेशन बढ़ रही है. साथ ही ये बात भी क्लीयर हो रही है कि फिल्म का दशहरा से कुछ तगड़ा कनेक्शन है. फिल्म का टीज़र आप नीचे देख सकते हैं:

me>

2) जहां तक फिल्म की कहानी का सवाल है, तो ये एक पीरियड ड्रामा बताई जा रही है. 1780 के दौर के राजस्थान में सेट. ये दो भाइयों के बदले की कहानी है, जिनमें से एक नागा साधु है. इसी नागा के हाथों के एक ब्रिटिश अफसर की मौत हो जाती है और कहानी अपना रंग बदलना शुरू कर देती है. बाकी क्या और कैसे होता है, इस मामले में क्लैरिटी के लिए हमें फिल्म के ट्रेलर का इंतज़ार करना चाहिए.

'लाल कप्तान' का शुरुआती पोस्टर.
‘लाल कप्तान’ का शुरुआती पोस्टर में सैफ अली खान.

3) इस फिल्म में सैफ अली खान के साथ दीपक डोबरियाल (तनु वेड्स मनु), मानव विज (अंधाधुन), सौरभ सचदेवा (मनमर्ज़ियां) और ज़ोया हुसैन (मुक्काबाज़) जैसे एक्टर्स भी नज़र आएंगे. सैफ और दीपक इससे पहले ‘ओमकारा’ और ‘कालाकांडी’ जैसी फिल्मों में साथ काम कर चुके हैं. दूसरी ओर सौरभ सचदेवा सैफ की वेब सीरीज़ ‘सेक्रेड गेम्स’ में सुलेमान इसा के रोल में दिखाई आ रहे हैं.

फिल्म 'ओमकारा' के एक सीन में सैफ अली खान के किरदार लंगड़ा त्यागी के साथ बैठा रज्जो यानी दीपक का कैरेक्टर.
फिल्म ‘ओमकारा’ के एक सीन में सैफ अली खान के किरदार लंगड़ा त्यागी के साथ बैठा रज्जो यानी दीपक का कैरेक्टर.

4) इस फिल्म को डायरेक्ट किया है नवदीप सिंह ने. नवदीप ने 2007 में आई अभय देओल और राइमा सेन स्टारर फिल्म ‘मनोरमा सिक्स फीट अंडर’ से डायरेक्शन में कदम रखा था. इसके बाद उन्होंने अनुष्का शर्मा के प्रोडक्शन में उन्हें लेकर ‘एनएच 10’ जैसी शानदार थ्रिलर डायरेक्ट कर चुके हैं. अब वो सैफ के साथ ‘लाल कप्तान’ लेकर आ रहे हैं.

फिल्म 'एनएच 10' के एक सीन में अनुष्का शर्मा और दूसरी ओर फिल्म के डायरेक्टर नवदीप सिंह.
फिल्म ‘एनएच 10’ के एक सीन में अनुष्का शर्मा और दूसरी ओर फिल्म के डायरेक्टर नवदीप सिंह.

5) इस फिल्म के नाम को लेकर भी मार्केट में बहुत सारी अफवाहें चल रही थीं. पहले बताया कि इस फिल्म को ‘हंटर’ बुलाया जाएगा. फिर ‘दशहरा’ और ‘कप्तान’ जैसे नाम भी सामने आए. फाइनली इसे ‘लाल कप्तान’ नाम दिया गया. फिल्म की शूटिंग पूरी हो चुकी है और 6 सितंबर को रिलीज़ भी होने वाली थी. लेकिन सैफ के जन्मदिन के मौके पर रिलीज़ किए गए इस टीज़र में बताया जा रहा है कि फिल्म दशहरा के मौके पर यानी 11 अक्टूबर को रिलीज़ होगी.


वीडियो देखें: ड्रीम गर्ल का ट्रेलर देखकर लगता है कि आयुष्मान खुराना इस फिल्म में नई छाप छोड़ने वाले हैं

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

पोस्टमॉर्टम हाउस

मरजावां: मूवी रिव्यू

‘परिंदा’, ‘ग़ुलाम’, ’देवदास’, ‘अग्निपथ’, ‘कयामत से कयामत तक’, ‘गजनी’, ‘काबिल’, ‘लावारिस’ और ‘केजीएफ’ जैसी ढेरों मूवीज़ की याद दिलाती है मरजावां.

फिल्म रिव्यू: मोतीचूर चकनाचूर

आप पैसे खर्च करके सिर्फ हंसने नहीं जा सकते, साथ में कुछ चाहिए होता है, जो ये फिल्म नहीं देती.

बाला: मूवी रिव्यू

'आज खुशी का दिन है आया बिल्कुल लल्लनटॉप. सोडा, पानी, नींबू के साथ क्या पिएंगे आप?'

फिल्म रिव्यू: सैटेलाइट शंकर

ये फिल्म एक एक्सपेरिटमेंट टाइप कोशिश है, जो सफलता और असफलता के बीच सिर्फ कोशिश बनकर रह जाती है.

अपने डबल स्टैंडर्ड पर एक बार फिर ट्रोल हो गई हैं प्रियंका चोपड़ा

लोग उन्हें उनकी पुरानी बातें याद दिला रहे हैं.

उजड़ा चमन : मूवी रिव्यू

रिव्यू पढ़कर जानिए ‘मास्टरपीस’ और ‘औसत’ के बीच का क्या अंतर होता है.

फिल्म रिव्यू: टर्मिनेटर - डार्क फेट

नया कुछ नहीं लेकिन एक्शन से पैसे वसूल हो जाएंगे.

इस एक्टर ने फिल्म देखने गई फैमिली को सिनेमाघर में हैरस किया, वो भी गलत वजह से

इतनी बद्तमीजी करने के बावजूद ये लोग थिएटर में 'भारत माता की जय' का जयकारा लगा रहे थे.

हाउसफुल 4 : मूवी रिव्यू

दिवाली की छुट्टियां. एक हिट हो चुकी फ़्रेन्चाइज़ की चौथी क़िस्त. अक्षय कुमार जैसा सुपर स्टार और कॉमेडी नाम की विधा.

फिल्म रिव्यू: मेड इन चाइना

तीन घंटे से कुछ छोटी फिल्म सेक्स और समाज से जुड़ी हर बड़ी और ज़रूरी बात आप तक पहुंचा देना चाहती है. लेकिन चाहने और होने में फर्क होता है.