Submit your post

Follow Us

फ़िल्म 'लाल कप्तान' की 6 ज़रूरी बातेंः सैफ का कैरेक्टर कहानी में नागा साधु क्यों बनता है?

217
शेयर्स

पिछले कुछ दिनों से सैफ फिर चर्चा में बने हुए हैं. पहले नेटफ्लिक्स की सीरीज़ ‘सेक्रेड गेम्स’ के आने वाले सीज़न 2 की वजह से. फिर अरबाज़ खान के शो ‘पिंच’ में आकर नई-नवेली बातें बताने की वजह से. और अब अपनी एक आने वाली फिल्म की वजह से. इस फिल्म में सैफ अली खान एक नागा साधु का रोल करने वाले हैं. फिल्म का नाम, पहला पोस्टर और रिलीज़ डेट भी आ गए हैं.

ट्रेड एनेलिस्ट तरण आदर्श ने इन्हें ट्वीट किया है.

फिल्म का नाम ‘लाल कप्तान’ है और ये रिलीज़ 6 सितंबर को हो रही है. आइए इस फिल्म के बारे में कुछ ज़रूरी बातें जानते हैं.

#1. सबसे पहले फिल्म क्यों चर्चा में आई?

2018 के अगस्त की बात है कि सैफ की एक फोटो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुई थी. इसमें सैफ साधु के अवतार में घूम रहे थे. उन फोटोज़ की वजह से छानबीन चालू हुई और पता चल गया कि अपनी अगली फिल्म में सैफ इस अनोखे रोल में दिखने वाले हैं.

सैफ की वायरल हुई तस्वीरें.
सैफ की वायरल हुई तस्वीरें.

#2. कहानी क्या है?

‘लाल कप्तान’ एक पीरियड ड्रामा बताई जा रही है. राजस्थान के बैकग्राउंड पर बनी है. कहानी 1780 के दशक में सेट है. इसमें सैफ एक असफल नागा साधु के रोल में नजर आएंगे. माना जा रहा है कि ये नागा साधु बदला लेना चाहता है. इसलिए वो एक ब्रिटिश सैनिक को मार देता है. और बाद में वो अपने सिर पर लाल बैंडेना (सिर पर बांधने वाला कपड़ा) पहनकर घूमता है. कहानी इसी नागा साधु की बाकी जर्नी को दिखाएगी.

'लाल कप्तान' में सैफ अली खान की पहली झलक.
‘लाल कप्तान’ में सैफ अली खान की पहली झलक.

#3. फिल्म के कई नाम रखे गए थे

दरअसल जब सैफ की इस रोल में सबसे पहली फोटोज़ वायरल हुईं तब फिल्म का टाइटल ‘हंटर’ बताया जा रहा था. कहा जाता है कि ‘हंटर’ से पहले फिल्म नाम ‘दशहरा’ था. बाद में कहा गया कि इसका नाम ‘कप्तान’ होगा. अब आधिकारिक तौर पर इसका नाम ‘लाल कप्तान’ रख दिया गया है. वैसे फिल्म का नाम ‘हंटर’ इसलिए भी रखना प्रैक्टिकल नहीं होता क्योंकि 2015 में इसी नाम से गुलशन दैवय्या अभिनीत एक एडल्ट फिल्म आ चुकी है.

#4. बना कौन रहा है?

इस फिल्म के डायरेक्टर हैं नवदीप सिंह. नवदीप इससे पहले अनुष्का शर्मा स्टारर फिल्म ‘एन एच 10’ डायरेक्ट कर चुके हैं. 2007 में आई ‘मनोरमा सिक्स फीट अंडर’ को भी नवदीप ने डायरेक्ट किया और लिखा था. ‘लाल कप्तान’ को आनंद एल राय और इरोस इंटरनेशनल ने मिलकर प्रोड्यूस किया है.

डायरेक्टर नवदीप सिंह
डायरेक्टर नवदीप सिंह और उनकी पिछली दो फिल्में – एनएच 10 और मनोरमा सिक्स फीट अंडर.

#5. कौन-कौन कम कर रहा है?

फिल्म की हीरोइन ‘मुक्काबाज़’ फेम ज़ोया हुसैन होंगी. साथ ही इसमें ‘तनु वेड्स मनु’ के पप्पी जी यानी दीपक डोबरियाल और मानव विज जैसे कलाकार भी अहम भूमिकाएं निभाएंगे.

दीपक डोबरियाल, ज़ोया हुसैन और मानव विज
दीपक डोबरियाल, ज़ोया हुसैन और मानव विज

#6. कैसे की सैफ ने रोल की तैयारी?

अपनी इस फिल्म के बारे में सैफ ने एक न्यूज़ इंटरव्यू में बताया था –

“मुझे इस रोल के लिए अपने कान भी छिदवाने पड़े थे जिसे लेकर पहले मैं थोड़ा चिंतित भी रहा. मेरे बाल काफी लंबे हो गए हैं. जिनकी वजह से राजस्थान की तपतपाती गर्मी में मुझे शूटिंग करते हुए बहुत प्रॉब्लम भी हुई. कभी-कभी अपने रोल के लिए तैयार होने में यानी बाल सेट कराने और मेकअप में 40 मिनट से लेकर 2 घंटे तक लग जाते थे.”

जिस हिसाब से पोस्टर देखकर सैफ का अवतार लग रहा है. उससे हमें उन्ही की कही हुई एक बात याद आ गई. वो ये कि हाल ही में जब सैफ अरबाज़ खान के शो ‘पिंच’ पर आए थे तो उन्होंने कहा था कि – “मैं उम्मीद करता हूं कि आने वाले समय में लोग जब पीछे मुड़कर देखें, तो उन्हें ये अहसास होगा कि जो काम इस आदमी ने किया है, उसके लिए इसे सम्मान मिलना चाहिए.”

बहरहाल ‘लाल कप्तान’ का इंतज़ार पोस्टर देखकर बढ़ गया है. पोस्टर आ गया है तो ट्रेलर भी आता ही होगा. तब अच्छे से समझ आ जाएगा की फिल्म उम्मीदें बढ़ाती है या नहीं.


Video: सैफ अली खान ने पद्मश्री लौटाने की चाहत जताई तो उनके पापा ने मस्त जवाब दिया

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें
Laal Kaptaan First Look, poster and story in which Saif Ali Khan is playing a mindblowing Naga Sadhu

पोस्टमॉर्टम हाउस

मूवी रिव्यू: गेम ओवर

थ्रिल, सस्पेंस, ड्रामा, मिस्ट्री, हॉरर का ज़बरदस्त कॉकटेल है ये फिल्म.

भारत: मूवी रिव्यू

जैसा कि रिवाज़ है ईद में भाईजान फिर वापस आए हैं.

बॉल ऑफ़ दी सेंचुरी: शेन वॉर्न की वो गेंद जिसने क्रिकेट की दुनिया में तहलका मचा दिया

कहते हैं इससे अच्छी गेंद क्रिकेट में आज तक नहीं फेंकी गई.

मूवी रिव्यू: नक्काश

ये फिल्म बनाने वाली टीम की पीठ थपथपाइए और देख आइए.

पड़ताल : मुख्यमंत्री रघुवर दास की शराब की बदबू से पत्रकार ने नाक बंद की?

झारखंड के मुख्यमंत्री की इस तस्वीर के साथ भाजपा पर सवाल उठाए जा रहे हैं.

2019 के चुनाव में परिवारवाद खत्म हो गया कहने वाले, ये आंकड़े देख लें

परिवारवाद बढ़ा या कम हुआ?

फिल्म रिव्यू: इंडियाज़ मोस्ट वॉन्टेड

फिल्म असलियत से कितनी मेल खाती है, ये तो हमें नहीं पता. लेकिन इतना ज़रूर पता चलता है कि जो कुछ भी घटा होगा, इसके काफी करीब रहा होगा.

गेम ऑफ़ थ्रोन्स S8E6- नौ साल लंबे सफर की मंज़िल कितना सेटिस्फाई करती है?

गेम ऑफ़ थ्रोन्स के चाहने वालों के लिए आगे ताउम्र की तन्हाई है!

पड़ताल: पीएम मोदी ने हर साल दो करोड़ युवाओं को रोजगार देने की बात कहां कही थी?

जानिए ये बात आखिर शुरू कहां से हुई.

मूवी रिव्यू: दे दे प्यार दे

ट्रेलर देखा, फिल्म देखी, एक ही बात है.