Submit your post

Follow Us

मरीजों के लिए खाने के पैकेट्स पर ‘खुश रहिए’ लिखने वाला बच्चा कौन है, पता चल गया

कोरोना के इस दौर में हर तरफ से बुरी खबरें सुनाई पड़ रही हैं. चारों तरफ मौतों की चींख है और मातम फैला हुआ है. लोग अपनों को खो रहे हैं. ऐसे में एक बच्चे की तस्वीर सोशल मीडिया पर दिखाई देती है. फोटो में बच्चा मेज़ पर रखे खानें के डिब्बों पर ”खुश रहिए” लिखते दिखाई दे रहा है. दावा किया जा रहा था कि उसकी मां कोविड मरीजों के लिए खाना बनाती हैं. बच्चा हर पैकेट पर ये मैसेज लिखता है. और उस खाने को कोविड के मरीजों तक पहुंचाया जाता है. ये तस्वीर सोशल मीडिया पर रातों-रात वायरल हो गई. लोग छोटे बच्चे को ‘नन्हा फरिश्ता’ कहने लगे. पहले आप ये तस्वीर देखिए-

ये वो तस्वीर है जिसने इंटरनेट पर पॉज़िटिविटि फैला दी. इसमें बच्चा कोविड पेशेंट को दिए जाने वाले खाने के पैकेट्स के ऊपर खुश रहिए लिखते दिख रहा है.
ये वो तस्वीर है जिसने इंटरनेट पर पॉजिटिविटी फैला दी. इसमें बच्चा कोविड पेशेंट को दिए जाने वाले खाने के पैकेट्स के ऊपर खुश रहिए लिखते दिख रहा है.

तो आखिर कौन है वो बच्चा? किस शहर का है? उसका क्या नाम है? 

इस नेगेटिव माहौल में पॉजिटिव वाइब्स फैलाने वाले इस बच्चे को लेकर सोशल मीडिया में कई सारी बातें चल रही थी. कोई कह रहा था बच्चा पंजाब से है, तो कोई कह रहा था, आसाम से. मगर इस पहेली को सुलझा लिया गया है. आजतक की गोपी घांघर की रिपोर्ट के मुताबिक ये बच्चा भोपाल का है. जिसका नाम अद्विक गौतम है. उम्र महज़ 6 साल की. दूसरी कक्षा में पढ़ता है. अद्विक और उनके माता-पिता भोपाल के उन लोगों में शामिल हैं जो कोरोना के मुश्किल वक्त में लोगों की मदद कर रहे हैं.

कोविड मरीज़ों के लिए बनाती हैं खाना

अद्विक के पिता आशुतोष गौतम, गैस कंपनी में काम करते हैं. उनकी मां रिचा पेशे से टीचर हैं. रिचा गौतम, कोविड रिलीफ ब्रिगेड से जुड़ी हैं. कोरोना की इस दूसरी लहर में वो लोगों की मदद के लिए आगे आईं हैं. वो अपने घर से खाना बनाकर कोविड पेशेंट्स को भेजतीं हैं. इस काम में अद्विक भी अपनी मां की मदद करता है. फूड पैकेट्स के ऊपर स्माइली बनाकर वो लोगों को खुश रहने की अपील करता है.

ये हैं अद्विक के मम्मी-पापा. आशुतोष गौतम और रिचा गौतम.
ये हैं अद्विक के मम्मी-पापा. आशुतोष गौतम और रिचा गौतम.

रिचा ने बताया, कुछ दिनों पहले उन्हें एक फोन आया था. भोपाल के अस्पताल में जो महिलाएं गर्भवती और कोरोना पॉजिटिव हैं उनको पौष्टिक खाना मुहैया करवाया जाना था. जिसके बाद रिचा ने घर पर ही करीब 80 फूड्स के पैकेट तैयार किए. जिन्हें एक टेबल पर रखा गया. जिन लोगों को खाना लेने आना था उन्हें थोड़ी देर लग गई.

कोविड रिलीफ ब्रिगेड का सबसे छोटा वॉलिंटियर

अद्विक के पिता आशुतोष को लगा कि इन फूड पैकेट्स पर कुछ लिखना चाहिए. उसी वक्त अद्विक ने उन लोगों से कहा कि इस पर ‘खुश रहिए’ लिखना चाहिए. इसके बाद उसने पेन से खुद ही सारे पैकेट्स पर ये मैसेज लिखा. इसी दौरान खींची गई उसकी तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो गई. कोरोना काल के इस मायूसी वाले माहौल में लोगों को इस तस्वीर ने खूब मोटिवेट किया. पॉज़िटिव रहने का मैसेज दिया. सोशल मीडिया पर जब ये तस्वीर वायरल हुई तो लोग अद्विक को कोविड रिलीफ ब्रिगेड का सबसे छोटा वॉलिंटियर बुलाने लगे.

अद्विक गौतम.
अद्विक गौतम.

अद्विक के पिता आशुतोष का कहना है कि उन्हें ना सिर्फ़ भारत से बल्कि विदेश से भी दोस्तों के फोन आ रहे हैं. आशुतोष ने कहा,

”हमारा मकसद ये बिल्कुल भी नहीं था कि बच्चे की तस्वीर वायरल हो जाए. लेकिन हमने सिर्फ हमारे खुद के लिए सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर तस्वीर शेयर की थी. वो भी हमारे दोस्तों के लिए. लेकिन अब वो फोटो वायरल हो गई है. हमारा मकसद लोगों तक इस मुश्किल वक्त में मदद पहुंचाना था. आज भी हम लोगों तक मदद पहुंचा रहे हैं.”

किसी ने सही कहा है,

ज़िंदगी एक हसीन ख्वाब है,
जिसमें जीने की चाहत होनी चाहिए,
गम ख़ुद ही ख़ुशी में बदल जायेंगे,
सिर्फ मुस्कुराने की आदत होनी चाहिए

याद रखिए दुनिया में कोई भी छोटा-बड़ा नहीं होता. बस आपके हौसलों में दम होना चाहिए. कुछ नया और अलग करने का जज़्बा हो तो उम्र मायने नहीं रखती, बल्कि लगन और कुछ अलग करने की सोच ज़रुरी है. जैसे-तारों में अकेला चांद जगमगाता है. मुश्किलों में अकेला इंसान डगमगाता है. इसलिए मुश्किल के इस दौर में हमें एक-दूसरे का साथ देना है. इसी उम्मीद के साथ ये आलेख खत्म करते हैं. आप सब अपना खूब ध्यान रखिए.


वीडियो: उम्मीद की बात: शाहजहांपुर की ‘ऑक्सीजन सिलेंडर वाली बेटी’ बचा रही है कई ज़िंदगियां

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

10 नंबरी

पहले टेस्ट में शतक बनाने वाले 16 भारतीय बल्लेबाज़, 1933 से अब तक की पूरी कहानी

पहले टेस्ट में शतक बनाने वाले 16 भारतीय बल्लेबाज़, 1933 से अब तक की पूरी कहानी

जिस लिस्ट में श्रेयस पहुंचे वहां कौन-कौन है?

अवॉर्ड्स पर भरोसा ना करने वाले एक्टर्स को अभिषेक की ये बात चुभेगी

अवॉर्ड्स पर भरोसा ना करने वाले एक्टर्स को अभिषेक की ये बात चुभेगी

अभिषेक जल्द ही फिल्म 'बॉब बिस्वास' में नज़र आने वाले हैं.

कंगना के खिलाफ FIR हुई, उन्होंने जवाब अपनी फोटो डालकर दिया

कंगना के खिलाफ FIR हुई, उन्होंने जवाब अपनी फोटो डालकर दिया

कंगना पर सिखों के ऊपर आपत्तीजनक टिप्पणी करने को लेकर FIR दर्ज करवाई गई थी.

'स्क्विड गेम' देख लिया? अब ये 9 बढ़िया कोरियन शोज़ निपटा डालिए

'स्क्विड गेम' देख लिया? अब ये 9 बढ़िया कोरियन शोज़ निपटा डालिए

इनमें से एक तो ऐसा है जिसने नेटफ्लिक्स की मौज कर दी.

कपिल के शो' पर स्मृति ईरानी को नहीं पहचाना, गुस्साई स्मृति वापस लौटीं!

कपिल के शो' पर स्मृति ईरानी को नहीं पहचाना, गुस्साई स्मृति वापस लौटीं!

मंत्री स्मृति ईरानी अपनी पहली किताब का प्रमोशन करने आने वाली थीं.

कैसा है शाहिद कपूर की 'जर्सी' का ट्रेलर, जिसमें वो क्रिकेटर बनकर धमाल कर रहे हैं

कैसा है शाहिद कपूर की 'जर्सी' का ट्रेलर, जिसमें वो क्रिकेटर बनकर धमाल कर रहे हैं

एक और रीमेक आ रहा है मितरों...

'बॉब बिस्वास' से पहले बनी ये 9 स्पिन ऑफ फ़िल्में और शोज़, जो बहुत मशहूर हुए

'बॉब बिस्वास' से पहले बनी ये 9 स्पिन ऑफ फ़िल्में और शोज़, जो बहुत मशहूर हुए

हॉलीवुड से लेकर बॉलीवुड तक की स्पिनऑफ शोज़ और फ़िल्मों की लिस्ट.

'OTT से स्टारडम खत्म होगा' कहने वालों को सलमान ने जवाब दिया है

'OTT से स्टारडम खत्म होगा' कहने वालों को सलमान ने जवाब दिया है

सलमान इन दिनों अपनी फिल्म 'अंतिम' का प्रमोशन कर रहे हैं.

सिख समुदाय पर कमेंट करना कंगना को भारी पड़ गया

सिख समुदाय पर कमेंट करना कंगना को भारी पड़ गया

कंगना के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज हो गई है.

राजस्थान: मंत्रिमंडल में फेरबदल, शपथ लेने वाले इन मंत्रियों के बारे में जानिए

राजस्थान: मंत्रिमंडल में फेरबदल, शपथ लेने वाले इन मंत्रियों के बारे में जानिए

पहली बार एक साथ 4 दलित मंत्रियों को कैबिनेट में जगह.