Submit your post

Follow Us

क्राइम की रेट-लिस्ट का पोस्टर वायरल, यूपी पुलिस ने कहा- ये राजस्थान का है

सोशल मीडिया पर हत्या की सुपारी और धमकी की रेट लिस्ट वाला एक पोस्टर वायरल हो रहा है. इसमें काला चश्मा लगाए एक आदमी की तस्वीर बनी हुई है. नीचे ‘जोंटी बदमाश’ नाम लिखा हुआ है. सबसे ऊपर लिखा है- बंदे कूटने के लिए संपर्क करें, सभी हथियार हमारे होंगे. फिर रेट लिस्ट दी है. इसके मुताबिक, किसी को धमकी देने के 1000 रुपए लगेंगे, कुटाई के 5000, घायल करने के दस हज़ार और मारने के 55 हज़ार. एक फोन नंबर भी लिखा है पोस्टर में.

ट्विटर पर लोगों ने इसे शेयर किया. कुछ ने इसे मेरठ से जुड़ा मामला बताया. यूपी पुलिस से जोंटी बदमाश के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की अपील की. दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमिटी के अध्यक्ष अनिल चौधरी ने भी ट्वीट कर सीएम योगी पर कटाक्ष किया. लिखा-

“मुख्यमंत्री आदित्यनाथ ने कहा था कि उत्तर प्रदेश में रोजगार की कोई कमी नहीं होगी.”

मेरठ पुलिस ने कहा- हमारे यहां का मामला नहीं है

वायरल तस्वीर पहुंची मेरठ पुलिस के पास. ‘इंडिया टुडे’ से जुड़े उस्मान चौधरी की रिपोर्ट के मुताबिक, मेरठ पुलिस ने कहा कि ये मामला मेरठ का नहीं, बल्कि राजस्थान के गंगानगर का है. और साल 2019 का है.

फिर कैसे अभी वायरल हुई तस्वीर

SSP अजय साहनी ने बताया कि हाल ही में ये तस्वीर मेरठ के व्यापारियों के एक वॉट्सऐप ग्रुप में किसी आदमी ने डाली थी. अजय साहनी ने कहा कि पोस्टर में दिखने वाले आदमी का मेरठ से कोई लेना-देना नहीं है. और जो नंबर पोस्टर में दिया गया है, वो जांच में राजस्थान का पाया गया.

मेरठ पुलिस ने ट्विटर पर पोस्ट भी डाला. कहा-

घटना राजस्थान के गंगानगर की पाई गई है. साल 2019 में फेसबुक पर इसे अपलोड किया गया था. इसका मेरठ और यूपी से कोई लेना-देना नहीं है. इस केस में गलत तरीके से जनपद मेरठ को जोड़कर इसी तरह वायरल करने पर अभियोग पंजीकृत कर न्यूज़ पोर्टल के एक तथाकथित पत्रकार को जेल भेजा गया है. कृपया तथ्यों से परे जाकर मेरठ या यूपी से जोड़कर अफवाह न फैलाएं और आप इसका तत्काल खंडन करें.”

मेरठ का बताकर किसने वायरल किया था

उस्मान चौधरी की रिपोर्ट के मुताबिक, पहले इस मामले में पूर्व विधायक विनोद हरित के बेटे श्रीकांत का नाम सामने आ रहा था. लेकिन विनोद हरित ने 12 अक्टूबर को भ्रामक खबर वायरल करने के मामले में अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ केस दर्ज करवाया. फिर पुलिस ने जांच की, तो पता चला कि ये पोस्टर पिछले एक साल से सोशल मीडिया पर वायरल है और इसे श्रीकांत ने नहीं बनाया है, बल्कि होशियार सिंह नाम के आदमी ने इसे मेरठ में वायरल किया है. होशियार सिंह खुद को फर्स्ट न्यूज़ 24×7 से संबंधित बताता था.

जांच में ये भी सामने आया कि न्यूज़ चैनल के एमडी ने काफी समय पहले ही होशियार को चैनल से निकाल दिया था. इस मामले में पुलिस ने आईटी एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है और होशियार की गिरफ्तारी कर ली गई है.

वहीं, हमने भी जब सोशल मीडिया पर जोंटी बदमाश वाला पोस्टर सर्च किया, तो कई सारे पोस्ट अक्टूबर 2019 के दिखाई दिए. अब चूंकि मेरठ पुलिस ने ये मामला राजस्थान के गंगानगर का बताया है, तो हमने वहां के भी पुलिस अधिकारियों से बात करने की कोशिश की. लेकिन कई बार कॉल लगाने के बाद भी बात नहीं हो सकी.

‘दी लल्लनटॉप’ की टीम और ‘इंडिया टुडे’ से जुड़े रिपोर्टर पुलिस अधिकारियों से कॉन्टैक्ट करने की कोशिश में हैं.


वीडियो देखें: मध्य प्रदेश में एक कबाड़ी ने पुलिस एडीजी को धमकाया, ऑडियो क्लिप वायरल

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

10 नंबरी

अशोक कुमार की 32 मज़ेदार बातेंः इंडिया के पहले सुपरस्टार थे पर कहते थे 'भड़ुवे लोग हीरो बनते हैं'

महान एक्टर दिलीप कुमार उनको भैय्या कहते थे और उनसे पूछ-पूछकर सीखते थे.

फ़्लिपकार्ट, ऐमज़ॉन की सालाना सेल में ये होंगी 10 सबसे बड़ी डील्स

फ़ोन खरीदने का बढ़िया मौक़ा है

आईफोन 12 से लेकर वनप्लस 8T तक, कौन-कौन से फोन लॉन्च हो रहे हैं इस महीने

सवा लाख का फ़ोन लेहेव?

राज कुमार के 42 डायलॉगः जिन्हें सुनकर दर्शक तालियों पे तालियां कूट देते थे

हिंदी सिनेमा में सबसे ज्यादा अकड़ इनसे ज्यादा किसी सुपरस्टार के किरदारों में नहीं थी

मिर्ज़ापुर-2 : गजबे ट्रेलर है, पूरा सिस्टम हिलाने की इस बार धमाकेदार तैयारी है

23 अक्टूबर को रिलीज़ होगी सीरीज़.

एक प्रेरक कहानी जिसने विनोद खन्ना को आनंदित होना सिखाया

हिंदी फिल्मों के इन कद्दावर अभिनेता के जन्मदिन पर आज पढ़ें उनके 8 किस्से.

अब कहां हैं वो विलेन, जो शक्तिमान और जूनियर जी का जीना हराम किए रहते थे

ये सुपरविलेन आजकल कहां हैं, आइए बताते हैं.

6 किस्से: इमरजेंसी के दौरान इंदिरा की नाक में दम करने वाला अखबार मालिक

आज ही के दिन 1991 में निधन हुआ था बेखौफ रामनाथ गोयनका का.

बाबरी विध्वंस केस: आरोप लगाने वाले पक्ष की गवाही पर कोर्ट ने क्या-क्या टिप्पणी की?

सीबीआई ने कोर्ट के सामने 351 गवाह पेश किए.

सितंबर में कौन-कौन से फ़ोन लॉन्च हुए, फीचर-प्राइस सब इधर ही देख लो

कीमत 6,499 रुपए से शुरू!