Submit your post

Follow Us

इरफ़ान को पहली बरसी पर इन एक्टर्स और वाइफ सुतपा ने कुछ यूं याद किया

29 अप्रैल 2020 के दिन इरफ़ान चले गए. न जाने कितनों को रोता छोड़कर. कितनों को इंस्पायर्ड छोड़कर. जयपुर की गलियों से नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा पहुंचा, वो लड़का जिसने हमारे लिए अभिनय के नए आयाम गढ़े. कि किरदारों का पोर्टेयल ऐसे भी हो सकता है. इतना सूक्ष्म, साइलेंट. सलाम बॉम्बे के पैसे लेकर ख़त लेने वाले कुछ सेकेंड के पात्र से लेकर, पान सिंह तोमर के भोले-बाग़ी धावक तक, हासिल के सनकी-गुस्सैल रणविजय से लेकर अंग्रेजी मीडियम के आदर्श पिता तक. कितने ही रोल्स में उनका डिस्टिंक्ट, अलहदा ट्रीटमेंट हमें दिखा. बीच में द नेमसेक, किस्सा, मकबूल, द लंचबॉक्स, द वॉरियर, लाइफ इन अ मेट्रो न जाने कितनी ही अमिट अदाकारियां हैं. स्टार बेस्टसेलर्स को भी कैसे भूल सकते हैं.

उन्हीं इरफ़ान की आज पहली बरसी है.

कोरोना संकट के इस कष्टकारी वक्त में भी लोगों का ध्यान इस ओर जा रहा है, कि हां, एक बरस हो गया. उनकी वाइफ सुतपा ने बहुत ही कमाल का ख़त उन्हें संबोधित करते हुए लिखा. इसी तरह आम फैन्स से लेकर एक्टर लोगों ने भी उन्हें याद किया है. मीठी बातें लिखी हैं. आगे जानेंगे, किसने क्या लिखा.

[1] मानव कौल

उन्होंने इंस्टाग्राम पर इरफ़ान के कब्र की तस्वीर पोस्ट की और लिखा – बीते साल जब मैंने उनसे मिलने गया था, ये तब की तस्वीर है. फिर मानव ने इरफ़ान की अपने यादें इन शब्दों में पिरोईं.

” मैं इरफान भाई का नंबर लेकर मुंबई आया था. उन्हीं की वजह से मुझे मुंबई में मेरा पहला काम ‘बनेगी अपनी बात’ मिला था. मेरे सारे सीन उन्हीं के साथ थे. हर बार सीन ख़त्म होने पर लगता कि मैंने सही काम किया है, पर जब हम सीन देखते तो इरफ़ान भाई के चेहरे से निगाह नहीं हटती. पता नहीं वो क्या करते थे, बस इतना ही पता था कि उनका अभिनय अलग था… शुरू से ही. जब बाद में उन्हें ‘हासिल’ और ‘मक़बूल’ में देखा तो पहली बार फ़िल्म देखी फिर दूसरी, तीसरी बार. हम सारे दोस्त, सिर्फ़ उन्हें देखने गए. उनका अभिनय इस कदर परत दर परत खुलता था कि हर बार लगता कि फ़िल्म वही है पर इरफ़ान भाई नए हैं. ‘हैदर’ में जब वो ‘रूहदार’ कहते हैं तो रोंगटे खड़े हो जाते हैं. उनके चले जाने के बाद मैंने In treatment नाम का उनका शो देखा और तब लगा कि वो अलग नहीं है… वो सुनील हैं और बाक़ी सारे लोग, उनके अग़ल बग़ल कुछ दूसरा होने का अभिनय कर रहे हैं.

उनसे आख़िरी मुलाक़ात स्क्रीन अवॉर्ड के दौरान हुई थी. पीछे की तरफ़ मैं अवॉर्ड की चकाचौंध से दूर सिगरेट पी रहा था तभी वो भी सिगरेट पीने आए. सिगरेट साझा करते हुए मैं बहुत कुछ उनसे कहना चाह रहा था, पर अंत में मैं बस यही कह पाया कि ‘इरफ़ान भाई आप बहुत ख़ूबसूरत दिख रहे है.”

View this post on Instagram

A post shared by Manav Kaul (@manavkaul)

  [2] राधिका मदान ने इरफ़ान की आखिरी फ़िल्म ‘अंग्रेज़ी मीडियम’ में उनकी बेटी का रोल किया. वो बेटी जिसका सपना पूरा करने के लिए इरफान का किरदार क्या कुछ नहीं करता है. उनकी स्क्रीन बिटिया ने ये लिखा.

” मुझे याद है, शूटिंग के वक्त मैं उनकी दाढ़ी के साथ खेल रही थी. उस समय उन्होंने मुझसे कहा, ”तुम्हे पता है, इसीलिए तो चंपक दाढ़ी नहीं कटवाता…” मैंने कहा – सच में! और हम दोनों हंसने लगे. हमने यादों की अलग ही दुनिया बना ली थी. जहां शब्द नहीं थे. मगर हमारी चुप्पी बहुत कुछ कहती थी. मैं बहुत कोशिश करती थी कि मैं उनके सामने ‘आपसे सब कुछ सीख लेना चाहती हूं’ वाली फैन गर्ल की तरह ना नज़र आऊं, लेकिन वो जाने अनजाने में मुझे या तो जिंदगी के बारे में या फिर कला के बारे में हर दिन सीख देते थे. उस बेइंतहा प्यार और सीख देने वाले…इरफान के नाम. “

 

 

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Radhika Madan (@radhikamadan)

 

[3] दिव्या दत्ता ने लिखा –

” एक साल!! इरफान खान! ऐसा लगता ही नहीं है और कभी लगेगा ही नहीं कि तुम चले गए हो. अपने पीछे अपने काम की कितनी शानदार विरासत तुमने छोड़ी है. और तुम्हारी वो शर्मीली हंसी और जादुई आंखें हमारे दिलों में हमेशा बसी रहेंगी. “

 

[4] रणदीप हुड्डा ने इरफ़ान जैसे ही विचार शेयर करते हुए जो लिखा, उसका अर्थ शायद कुछ ऐसा है –

“मुझे लगता है, आखिर में जाकर ये ज़िंदगी स्वीकार भाव मन में लाने की ही क्रिया बन जाती है.”

 

 

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Randeep Hooda (@randeephooda)

[5] अर्जुन कपूर ने अपनी इंस्टा स्टोरी में उनकी फोटो शेयर करते हुए लिखा –

“आप अपने पीछे जो ये शानदार लैगेसी छोड़ गए हो, इसे हम लोग हमेशा संजोकर रखेंगे.”

अर्जुन कपूर ने अपनी इंस्टा स्टोरी पर इरफान की ये तस्वीर लगाई है.

[6] रसिका दुग्गल ने 2013 में इरफ़ान के साथ अनूप सिंह की फिल्म ‘किस्सा’ में काम किया था. फिल्म के सेट से इरफान के साथ ली एक तस्वीर साझा करते रसिका ने लिखा –

“थैंक यू इरफ़ान. उस लाफ्टर, उन यादों, उस मैजिक और उस सिनेमा के लिए. कितने सारे ख़ूबसूरत किस्से हैं ये.”

View this post on Instagram

A post shared by Rasika (@rasikadugal)

 

[7] सुतपा सिकदर

इरफ़ान की वाइफ सुतपा ने उन्हें याद करते हुए बहुत मीठा ख़त लिखा. उसका एक अंश कुछ यूं है –

” बीते साल, आज ही की रात (28 अप्रैल 2020) मैंने और मेरे दोस्तों ने तुम्हारे लिए गाना गाया था, हर वो गाना जो तुम्हें पसंद था. हॉस्पिटल की नर्स हमें अजीब तरह से देख रही थीं. उन्हें लगा होगा कि ऐसे क्रिटिकल मौके पर हमें प्रार्थना करनी चाहिए मगर मैंने तुम्हारे लिए गाना गाया था इरफान. दो साल से मैं सुबह-शाम दिन-रात तुम्हारे साथ थी. और फिर लोगों ने मुझसे कहा कि अब वक्त आ गया है कि मैं तुम्हें जाने दूं. इसलिए मैं तुम्हें यादों के साथ जाने देना चाहती थी. अगले दिन तुम ज़िंदगी के अगले स्टेशन पर उतर गए. उम्मीद करती हूं कि तुम्हें मालूम हो कि मेरे बिना कहां उतरना है…”

“People living deeply have no fear of death”… Anaïs Nin
your favourite poet Irrfan. Last year tonight me and my friends…

Posted by Sutapa Sikdar on Wednesday, April 28, 2021


वीडियो: ऑस्कर 2021 की सबसे बड़ी बातें और कैसे इरफ़ान का ज़िक्र आया

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

पोस्टमॉर्टम हाउस

'राधे: योर मोस्ट वांटेड भाई' का ट्रेलर, जिसमें सलमान खान विलन की बिरयानी तक खाने की धमकी दे रहे

भाई जो कर दें, वही एक्टिंग है और जो बोल दें, वही डायलॉग.

कैसा है 'F9' का ट्रेलर, जिसमें विलेन के रूप में WWE का बहुत बड़ा खिलाड़ी आया है?

फिल्म इस साल जुलाई में आने वाली है.

Realme LED Smart Bulb रिव्यू: फ़ोन से कंट्रोल होने वाले इस बल्ब की आपको कितनी ज़रूरत है?

12W का रियलमी LED स्मार्ट बल्ब 999 रुपए का है.

26/11 अटैक में शहीद मेजर संदीप पर बनी फिल्म के टीज़र की सबसे रोचक बात पता है आपको?

फिल्म का 'टीज़र' लॉन्च हुआ है.

फिल्म रिव्यू- कर्णनन

सारी लड़ाई इसी ऊंच-नीचे अंतर को खत्म करने की है. जमीन पर नहीं, तो दिमाग में सही.

फिल्म रिव्यू- वकील साब

एक मजबूत कोर्ट रूम ड्रामा है, जिसमें किसी मसाला फिल्म जितना मज़ा है.

Realme C21 रिव्यू: फ़ोन की भीड़ में एक और बजट डिवाइस!

C-सीरीज़ का सर कंफ्यूजन दूर कर लीजिए

मूवी रिव्यू: द बिग बुल

'स्कैम 1992' से जिस फिल्म की तुलना हो रही थी, वो आखिर है कैसी?

फिल्म रिव्यू: गॉडज़िला वर्सेज़ कॉन्ग

विशाल दैत्यों पर बनी ये फिल्म 'जुरासिक पार्क' जैसी फिल्म से कितनी अलग है?

Realme 8 review: रंगों से भरा ये फ़ोन किसके लिए है?

रियलमी 8 की शुरुआत 14,999 रुपए से होती है!