Submit your post

Follow Us

मनोज तिवारी के बॉलिंग ऐक्शन की जांच के लिए CBI क्या, FBI भी कम पड़ेगी!

आईपीएल 2018. 25वां मैच. हैदराबाद बनाम पंजाब. हैदराबाद ने दूसरी बार लगातार एक बहुत ही छोटा टार्गेट बचा लिया. उन्होंने पहले मुंबई के ख़िलाफ़ 118 रन डिफेंड किए थे और अब 132 रन रोके हैं. गजब बॉलिंग परफॉरमेंस है. लेकिन हमें एक बात ये भी याद रहे कि इन दोनों मौकों पर हैदराबाद की बैटिंग यूनिट भी ढीली पड़ी है. इसीलिए दोनों ही बार पहली इनिंग्स में कम स्कोर बना. वो बात और है कि आगे जाकर उसे डिफेंड कर लिया. खैर…

पंजाब के ख़िलाफ़ मैच में एक मज़ेदार काम हुआ. युवराज सिंह को खिलाया नहीं गया. नहीं, ये वो मज़ेदार काम नहीं है जिसकी बात हो रही है. मज़ेदार बात है उनकी जगह आए मनोज तिवारी का बॉलिंग ऐक्शन. स्पिन करते हैं. सो वही करने लगे. लेकिन गेंद को फेंकने के लिए हाथ घुमा ही नहीं रहे थे. एकदम ज़मीन के समानांतर हाथ जा रहा था. थोड़ा और नीचे होता तो गेंद ज़मीन से छू जाती. बॉल टेम्परिंग का चार्ज लगता सो अलग. पहली बार दुनिया स्पिनरों का मलिंगा देख रही थी. लेकिन मलिंगा भी इस ऐक्शन को देख लें तो अचरज करें.


ये भी पढ़ें:

पिछले दो मैचों में हैदराबाद ने जो किया है, IPL की सभी टीमें उनसे कांपेंगी

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

10 नंबरी

इबारत : हेलेन केलर, जो देख-सुन नहीं सकतीं थीं लेकिन दुनिया को रास्ता दिखाया !

और उनके सीखने सिखाने की लगन ने साहित्य को नायाब तोहफ़ा दिया.

वो फिल्म जिसमें काजोल का मर्डर कर, आशुतोष राणा ने फिल्मफेयर जीत लिया

काजोल के साथ ब्लॉकबस्टर फिल्में दे चुके शाहरुख ने इस फिल्म में काम करने से मना क्यों कर दिया?

इंडिया का वो ऐक्टर, जिसे देखकर एक्टिंग की दुनिया के तमाम तोपची नर्वस हो जाएं

नर्वस होने की लिस्ट में शाहरुख़, सलमान, आमिर सबके नाम लिख लीजिए.

वेंडल रॉड्रिक्स, जिन्होंने दीपिका को रातों-रात मॉडल और फिर स्टार बना दिया?

आज वेंडेल रोड्रिक्स का बड्डे है.

घोड़े की नाल ठोकने से ऑस्कर तक पहुंचने वाला इंडियन डायरेक्टर

इन्हें अंग्रेज़ी नहीं आती थी, अमेरिका जाते वक्त सुपरस्टार दिलीप कुमार को साथ लेकर गए थे. हॉलीवुड के डायरेक्टरों की बात समझने के लिए.

इबारत : नेहरू की ये 15 बातें देश को हमेशा याद रखनी चाहिए

नेहरू के कहे-लिखे में से बेहतरीन बातें पढ़िए

अमिताभ की उस फिल्म के 6 किस्से, जिसकी स्क्रीनिंग से डायरेक्टर खुद ही उठकर चला गया

अमिताभ डायरेक्टर के पीछे-पीछे भागे, तब जाकर वो रुके.

इबारत : Ertugrul में इब्ने अरबी के 10 डायलॉग अंधेरे में मशाल जैसे लगते हैं

आजकल ख़ूब चर्चा हो रही है इस सीरीज़ की

इबारत : शरद जोशी की वो 10 बातें जिनके बिना व्यंग्य अधूरा है

आज शरद जोशी का जन्मदिन है.

इबारत : सुमित्रानंदन पंत, वो कवि जिसे पैदा होते ही मरा समझ लिया था परिवार ने!

इनकी सबसे प्रभावी और मशहूर रचनाओं से ये हिस्से आप भी पढ़िए