Submit your post

Follow Us

इंडिया टुडे पावर लिस्ट 2018 : देश के 10 सबसे ताकतवर राजनेता


यह स्टोरी शिप्रा किरण ने की है. इनपुट्स इंडिया टुडे मैगज़ीन से लिए गए हैं.


आज भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) देश की सबसे बड़ी पार्टी है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह जोर-शोर से पार्टी के प्रचार-प्रसार में लगे हैं. लेकिन कर्नाटक, मध्यप्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ के चुनाव यह सुनिश्चित कर पाएंगे कि पार्टी कहां तक अपना विस्तार कर पाई है. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल को लगता है कि कर्नाटक में मोदी की हार होगी. जबकि राहुल को अभी अपने पार्टी की स्थिति मजबूत करने की कोशिश करनी चाहिए. अमित शाह, अरुण जेटली, नितिन गडकरी के साथ मोदी का करिश्मा अपने विपक्षियों पर भारी पड़ने वाला है.  पुराने साथी चंद्रबाबू नायडू भी इस लिस्ट में शामिल हैं. नायडू का NDA से अलग होना पार्टी को कमजोर कर सकता है. ये हैं भारतीय राजनीति के दस ताकतवर चेहरे-

#1 नरेंद्र मोदी (उम्र- 67)

narendra modi

पद- भारत के प्रधानमंत्री

वजह- इनकी लोकप्रियता और चुनावों में लगातार जीत. इनकी यही क्षमता कांग्रेस जैसी बड़ी पार्टी के लिए ही नहीं बल्कि दूसरी क्षेत्रीय पार्टियों के लिए भी ख़तरा बनी हुई है. लगभग डेढ़ साल लम्बे कठिनआर्थिक हालात से गुजरने के बाद भी इनकी सरकार देश की आर्थिक स्थिति को पटरी पर लाने में सफल रही.अमरीका से लेकर रूस तक, मिडिल ईस्ट से साऊथ ईस्ट एशिया तक इन्होंने अपनीअंतर्राष्ट्रीय पहचान कायम रखी.

ख़ास बात- इन्होंने बाबासाहेब भीमराव अम्बेडकर पर जानकारियां इकठ्ठी करने के लिए एक पूरी टीम बहाल कर डाली. हाल ही में बाबासाहेब के जीवन और विचारों पर इनकी किताब का लोकार्पण हुआ है.


#2 अमित शाह (उम्र- 53)

amit shah

पद- अध्यक्ष, भारतीय जनता पार्टी

वजह- भारतीय जनता पार्टी के रणनीतिकार.पार्टी की लगातार जीत की सबसे जरूरी वजह.सभी प्रशासनिक व राजनीतिक मामलों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विश्वासपात्र.

ख़ास बात- ये दुनिया के चाहे जिस भी कोने में रहें दिन में एक बार अपनी पत्नी सोनल और बेटे जय से जरूर बात करते हैं.


#3 अरुण जेटली (उम्र- 65)

arun jaitley

पद- वित्त मंत्री, भारत सरकार

वजह- नोट बंदी से लेकर जीएसटी (GST) जैसे सभी बड़े आर्थिक निर्णयों से जुड़े परिणामों की पूरी जिम्मेवारी. बैंकों के दिवालिएपन (बैंकरप्सी) से सम्बंधित उनके संसोधन उद्योग और बैंकों के आपसी संबंधों में बड़े बदलाव किए.

ख़ास बात- मनमोहन सिंह को बेहतर वित्तमंत्री मानते हैं. इनका कहना है कि प्रणब मुखर्जी एक रुढ़िवादी वित्तमत्री थे.


#4 मोहन भागवत (उम्र- 67)

mohan bhagwat

पद- सरसंघचालक, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ

वजह- भारत की सबसे बड़ी सांस्कृतिक संस्था के मुखिया. इनके नेतृत्व में संघ ने देश की बौद्धिक-सामाजिक तबके और सभी महत्वपूर्ण पदों पर अपनी पैठ बनाई.

ख़ास बात- संस्था के प्रचार के लिए ये लागातार बड़ी कंपनियों के CEO और विदेशी राजदूतों के संपर्क में रहते हैं.


#5 सोनिया गांधी (71), राहुल गाँधी (47)

rahul-sonia

पद- यूपीए (UPA) अध्यक्ष, कांग्रेस अध्यक्ष

वजह- मां-बेटे दोनों सभी विपक्षी दलों को एकजुट करने में लगे रहे. राहुल गांधी धीरे-धीरे कांग्रेस को अपने तरीके से चलाने की कोशिश कर रहे हैं.

ख़ास बात- Mille Feuille (फ्रेंच मिठाई)  सोनिया की पसंदीदा मिठाई  है. जबकि राहुल को मोमोज़ बेहद पसंद हैं.


#6 ममता बैनर्जी (उम्र- 63)

mamta banarejee

पद- मुख्यमंत्री, पश्चिम बंगाल

वजह- एकजुट विपक्ष के केंद्रीय भूमिका, सिंगुर-नंदीग्राम जैसे गंभीर मसलों को सुलझाया. ग्लोबल बिजनेस सम्मिट से बंगाल को ‘सुपर से ऊपर’ और ‘बेस्ट बंगाल’ का खिताब दिलवाया. इनके द्वारा शुरू किए गए कन्याश्री योजना को यूएन पब्लिक सर्विस सम्मान मिला.

ख़ास बात- रविन्द्रनाथ टैगोर की दो किताबें ‘गीताबितान’ और ‘संचयिता’ हमेशा अपने साथ रखती हैं. उर्दू और औल्चिकी लिपि में किताबें भी लिखी हैं.


#7 नितिन गडकरी (उम्र- 60)

nitin gadkari

पद- सड़क परिवहन, राजमार्ग, जहाज व जल संसाधन मंत्री, भारत सरकार

वजह- चार साल बीत जाने के बाद भी नरेंद्र मोदी मंत्रीमंडल का सबसे प्रभावशाली मंत्री. इनके कार्यकाल में नेशनल हाइवे अथोरिटी ऑफ़ इंडिया ने 4,400 से आगे बढकर 9,829 किलोमीटर तक पहुँच गई है. पार्टी और पार्टी के बाहर भी अच्छे संबंध!

ख़ास बात- जल्द ही ये मराठी रेस्टोरेन्ट खोलने वाले हैं.


#8 राम माधव (उम्र- 53)

ram madhav 1

पद- राष्ट्रीय महासचिव, भाजपा

वजह- नॉर्थ ईस्ट और कश्मीर जैसे संवेदनशील राज्यों में भाजपा के संकटमोचन की भूमिका में.भारत के साथ नेपाल, श्रीलंका के अलावा अमेरिका और रूस जैसे शक्तिशाली देशों के साथ ग़ैर-प्रशासनिक व कूटनीतिक मामलों में शामिल.भाजपा और संघ के बीच की प्रमुख कड़ी. दक्षिणपंथी बौद्धिकों से जुड़े थिंक-टैंक इंडिया फाउंडेशन का संचालन.

ख़ास बात- इन्हें नॉन-फिक्शन पढ़ने का शौक है. अपनी हवाई यात्राओं के दौरान भी ये कॉलम लिखा करते हैं.


#9 एन. चंद्राबाबू नायडू (उम्र- 67)

c b naidu

पद- मुख्यमंत्री, आंध्रप्रदेश

वजह- आंध्रप्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा न दिए जाने के मुद्दे पर एनडीए से विरोध हुआ. तकनीक के अच्छे जानकार,

ख़ास बात- सबसे ज्यादा हवाई यात्रा करने वाले मुख्यमंत्री होने के बावज़ूद ये ‘एयर इन्डिया’ में यात्रा करने से बचते हैं.


#10 हिमांता बिस्वा सरमा (उम्र- 49)

Untitled design 2

पद- वित्त, स्वास्थ्य, शिक्षा और पर्यटन मंत्री, असम, कन्वेनर- नेडा (NEDA)

वजह- नॉर्थ ईस्ट के छः राज्यों के जीत की वजह. नॉर्थ ईस्ट से सम्बंधित हर मसले पर पार्टी इनकी बात ही मानती है.

ख़ास बात- बहुत छोटी उम्र से ही संघ की शाखा के सदस्य. ज्योतिषशास्त्र के जानकार


ये भी पढ़ें : 

दुनिया में धूम मचा रहे हैं ये 10 इंडियन

महाभारत के टाइम इंटरनेट था, ये देखिए 7 सुबूत!

आंबेडकर को अपनाने चली भाजपा उनकी ये 10 बातें नहीं पचा पाएगी


लल्लनटॉप कहानियों को खरीदने का लिंक: अमेज़न 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

पोस्टमॉर्टम हाउस

बाबा बने बॉबी देओल की नई सीरीज़ 'आश्रम' से हिंदुओं की भावनाएं आहत हो रही हैं!

आज ट्रेलर आया और कुछ लोग ट्रेलर पर भड़क गए हैं.

करोड़ों का चूना लगाने वाले हर्षद मेहता पर बनी सीरीज़ का टीज़र उतना ही धांसू है, जितने उसके कारनामे थे

कद्दावर डायरेक्टर हंसल मेहता बनायेंगे ये वेब सीरीज़, सो लोगों की उम्मीदें आसमानी हो गई हैं.

फिल्म रिव्यू- खुदा हाफिज़

विद्युत जामवाल की पिछली फिल्मों से अलग मगर एक कॉमर्शियल बॉलीवुड फिल्म.

फ़िल्म रिव्यू: गुंजन सक्सेना - द कारगिल गर्ल

जाह्नवी कपूर और पंकज त्रिपाठी अभिनीत ये नई हिंदी फ़िल्म कैसी है? जानिए.

फिल्म रिव्यू: शकुंतला देवी

'शकुंतला देवी' को बहुत फिल्मी बता सकते हैं लेकिन ये नहीं कह सकते इसे देखकर एंटरटेन नहीं हुए.

फ़िल्म रिव्यूः रात अकेली है

नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी और राधिका आप्टे अभिनीत ये पुलिस इनवेस्टिगेशन ड्रामा आज स्ट्रीम हुई है.

फिल्म रिव्यू- यारा

'हासिल' और 'पान सिंह तोमर' वाले तिग्मांशु धूलिया की नई फिल्म 'यारा' ज़ी5 पर स्ट्रीम होनी शुरू हो चुकी है.

फिल्म रिव्यू- दिल बेचारा

सुशांत के लिए सबसे बड़ा ट्रिब्यूट ये होगा कि 'दिल बेचारा' को उनकी आखिरी फिल्म की तरह नहीं, एक आम फिल्म की तरह देखा जाए.

सैमसंग के नए-नवेले गैलेक्सी M01s और रियलमी नार्ज़ो 10A की टक्कर में कौन जीतेगा?

सैमसंग गैलेक्सी M01s 9,999 रुपए में लॉन्च हुआ है.

अनदेखी: वेब सीरीज़ रिव्यू

लंबे समय बाद आई कुछ उम्दा क्राइम थ्रिलर्स में से एक.