Submit your post

Follow Us

क्या एक हार के बाद ही ऐसी संभावना बन गई कि इंडिया सेमीफाइनल से पहले ही बाहर हो जाए?

5
शेयर्स

मैन इन ब्लू. यानी इंडियन टीम. टीम इंडिया. पिछले मैच में ये टीम मैन इन ऑरेंज बनकर गई थी. और हार गई. जीत का अंतर अगर स्टेटिस्टिक्स के हिसाब से कहें तो रहा- 31 रनों का और अगर फिगर्स का मानवीयकरण किया जाए तो जीत का अंतर रहा- धोनी की डीआरएस या जॉनी का शतक या धोनी की धीमी बल्लेबाजी या…

दिक्कत यही होती है. अंत में जो मैटर करता है, वो है स्टेटिस्टिक्स. जीत हार. पॉइंट टेबल. नंबर्स.

और अच्छी बात ये कि ‘पॉइंट-टेबल’ में इंडिया ‘कंफर-टेबल’ नज़र आ रही है. लेकिन क्या वाकई ऐसा है? क्या वाकई इंडिया को सेमीफाइनल में जाने से कोई नहीं रोक सकता? कुछ लोगों को लगता है कि एक ऐसी स्थिति है जिसमें अब भी भारत सेमीफाइनल खेलने से महरूम रह सकती है. क्या वे लोग सही हैं? चलिए स्टेप बाय स्टेप डिस्कस करते हैं, और अपने निष्कर्ष तक पहुंचते हैं.

# 1) ऑस्ट्रेलिया पहुंच चुकी सेमीफाइनल इसलिए उसे इस गणित से हटा देते हैं.

# 2) नीचे की चार टीमों- श्रीलंका, साउथ अफ्रीका, वेस्ट इंडीज़ और अफगानिस्तान के भी सेमीफाइनल में पहुंचने की पॉसिबिल्टी को भी हटा दीजिए. कारण ये कि भारत के तो पहले ही 11 पॉइंट्स हैं, इसलिए उसे बाहर वही कर सकती है जिसके भारत के बराबर यानी 11 या उससे अधिक पॉइंट हों या ऐसा होने की संभावना हो. लेकिन इन चार टीमों (श्रीलंका, साउथ अफ्रीका, वेस्ट इंडीज़ और अफगानिस्तान) के न 11 पॉइंट हैं, न ही ऐसा भविष्य में संभव है.

# 3) बचती हैं पांच टीमें- इंडिया, न्यूज़ीलैंड, इंग्लैंड, पाकिस्तान और बांग्लादेश. तो चलिए अगर-मगर इन्हीं टीमों को लेकर खेला जाए. वो भी केवल बचे हुए मैच से.

# 4) तो पहले बात करते हैं इंग्लैंड की- वो अगर अपना मैच न्यूज़ीलैंड से जीत जाती है तो उसके हो जाते हैं- 12 पॉइंट्स. और यूं वो हो जाती है दूसरी टीम, सेमीफाइनल में पहुंचने वाली. और तब पॉइंट टेबल होती है कुछ ऐसी-

मैच खेले मैच जीते पॉइंट्स
ऑस्ट्रेलिया 8 7 14
इंग्लैंड 9 6 12
इंडिया 7 5 11
न्यूज़ीलैंड 9 5 11
पाकिस्तान 8 4 9
बंगलादेश 7 3 7

# 5) अब अगर पाकिस्तान अपना मैच बांग्लादेश से जीत जाए तो पॉइंट टेबल होती है कुछ ऐसी-

मैच खेले मैच जीते पॉइंट्स
ऑस्ट्रेलिया 8 7 14
इंग्लैंड 9 6 12
इंडिया 7 5 11
न्यूज़ीलैंड 9 5 11
पाकिस्तान 9 5 11

(बांग्लादेश को हटा दिया क्यूंकि अब वो 11 पॉइंट्स पर नहीं आ पाएगी)

यहां तक अगर आप रिविज़न करेंगे तो कुछ भी इम्पॉसिबल नहीं लग रहा. आगे भी आपको मुश्किल लगेगा लेकिन असंभव नहीं.

# 6) ईश्वर न करे लेकिन भारत अपने दोनों मैच (बांग्लादेश और श्रीलंका से) हार जाए. अतीत में हारा भी है. इस तरह पॉइंट टेबल हो गई कुछ ऐसी-

मैच खेले मैच जीते पॉइंट्स
ऑस्ट्रेलिया 8 7 14
इंग्लैंड 9 6 12
इंडिया 9 5 11
न्यूज़ीलैंड 9 5 11
पाकिस्तान 9 5 11

ऑस्ट्रेलिया इंग्लैंड आसानी से फाइनल में पहुंच गए बचे इंडिया, न्यूज़ीलैंड और पाकिस्तान. तीनों के ग्यारह पॉइंट्स. और तीनों ही अपने सारे मैच खेल चुके. ऑस्ट्रेलिया के नवें मैच के बारे में न हमने अपनी पूरी गणित में बात की न ही उसका कोई प्रभाव पड़ेगा. क्यूंकि 9 मैच में 14 पॉइंट कह लो या 16. वो तो कम्फ़र्टेबल है.

# 7) यूं तीन टीमों में से कोई दो ही जाएगी सेमीफाइनल में. और वो दो टीमें सेलेक्ट की जाएंगी नेट रन रेट के हिसाब से. होने को नेट रन रेट के हिसाब से भारत को सबसे ज़्यादा एज है, और ये अंतर इतना बड़ा है कि ये पाटना पाकिस्तान के बस का तो लग नहीं रहा. क्यूं और कैसे, आइए जानते हैं.


# नेट रन रेट –

अब रन रेट की बात कर लेते हैं. इसका कैलकुलेशन बड़ा सिंपल है. माना इंडिया का नेट रन रेट पता करना है तो ये देखो उसने अब तक पूरे टूर्नामेंट में कितने रन बनाए उसे डिवाइड कर दो उन ओवर्स से जो उसने खेले. ये ठहरा औसत इस बात का कि पूरे टूर्नामेंट में इंडिया ने प्रति ओवर कितने रन बनाए. और इसमें से माइनस कर दो वो संख्या जो अब तक के पूरे टूर्नामेंट में प्रति ओवर उसके खिलाफ बने. अगर ये कन्फ्यूजिंग है तो चलिए इंडिया का उदाहरण लेकर इसे कैलकुलेट किया जाए बड़ा सिंपल लगने लगेगा.

# पहले देखते हैं इंडिया ने इस टूर्नामेंट में अब तक कितने रन बनाए- 230 (साउथ अफ्रीका के खिलाफ) + 352 (ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ) + 301 (पाकिस्तान के खिलाफ, डीएलएस के बाद) + 224 (अफगानिस्तान के खिलाफ) + 268 (वेस्ट इंडीज के खिलाफ) + 306 (इंग्लैंड के खिलाफ) = 1,681

# और इसके लिए कितने ओवर्स खेले- 47 ओवर 3 गेंद + 50 + 40 (डीएलएस के बाद) + 50 + 50 + 50 = 287 ओवर्स 3 गेंदों में या 287.5 ओवर्स में (क्यूंकि 3 गेंदों का मतलब आधा ओवर)

यूं भारत का अब तक तक एवरेज हुआ = 1,681/287.5  = 5.847 रन प्रति ओवर.

# इसी तरह इंडिया के खिलाफ रन बने- 227 + 316 + 212 + 213 + 143 + 337 = 1,448

# और ये बने कितने ओवर्स में- 50 + 50 + 40 + 50 + 50 + 50 = 290

यूं भारत के खिलाफ एवरेज हुआ- 1,448/290= 4.993 रन प्रति ओवर.

इस तरह भारत का वर्तमान नेट रन रेट हुआ = 5.847 – 4.993 = 0.854‬


# क्यूं लगभग असंभव है पाकिस्तान का भारत को नेट रन रेट के मामले में हराना?-

आपने देखा कि भारत ने जितने रन बनाए और जितने खाए उसमें +233 का अंतर है. और पाकिस्तान का नेट रन रेट भी लगभग भारत के बराबर है, लेकिन माइनस में. इस हिसाब से पाकिस्तान ने जितने रन बनाए और जितने खाए उसमें भी कम से कम डेढ़ से पौने दो सौ रनों का तो अंतर होगा ही, लेकिन नेगटिव में. इस हिसाब से पाकिस्तान को अगर भारत ने नेट रन रेट के बराबर पहुंचना है तो, नहीं भी तो, कम से कम साढ़े तीन सौ रनों के अंतर को तो पाटना ही होगा.   मतलब भारत को बड़े अंतरों से हारना होगा. और दोनों मैच हारने होंगे. वो भी आसान टीमों से. दूसरी तरफ पाकिस्तान को बड़े अंतर से जीतना होगा. कितने बड़े? बहुत बड़े.

इसलिए ये संभावना केवल संभावना ही बनी रह जाने वाली है. इतना हमें यकीन है. लेकिन क्या हमें निश्चितं रहना चाहिए? यू नेवर नो!


# वीडियो देखें:

रोहित शर्मा ने सबूत दिया कि वो गलत आउट दिए गए थे-

 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें
ICC WC 2019: Can India ‘not qualify’ for semi finals, know what is Net Run Rate (NRR)

10 नंबरी

विकी कौशल के सैम मानेकशॉ बनने पर पद्मावत के एक्टर ने जो कहा, उससे उन्हें शॉक लगा होगा

जब सब तरफ बहुत तारीफें हो रही थी, ये कमेंट आ गया.

1984 में एक साथ निकले 8 IPS अधिकारियों के हवाले है इस वक्त वतन

मोदी सरकार में इन आठों अधिकारियों की नियुक्ति दो साल के अंदर हुई है.

दोस्ताना 2 का टीज़र आपको इस सवाल के साथ छोड़ देता है

दोस्ताना की तरह इस फिल्म में भी तीन किरदार हैं.

इन 10 बातों से पता चलता है, बैट से पीटने वाले आकाश विजयवर्गीय नए जमाने के असली नेता हैं

वीडियो देख हम कई नतीजों पर पहुंचे और कई सवाल भी उठे.

यूपी की मशहूर कठपुतली के किरदारों से अमिताभ-आयुष्मान की फिल्म का क्या कनेक्शन है?

खालिस लखनवी मुस्लिम बुजुर्ग के रोल में अमिताभ बच्चन को पहचानना मुश्किल है.

अमरीश पुरी के 18 किस्से: जिनने स्टीवन स्पीलबर्ग को मना कर दिया था!

जिसे हमने बेस्ट एक्टर का एक अवॉर्ड तक न दिया, उसके बारे में स्पीलबर्ग ने कहा "अमरीश जैसा कोई नहीं, न होगा".

सोनाक्षी सिन्हा की अगली फिल्म जिसमें वो मर्दों के गुप्त रोग का इलाज करेंगी

खानदानी शफाखाना ट्रेलर: सोनाक्षी के मरीजों की लिस्ट में सिंगर-रैपर बादशाह भी शामिल हैं.

मोदी करेंगे सेल्फी आसन, केजरीवाल का रॉकेटासन और राहुल करेंगे कुर्तासन

निंदासन, चमचासन, वोटर नमस्कार. लॉजिक छोड़िए, ध्यान भड़कने पर लगाइए, नथुने फड़काइए और ये आसान से आसन ट्राई कीजिए.

संसद में राष्ट्रपति के अभिभाषण की छह खास बातें

इससे पता चलता है कि मोदी सरकार अगले पांच साल में क्या करने वाली है.

दिलजीत दोसांझ की अगली फिल्म, जो ट्रेलर में अपनी ही बेइज्ज़ती कर लेती है

फिल्म में पुलिसवाला, नौटंकीबाज हीरोइन, एक भटकती आत्मा और सनी लियोनी भी हैं.