Submit your post

Follow Us

हैदराबाद एनकाउंटर में 4 आरोपियों की मौत के बाद किस नेता ने क्या लिखा?

5
शेयर्स

हैदराबाद गैंगरेप मामले के चारों आरोपी एनकाउंटर में मारे गए हैं. रिपोर्ट्स के मुताबिक 5 दिसंबर की देर रात पुलिस चारों आरोपियों को उस जगह लेकर गई थी, जहां डॉक्टर की जली हुई लाश मिली थी. वहीं उन्होंने भागने की कोशिश की और इसी कोशिश में चारों को एनकाउंटर में मार गिराया.

इस मौके पर सोशल मीडिया पर नेताओं और राजनीति से जुड़े लोगों ने रिएक्ट किया. किसने क्या कहा. पढ़िए.

शशि थरूर ने एक ट्वीट को री-ट्वीट करते हुए लिखा. हमें और जानने की जरूरत है.

किसी फैसले पर न पहुंचने की बात कही. ये भी लिखा कि कानूनी दायरे से बाहर

जयपुर ग्रामीण से सांसद राज्यवर्धन सिंह राठोर ने लिखा. मैं हैदराबाद पुलिस और उस नेतृत्व को बधाई देता हूं, जिसने पुलिस को पुलिस की तरह काम करने दिया. ये वो देश हैं जहां ग़लत पर हमेशा सही की जीत होती रहेगी. आगे ये भी स्पष्ट किया कि पुलिस ने जो किया आत्मरक्षा में किया.

शिवसेना की नेता प्रियंका चतुर्वेदी ने लिखा.

कि न्याय, न्याय प्रणाली का काम है. जब न्याय में देर हो रही हो, न्याय न मिल रहा हो तो सरकार पर दबाव बनना चाहिए.

भाजपा की रणनीतिकार हैं शुभ्रास्था. ट्वीट किया. उचित प्रक्रिया चाहने वाले आराम कर सकते हैं. एक महिला के रूप में मैं खुश हूं, राहत मिली. पुलिस का शुक्रिया, अगर हम क़ानून का हवाला देकर बलात्कारियों को बचा सकते हैं. तो हम क़ानून से ही ये भी साबित कर सकते हैं कि उन्हें ठीक ख़त्म किया गया.

कांग्रेस के संजय झा ने एक केले की तस्वीर डालकर देश को बनाना रिपब्लिक बनने की बधाई दी.

महाराष्ट्र में बीजेपी के विधायक ने पुलिस कमिश्नर वीसी सज्जनार की फोटो लगाकर सैल्यूट किया.

बीजेपी की नेता ने उमा भारती ने इस मुद्दे पर कई ट्वीट का थ्रेड पोस्ट किया.

इसे सदी के 19 वें साल में महिलाओं को सुरक्षा की गारंटी देने वाली यह सबसे बड़ी घटना बता डाला. कहा, मैं अब विश्वास कर सकती हूं कि दूसरे राज्यों के शासन में बैठे हुए लोग अपराधियों को तत्काल सबक सिखाने के रास्ते निकालेंगे.

आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह ने लिखा. “इस मामले में देश भर में जनता जिस तरह संतोष ज़ाहिर कर रही है उससे साफ़ है कि देश का क्रिमिनल जस्टिस सिस्टम फ़ेल है और जनता का भरोसा उससे उठ चुका है. चारों आरोपी अगर पुलिस गिरफ़्त से भागने की कोशिश कर रहे थे तो उस वक़्त पुलिस के पास इसके अलावा और कोई चारा ही नही था.”

बीजेपी की मेनका गांधी ने सोशल मीडिया पर कुछ लिखा नहीं. लेकिन मुंह से बोलकर बयान जरूर दिया है. कहा,

‘जो हुआ बहुत भयानक हुआ है देश के लिए. आप अपने हाथ में कानून नहीं ले सकते. वो (आरोपी) कोर्ट के द्वारा फांसी पर चढ़ा ही दिए जाते. अगर कानून की पूरी प्रक्रिया होने के पहले ही उन्हें मार दिया जाता है, तो फिर कोर्ट, कानून और पुलिस का मतलब क्या है.’

बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने भी तेलंगना एनकाउंटर को सही बताया. कहा,

‘हैदराबाद में जो भी हुआ वो अपराधियों के खिलाफ काम करेगा. हम इसका स्वागत कर रहे हैं. बिहार में भी महिलाओं के खिलाफ होने वाले अपराधों की संख्या बढ़ रही है. यहां राज्य सरकार बहुत ढीली है और कुछ नहीं कर रही.’


वीडियो देखें:

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

10 नंबरी

शैलेंद्र ने 'गाइड' के गीत लिखने के लिए देवानंद से इतने ज़्यादा पैसे क्यूं मांग डाले थे?

'आज फ़िर जीने की तमन्ना है: एक गीत, सात लोग और नौ किस्से

ऋषि कपूर ने बताया कि वो 'चिंटू' नाम से बुलाए जाने पर कितने दुखी हैं

क्या आपको दूसरे स्टार्स के ये 'घर वाले' नाम पता हैं?

इन 4 फिल्मी खलनायकों के थे अपने खुद के देश, जैसा अब रेप के आरोपी नित्यानंद का है

शोम शोम शोम, शामो शा शा...

शशि कपूर ने बताया था, दुनिया थर्ड क्लास का डिब्बा है

पढ़िए उनके दस यादगार डायलॉग्स.

जब तक ये 11 गाने रहेंगे, शशि कपूर याद आते रहेंगे

हर एज ग्रुप की प्ले लिस्ट में आराम से जगह बना सकते हैं ये गाने.

मीरा नायर के ‘अ सूटेबल बॉय’ की 7 बातें: नॉवेल जितना ही बोल्ड है इसका तब्बू, ईशान स्टारर अडैप्टेशन

दुनिया के सबसे लंबे नॉवेल ‘अ सूटेबल बॉय’ की कहानी में कांग्रेस की राजनीति, पॉलिटिकल खेमेबाजी और नए आज़ाद हुए भारत के कई गहरे-पैने टुकड़े मिलेंगे.

जिमी शेरगिल: वो लड़का जो चॉकलेट बॉय से कब दबंग बन गया, पता ही नहीं चला

इन 5 फिल्मों से जानिए कैसे दबंगई आती गई.

जयललिता की एक और बायोपिक, जिसमें कंगना तो नहीं लेकिन उनके साथ गज़ब का संयोग जुड़ा है

ये सीरीज़ कंगना की फिल्म से अलग कैसे होगी?

अस्थाना देखा, वायरस देखा, खुराना देखा पर बोमन की खींची इन 60 फोटो को न देखा तो क्या देखा!

हैप्पी बड्‌डे बोमन ईरानी.

पुनीत इस्सर और अमिताभ के बीच हुए हादसे के बारे में इस एक्ट्रेस को पहले पता चल गया था!

राजीव गांधी ने उस समय अमिताभ के साथ होने के लिए अपना यूएस ट्रिप बीच में ही छोड़ दिया था.