Submit your post

रोजाना लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

Follow Us

सर्फ़ एक्सल का ऐड पसंद करने वाले उसमें ये कमियां नहीं देख पाए!

5
शेयर्स

सर्फ़ एक्सल के ऐड से लोगों को दिक्कतें हैं. होनी भी चाहिए. यहां किसी चीज पर दिक्कत न हो तो बड़ी दिक्कत होगी. फिर लोग रोजगार वगैरह की मांग करने लगेंगे. बेहतर है कि वो सर्फ़ एक्सल ऐड जैसे जरूरी मुद्दों पर कुकुरझांव करें. 7-8 साल के बच्चों में लव जिहाद जैसी चीजें खोज कर उसी पर रेलमपेल लगे रहें. मुझे भी ऐड बुरा लगा है. वाकई बहुत बुरा लगा है. ये कैसा ऐड है जिसमें अमिताभ बच्चन नहीं हैं. इस ऐड को बायकॉट होता देख पता चला कि चुनाव शुरू हो चुका है. लोगों ने अपने डिटर्जेंट पाउडर चुनना शुरू भी कर दिया है. मुझे जो सबसे बड़ी प्रॉब्लम लगी इस ऐड में कि ये पूरी तरह लॉजिक को खूंटी पर टांगकर बनाया गया है. क्या क्या गलती से मिस्टेक्स हुई हैं, प्वाइंट्स में जान लो.

1. रंग खतम नहीं होता

रंग दिवाली का पड़ाका तो है नहीं जो महंगा मिले. हजार- दो हजार का पड़ाका फुंक जाता है, बच्चे शांत हो जाते हैं. होली के रंगों के साथ ये नहीं होता. न होली खेलने वाले बच्चे इतने शांत चित्त होते हैं. उनका रंग इतनी आसानी से खतम नहीं होता. हो भी जाता है तो वो पानी भर भर मारने लगते हैं. हमने खेली है, हमको पता है. तो भैया खतम होने का तो बोलो ही मत.

रंग खतम
रंग खतम

2. रंग एक्सचेंज होता है

ऐड में दिखाया कि लड़का आकर साइकिल पर खड़ा हो जाता है और लड़की के कंधे पर हाथ रखकर मस्जिद तक जाता है. वो बच्ची इतना सारा कलर पोते हुए है कि उससे पांच इंच दूर से निकले कोई तो उसको भी रंग लग जाए. लेकिन ये सफेद कुरते पाजामे वाला चमत्कारी बच्चा बिना रंग का एक कतरा छुए नमाज़ पढ़ने चला जाता है. थोड़ा दिमाग लगाओ यार.

on cycle

3. खटारा साइकिल खतरनाक होती है

लड़का साइकिल पर खड़ा होकर सफर कर रहा है. साइकिल पर करियर छोड़ो, मडगार्ड भी नहीं है. पूरी रोड रंग, कीचड़ और पानी से भरी होगी. लेकिन साइकिल पर खड़े बालक के गंदगी छू नहीं गई. जनता को छुच्छू समझ रखा है क्या?

देखो देखो साइकिल की हालत देखो
देखो देखो साइकिल की हालत देखो

4. होली में रंगे कपड़े धोए नहीं जाते

इस ऐड की बुनियाद ही हिली हुई है. होली में रंग से भीगे कपड़े धोए नहीं जाते. वो पेड़ों पर टांग दिए जाते हैं. हमारे यहां तो कपड़ा फाड़ होली होती है. उसमें तो कपड़े बचते ही नहीं धोने के लिए. फिर भी जो धोते हैं उन मक्खीचूसों को होली खेलना आता नहीं. होली के लिए अलग से कपड़े निकालकर रखे जाते हैं. जिनको होली के दिन बरबाद करने के लिए ही पहना जाता है. और जब वो कपड़े धोने ही नहीं हैं, उनको दाग मिटाने ही नहीं हैं तो दाग अच्छे हों या गंदे. वाशिंग पाउडर सर्फ एक्सल हो या घड़ी घंटा, क्या फर्क पड़ता है यार.

होली खेलने के बाद किसी को कपड़ों की फिक्र नहीं रहती.
होली खेलने के बाद किसी को कपड़ों की फिक्र नहीं रहती.

इतना लिख गया तो ध्यान आया कि यार इस पर तो पड़ताल होनी चाहिए थी. लेकिन नहीं की ये भी अच्छा किया. जब इतने लोग सर्फ एक्सल को धो रहे हैं तो हम किसी कमजोर को कोप का भाजन क्यों बनाएं आंय?


अब एक वीडियो भी देखनाइच पड़ेगा. अच्छा लगे तो औरों को भी दिखाना.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें
Hindu-Muslim harmony is good but this Surf Excel Holi ad has some logical issues

10 नंबरी

कलंक टीज़र: सांड से लड़ते वरुण धवन को देखकर पसीना छूट जाता है.

संजय दत्त और माधुरी दीक्षित को एक ही फ्रेम में देखकर आंखों में चमक आ जाती है.

गार्ड ने वो बेवकूफी न की होती, तो आनंद के हीरो किशोर कुमार होते

बड़ी मुश्किल से 'आनंद' राजेश खन्ना को मिली थी.

'बागबान' में काम कर चुकी इस एक्ट्रेस को पीटता है उसका पति!

पहले मुंह पर थूका, मना करने पर फिर से वही काम किया.

40 शतक के बाद कोहली सचिन के इतने करीब पहुंच गए, पता भी नहीं चला

दूसरे वनडे में कोहली ने 6 रिकॉर्ड भी बना डाले.

RAW: 1971 के इंडियन सीक्रेट एजेंट की कहानी, जो पाकिस्तान जाकर अपना मिशन पूरा करेगा

ट्रेलर को 00:20 पर पॉज़ करके देखिए. कुछ पता लगा?

नसीरुद्दीन शाह और पंकज कपूर से भी बड़ी तोप एक्टर हैं उनकी सासू मां

इंडियन थियेटर और बॉलीवुड की दादी अम्मा रहीं दीना पाठक का आज बड्डे है.

पान सिंह तोमर के 12 डायलॉग्स पढ़ोगे? कहो हां!

आज ही के दिन रिलीज़ हुई थी.

'स्त्री' के बाद राजकुमार की इस फिल्म की भूतनी नए नवेले शादीशुदा आदमियों के पीछे है

इस मूवी में औरतें आखिर क्यों दूल्हे को सारी रात जगाए रखती हैं?