Submit your post

Follow Us

पुरुष खिलाड़ी ने गर्भवती सेरेना विलियम्स का मजाक उड़ाया, जवाब पा गया

ऐसा क्या है, जो दुनिया के एक बड़े पुरुष खिलाड़ी को उस समय की महानतम महिला खिलाड़ी का मखौल उड़ाने का अधिकार देता है? उसके खेल पर सवाल उठाने का हक देता है? या ये हक़ उस पुरुष खिलाड़ी को उसकी बढ़ती उम्र के साथ मिलता है? इस बात के साथ मिलता है कि अब वो 58 साल का है और युवा खिलाड़ियों के बारे में बातें कह सकता है?

नहीं.

ये असल में उसके मन का जहर है. जहर, क्योंकि उसके दिमाग में असुरक्षा का भाव है कि एक औरत, वो भी काली चमड़ी वाली, गर्भवती होते हुए एक ग्रैंड स्लैम कैसे जीत सकती है. वो इतनी ताकतवर कैसे हो सकती है.

अपने जज्बे और जूनून के चलते सेरेना विलिअम्स हर युवा लड़की के लिए एक मिसाल हैं. वो भी दुनिया भर में. एक ही नहीं, बार बार वो अपने अधिकारों के लिए खड़ी हुई हैं. टेनिस की दुनिया में चल रहे पुरुषवाद का खुलकर विरोध किया है. और यूं भी नहीं कि उनका नारीवाद कुछ बयानों में हवा हो गया हो, कागजों में खो गया हो. सेरेना ने लगातार पुरुष और औरत टेनिस प्लेयर को मिलने वाले जीत की धनराशि के बीच भेदभाव के खिलाफ भी खुलकर लड़ाई की है.

Tennis - Australian Open - Melbourne Park, Melbourne, Australia - 28/1/17 Serena Williams of the U.S. places her trophy on her head after winning her Women's singles final match against Venus Williams of the U.S. .REUTERS/Issei Kato TPX IMAGES OF THE DAY
Tennis – Australian Open – Melbourne Park, Melbourne, Australia – 28/1/17 Serena Williams of the U.S. places her trophy on her head after winning her Women’s singles final match against Venus Williams of the U.S. .REUTERS/Issei Kato TPX IMAGES OF THE DAY

मगर कोई औरत जब अपने मन की बात कहती है, उसके आस पास के पुरुष जरा असुरक्षित महसूस करते हैं. जॉन मेकेनरो भी उन्हीं पुरुषों में से एक हैं. जब मेकेनरो सेरेना विलियम्स पर सवाल उठाते हैं, असल में सवाल उनके ऊपर ही उठ रहा होता है. क्योंकि अपनी नई किताब, जो कि उनकी आत्मकथा है, को बेचने के लिए उन्हें सनसनी फैलाने वाला ट्वीट करना पड़ रहा है.

मेकेनरो ये ट्वीट कर जो करना चाहते थे, वो उन्हें मिल चुका है. जो लोग उनका नाम तक नहीं जानते थे, उनके बारे में बात कर रहे हैं, ट्वीट कर रहे हैं. लोग जानते हैं कि उनकी एक किताब आ रही है. मेकेनरो ने कहा कि इस समय महिला टेनिस में पहली रैंक पर खेलने वालीं सेरेना अगर पुरुषों के साथ खेल रही होतीं तो उनकी रैंक 700 होती. फिर भी एक सवाल. जो श्याद लोगों को जायज़ लग रहा हो, कि दुनिया की टॉप महिला टेनिस खिलाड़ी असल में टॉप पुरुष प्लेयर के मुकाबले कैसे खेल पाएंगीं.

सबसे पहली बात तो ये है कि दोनों के बीच तुलना करना ही एक आधारहीन बात है. एथलेटिक्स और खेलों की दुनिया में, पुरुषों को तबसे ट्रेनिंग मिल रही है, जब औरतें इस बारे में सोच भी नहीं सकती थीं. जब उन्होंने खेलना शुरू भी कर दिया, उन्हें कभी सही रिसोर्स और फंडिंग नहीं मिले. इसके बावजूद भी सेरेना आज एक ऐसा नाम हैं, जिन्हें टेनिस का पर्याय माना जाता है. उनके ही पुरुष साथी रॉजर फेडरर, जो पुरुषों में पहली रैंक पर हैं, ने 18 ग्रैंड स्लैम जीते हैं. वहीं सेरेना ने 23 सिंगल्स ग्रैंड स्लैम के अलावा 14 डबल ग्रैंड स्लैम भी जीते हैं.

Metropolitan Museum of Art Costume Institute Gala - Rei Kawakubo/Comme des Garcons: Art of the In-Between - Arrivals - New York City, U.S. - 01/05/17 - Serena Williams. REUTERS/Lucas Jackson
Metropolitan Museum of Art Costume Institute Gala – Rei Kawakubo/Comme des Garcons: Art of the In-Between – Arrivals – New York City, U.S. – 01/05/17 – Serena Williams. REUTERS/Lucas Jackson

इसके बावजूद भी मेकेनरो में इतनी हिम्मत है कि वे कहते हैं कि सेरेना अगर किसी पुरुष के खिलाफ खेलें तो हार जाएंगीं. टेनिस का हर एक्सपर्ट भी यही मानता है कि ये तुलना करना ठीक नहीं होगा. मगर उनके कहने में ये विश्वास शामिल रहता है कि पुरुष स्टार प्लेयर सेरेना को हरा देंगे. मेकेनरो कहते हैं कि वो सेरेना को सबसे अच्छी महिला खिलाड़ी कहेंगे, लेकिन दुनिया भर के महानतम टेनिस खिलाड़ियों में वो उन्हें नहीं रखेंगे.

और हां, जिस पुरुष खिलाड़ी की अंतर्राष्ट्रीय रैंक 701 है, दिमित्री तुर्सोनोव, कहते हैं कि वो भी सेरेना से जीत सकते हैं. वो कहते हैं कि सेरेना औरत हैं, साथ में प्रेग्नेंट भी हैं, इसलिए उन्हें हराना आसान है. अपने देश की बात करें तो मेरी कॉम जैसी औरतें दो बच्चे पैदा करने के बाद बॉक्सिंग की तरफ वापस आई हैं. ये बात सच है कि गर्भ के दौरान औरत के शरीर में बहुत से बदलाव आते हैं. मगर इसी बिनाह पर औरतों को टैलेंट के आधार पर कम आंकना उसी पुरुषवाद को दर्शाता है जिसे औरतें हजारों वर्षों के भुगत रही हैं.

अगर पुरुष और औरत की तुलना करें, तो टेनिस की ट्रेनिंग में भुगता हुआ दर्द उस दर्द के मुकाबले कुछ भी नहीं होता जो औरत बच्चे पैदा करने के समय भोगती है. फिर भी, प्रेगनेंसी को हलके में लेते हुए पुरुष टेनिस खिलाड़ी बड़े आराम से औरतों पर अपनी सत्ता स्थापित करते हैं.

मेकेनरो ने मामले को ठंडा करने के लिए कहा, ‘मेरे कहने का ये मतलब नहीं था की सेरेना एक ख़राब प्लेयर हैं. मैं तो बस ये कह रहा था कि ऐसी कोई स्थिति आए जब सेरेना को किसी पुरुष खिलाड़ी के खिलाफ खेलना पड़े, तो वो जरूर कई पुरुष खिलाड़ियों को हरा देंगी क्योंकि वो दिमागी रूप से इतनी ताकतवर जो हैं.

साफ़ है, अपनी इज्जत बचाने के लिए, जलती आग में पानी डालने के लिए उन्होंने ऐसी बात कह ही दी.

लेकिन सेरेना जो हैं, जो उनकी ताकत है, उन्होंने सिर्फ इतना ट्वीट किया.

सेरेना जानती हैं कि उन्हें किसी को भी अपने टैलेंट का कोई सबूत देने की कोई जरूरत नहीं है. वो तबतक चौड़ में खेलती रहेंगी, जबतक मेकेनरो जैसे खिलाड़ी शारीरिक भेद के नाम पर औरतों को कमजोर बताते रहेंगे. और हां, सिर्फ अपनी किताब बेचने के लिए इस तरह की बकवास बातें कहते रहेंगे.


ये स्टोरी टीना दास ने लिखी है.

 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

10 नंबरी

ओटीटी का 'KGF' बनने के लिए क्या करने जा रहा है अमेज़न?

ओटीटी का 'KGF' बनने के लिए क्या करने जा रहा है अमेज़न?

अमेज़न आपके तमाम फेवरेट शोज़ वापस ला रहा है.

'KGF 2' ने एक और कीर्तिमान स्थापित कर दिया

'KGF 2' ने एक और कीर्तिमान स्थापित कर दिया

फिल्म बॉक्स ऑफिस पर धड़ल्ले से पैसे छाप रही है.

प्रेमीजनों के लिए खुशखबरी! शानदार लव स्टोरीज़ वाली सीरीज़ मॉडर्न लव का देसी संस्करण आ रहा

प्रेमीजनों के लिए खुशखबरी! शानदार लव स्टोरीज़ वाली सीरीज़ मॉडर्न लव का देसी संस्करण आ रहा

एक से से बढ़कर एक कलाकार चुने गए हैं. उम्मीद है धमाल होगा.

अजय-किच्चा की बहस पर सोनू सूद सही खेल गए

अजय-किच्चा की बहस पर सोनू सूद सही खेल गए

राम गोपाल वर्मा ने भी इस बहस पर अपनी राय रखी है.

मई में आने वाली हैं ये 14 बड़ी फिल्में और सीरीज़, जो आपको पूरा महीना रोमांचित रखेंगी

मई में आने वाली हैं ये 14 बड़ी फिल्में और सीरीज़, जो आपको पूरा महीना रोमांचित रखेंगी

दो बड़ी फिल्मों के सीक्वल भी इस लिस्ट में शामिल हैं.

एलन मस्क को ट्विटर खरीदने पर ऐसी बधाई कहीं और नहीं मिलेगी!

एलन मस्क को ट्विटर खरीदने पर ऐसी बधाई कहीं और नहीं मिलेगी!

एलन भैया के शासन में, ब्लूटिक बंटेंगे राशन में.

ट्विटर-ट्विटर से मन भर गया तो एलन मस्क के इन कारनामों को भी जान लीजिए!

ट्विटर-ट्विटर से मन भर गया तो एलन मस्क के इन कारनामों को भी जान लीजिए!

मस्क की पहचान टेस्ला और स्पेस एक्स से है.

वरुण-जाह्नवी की फिल्म 'बवाल' की 8 बातें, जिसके बनने से पहले ही कई बवाल हो गए

वरुण-जाह्नवी की फिल्म 'बवाल' की 8 बातें, जिसके बनने से पहले ही कई बवाल हो गए

'छिछोरे' के बाद साजिद नाडियाडवाला और नितेश तिवारी 'बवाल' पर साथ काम कर रहे हैं.

KGF 2 से भी ज़्यादा धांसू हैं साउथ की ये 5 फिल्में

KGF 2 से भी ज़्यादा धांसू हैं साउथ की ये 5 फिल्में

राम चरण, महेश बाबू जैसे एक्टर्स की फिल्में इस लिस्ट शामिल हैं.

अक्षय की माफ़ी के बाद अजय देवगन ने क्या कह दिया?

अक्षय की माफ़ी के बाद अजय देवगन ने क्या कह दिया?

अक्षय कुमार को उनके लेटेस्ट ऐड विमल के लिए नेगेटिव रिस्पॉन्स मिले.