Submit your post

Follow Us

गुरमीत ने ही क्रिकेट में टी-20 का आविष्कार किया था!

इंसान ने पहिये का आविष्कार किया. उसने शिकार के लिए हथियारों का आविष्कार किया. आगे चलके बहुत सारे आविष्कार हुए. जहाज, बन्दूक, गाड़ी और न जाने क्या-क्या. लेकिन अब अगर कहा जाए कि उसने दो पत्थरों को आपस में रगड़ कर आग का आविष्कार किया तो ये थोड़ा ज़्यादा हो जाएगा.

ऐसे ही एक वीडियो आया. चूंकि माहौल में बाबा ही बाबा व्याप्त हैं इसलिए इस वीडियो का सामने आना लाज़मी है. राम रहीम सिंह का एक वीडियो सामने आया. ऐसा लग रहा था जैसे बाबा की शो-रील हो. बाबा का भौकाल दिखाया जा रहा था. बाबा कभी ये खेल खेलते हुए दिख रहे थे कभी वो खेल. वो बास्केटबॉल, हैण्डबॉल खेलते हुए दिख रहे थे. उन्हें वॉलीबॉल खेलते हुए देखा जा सकता है. उन्हें हॉकी खेलते हुए देखा जा सकता है. वो क्रिकेट खेलते हुए दिखते हैं. गेंदें उनके आगे गिराई जाती हैं जिन पर कमेंटेटरानुसार “पूज्य पिताजी का शानदार शॉट!” देखने को मिलता है. इसमें उन्होंने अपने नियम भी बनाये हुए हैं. अगर फलानी जगह गेंद गई तो आठ रन मिलेंगे. और ‘पूज्य पिताजी’ को आठ रन मारने का क्रेडिट दे दिया जाता है. ये तो वही है कि घर के सामने तिकोने पार्क के बाहर डायरेक्ट आउट लगा लो. पार्क के अन्दर वन-टिप-वन-हैंड लगा लो और धकापेल विकेट निकालो. बाद में खुद को भुवनेश्वर कुमार का कोच और वेंकटेश प्रसाद का दोस्त मान बैठो.

खैर, इतना भी झेला जा सकता था. एक और अलाउंसमेंट हुआ. क्रिकेट में टी-20 फॉर्मैट का बाबा ने आविष्कार किया था. ये बात जैसे ही मैंने एक रैंडम गोरे (बिना रेसिस्ट हुए) लड़के को बताई, उसका रीऐक्शन कुछ ऐसा था.

अब जब इसका ये हाल है तो मैं अपना न ही बताऊं तो बेहतर है. टी-20 क्रिकेट को इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड ने 2003 में शुरू किया था. ये शुरुआत हुई थी काउंटी टीमों के मैच के लिए. अब अगर कोई अपने पार्क में टाइम और बाकी चीज़ों की कमी के चलते 20-20 ओवर का मैच पहले से खेलता आ रहा हो तो उसे टी-20 के मैच का आविष्कार करने वाला नहीं न कहने लगेंगे. ऐसा तो है नहीं कि दुनिया में कहीं भी 2003 से पहले किसी भी दो टीमों के बीच 20-20 ओवर का खेल नहीं खेला गया था. अगर खेला गया था तो ‘आविष्कार’ उन्होंने किया होगा न कि बाबा ने. लेकिन उसे ‘अविष्कार’ नहीं कह सकते. अव्वल तो ये कि आविष्कार भौतिक चीज़ों का किया जाता है न कि किसी कॉन्सेप्ट का. दूसरा ये कि जब तक चीज़ें आधिकारिक यानी ऑफिशियल नहीं हो जातीं, चीज़ें ऑफिशियल नहीं होतीं.

बाबा का क्रिकेट किसी क्रिकेट असोसिएशन से जुड़ा नहीं होता. बाबा का क्रिकेट बीसीसीआई से जुड़ा नहीं है. ऐसे में जो भी महाशय इस बात में विश्वास रखते हैं कि बाबा भौकाली हैं, वो भोले हैं.

इसके सिवा वीडियो में ये भी कहा गया है कि बाबा की सिखाई टीमों ने थ्रोबॉल और योग में वर्ल्ड कप जीता है. ये योग का कौन सा वर्ल्ड कप होता है भइय्या? हां एक वर्ल्ड योग कप ज़रूर होता है जिसमें इंडिया की तरफ से योगा फ़ेडरेशन ऑफ़ इंडिया नाम की गैर सरकारी संस्था से ‘योगी’ जाते हैं और दुनिया भर के योगियों से मुकाबला करते हैं. इस योगा फ़ेडरेशन ऑफ़ इंडिया में दूर-दूर तक कहीं भी गुरमीत राम रहीम सिंह का नाम नहीं आता है. जो एकमात्र कनेक्शन देखा जा सकता है, वो ये है कि इस फ़ेडरेशन का रजिस्टर्ड ऑफिस पंचकुला, हरियाणा में है.

मालूम देता है कि ये वही मामला है जैसे बाबा कोहली और नेहरा को अपना चेला बताते हैं. बाबा ने कहीं टूर्नामेंट कराया. बड़े खिलाड़ी आये. बाबा ने उनके साथ फ़ोटो खिंचवा ली और कहने लगे “ये देखो, हमने इन्हें खेलना सिखाया है.” फ़ोटो के दम पर बाबा सबसे बड़ा खेल खेल रहा है. खैर, अब तो कहानी पैक हो गई है. 20 साल की मिली है. डेरा सच्चा सौदा में हुई करतूतें काफी बड़ा सौदा मालूम दे रही हैं. और ये वीडियो उतना ही फ़ेक है जितना सराहा ऐप पर आया आई लव यू. बाकी जो है, सो हैय्ये है.


ये भी पढ़ें:

‘पूज्य पिताजी’ के क्रिकेट टूर्नामेंट के नियम सुन लेंगे तो मन श्रद्धा से भर जाएगा!

राम रहीम को 10-10 साल कैद की कैद, अलग-अलग चलेगी सजा

राम रहीम की सज़ा पर सबसे सही बात इस आदमी ने बोली है!

प्रियंका तनेजा उर्फ़ हनीप्रीत: गुरमीत की ‘गुड्डी’, जिसके बिना उसका एक मिनट भी नहीं कटता

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

10 नंबरी

वो फिल्म जिसमें काजोल का मर्डर कर, आशुतोष राणा ने फिल्मफेयर जीत लिया

काजोल के साथ ब्लॉकबस्टर फिल्में दे चुके शाहरुख ने इस फिल्म में काम करने से मना क्यों कर दिया?

इंडिया का वो ऐक्टर, जिसे देखकर एक्टिंग की दुनिया के तमाम तोपची नर्वस हो जाएं

नर्वस होने की लिस्ट में शाहरुख़, सलमान, आमिर सबके नाम लिख लीजिए.

वेंडल रॉड्रिक्स, जिन्होंने दीपिका को रातों-रात मॉडल और फिर स्टार बना दिया?

आज वेंडेल रोड्रिक्स का बड्डे है.

घोड़े की नाल ठोकने से ऑस्कर तक पहुंचने वाला इंडियन डायरेक्टर

इन्हें अंग्रेज़ी नहीं आती थी, अमेरिका जाते वक्त सुपरस्टार दिलीप कुमार को साथ लेकर गए थे. हॉलीवुड के डायरेक्टरों की बात समझने के लिए.

इबारत : नेहरू की ये 15 बातें देश को हमेशा याद रखनी चाहिए

नेहरू के कहे-लिखे में से बेहतरीन बातें पढ़िए

अमिताभ की उस फिल्म के 6 किस्से, जिसकी स्क्रीनिंग से डायरेक्टर खुद ही उठकर चला गया

अमिताभ डायरेक्टर के पीछे-पीछे भागे, तब जाकर वो रुके.

इबारत : Ertugrul में इब्ने अरबी के 10 डायलॉग अंधेरे में मशाल जैसे लगते हैं

आजकल ख़ूब चर्चा हो रही है इस सीरीज़ की

इबारत : शरद जोशी की वो 10 बातें जिनके बिना व्यंग्य अधूरा है

आज शरद जोशी का जन्मदिन है.

इबारत : सुमित्रानंदन पंत, वो कवि जिसे पैदा होते ही मरा समझ लिया था परिवार ने!

इनकी सबसे प्रभावी और मशहूर रचनाओं से ये हिस्से आप भी पढ़िए

गिरीश कर्नाड और विजय तेंडुलकर के लिखे वो 15 डायलॉग, जो ख़ज़ाने से कम नहीं!

आज गिरीश कर्नाड का जन्मदिन और विजय तेंडुलकर की बरसी है.