Submit your post

Follow Us

सोशल मीडिया पर गुजरात के एक और नेता का इस्तीफा हुआ है!

भरत सिंह सोलंकी. गुजरात में कांग्रेस नेता के तौर पर अहमद पटेल के बाद किसी के नाम का सिक्का चलता है तो वो भरत सिंह सोलंकी ही हैं. गुजरात कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष हैं. लगभग दो साल से इस पद पर काबिज हैं. इसी महीने वो चर्चा में तब आए थे, जब उन्होंने ऐलान किया था कि वो किसी भी सीट से चुनाव नहीं लड़ेंगे. एक बार फिर चर्चा में तब आए, जब कांग्रेस के प्रत्याशियों की पहली लिस्ट जारी हुई. सामने आकर सफाई देनी पड़ी कि ये लिस्ट कांग्रेस की आधिकारिक लिस्ट नहीं है और बीजेपी ने फर्जी तरीके से इसे जारी किया है. अब वही भरत सिंह सोलंकी एक बार फिर चर्चा में हैं. इस बार चर्चा उनके कांग्रेस से इस्तीफे को लेकर है.

Solanki letter
भरत सिंह सोलंकी के इस्तीफे का ये पत्र सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है.

23 नवंबर को सोशल मीडिया पर एक लेटर वायरल हो गया. ये लेटर भरत सिंह सोलंकी के कांग्रेस से इस्तीफे को लेकर था. कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को संबोधित इस पत्र में लिखा था,  ‘टिकट बंटवारे से लेकर कुछ और मुद्दों पर लिए गए फैसले से असंतुष्ट होकर मैं कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे रहा हूं.’ पत्र में लिखा गया था कि विधानसभा के टिकट उन लोगों को बेच दिए गए, जो इसके लायक नहीं थे. लेटर पैड गुजराती में था, पत्र हिंदी में लिखा गया था और इस पर अंग्रेजी में भरत सिंह सोलंकी के सिग्नेचर थे.

लेटर वायरल होने के बाद एक बार फिर से भरत सिंह सोलंकी को मीडिया के सामने आना पड़ा और इस्तीफे का खंडन करना पड़ा. सोलंकी ने कहा-

मैं कांग्रेस और राहुल गांधी का सैनिक हूं. मेरी चार पीढ़ियां कांग्रेस के साथ जुड़ी रही हैं. इसलिए इस्तीफे का तो सवाल ही नहीं उठता है. 182 प्रत्याशियों को चुनाव जितवाना है, इसलिए खुद चुनाव नहीं लड़ रहा हूं. जो पत्र सोशल मीडिया पर जारी हुआ है, वो फर्जी है. जनता को गुमराह करने के लिए बीजेपी की ओर से ये पत्र जारी किया गया है. जनविरोधी नीतियों के चलते घिरी बीजेपी अलग-अलग पैंतरे आजमा रही है.

भरत सिंह सोलंकी ने ट्वीट कर कहा-

इसके बाद सोलंकी ने एक और ट्वीट किया-

कांग्रेस प्रवक्ता मनीष दोषी ने कहा कि पार्टी इसकी शिकायत चुनाव आयोग से करेगी. गुजरात के डीजीपी से भी कांग्रेस ने इस बात की शिकायत की है.

solanki 12
भरत सिंह सोलंकी ने इस्तीफे का खंडन किया है और खुद को कांग्रेस और राहुल गांधी का सिपाही बताया है.

यूं तो अक्सर चुनावी मौसम में इस्तीफे होते रहते हैं. कोई टिकट कटने का आरोप लगाकर इस्तीफा दे देता है तो कोई अपनी बातें न सुने जाने को लेकर इस्तीफा देता आया है. भरत सिंह सोलंकी के इस्तीफे की अफवाह ने गुजरात की सियासत को इसलिए गर्म कर दिया कि सोलंकी कांग्रेस के बड़े नेता हैं. उनके पिता माधव सिंह सोलंकी गुजरात के मुख्यमंत्री रह चुके हैं. लोकसभा चुनाव में जब गुजरात में कांग्रेस पार्टी की हार हुई थी तो उस वक्त कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष रहे अर्जुन मोढवाडिया ने पद से इस्‍तीफा दे दिया था. मुश्किल में पड़ी कांग्रेस में नई जान फूंकने के लिए भरत सिंह सोलंकी को जिम्मेदारी दी गई. इसका असर भी गुजरात में देखने को मिल रहा है. जिस गुजरात में कांग्रेस के नामलेवा इक्का-दुक्का ही बचे थे, वहां अब कांग्रेस लड़ाई में दिखने लगी है.

solanki manmohan
सोलंकी यूपीए 2 में ऊर्जा राज्यमंत्री थे.

जब 2009 में यूपीए 2 की सरकार बनी तो मनमोहन सिंह ने उन्हें ऊर्जा राज्यमंत्री बनाया था. 1995 से 2004 तक सोलंकी लगातार तीन बार विधायक रहे. 2004 से 2006 के बीच भरत सिंह सोलंकी ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी में सचिव भी रहे थे. 2004 और 2009 में भरत सिंह सोलंकी आणंद लोकसभा सीट से सांसद बने थे, लेकिन 2014 में बीजेपी के दिलीप भाई पटेल ने उन्हें चुनाव में हरा दिया था.


वीडियो में देखिए गुजरात के रानी की कहानी, जिसने एक हिंदू राजा की वजह से जौहर कर लिया

ये भी पढ़ें:

गुजरात चुनाव: देशभक्ति की लड़ाई में राहुल गांधी ने बीजेपी को पछाड़ दिया है

ग्राउंड रिपोर्ट सुरेंद्रनगरः जहां ‘चिल्लर करप्शन’ देवीपूजकों को जीने नहीं दे रहा

ग्राउंड रिपोर्ट ईडरः जहां के लोग एक पहाड़ बचाने की लड़ाई लड़ रहे हैं

मेहसाणा ग्राउंड रिपोर्टः जहां पुलिस की गोली से पाटीदार ‘शहीद’ हुए थे

 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

10 नंबरी

इस बजट के मौसम में निर्मला सीतारमण की प्लेलिस्ट में ये 12 फ़िल्मी गाने ज़रूर होने चाहिए

...और आपकी भी.

फिल्म '83' से क्रिकेटर्स के रोल में इन 15 एक्टर्स का लुक देखकर माथा ठीक हो जाएगा

रणवीर सिंह से लेकर हार्डी संधू और एमी विर्क समेत इन 15 एक्टर्स को आप पहचान ही नहीं पाएंगे.

शाहरुख खान से कार्तिक आर्यन तक इन सुपरस्टार्स के स्ट्रगल के किस्से हैरान कर देंगे

किसी ने भूखे पेट दिन गुजारे तो किसी ने मक्खी वाली लस्सी तक पी.

जब रमेश सिप्पी की 'शक्ति' देखकर कहा गया,'दिलीप कुमार अमिताभ बच्चन को नाश्ते में खा गए'

जानिए जावेद अख्तर ने क्यों कहा, 'शक्ति में अगर अमिताभ की जगह कोई और हीरो होता, तो फिल्म ज़्यादा पैसे कमाती?'

जब देव आनंद के भाई अपना चोगा उतारकर फ्लश में बहाते हुए बोले,'ओशो फ्रॉड हैं'

गाइड के डायरेक्टर के 3 किस्से, जिनकी मौत पर देव आनंद बोले- रोऊंगा नहीं.

2020 में एमेज़ॉन प्राइम लाएगा ये 14 धाकड़ वेब सीरीज़, जो मस्ट वॉच हैं

इन सीरीज़ों में सैफ अली खान से लेकर अभिषेक बच्चन और मनोज बाजपेयी काम कर रहे हैं.

क्यों अमिताभ बच्चन की इस फिल्म को लेकर आपको भयानक एक्साइटेड होना चाहिए?

ये फिल्म वो आदमी डायरेक्ट कर रहा है जिसकी फिल्में दर्शकों की हालत खराब कर देती हैं.

सआदत हसन मंटो को समझना है तो ये छोटा सा क्रैश कोर्स कर लो

जानिए मंटो को कैसे जाना जाए.

नेटफ्लिक्स ने इस साल इंडियन दर्शकों के लिए कुछ भयानक प्लान किया है

1 साल, 18 एक्टर्स और 4 धांसू फिल्में.

'एवेंजर्स' बनाने वालों के साथ काम करेंगी प्रियंका, साथ में 'द फैमिली मैन' के डायरेक्टर भी गए

एक ही प्रोजेक्ट पर काम करने के बावजूद राज एंड डीके के साथ काम नहीं कर पाएंगी प्रियंका चोपड़ा.