Submit your post

Follow Us

Pappy की वजह से पीएम मोदी का दावा गलत हो गया!

घोघा से दाहेज के बीच का सफर आठ घंटे से घटकर एक घंटे हुआ, तो ‘सवा-छह करोड़ गुजराती’ खुश हुए. लेकिन उनकी खुशी क्लाउड नाइन पर पहुंच गई जब प्रधानमंत्री ने मंच से कहा कि ये ‘भारत में अपनी तरह का पहला’ प्रोजेक्ट है. ये बात सिंक होती, इससे पहले प्रधानमंत्री बोल गए कि ये दक्षिण पूर्वी एशिया का भी ये इतना बड़ा पहला प्रोजेक्ट है. सुनने वाले अभिभूत हो गए.

लेकिन ज़्यादा देर नहीं हुई कि ट्विटर की नीली चिड़िया चीं-चीं करने लगी. कई लोगों ने इस तरफ ध्यान दिलाया कि प्रधानमंत्री को घोघा-दाहेज रो-रो फेरी को ‘अपनी तरह का पहला’ प्रोजेक्ट नहीं कहना चाहिए था. क्योंकि वैसी ही फेरी सेवा तो कोची में पहले से चल रही है.

इस ट्वीट में पीएम को उनका सोमालिया वाला बयान याद दिलाया जा रहा है-

इस ट्वीट में पीएम को उनका सोमालिया वाला बयान याद दिलाया जा रहा है

कुछ लोगों ने पीएम की तुलना कोची की मेयर सौमिनि जैन से की. सौमिनी ने बतौर कोची मेयर फेरी सर्विस से जुड़े प्रोजेक्ट शुरू किए हैं-

mayor

तो बात किसकी सही है, ये जानने के लिए हमने थोड़ी बहुत खोदा-खादी की. और नतीजा ये निकला कि घोघा-दाहेज पहली रो-रो सर्विस तो नहीं ही है. जो बहस हो सकती है, वो वर्डप्ले पर ही हो सकती है. माने इस पर कि घोघा दाहेज ‘अपनी तरह का पहला’ प्रोजेक्ट है या नहीं.

कोची की रो-रो फेरी

केरल के कोची शहर में आपको 10 किलोमीटर भी चलना हो, तो अनिवार्य रूप से कोई झील, नहर या नदी पार करनी पड़ती है. ये शहर बैकवॉटर में बसा है. तो कई सारे द्वीप हैं यहां. पुल बने हुए हैं, लेकिन लंबा फेरा बचाने के लिए कई लोग जंकर का इस्तेमाल करते हैं. ये एक चौड़ी और सपाट नाव की तरह होते हैं, जिन्हें बार्ज भी कहते हैं. कार या बाइक सीधे जंकर पर चढ़ा दी जाती है और वो काफी सस्ते में आपको झील या नदी पार करा देते हैं.

कोची में ही वायपिन द्वीप है. यहां से फोर्ट कोचिन के बीच काफी लोग आना-जाना करते हैं. ये एक व्यस्त रूट है, जिस पर खूब जंकर चला करते थे. यूट्यूब पर कई वीडियो मिल जाएंगे, जिनमें जंकर गाड़ियों और लोगों को कोची फोर्ट-वायपिन रूट पर ले जा रहे हैं. हम यहां 2013 से एक वीडियो दे रहे हैं.

फिलहाल ये जंकर बंद हैं, क्योंकि यहां नई रो-रो फेरी के लिए नया टर्मिनल बन रहा है. लेकिन अब भी एक फेरी है, पप्पी (Pappy) नाम की. ये कभी चालू तो कभी बंद होती रहती है. लेकिन ये बिलकुल सही है कि कोची में तब से फेरी चल रही है, जब घोघा-दाहेज रो-रो फेरी के लिए टर्मिनल का शिलान्यास भी नहीं हुआ था. इसका काम भी वही था, जो घोघा-दाहेज का बताया जाता है. स्केल का फर्क ज़रूर है, लेकिन कॉन्सेप्ट (अवधारणा) के स्तर पर दोनों सर्विस एक जैसी हैं.

इस ट्वीट में नज़र आ रही रोरो फेरी के लिए कोचिन में नया टर्मिनल बन रहा है
इस ट्वीट में नज़र आ रही रोरो फेरी के लिए कोचिन में नया टर्मिनल बन रहा है

तो क्या हम कह सकते हैं कि एक Pappy के चक्कर में पीएम से गलती हो गई?

ये हम आपकी समझदारी पर छोड़ते हैं. क्योंकि ‘अपनी तरह का पहला’ का क्या मतलब था, ये तो मोदी जी के ‘मन की बात’ है. हमें पता चलेगी, तो आपको भी बता देंगे. चलते-चलते इतना बता दें कि केरल के अलावा असम और गोआ में भी रो-रो फेरी प्रोजेक्ट या तो बन रहे हैं या बनने वाले हैं. रही बात दक्षिण पूर्वी एशिया की, तो फिलिपींस, इंडोनेशिया और बांग्लादेश में भी रो-रो सर्विस चल रही हैं.

एक बोनस ज्ञान और ले लीजिए. ये वर्डप्ले के बारे में ही है. अगर आप इस तरह से खेलना चाहें कि कोची की रो-रो फिलहाल बंद है, तो ये जानें कि चल घोघा-दाहेज फेरी भी नहीं रही है. प्रधानमंत्री ने उद्घाटन बस किया है. असल सेवा शुरू होगी ‘लाभ पंचम’ से, जो इस साल 25 अक्टूबर को पड़ रही है. और इस दिन शुरू होने वाली सेवा भी सिर्फ यात्री ले जाएगी. सामान या गाड़ियांं नहीं. उसके लिए अगले साल का इंतज़ार करना होगा.


बुलेट ट्रेन के ये अनोखे फीचर्स शिंजो आबे को भी नहीं पता हैं!

और पढ़ेंः

उस मोखड़ाजी दादा की 13 बातें, जिनका नाम लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रो-रो सर्विस शुरू की

रो-रो फेरी सर्विस की वो खास बातें, जिसने 8 घंटे के वक्त को 1 घंटे में बदल दिया है

कबाड़ी का काम करते हैं नरेंद्र मोदी के भाई, भाभी मांजती हैं बर्तन

क्या सोनिया गांधी के इस खास जज ने दीवाली पर बैन किए हैं पटाखे?

ये वीडियो देखने के बाद कंपनी में कार की सर्विस करवाने से पहले 100 बार सोचेंगे

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

10 नंबरी

वो 5 ताकतवर पोलिटिकल थ्रिलर्स जो आपको अभी घर बैठे ज़रूर देखनी चाहिए

कोरोना लॉकडाउन में अच्छी फिल्में देखना चाहते हैं तो पोलिटिकल थ्रिलर/ड्रामा श्रेणी में ये हैं हमारी रेकमेंडेशंस.

जिस तिहाड़ में निर्भया के दोषियों को फांसी हुई, उसी जेल में ये फांसियां भी हो चुकी हैं

वो हाई प्रोफाइल केस, जिन्होंने पूरे देश का ध्यान खींचा.

इन 6 ज़बरदस्त फिल्मों में कोरोना जैसी महामारी दिखाई गई है

महामारी पर बनी हुई इन फिल्मों को पूरी दुनिया में देखा जा रहा है

निर्भया के दोषियों को फांसी मिलने पर बॉलीवुड हस्तियों ने क्या कहा?

निर्भया के गुनहगारों को आज सुबह फांसी दे दी गई.

अलका याज्ञ्निक के 36 लुभावने गानेः जिन्हें गा-गाकर बरसों लड़के-लड़कियों ने प्यार किया

प्लेलिस्ट जो बार-बार सुनी जाने वाली है. अलका आज 53 की हो गई हैं.

शशि कपूर ने बताया था, दुनिया थर्ड क्लास का डिब्बा है

पढ़िए उनके दस यादगार डायलॉग्स.

जब तक ये 11 गाने रहेंगे, शशि कपूर याद आते रहेंगे

हर एज ग्रुप की प्ले लिस्ट में आराम से जगह बना सकते हैं ये गाने.

कोरोना वायरस का असर दिखाती ये 17 तस्वीरें देखीं आपने?

क्या से क्या हो गया, देखते-देखते.

श्रेया घोषाल के जन्मदिन पर सुनिए नशा भर देने वाले गाने

पहले ही गाने में नैशनल अवॉर्ड जीतने वाली सिंगर का बड्डे है.

इस महिला दिवस इन 10 किताबों को अपनी लिस्ट में जोड़ लीजिए और फटाफट पढ़ लीजिए

स्त्री विमर्श और स्त्री सत्ता की संरचना को समझने के लिए हमने कुछ उपन्यासों को चुना है.