Submit your post

Follow Us

वो चार मौके, जब अकेले धोनी की मार से ही बांग्लादेश त्राहि माम करने लगा था

महेंद्र सिंह धोनी. इनकी तारीफ बताने की जरूरत नहीं, ये खुद तारीफ हैं. मीडिया में अक्सर खबरें आती हैं कि धोनी ने अपनी इस पारी से आलोचकों को जवाब दिया. असल जिंदगी में मुझे आज तक कोई धोनी-आलोचक नहीं मिला (गोयनका टीम-मालिक है). धोनी ने अपना वनडे डेब्यू बांग्लादेश के खिलाफ ही किया था, जिसमें वो 0 पर रनआउट हो गए थे. उनका पहला स्कोर 1 गेंद पर 0 रन था. लेकिन उसके बाद जितने भी मौके आए, धोनी ने बांग्लादेश को खूब धोया.

अपने पहले वनडे में धोनी के रनआउट होने का वीडियो:

बांग्लादेश के खिलाफ आज एशिया कप के फाइनल में टीम इंडिया उतर चुकी है. दोनों टीमें पाकिस्तान, श्रीलंका, अफ्गानिस्तान और हॉन्गकॉन्ग को हराकर यहां पहुंची हैं. धोनी का बांग्लादेश के खिलाफ खूब बल्ला चलता है. देखिए वो चार मौके, जब अकेले धोनी की मार से ही बांग्लादेशी त्राहि माम करने लगे थे.

1) 21 जून 2015. इंडिया बांग्लादेश के साथ सीरीज का दूसरा वनडे खेल रहा था. 201 रनों के टारगेट का पीछा कर रहे बांग्लादेश के तीन विकेट गिर चुके थे. शाकिब और मुशफिकुर क्रीज पर थे. जडेजा ने गेंद फेंकी, फुशफिकुर ने शॉट मारा. गेंद बाउंड्री के पास रोहित शर्मा ने पकड़ी और थ्रो फेंका. तब तक मुशफिकुर दूसरे रन के लिए दौड़ चुके थे. वो क्रीज के बहुत करीब थे, लेकिन पंगा इतना ही था कि विकेट के पास धोनी खड़े थे.

गेंद जब रोहित के हाथ में थी, तब तक धोनी विकेट के पीछे थे, लेकिन थ्रो आते-आते वो विकेट के आगे जाकर खड़े हो गए. जैसे ही थ्रो हाथ में आया, धोनी ने गेंद को अपनी टांगों के बीच से पीछे विकेट पर मार दिया. उन्हें न विकेट दिख रहा था और न बैट्समैन. लेकिन मुशफिकुर आउट हो चुके थे. अगर उस दिन धोनी ने होते, तो मुशफिकुर आउट नहीं थे. देखिए-

 

 


2)
ये इंसिडेंट धोनी के फ्लेवर का नहीं है, लेकिन देखने वालों को जरूर मजा आया था. बात जून 2015 की है. भारत वनडे सीरीज के लिए बांग्लादेश गया था. मीरपुर के मैच में बांग्लादेश की तरफ से पेसर मुस्तफिजुर रहमान ने डेब्यू किया था. 25वें ओवर में रोहित शर्मा और धोनी बैटिंग कर रहे थे. रहमान ने रोहित को गेंद डाली, जिसे रोहित ने पुश किया और सिंगल के लिए दौड़े. रहमान उनके रास्ते में आ गए. साफ पता चल रहा था कि रहमान ने ऐसा जानबूझकर किया. रोहित ने किसी तरह रन पूरा किया, फिर रहमान को उंगली दिखाने लगे. अंपायरों ने बात खत्म करवाई.

अगली गेंद पर जब धोनी ने बॉल पुश करके सिंगल लेना चाहा, तो रहमान फिर रास्ते में आकर खड़े हो गए. दिखा ऐसे रहे थे, जैसे उन्हें रन की बड़ी फिक्र हो. इस बार धोनी ने कोई गलती नहीं की. रहमान की छाती में ऐसी कोहनी ठोंकी कि रहमान दो कदम पीछे होकर गिर पड़े. दोबारा वो कभी बैट्समैन के रास्ते में नहीं आए. ये वीडियो खूब पॉपुलर हुआ. देखिए-

 

3) ये. ये वो है, जो भुलाए नहीं भूलता. स्टंपिंग से धोनी का ये आउट जिसने भी देखा है, वो इसे सैकड़ों पुनर्जन्म के बाद भी याद रखेगा. सुरेश रैना बॉलिंग कर रहे थे. स्ट्राइक पर बांग्लादेशी आलराउंडर शब्बीर रहमान थे. 31 गेंदों में 26 रन बना चुके थे. रैन की फेंकी हुई गेंद वाइड हो गई. शब्बीर ने बल्ला घुमाया था, लेकिन गेंद को छू नहीं पाए. गेंद पीछे से धोनी के दस्तानों में समा गई. शब्बीर का एक पैर क्रीज के अंदर था और दूसरा बाहर. बाहर वाला पैर उठा हुआ था.

शब्बीर का जेस्चर देखकर धोनी समझ गए कि वो क्रीज के अंदर वाला पैर एक बार जरूर उठाएगा. धोनी गेंद हाथ में लिए खड़े रहे. उनका हाथ स्टंप के बिल्कुल पास था. ये वो वक्त था, जब धोनी के अलावा अगर कोई भी विकेटकीपर वहां खड़ा होता, तो तब तक गेंद स्टंप पर मार चुका होता. लेकिन धोनी ठहरे धोनी. शब्बीर ने जैसे ही संभलने के लिए क्रीज के अंदर वाला पैर उठाया, धोनी ने उन्हें निपटा दिया. नैनो सेकेंड का खेल था बॉस. आज भी देखकर दिल गिल्ल हो जाता है. देखिए-

 

 

 

4) आखिरी गेंद पर रन आउट. ये पिछले साल के टी-20 वर्ल्ड कप की बात है. बांग्लादेश को आखिरी गेंद पर जीतने के लिए दो रन चाहिए थे. एक भी बना लेता, तो ड्रॉ हो जाता, जबकि इसी आखिरी ओवर में वो पहले ही दो विकेट गंवा चुका था. बॉलिंग पर हार्दिक पंड्या थे. आखिरी गेंद पर धोनी और नेहरा से उनकी लंबी बात हुई. पंड्या ने आउट ऑफ लेंथ शॉर्ट पिच गेंद फेंकी, जिसे स्ट्राइक पर खड़ा बैट्समैन छू भी नहीं पाया. लेकिन दोनों बैट्समैन भाग लिए.

धोनी चाहते तो थ्रो कर सकते थे, लेकिन वो दौड़े. उस दिन धोनी बोल्ट से भी तेज दौड़े. जब तक नॉन-स्ट्राइक एंड पर खड़े मुस्तफिकुर क्रीज तक पहुंचते, धोनी उन्हें लपेट चुके थे. और सबसे मजेदार वो मोमेंट था, जब थर्ड अंपायर का फैसला आने से पहले नेहरा ने धोनी से पूछा कि क्या हुआ और धोनी उनसे कहते दिखे, ‘आउट’. ये मैदान का वीडियो देखिए. ज्यादा फील आएगा-

 

 


ये भी पढ़ें:

महेंद्र सिंह धोनी को बकइयां बन के चलते देखिए, इससे खूबसूरत कुछ नहीं है आज

कल जब आप सो गए थे, तब धोनी ने बताया कि वो किस मिट्टी के बने हैं

होता है जब आदमी को अपना ज्ञान, कहलाए वो MS धोनी!

M.S. Dhoni फिल्म में धोनी-साक्षी की नहीं धोनी-प्रियंका की लव स्टोरी है

ईंट-गारा जोड़ते हुए धोनी के भाई की इस शायरी का क्या मतलब है?

 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

पोस्टमॉर्टम हाउस

वेब सीरीज़ रिव्यू- मनी हाइस्ट Season 5 Vol. 2

वेब सीरीज़ रिव्यू- मनी हाइस्ट Season 5 Vol. 2

'मनी हाइस्ट' के इस वॉल्यूम की खास बात है कि ये अपने सारे लूज़ एंड्स को बांधकर एक सैटिसफाइंग सी एंडिंग दे देती है.

वेब सीरीज रिव्यू : इनसाइड एज 3

वेब सीरीज रिव्यू : इनसाइड एज 3

कैसा है विवेक ओबेरॉय और ऋचा चड्ढा के शो का तीसरा सीज़न?

मूवी रिव्यू: बॉब बिस्वास

मूवी रिव्यू: बॉब बिस्वास

क्या इस बॉब पर बिस्वास किया जा सकता है?

मूवी रिव्यू: तड़प

मूवी रिव्यू: तड़प

अहान शेट्टी का डेब्यू प्रॉमिसिंग था या नहीं?

फिल्म रिव्यू: द पावर ऑफ द डॉग

फिल्म रिव्यू: द पावर ऑफ द डॉग

'डॉक्टर स्ट्रेन्ज' और 'शरलॉक' वाले धांसू एक्टर बेनेडिक्ट की नई फिल्म कैसी है?

'83' में कपिल देव की वो पारी देखने को मिलेगी, जिसकी फुटेज दुनिया में कहीं उपलब्ध नहीं

'83' में कपिल देव की वो पारी देखने को मिलेगी, जिसकी फुटेज दुनिया में कहीं उपलब्ध नहीं

कैसा है रणवीर सिंह की '83' का ट्रेलर?

मूवी रिव्यू - अंतिम: द फाइनल ट्रुथ

मूवी रिव्यू - अंतिम: द फाइनल ट्रुथ

कायदे से ये सलमान खान फिल्म नहीं होनी चाहिए थी, लेकिन बन जाती है.

फिल्म रिव्यू: छोरी

फिल्म रिव्यू: छोरी

मराठी फिल्म का रीमेक ये फिल्म ओरिजिनल से अच्छी है या बुरी?

फिल्म रिव्यू- सत्यमेव जयते 2

फिल्म रिव्यू- सत्यमेव जयते 2

'सत्यमेव जयते 2' मसाला जॉनर का नाम खराब करने वाला कॉन्टेंट है.

वेब सीरीज़ रिव्यू: इल्लीगल सीज़न  2

वेब सीरीज़ रिव्यू: इल्लीगल सीज़न 2

नेहा शर्मा, पीयूष मिश्रा का ये शो 'सूट्स' तो नहीं, लेकिन बुरा भी नहीं.