Submit your post

रोजाना लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

Follow Us

कॉलेज के टॉयलेट में CCTV लगने के आदेश का सच क्या है?

201
शेयर्स

वी.एल.बी. जानकीअम्मल कॉलेज ऑफ आर्ट्स एंड साइंस नाम का कोई कॉलेज है. कोयंबटूर में है. वहां की एक तस्वीर आजकल वायरल हो रखी है. उसमें लिखा है टोंडी टुन्नई नाम के हमारे लेक्चरर के साथ लड़कों ने बदमाशी कर दी है. ऊटपटांगी लड़कों ने सुतली बम रख दिया था, बाथरूम में. अब हम मजबूर हैं अब हमको टॉयलेट में CCTV कैमरे लगाने पड़े हैं, स्टूडेंट्स अपनी प्राइवेसी के लिए इंट्रेंस पर रखी फ्री लुंगी ले सकते हैं. डेट डली थी, 24 जनवरी 2017 की. प्रिंसिपल वगैरह ने अपने साइन की चिड़िया भी बिठा रखी थी.

IMG-20170126-WA0018
कॉलेज का किस्सा व्हाट्सएप विश्वविद्यालय तक जा पहुंचा. बार-बार हम तक मैसेज आने लगे. ये बड़ा अजीब था, सोचो कोई टॉयलेट में सीसीटीवी लगवा दे हमारा तो सूसू ही न उतरे. सारा टाइम हम कैमरा और कैमरा हमको देखता रहे. मतलब तकनीक-वकनीक ठीक है, सुरक्षा होनी चाहिए, पर ऐसी भी सुरक्षा क्या कि आदमी खुलकर हल्का भी न हो सके.

चिंतातुर होकर हमने खबर का आगा पीछा खोजना चाहा. चुहिया निकल आई. फोटोशॉप है ये तो. असल किस्सा कुछ और ही है. दरअसल 24 तारीख को ये सर्कुलर निकला था कि उसमें जो लिखा था, उसका मतलब ये कि आयात वाली सॉफ्ट ड्रिंक्स खराब होती हैं, आप लोग जागरूक हैं. बाहर की सॉफ्ट ड्रिंक्स जो हैं, वो अब यहां सर्व न होंगी. उसकी जगह ताजा जूस मिला करेगा. बस किसी ने इसी सर्कुलर पर हाथ आजमा कर अपने हिस्से का नया सर्कुलर बना लिया.

असली सर्कुलर ये था.

IMG-20170126-WA0017

सोशल मीडिया पर कुछ लोगों ने कॉलेज के इस फैसले की तारीफ भी की थी. और शायद कुछ लोगों को ये पसंद न आया हो कि कॉलेज में सॉफ्ट ड्रिंक्स नहीं मिलेंगी. तो उनने विरोध का ये तरीका अपनाया कि पूरे आदेश की ही खिल्ली उड़ा दी. वैसे मजेदार था 😉 लेकिन वी.एल.बी. वालों को खुश होना चाहिए. लड़के उनके लायक हैं. कॉलेज आर्ट्स एंड साइंस का है, फर्जी ही सही बच्चों ने आर्ट को साइंस के जरिये क्रिएटिव बनाकर मौज ले ली.

Facebook Screengrab


 

ये भी पढ़िए.

जो रिपब्लिक डे के गेस्ट हैं, उनके प्लेन को अंदर से देखा है? आंखें फटी रह जाएंगी

बहुत हुई बकैती जानिए कटप्पा ने बाहुबली को क्यों मारा

लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

10 नंबरी

युवाओं की पहली पसंद क्यों बन गये हैं जॉन एलिया, इन 20 शे’रों से खुद जान लो

'मेरी हर बात बे-असर ही रही, नुक़्स है कुछ मेरे बयान में क्या?'

रोहित शर्मा किसके लिए ट्रेन की पटरी पर दौड़ता हुए वापिस पिछले स्टेशन आया था

रोहित शर्मा की लाइफ की 5 मज़ेदार कहानियां.

साउथ का वो सुपरस्टार जिसे एक औरत ने भिखारी समझकर 10 रुपए पकड़ा दिए

लेकिन इस बात पर उन सुपरस्टार का जो जवाब था, वो दिल लूट ले गया.

कर्मा फिल्म ने दुनिया को दी ये 7 चीजें, जिन पर देश को नाज़ है!

दिलीप कुमार की ये फिल्म हमें बहुत कुछ सिखाती है. आज बड्डे है.

आपने साथ नहीं दिया तो कहां जाएंगे मोदी जी?

प्रधानमंत्री जी ने छोटा उदयपुर में रैली के दौरान ये सौ टके का क्वेस्चन पूछा है.

धर्मेंद्र के 22 बेस्ट गाने: जिनके जैसा हैंडसम, चुंबकीय हीरो फिर नहीं हुआ

इतने खूबसूरत कि जया बच्चन को वो ग्रीक गॉड लगते थे. वे अब भी उनकी बड़ी फैन हैं.

उस इंडियन डायरेक्टर की 5 बातें जिसने हॉलीवुड में फिल्म बनाकर ऑस्कर जीता

और छठवीं ये कि आदमी बहुत सनकी है, इन अ गुड वे.

रणजी ट्रॉफी की वो 13 बातें जो आपको पता होनी ही चाहिए

मतलब, ये तो बेसिक है यार!

ख़लील ज़िब्रान के ये 31 कथन 'बेहतर इंसान' बनने का क्रैश कोर्स हैं

हम हमेशा आने वाले कल से उधार लेकर बीते हुए कल का उधार चुकाते हैं.

पोस्टमॉर्टम हाउस

फ़िल्म रिव्यू : फ़ुकरे रिटर्न्स

आ गई भोली पंजाबन.

जब हेमा के पापा ने धर्मेंद्र को जीतेंद्र के सामने धक्का देकर घर से निकाल दिया

घरवाले हेमा-धर्मेंद्र की शादी के सख्त खिलाफ थे.

सैफ अली खान की कालाकांडी: क्या बवासीर बना दिए हो बे!

गालियों और एडल्ट बातों से भरा इसका ट्रेलर जो भेजे से बाहर नहीं निकलता.

UP निकाय चुनाव: क्या था 12784 का चक्कर जिसके चलते बीजेपी जीत गई?

एक वायरल मैसेज के मुताबिक, ईवीएम से सेटिंग करके बीजेपी ने 12784 चक्कर चलाया और जीत गई.

फ़िल्म रिव्यू : पंचलैट

अमितोष नागपाल और अनुराधा मुखर्जी की फ़िल्म.

फ़िल्म रिव्यू : तुम्हारी सुलु

विद्या बालन और मानव कौल की फ़िल्म.

फ़िल्म रिव्यू : शादी में ज़रूर आना

राजकुमार राव और कृति खरबंदा की फ़िल्म.

फिल्म रिव्यू: करीब करीब सिंगल

इसमें इरफान और पार्वती हैं.

सेक्स एजुकेशन पर इससे सहज, सुंदर फिल्म भारत में शायद ही कोई और हो!

बड़े होते किशोरों को ये पता ही नहीं होता कि उनका शरीर अजीब तरह से क्यों बिहेव करता है.

क्या आपको पता है हेमा को 'ड्रीम गर्ल' कहना भी एक स्ट्रेटेजी थी?

अपनी बायोग्राफी में हेमा ने अपनी ज़िंदगी के कई राज़ खोले हैं.