Submit your post

रोजाना लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

Follow Us

Fact Check: खचाखच कीचड़ के बीच पढ़ रहीं लड़कियों के ज़िम्मेदार न योगी हैं, न मोदी

219
शेयर्स

पढ़ाई. हम सब को हजारों बार इसकी अहमियत बताई गई होगी. कई बार हमने पढ़ने के लिए जूझते हुए बच्चों के किस्से भी सुने होंगे. ऐसी ही एक परिस्थिति की एक तस्वीर वायरल हो रही है. कहा जा रहा है कि यह फोटो भारत के एक राज्य की है. राज्य सरकार की खूब निंदा की जा रही है. राज्य के बजट पर भी सवाल उठाए जा रहे हैं.

 

कीचड़ में पढ़ती लड़कियों की वायरल पोस्ट
कीचड़ में पढ़ती लड़कियों की वायरल पोस्ट

क्या है वायरल पोस्ट में?
कैलिकट से आम आदमी पार्टी के एक फैन हैं कोमण मान. फेसबुक पर आईडी बनाई है सेलिब्रिटी टाइप ‘रियल कोमण मान’ नाम से. इन्होंने 9 फरवरी को एक पोस्ट किया. इसमें एक स्कूल की तस्वीर है. स्कूल में खचाखच कीचड़ मचा हुआ है. उस कीचड़ में बैठकर कुछ बच्चियां पढ़ रहीं हैं. पोस्ट में बताया है कि यह स्कूल उत्तर प्रदेश का है. कैप्शन में लिखा है –

ये तस्वीर उसी यू॰पी॰ की ही है जहाँ पर कल गाय के लिए 450 करोड़ का बजट पास हुआ है!

साथ ही ‘यूपी काऊ बजट’ ‘नो एजुकेशन बजट’ टाइप के हैशटैग भी हैं.

यह पोस्ट 1700 से ज्यादा बार शेयर चुका है.

फेसबुक पर वायरल पोस्ट जिसमें फोटो को उत्तरप्रदेश का बताया जा रहा है.
फेसबुक पर वायरल पोस्ट जिसमें फोटो को उत्तरप्रदेश का बताया जा रहा है.

क्या है असलियत?
तस्वीर असली है. मतलब एडिटेड नहीं है. पर ये फोटो 4 साल पुरानी है. उत्तर प्रदेश की नहीं, पंजाब की है. पंजाब भी भारत वाला नहीं. पाकिस्तान वाला. फोटो पाकिस्तान के पंजाब प्रांत की है. 10 जून 2015 को ये फोटो पाकिस्तान की एक न्यूज साइट के डिस्कशन वाले पेज पर डाली गई थी. इसका टाइटल था –

पंजाब (पाकिस्तान) के गर्ल्स प्राइमरी स्कूल की हालत

10 जून 2015 को पाकिस्तान की एक न्यूज वेबसाइट में इस फोटो की खबर छपी थी
10 जून 2015 को पाकिस्तान की एक न्यूज वेबसाइट में इस फोटो की खबर छपी थी

2 दिन बाद ये फोटो ‘पाक अगेंस्ट चाइल्ड लेबर‘ हैशटैग के साथ ट्विटर पर शेयर हुई.
साथ ही लिखा था –

ये है पंजाब के स्कूल की हालत. इन बच्चियों को मेट्रो बस की तस्वीर भेजो शायद ये खुश हो जाएं.

'पाक अगेंस्ट चाइल्ड लेबर' हैशटैग के साथ फोटो शेयर की गई
‘पाक अगेंस्ट चाइल्ड लेबर’ हैशटैग के साथ फोटो शेयर की गई

इसके बाद से यह फोटो पाकिस्तान में कई बार शेयर हुई है. अभी पाकिस्तान के प्रधानमंत्री हैं इमरान खान. इनकी पार्टी पीटीआई के कार्यकर्ताओं ने भी 2015-16 में इस तस्वीर को शेयर करके तत्कालीन सरकार पर सवाल उठाए थे.

इस ट्वीट में पंजाब (पाकिस्तान) के स्कूल और अस्पतालों की हालत के बारे में उर्दू में लिखा है. साथ ही वहां के सांसदों और स्पीकर की सैलरी बताई गई है.

इमरान खान की पार्टी पीटीआई के कार्यकर्ताओं ने भी यह फोटो शेयर किया था.
इमरान खान की पार्टी पीटीआई के कार्यकर्ताओं ने भी यह फोटो रिट्वीट किया था.

इसी तरह 2015 से अब तक पाकिस्तान के स्कूलों के, शिक्षा से जुड़े एनजीओ के और बाकी कई फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर यह फोटो शेयर हुई.

स्कूल के पेज और शिक्षा से जुड़े एनजीओ ने भी फोटो शेयर हुआ
स्कूल के पेज और शिक्षा से जुड़े एनजीओ ने भी फोटो शेयर हुआ

पाकिस्तान की हालत बयान करने वाली पोस्ट पाकिस्तान में शेयर करना ठीक था. हो सकता है कि भारत के कई स्कूलों की हालत इससे बदतर हो, लेकिन उसे दिखाने के लिए पाकिस्तान की तस्वीर का इस्तेमाल ठीक नहीं. इस तरह जानबूझकर फेक न्यूज फैलाना न सिर्फ गलत है, बल्कि क्राइम भी है. कहीं भी ऐसी फेक न्यूज देखें तो रिपोर्ट करें. अगर पक्का न पता हो तो हमें भेजें. हम उस खबर की पड़ताल करेंगे.

पड़ताल के लिए खबर यहां मेल करें – padtaalmail@gmail.com


Fact Check: क्या राजस्थान में स्टेच्यू ऑफ यूनिटी से ऊंची शिव मूर्ति बनाई जा रही है?

लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें
Fact Check: Photo of girls studying in mudpacked school is not from UP

10 नंबरी

बदला ट्रेलर: ये होता है जब सदी के महानायक अमिताभ की फिल्म शाहरुख़ खान प्रोड्यूस करते हैं

वैसे 'ठग्स ऑफ़ हिन्दोस्तान' और 'ज़ीरो' से जली हुई ऑडियंस को 'बदला' भी फूंक-फूंक के पीनी चाहिए.

इन 5 बड़ी वजहों से फाइनल में न्यूजीलैंड से हार गई टीम इंडिया

दिनेश कार्तिक निदाहस ट्रॉफी का फाइनल दोहराने वाले थे, मगर...

आज एक-दो नहीं, कुल 45 फिल्में रिलीज़ हुई हैं

शायद ऐसा भारत में पहले कभी नहीं हुआ.

उड़ी फिल्म में ‘हाउ इज़ द जोश’ कहां से आया, असली कहानी जानिए

फिल्म के डायरेक्टर ने अपनी मुंह से सुनाया है इस डायलॉग का किस्सा...

UP Budget: योगी सरकार के बजट की 13 बातें, जो बताती हैं कि इलेक्शन 2019 में ही है

एक्सप्रेस-वे, एयरपोर्ट पर खूब खर्च की तैयारी है.

PUBG के साथ इन गेम्स में दिलचस्पी क्यों ले रही है दिल्ली सरकार?

दिल्ली के कमीशन फॉर प्रोटेक्शन ऑफ चाइल्ड राइट्स ने चेताया, बचा के रखें बच्चों को.

ट्विटर पर 90's की ऐसी-ऐसी चीज़ें शेयर हो रही हैं कि कोई मुस्कुरा रहा है, किसी की आंखें नम हैं

बचपन की यादों का ऐसा तूफ़ान आ गया है कि लोग मार इमोशनल हुए जा रहे हैं!

केंदी पों और जस्ट चेंऊं चेंऊं सुनने वाले देश 'जलाने' लगे हैं

'सुन सुना, हाथी का अंडा ला' और 'मेरी लचके कमर' क्यों सुनाई देता है?

विजय माल्या के बारे में वो दस फनी बातें, जो आपको गूगल पर भी नहीं मिलेंगी

माल्या को जब इंडिया लाया जाएगा तो आप उससे पॉइंट 8 और 9 के बारे में पूछ लेना.