Submit your post

Follow Us

पड़ताल: 4 किडनियां दान के लिए उपलब्ध हैं- इस वायरल मैसेज से किसी का जीना मुहाल हो रखा है

68
शेयर्स

‘दी लल्लनटॉप’ की छह अलग-अलग टीमें पूरे देश में चल रहे लोकसभा चुनाव की ग्राउंड रिपोर्ट आप तक पहुंचा रही हैं. इसके अलावा टीम फेसबुक के साथ मिलकर देश के अलग-अलग इलाकों में फ़ेक न्यूज़ से बचने के लिए वर्कशॉप भी कर रही है. टीम के लोग ये जानने की कोशिश कर रहे हैं कि उन्हें किन खबरों के फ़ेक होने का शक है. इसी कड़ी में हमारी टीम पहुंची गुजरात के सुरेंद्रनगर में. यहां ‘दी लल्लनटॉप’ के रिपोर्टर निखिल ने ऐसी ही वर्कशॉप की. वर्कशॉप अटेंड कर रहे श्याम शाह को एक खबर पर शक था. वो एक वायरल मैसेज की सच्चाई जानना चाहते हैं, जिसमें दावा किया जा रहा है कि कुछ ब्रेन डेड लोगों की किडनी उपलब्ध है.

श्याम पेशे से डॉक्टर हैं और सुरेंद्रनगर के रहने वाले हैं.
श्याम पेशे से डॉक्टर हैं और सुरेंद्रनगर के रहने वाले हैं.

श्याम चाहते हैं कि दी लल्लनटॉप इसकी पड़ताल करे औप उन तक सच पहुंचाए. तो पहले पूरा दावा जान लेते हैं, जो सोशल मीडिया और वॉट्सऐप पर किया जा रहा है.

ये दावा हिंदी और अंग्रेज़ी दोनों भाषाओं में वायरल हुआ है. हम हिंदी में किए जा रहे दावे को ज्यों का त्यों लिख रहे हैं.

दावा

चार किडनियां दान हेतु उपलब्ध हैं। स्व सुधीर (बी+) और उनकी पत्नी (ओ+) की सड़क दुर्घटना में मृत्यु से पूर्व उनकी इच्छा के अनुसार ये महत्वपूर्ण दान कोई भी प्राप्त कर सकता है। चिकित्सकों ने उनके मस्तिष्क को मृत घोषित किया है। संपर्क करें: 9837285283 !

वॉट्सऐप में अंग्रेज़ी में वायरल हो रहा क्लेम.
वॉट्सऐप में अंग्रेज़ी में वायरल हो रहा क्लेम.

फेसबुक और ट्विटर पर भी जबर वायरल हो रहा है ये दावा

ये नया दावा नहीं है. काफी लंबे समय से दावा चल रहा है.
ये नया दावा नहीं है. काफी लंबे समय से मैसेज चल रहा है.

ट्विटर

ट्विटर पर भी वायरल.
ट्विटर पर भी वायरल.

पड़ताल

पड़ताल की सबसे पहली और बेहतर अप्रोच हमने इस्तेमाल की. इस नंबर पर कॉल की. ज्यादातर फेक मैसेजों में कॉल कनेक्ट नहीं होती. लेकिन इस केस में ऐसा नहीं था. कॉल करने पर घंटी बजी. उन्होंने फोन तो नहीं उठाया लेकिन उनकी तरफ से मैसेज आया जिसमें लिखा था-

किडनी उपलब्धता की बात बिल्कुल ग़लत है और ये कुछ शरारती तत्वों की ओर से फैलाया गया है. प्लीज़ इग्नोर करें.

डॉ. गर्ग के सामने भी अजब दुविधा होगी. ना ये फोन नंबर छोड़ा जा रहा है, और वायरल मैसेज की वजह से दिक्कत हो रही है, सो अलग.
डॉ. गर्ग के सामने भी अजब दुविधा है. ना ये फोन नंबर छोड़ा जा रहा है, और वायरल मैसेज की वजह से दिक्कत हो रही है, सो अलग.

ये मोबाइल नंबर मेरठ के एक नेफ्रोलॉजिस्ट(किडनी रोग विशेषज्ञ) डॉ. संदीप गर्ग का है.वेबसाइट SMHoaxSlayer ने उससे संपर्क किया था और जो उन्होंने कहा, वो हम आपको बता रहे हैं

डॉ. गर्ग को सितंबर 2017 से इस समस्या का सामना करना पड़ रहा है. उन्होंने पहले पुलिस से शिकायत की लेकिन बाद में साइबर सेल में शिकायत दर्ज करवाई है. वो इस नंबर को छोड़ना नहीं चाहते क्योंकि वो पिछले 13 सालों से उनके पास यही नंबर है. और तो और उनके ज्यादातर पेशेंट्स के पास भी यही नंबर है. डॉ गर्ग का मानना है कि ये किसी शरारती तत्व की करतूत है जो उन्हें परेशान करने के लिए ऐसी ख़बर फैला रहा है.

वैसे इस तरह के मैसेज किसी भी तरीके से फैलाना कानूनी अपराध है. ह्यूमन ऑर्गन ट्रांसप्लांट एक्ट-1994 की धारा-19 के तहत मानव अंगों की कमर्शियल डीलिंग(व्यवसायिक डीलिंग) करने वाले के लिए सजा का प्रावधान है. और अगर कोई जानबूझ कर किसी का नंबर फैला रहा है तो उसपर IT Act-2000 की धारा-66डी और IPC की धारा-420 के तहत भी क्राइम करने का मुकदमा चलता है.

नतीजा

हमारी पड़ताल में ये दावा झूठ निकला. ट्रांसप्लांट के लिए किडनी उपलब्ध नहीं है. दिया हुआ नंबर मेरठ के डॉ. संदीप गर्ग का है. तो अगर आपके पास भी ये मैसेज आया है तो आप इग्नोर करें. और प्लीज़ डॉ. गर्ग को फोन तो बिलकुल ना करें.

अगर आपको भी चुनाव से जुड़ी या फिर किसी भी खबर पर शक होता है, तो हमें लिखें. हमारा पता है

PADTAALMAIL@GMAIL.COM

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें
Fact Check of a viral message about the availability of 4 kidneys of brain dead husband-wife is fake

10 नंबरी

'इंडियाज़ मोस्ट वॉन्टेड' का देशभक्ति वाला गाना सुना? अब ये 12 गाने सुनिए जो ऐसे गानों में टॉप हैं

देशभक्ति वाले ये टॉप 12 गाने आप में जोश भर देंगे.

पता चल गया बादल और रडार वाली बात के पीछे नरेंद्र मोदी की ग़लती नहीं थी!

प्रधानमंत्री ने इंटरव्यू में जो कहा, उसके पीछे साइंस है, जिसका पता बस भारतीयों को है.

IPL 2019 के वो 7 मौके, जब अंपायरों ने मैदान पर ब्लंडर किए

आईपीएल 2019 खराब अंपायरिंग के रिकॉर्ड के लिए भी जाना जाएगा.

आपकी मम्मी का फेवरेट डायलॉग कौन सा है?

आने दो पापा को या आग लगे इस मोबाइल को?

सआदत हसन मंटो को समझना है तो ये छोटा सा क्रैश कोर्स कर लो

जानिए मंटो को कैसे जाना जाए.

अपनी अगली फिल्म में गे बनने जा रहे हैं आयुष्मान खुराना

फिल्म का टीज़र आ गया है.

15 साल के फिल्मी करियर में पहली बार इमरान, बच्चन के साथ स्क्रीन शेयर करते नज़र आएंगे

ये फिल्म एक साइकोलॉजिकल गेम पर बेस्ड है.

जब एक गैंगस्टर ने लड़की की कार उठा ली और वो एक ठग के साथ बदला लेने निकल पड़ी

बाकी की डिटेल्स स्टोरी में पढ़िए.

महाराणा प्रताप के 7 किस्से: जब वफादार मुसलमान ने बचाई उनकी जान

9 मई, 1540 को पैदा होने वाले महाराणा प्रताप की मौत 29 जनवरी, 1597 को हुई.

हटके फिल्मों के लिए मशहूर आयुष्मान की अगली फिल्म भी ऐसी ही है

'बधाई हो' से भी बम्पर हिट हो सकती है ये फिल्म, 'स्त्री' बनाने वाली टीम बना रही है.