Submit your post

Follow Us

पड़ताल: मुरली मनोहर जोशी की आडवाणी को लिखी विस्फोटक चिट्ठी का सच क्या है?

सोशल मीडिया पर एक चिट्ठी भयानक वायरल हो रही है, जहां-तहां लोगों के पास फेसबुक, व्हाट्सअप, ट्विटर जितने भी सोशल मीडिया माध्यम हैं उसके ज़रिए पहुंच रही है. ये चिट्ठी कानपुर से सांसद और बीजेपी के वरिष्ठ नेता मुरली मनोहर जोशी की तरफ से लालकृष्ण आडवाणी को लिखी गई है.

क्या है दावा?

लालकृष्ण आडवाणी के नाम लिखी गई इस चिट्ठी में दावा किया गया कि आडवाणी और जोशी को घर के लोगों ने अपमानित करके बाहर निकाला. चिट्ठी में घर का आशय पार्टी था. चिट्ठी में इस लोकसभा चुनाव में बीजेपी की कैसी स्थिति रहेगी इस बात का भी ज़िक्र है. गौरतलब है कि इससे पहले भी जोशी कानपुर के वोटरों के नाम चिट्ठी लिख चुके हैं. जिसमें उन्होंने चुनाव न लड़ने की जानकारी दी थी. साथ ही ये भी कहा था कि बीजपी के महासचिव ने उनसे कानपुर या फिर किसी भी दूसरी सीट से चुनाव लड़ने के लिए मना किया है. अब जोशी की नई चिट्ठी में क्या लिखा है आप नीचे पूरे विस्तार से पढ़ सकते हैं, लेकिन चिट्ठी की मोटी बात जान लीजिए जिसे लेकर सोशल मीडिया पर बवाल मच गया.

पहले चरण की 91 सीटों पर मतदान के गिरते प्रतिशत से स्पष्ट है कि बीजेपी को बमुश्किल 8-10 सीटें ही मिल पाएंगी, दूसरे और तीसरे चरण में बेहर प्रदर्शन होने का भी कोई कारण नज़र नहीं आ रहा है. पिछली चर्चा में आप (आडवाणी) बीजेपी को 120 और मैं बीजेपी को 150 सीटें दे रहा था परन्तु पहले चरण के मतदान के बाद आप सही साबित होते नज़र आ रहे हैं.

चिट्ठी की बातें पढ़ने के बाद ये सोशल मीडिया पर आग की तरह फैल गई. लोग एक दूसरे को शेयर करके पूछने लग गए कि चिट्ठी सही है क्या? चिट्ठी पहली नज़र में लोगों को सही भी लग रही थी क्योंकि इस पर न्यूज़ एजेंसी ANI का Logo लगा था. हालांकि चिट्ठी की भाषाई गलतियां लोगों के मन में शक भी पैदा कर रही थी.

सोशल मीडिया पर यही चिट्ठी वायरल हो रही है.

फेसबुक, व्हाट्सअप, ट्विटर हर जगह लोग अलग-अलग कैप्शन के साथ इस चिट्ठी को पोस्ट करने लगे.

सोशल मीडिया पर लोग कुछ इस तरह से पोस्ट करने लगे.
सोशल मीडिया पर लोग कुछ इस तरह से पोस्ट करने लगे.

हमने शुरू की चिट्ठी की पड़ताल

#1-  मुरली मनोहर जोशी की चिट्ठी के बारे में ऑफिशियल कोई जानकारी नहीं मिली.

#2- हमने आज तक की संवाददाता पॉलमी साहा से इस सिलसिले में बात की. उन्होंने बताया कि मुरली मनोहर जोशी के ऑफिस की तरफ से ये जानकारी दे दी गई है कि उन्होंने इस तरह की कोई चिट्ठी नहीं लिखी है.

#3- अब इस चिट्ठी में ANI का Logo लगा था, इसीलिए हमने न्यूज़ एजेंसी ANI से भी बात की. उन्होंने भी इस तरह की चिट्ठी की ब्रॉडकास्टिंग से इनकार कर दिया. उन्होंने कहा:

‘हमारी तरफ से इस तरह की कोई खबर प्रसारित नहीं की गई. साथ ही हमारा Logo भी गलत इस्तेमाल किया गया है, किसी ने हमारे नाम का गलत इस्तेमाल किया है. इस चिट्ठी से हमारा कोई लेना-देना नहीं है’

क्या निकला नतीजा?

हमारी पड़ताल में सोशल मीडिया के दावे फर्ज़ी निकले. ये चिट्ठी फर्ज़ी निकली. न्यूज़ एजेंसी ANI ने भी इस खबर इनकार कर दिया. ये चिट्ठी किसने लिखी कहां से वायरल हुई इसकी जानकारी नहीं पता चल पाई. लेकिन कुल मिलाकर चिट्ठी फर्ज़ी है, इसीलिए इस पर विश्वास ना किया जाए.

तो चुनावी मौसम चल रहा है, ऐसे में आपके पास भी ऐसी कोई चिट्ठी पहुंच जाए, या फिर तस्वीर पहुंच जाए, या फिर वीडियो ही क्यों न पहुंच जाए, जिसपर आपको शक हो. तो उसकी पड़ताल के लिए भेजिए Padtaalmail@gmail.com पर. हम उसकी पड़ताल करके आपको सच बताएंगे.


लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

10 नंबरी

वेंडल रॉड्रिक्स, जिन्होंने दीपिका को रातों-रात मॉडल और फिर स्टार बना दिया?

आज वेंडेल रोड्रिक्स का बड्डे है.

घोड़े की नाल ठोकने से ऑस्कर तक पहुंचने वाला इंडियन डायरेक्टर

इन्हें अंग्रेज़ी नहीं आती थी, अमेरिका जाते वक्त सुपरस्टार दिलीप कुमार को साथ लेकर गए थे. हॉलीवुड के डायरेक्टरों की बात समझने के लिए.

इबारत : नेहरू की ये 15 बातें देश को हमेशा याद रखनी चाहिए

नेहरू के कहे-लिखे में से बेहतरीन बातें पढ़िए

अमिताभ की उस फिल्म के 6 किस्से, जिसकी स्क्रीनिंग से डायरेक्टर खुद ही उठकर चला गया

अमिताभ डायरेक्टर के पीछे-पीछे भागे, तब जाकर वो रुके.

इबारत : Ertugrul में इब्ने अरबी के 10 डायलॉग अंधेरे में मशाल जैसे लगते हैं

आजकल ख़ूब चर्चा हो रही है इस सीरीज़ की

इबारत : शरद जोशी की वो 10 बातें जिनके बिना व्यंग्य अधूरा है

आज शरद जोशी का जन्मदिन है.

इबारत : सुमित्रानंदन पंत, वो कवि जिसे पैदा होते ही मरा समझ लिया था परिवार ने!

इनकी सबसे प्रभावी और मशहूर रचनाओं से ये हिस्से आप भी पढ़िए

गिरीश कर्नाड और विजय तेंडुलकर के लिखे वो 15 डायलॉग, जो ख़ज़ाने से कम नहीं!

आज गिरीश कर्नाड का जन्मदिन और विजय तेंडुलकर की बरसी है.

पाताल लोक की वो 12 बातें जिसके चलते इस सीरीज़ को देखे बिन नहीं रह पाएंगे

'जिसे मैंने मुसलमान तक नहीं बनने दिया, आप लोगों ने उसे जिहादी बना दिया.'

ऑनलाइन देखें वो 18 फ़िल्में जो अक्षय कुमार, अजय देवगन जैसे स्टार्स की फेवरेट हैं

'मेरी मूवी लिस्ट' में आज की रेकमेंडेशन है अक्षय, अजय, रणवीर सिंह, आयुष्मान, ऋतिक रोशन, अर्जुन कपूर, काजोल जैसे एक्टर्स की.