Submit your post

Follow Us

पड़ताल: क्या चीन से युद्ध हारने के बाद लोगों ने जवाहरलाल नेहरू को थप्पड़ मारा था?

दावा

सोशल मीडिया पर एक फोटो शेयर की जा रही है. फेसबुक पर इस फोटो के कैप्शन में लिखा हुआ है कि देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू को अजमेर में हुए एक कार्यक्रम में थप्पड़ पड़ा था. फोटो के ऊपर लिखा हुआ है कि लोगों ने चीन से जंग हारने पर नेहरू से मारपीट की. इस दावे का आर्काइव लिंक आप यहां क्लिक करके देख सकते हैं.

इस दावे को पुष्पेंद्र कुलश्रेष्ठ नाम के पेज पर भी पोस्ट किया गया है. इस पोस्ट को अबतक 1600 से ज्यादा लोग शेयर कर चुके हैं. इस पर डेढ़ हज़ार से ज्यादा लोग रिएक्ट और 300 से ज्यादा लोग कमेंट कर चुके हैं. इस पेज के अलावा कई और पेजों ने इसी जानकारी को पोस्ट किया है. इस पोस्ट का आर्काइव लिंक आप यहां क्लिक करके देख सकते हैं.

वायरल दावा.
वायरल दावा.

फेसबुक के अलावा ये दावा ट्विटर पर भी फैल रहा है. इस ट्वीट का आर्काइव लिंक आप यहां क्लिक करके देख सकते हैं.
ट्विटर पोस्ट

क्या है फोटो में

फोटो में जवाहरलाल नेहरू को एक आदमी पीछे से पकड़े हुए दिख रहा है. नेहरू अपनी पारंपरिक वेशभूषा में दिख रहे हैं.  पीछे एक आदमी किसी पर चिल्लाता नज़र आ रहा है. और महौल काफी तनावपूर्ण लग रहा है. नेहरू भी असहज दिख रहे हैं. तस्वीर को देखकर लग रहा है कि हालात अप्रिय हैं.

वायरल फोटो.
वायरल फोटो.

पड़ताल

हमने इस फोटो की सच्चाई जानने के लिए रिवर्स इमेज सर्च किया. हमें उसमें कुछ तस्वीरें दिखीं. ज्यादातर तस्वीरें ऊपर लिखे दावे की ही थीं. इनमें कोई अतिरिक्त जानकारी नहीं थी, जिससे इस फोटो की सच्चाई पता लग सके. बस एक फोटो में फोटो कैप्शन भी दिए हुए थे. ये प्रजावाणी नाम की वेबसाइट ने पोस्ट की थी. जो कन्नड़ का प्रतिष्ठित मीडिया संस्थान है. प्रजावाणी की इस फोटो में लिखा हुआ था कि ये घटना पटना की है. यहां कांग्रेस पार्टी की एक सभा हो रही थी. जिसमें किसान घुसकर प्रदर्शन करने लग पड़े थे. तभी सुरक्षा कर्मी ने नेहरू को पकड़ लिया. फोटो क्रेडिट न्यूज़ एंजेंसी AP का था. इसलिए हम AP की वेबसाइट चेक की.

गूगल रिवर्स इमेज सर्च में हमें ये रिज़ल्ट मिले. इनमें से प्रजावाणी वेबसाइट की फोटो में कैप्शन भी थे.
गूगल रिवर्स इमेज सर्च में हमें ये रिज़ल्ट मिले. इनमें से प्रजावाणी वेबसाइट की फोटो में कैप्शन भी थे.

AP की वेबसाइट पर Nehru Patna की-वर्ड डालने पर हमें असली फोटो मिल गई. ये तस्वीर जनवरी 1962 की है. पटना में कांग्रेस की मीटिंग हो रही थी. वहां काफी हो-हल्ला हुआ. उस वक्त देश के प्रधानमंत्री नेहरू के सुरक्षाकर्मियों ने उन्हें हल्ला कर रहे प्रदर्शनकारियों से बचाकर बाहर निकला था.

एसोसिएटड प्रेस प्रतिष्ठित न्यूज़ एजेंसी है. इनके आर्काइव में ऐसे तमाम फोटोज़ मौजूद हैं.
एसोसिएटड प्रेस प्रतिष्ठित न्यूज़ एजेंसी है. इनके आर्काइव में ऐसे तमाम फोटोज़ मौजूद हैं.

ये फोटो जनवरी 1962 की है. जबकि भारत-चीन युद्ध 20 अक्टूबर, 1962 को शुरू हुआ था. हमारे अलावा ऑल्ट न्यूज़ ने भी इस वायरल पोस्ट की जांच की है. पटना में ये बवाल 5 जनवरी को हुआ था. इस पूरे बवाल का कवरेज उस वक्त के अख़बारों में भी हुआ था. दी इंडियन एक्सप्रेस ने इसे पहले पन्ने पर कवर किया था. लिखा था, ‘अव्यवस्था के चलते ओपन सेशन स्थगित करना पड़ा’ और ‘नेहरू की अपील व्यर्थ रही.’

6 जनवरी 1962 का दी इंडियन एक्सप्रेस.
6 जनवरी 1962 का दी इंडियन एक्सप्रेस. जहां पटना कांग्रेस में हुए बवाल को पहली सुर्खी बनाया गया है.

नतीजा

सोशल मीडिया पर जवाहरलाल नेहरू को चीन से युद्ध हारने की वजह से थप्पड़ पड़ने या उनसे मारपीट होने की बात झूठी है. जिस फोटो का इस्तेमाल ये दिखाने के लिए किया जा रहा है वो पटना में हुई कांग्रेस की एक मीटिंग की है. ये मीटिंग 5 जनवरी 1962 को हुई थी. जबकि भारत-चीन के बीच ये युद्ध 20 अक्टूबर, 1962 को शुरू हुआ था.

अगर आप तक और भी कोई दावा पहुंचे,जिसकी सच्चाई पर आपको संदेह हो, तो हमें भेजिए padtaalmail@gmail.com पर. हम करेंगे दावे की पड़ताल और आपको बताएंगे उसकी सच्चाई.


पड़ताल: विक्रम लैंडर की लोकेशन मिलने के बाद, क्या ISRO ने प्रज्ञान के एक्टिवेट होने की घोषणा की है?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

10 नंबरी

फिल्म '83' से क्रिकेटर्स के रोल में इन 15 एक्टर्स का लुक देखकर माथा ठीक हो जाएगा

रणवीर सिंह से लेकर हार्डी संधू और एमी विर्क समेत इन 15 एक्टर्स को आप पहचान ही नहीं पाएंगे.

शाहरुख खान से कार्तिक आर्यन तक इन सुपरस्टार्स के स्ट्रगल के किस्से हैरान कर देंगे

किसी ने भूखे पेट दिन गुजारे तो किसी ने मक्खी वाली लस्सी तक पी.

जब रमेश सिप्पी की 'शक्ति' देखकर कहा गया,'दिलीप कुमार अमिताभ बच्चन को नाश्ते में खा गए'

जानिए जावेद अख्तर ने क्यों कहा, 'शक्ति में अगर अमिताभ की जगह कोई और हीरो होता, तो फिल्म ज़्यादा पैसे कमाती?'

जब देव आनंद के भाई अपना चोगा उतारकर फ्लश में बहाते हुए बोले,'ओशो फ्रॉड हैं'

गाइड के डायरेक्टर के 3 किस्से, जिनकी मौत पर देव आनंद बोले- रोऊंगा नहीं.

2020 में एमेज़ॉन प्राइम लाएगा ये 14 धाकड़ वेब सीरीज़, जो मस्ट वॉच हैं

इन सीरीज़ों में सैफ अली खान से लेकर अभिषेक बच्चन और मनोज बाजपेयी काम कर रहे हैं.

क्यों अमिताभ बच्चन की इस फिल्म को लेकर आपको भयानक एक्साइटेड होना चाहिए?

ये फिल्म वो आदमी डायरेक्ट कर रहा है जिसकी फिल्में दर्शकों की हालत खराब कर देती हैं.

सआदत हसन मंटो को समझना है तो ये छोटा सा क्रैश कोर्स कर लो

जानिए मंटो को कैसे जाना जाए.

नेटफ्लिक्स ने इस साल इंडियन दर्शकों के लिए कुछ भयानक प्लान किया है

1 साल, 18 एक्टर्स और 4 धांसू फिल्में.

'एवेंजर्स' बनाने वालों के साथ काम करेंगी प्रियंका, साथ में 'द फैमिली मैन' के डायरेक्टर भी गए

एक ही प्रोजेक्ट पर काम करने के बावजूद राज एंड डीके के साथ काम नहीं कर पाएंगी प्रियंका चोपड़ा.

पेप्सी को टैगलाइन देने वाले शहीद विक्रम बत्रा की बायोपिक की 9 शानदार बातें

सिद्धार्थ मल्होत्रा अपने करियर में डबल रोल और बायोपिक दोनों पहली बार कर रहे हैं.