Submit your post

Follow Us

पड़ताल: क्या UIDAI का नंबर फोन में रखने से बैंक अकाउंट का गलत इस्तेमाल हो जाएगा?

लोकसभा चुनाव की ग्राउंड कवरेज के अलावा, ‘दी लल्लनटॉप’फेसबुक के साथ मिलकर देश के अलग-अलग इलाकों में फ़ेक न्यूज़ से बचने के लिए वर्कशॉप कर रहा है. इस कड़ी में हमारी टीम ने देश की राजधानी दिल्ली में वर्कशॉप की. यहां ‘दी लल्लनटॉप’ के रिपोर्टर नीरज ने लोगों से जाना कि उन्हें किन ख़बरों के फेक होने का शक है. वर्कशॉप अटेंड कर रहीं सुरभि को एक ख़बर पर शक था. वो एक वायरल मैसेज की सच्चाई जानना चाहते हैं जिसमें दावा किया जा रहा है कि UIDAI यानी आधार कार्ड रेगुलेट करने वाली एजेंसी का नंबर कॉन्टेक्ट लिस्ट में सेव हुआ है जिसका गलत इस्तामल किया जा सकता है.

सुरभि ने दिल्ली में वर्कशॉप अटेंड की थी.
सुरभि ने दिल्ली में वर्कशॉप अटेंड की थी.

सुरभि चाहती हैं कि ‘दी लल्लनटॉप’ इस ख़बर की पड़ताल करे और उन तक सच पहुंचाए. वैसे ये दावा काफ़ी पुराना है. पहली बार ये बात अगस्त 2018 में सामने आई थी. तब भी UIDAI, टेलिकॉम ऑपरेटरों और एंड्राइड फोन को रेगुलेट करने वाली कंपनी गूगल का ख़ासी फ़जीहत हुई थी. दावा रोमन हिंदी में किया जा रहा है. हम यहां हिंदी में लिख रहे हैं.

दावा

आपके मोबाइल में एक नंबर सेव आज ही हुआ है UIDAI ये कॉन्टेक्ट डिलीट कर दें. ये कॉन्टेक्ट सभी एंड्राइड फोन में ऑटो सेव आज 12 बजे के बाद सेव हुआ है ये नंबर आप का आधार से बैंक आकाउंट या सिम का दुरूपयोग कर सकता है ये मैसेज अपने ग्रुप में सभी को शेयर करें.

फेसबुक और ट्विटर में किए जा रहे दावे.
फेसबुक और ट्विटर में किए जा रहे दावे.

हमने इस दावे के बारे में पहले भी जानकारी दी है. जो भी पक्ष हैं इस मामले में, उनकी कही बात को फिर आपके सामने रख रहे हैं. हमने इस दावे की पड़ताल की. एक नाम सामने आया, एलियट एंडरसन. ये वही फ्रांस वाले हैकर हैं, जिन्होंने ट्राई के चेयरमैन के आधार नंबर के सहारे उनकी कई जानकारियां सामने लाने का दावा किया था. उन्होंने एक ट्वीट किया था,

उन्होंने यूआईडीएआई को टैग करते हुए सवाल पूछे थे कि

कई लोग जिनके सर्विस प्रोवाइडर अलग हैं, आधर कार्ड है या नहीं है, M-Aadhar ऐप इंस्टॉल है या नहीं है, उन्हें पता चलता है कि उनके कॉन्टैक्ट में एक नंबर सेव है. वो भी बिना उनकी जानकारी के. क्या आप बता सकते हैं कैसे?

इस मामले में आधार की संस्था यूआईडीएआई ने स्पष्टीकरण देते हुए कहा है कि उन्होंने किसी सर्विस प्रोवाइडर कंपनी से ऐसा करने को नहीं कहा. देखें उनका ट्वीट –

आधार ने बयान जारी कर सफाई पेश की है.
आधार ने बयान जारी कर सफाई पेश की है.

आधार ने ट्वीट में लिखा है कि

यूआईडीएआई के पुराने और अब अमान्य हो चुके टोल फ्री नंबर 1800-300-1947 के अपने आप एंड्रॉयड फ़ोन में सेव हो जाने के संबंध में यह स्पष्ट किया जाता है कि यूआईडीएआई ने किसी मैन्युफैक्चरर या सर्विस प्रोवाइडर को ऐसी सुविधा देने के लिए नहीं कहा है. यह नंबर भी वैध UIDAI टोल फ्री नंबर नहीं है और कुछ हितों के लिए जनता में नाजायज़ भ्रम फैलाया जा रहा है. हमारा वैध टोलफ्री नंबर 1947 है जो बीते दो से अधिक वर्षों से चल रहा है.”

इसके बाद शक गया टेलिकॉम ऑपरेटर्स पर. टेलिकॉम ऑपरेटर्स की तरफ से सेल्युलर ऑपरेटर्स एसोसिएशन ऑफ़ इंडिया (COAI) ने बयान जारी करते हुए कहा,

“फोनबुक में कुछ अनजान नंबर सेव करने का काम किसी टेलीकॉम सर्विस प्रोवाइडर की ओर से नहीं किया गया.”

टेलिकॉम ऑपरेटर्स भी बोले- हमने कुछ नहीं किया.
टेलिकॉम ऑपरेटर्स भी बोले- हमने कुछ नहीं किया.

तो फिर हाथ किसका था?

अब मसला ये है कि यूआईडीएआई ने कहा नहीं, मोबाइल ऑपरेटर्स ने नंबर सेव किया नहीं, तो आखिर किया किसने? ये कारनामा किया था गूगल ने. गूगल ने खुद इस पर स्पष्टीकरण जारी किया था.

गूगल ने समझाया पूरा खेल.
गूगल ने समझाया पूरा खेल.

गूगल का कहा

हमारी आंतरिक जांच में सामने आया कि वर्ष 2014 में यूआईडीएआई का तत्कालीन टोल फ्री नंबर और 112 डिस्ट्रेस हेल्पलाइन नंबर अनजाने में उस एंड्रॉयड सेटअप विजार्ड में कोड हो गए थे, जो भारत में उपयोग के लिए ओईएम (ऑरिजनल इक्विपमेंट मेन्युफेक्चर्स) को जारी किया गया था और तब से यही सेटअप चला आ रहा है. फिर हर मोबाइल पर इसके पहुंच जाने का कारण ये है कि एक बार यूजर की ऑनलाइन कॉन्टैक्ट लिस्ट में ये नंबर जुड़ गया तो एक डिवाइस से दूसरी डिवाइस पर भी ये नंबर दिखता ही रहेगा.

बयान में कंपनी की तरफ से माफी मांगते हुए वादा किया गया कि अगले कुछ सप्ताह में जारी होने जा रहे नए सेटअप विजार्ड में वे इस गलती को सुधार लेंगे.

गूगल ने बयान में ये भी स्पष्ट किया कि

यह किसी भी तरह से फोन में अवैध तरीके से घुसने या हैकिंग का मामला नहीं है. उपयोगकर्ता चाहे तो अपने फोन से इस नंबर को आसानी से मिटा सकता है. इसके लिए उसे गूगल अकाउंट में जाकर वहां से भी इसे मिटाना होगा.

पर बैंक खाते के नुकसान का क्या?

वायरल मैसेज में दावा किया जा है कि इससे बैंक खाते को नुकसान पहुंचाया जा सकता है. लेकिन जो नंबर फोन लिस्ट में था वो UIDAI का पुराना टोल-फ्री नंबर था. इसके अलावा, आधार से किसी भी तरह की परमीशन के लिए बायोमैट्रिक वेरिफेकेशन होती है. यानी, अगर आपके बैंक अकाउंट या सिम का इस्तेमाल किसी भी पर्पज़ के लिए होना हो तो आपकी उंगलियों के निशान लिए बिना संभव नहीं है. बाकी, ये कैसे आपके फोन में आया, वो तो हमने आपको बता ही दिया.

नतीजा

‘दी लल्लनटॉप’ की पड़ताल में ये वायरल मैसेज गुमराह करने वाले निकला, मिसलीडिंग निकला. ये नंबर गूगल की गफलत की वजह से आपके मोबाइल में सेव हुआ था. इसने डाटा राइट्स और प्राइवेसी जैसी डिबेट्स की हवा तो दी है. लेकिन इससे आपके बैंक खाते और सिम का गलत इस्तेमाल होगा, ऐसा भी नहीं है.

अगर आपको चुनाव से जुड़ी या उसके अलावा भी किसी ख़बर पर शक हो तो हमें लिखें. हमारा पता है PADTAALMAIL@GMAIL.COM

 


पड़ताल: फानी तूफान से जुड़ी RSS स्वयंसेवकों की वायरल तस्वीरों का सच क्या है?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

10 नंबरी

विकी-कैटरीना की शादी में मेहमानों के लिए रखी गईं अजीबो-गरीब शर्तें?

विकी-कैटरीना की शादी में मेहमानों के लिए रखी गईं अजीबो-गरीब शर्तें?

शादी में आए मेहमानों को एक सीक्रेट कोड दिया जाएगा.

रणबीर कपूर ने आलिया भट्ट के लहंगे को लात मारी, सोशल मीडिया पर हंगामा मच गया

रणबीर कपूर ने आलिया भट्ट के लहंगे को लात मारी, सोशल मीडिया पर हंगामा मच गया

रणबीर की ये हरकत लोगों को कुछ ज़्यादा ही बुरी लग गई.

एड्स के बारे में 10 बातें समझ लो कोई और नहीं बताएगा

एड्स के बारे में 10 बातें समझ लो कोई और नहीं बताएगा

जानकारी बहुत जरूरी है.

गाना लॉन्च करने के दौरान बॉडीगार्ड ने क्या कर दिया, जिससे सारा अली खान उखड़ गईं?

गाना लॉन्च करने के दौरान बॉडीगार्ड ने क्या कर दिया, जिससे सारा अली खान उखड़ गईं?

सारा ने पूरी मीडिया के सामने बॉडीगार्ड को डांट लगा दी.

दिसंबर में आने वाली 15 कमाल की फिल्में और वेब सीरीज़!

दिसंबर में आने वाली 15 कमाल की फिल्में और वेब सीरीज़!

'मनी हाइस्ट' से शुरू होने वाला महीना '83', 'जर्सी' पर जाकर रुकेगा.

मुनव्वर फारूकी के कॉमेडी छोड़ने पर किन एक्टर्स ने उनका साथ दिया

मुनव्वर फारूकी के कॉमेडी छोड़ने पर किन एक्टर्स ने उनका साथ दिया

मुन्नवर के पहले भी कई शोज़ कैंसिल हो चुके हैं.

पहले टेस्ट में शतक बनाने वाले 16 भारतीय बल्लेबाज़, 1933 से अब तक की पूरी कहानी

पहले टेस्ट में शतक बनाने वाले 16 भारतीय बल्लेबाज़, 1933 से अब तक की पूरी कहानी

जिस लिस्ट में श्रेयस पहुंचे वहां कौन-कौन है?

अवॉर्ड्स पर भरोसा ना करने वाले एक्टर्स को अभिषेक की ये बात चुभेगी

अवॉर्ड्स पर भरोसा ना करने वाले एक्टर्स को अभिषेक की ये बात चुभेगी

अभिषेक जल्द ही फिल्म 'बॉब बिस्वास' में नज़र आने वाले हैं.

कंगना के खिलाफ FIR हुई, उन्होंने जवाब अपनी फोटो डालकर दिया

कंगना के खिलाफ FIR हुई, उन्होंने जवाब अपनी फोटो डालकर दिया

कंगना पर सिखों के ऊपर आपत्तीजनक टिप्पणी करने को लेकर FIR दर्ज करवाई गई थी.

'स्क्विड गेम' देख लिया? अब ये 9 बढ़िया कोरियन शोज़ निपटा डालिए

'स्क्विड गेम' देख लिया? अब ये 9 बढ़िया कोरियन शोज़ निपटा डालिए

इनमें से एक तो ऐसा है जिसने नेटफ्लिक्स की मौज कर दी.