Submit your post

Follow Us

मुंबई स्टेशन पर पॉकेट मारने वाले ये बच्चे आपका अटेंशन और दिल दोनों चुरा लेंगे

इमरान हाशमी की नई फिल्म ‘हरामी’ का ट्रेलर 28 सितंबर को रिलीज़ हुआ. एक समय ऐसा था जब इमरान सिर्फ रोमांटिक फिल्मों में नज़र आते थे, मगर पिछले कुछ सालों से इमरान ने अपनी फिल्मों के टेस्ट को बदल दिया है. ‘हरामी’ फिल्म इमरान हाशमी की पहली इंडो-अमेरिकन फिल्म है. इस फिल्म से इमरान छह सालों बाद इंटरनेशनल पर्दे पर वापसी करने जा रहे हैं. तो कैसा है फिल्म का ट्रेलर, क्या है फिल्म की कहानी सब कुछ बताएंगे आपको.

1) कहानी क्या है?

फिल्म ‘हरामी’ की कहानी मुंबई के स्लम एरिया में रहने वाले उन छोटे-छोटे बच्चों की कहानी है, जिन्हें इकट्ठा करके मुंबई के रेलवे स्टेशनों पर चोरी करवाई जाती है. कहानी है उस पूरे गिरोह की, जो इन बच्चों के हाथ-पैर तोड़कर उनसे या तो चोरी करवाता है या भीख मंगवाता है. ट्रेलर में दिखाया गया है कि किस तरह बच्चों को उनके नंबर दिए जाते हैं, जो उनकी पहचान बन जाते हैं.

 

55

ऐसे ही एक गिरोह को कंट्रोल करते हैं इमरान हाशमी. जो बच्चों को डरा-धमका कर उनसे काम करवाते हैं. जो उनकी बात नहीं सुनता उसके हाथ-पैर तोड़ देते हैं. कहानी है उन अनाथ बच्चों की, जिन्हें उनके जानने वाले सिर्फ उनके हाथ पर गोदे गए नंबर से बुलाते हैं और समाज उन्हें ‘हरामी’ कहकर बुलाता है.

इस फिल्म के ट्रेलर को देखकर आपको साल 2007 में आई कुणाल खेमू की फिल्म ‘ट्रैफिक सिग्नल’ याद आएगी. हालांकि उस फिल्म की कहानी उन लोगों की थी जो ट्रैफिक सिग्नल पर भीख मांगते हैं. ‘हरामी’ मूवी की कहानी उन बच्चों की है, जो मुंबई स्टेशन पर लोगों का पॉकेट मारते हैं या चोरी करते हैं.

इमराना हाशमी के लुक को लोग खूब पसंद कर रहे हैं.
इमराना हाशमी के लुक को लोग खूब पसंद कर रहे हैं.

2) ट्रेलर कैसा है?

इंट्रेस्टिंग है. ट्रेलर की शुरुआत होती है और पचपन एक शीशे के सामने खुद को देखता है और हाथ में चुराए हुए आधार कार्ड से नाम पढ़ता है. फिर उसका दोस्त उसे आकर बताता है,

‘तू 55 है और मैं 86, हम वहीं नंबर हैं जो वो  दिया है…’

उनकी पहचान सिर्फ वो नंबर है, जो उनके हाथ पर गोदे गए हैं.

Pachpan 1

इन बच्चों का लीडर है सागर भाई (इमरान हाशमी). कोई सागर के बनाए नियमों को तोड़े ये सागर बर्दाश्त नहीं कर सकता. सागर के किरदार की इंट्रेस्टिंग बात ये है कि वो सिर्फ अंग्रेजी में बात करता है. ऐसा इसलिए क्योंकि ये एक इंडो-अमेरिकन फिल्म है.  ठीक वैसे ही जैसे ‘स्लमडॉग मिलेनियर’ थी. आधी हिंदी और आधी इंग्लिश फिल्म.

ट्रेलर तब और दिलचस्प हो जाता है जब एक दिन पचपन, मुंबई स्टेशन पर एक आदमी का पर्स चोरी करता है. पर्स में बहुत सारे पैसे होते हैं. बाद में पता चलता है कि जिस आदमी का पैसा चुराया है, उसने अपनी बेटी की शादी के लिए वो रुपये उधार लिए थे. अब पचपन को पछतावा होता है और वो ठान लेता है कि उस लड़की को सारे पैसे वापिस करेगा. जैसे-तैसे वो उस लड़की से मिलता है और उसे अपना दिल दे बैठता है.

Dhanshree 3

अब जब इस बात का पता सागर को चलता है तो खूब बखेड़ा खड़ा हो जाता है. सागर, पचपन को मारता-पीटता है. पचपन का झगड़ा उसके अपने दोस्तों से भी होता है. इतनी सारी परेशानियों के बाद पचपन उस लड़की की मदद कैसे करता है बस इसी की कहानी है ‘हरामी’.

3) कौन-कौन है फिल्म में?

# इमरान हाशमी

Imran

इमरान हाशमी को किसी इंट्रोडक्शन की ज़रूरत नहीं है. इससे पहले भी साल 2014 में इमरान इंटरनेशनल फिल्म में काम कर चुके हैं. फिल्म का नाम था ‘टाइगर्स’. जिसे ऑस्कर विनिंग डायरेक्टर डेनिस स्टानोविच ने बनाया था. इमरान इससे पहले बॉलीवुड की ‘द बॉडी’ मूवी में दिखे थे. इसके अलावा वो नेटफ्लिक्स की वेब सीरीज़ ‘बार्ड ऑफ ब्लड’ में भी दिख चुके हैं. ‘हरामी’ फिल्म में इमरान के लुक की खूब तारीफ हो रही है.

# रिज़वान शेख

Pachapan 23

रिज़वान इस फिल्म से अपना डेब्यू कर रहे हैं. फिल्म में उन्होंने पचपन का किरदार निभाया है. उनकी एक्टिंग कमाल की दिख रही है. रिज़वान अभी सिर्फ 16 साल के हैं. फिल्म में वो जेब काटने वालों के लीडर बने हैं। अब देखना होगा पहली फिल्म से वो लोगों को कितना इम्प्रेस कर पाएंगे.

# धनश्री पाटिल

Dhanshree

धनश्री पाटिल ने फिल्म में उमा का किरदार निभाया है. वो भी इसी फिल्म से एक्टिंग में डेब्यू कर रही हैं. उमा वही है, जिससे पचपन प्यार करने लगता है. एक लोअर मिडिल क्लास फैमिली की स्वाभिमानी लड़की, जो किसी भी ऐरे-गैरे से पैसे नहीं लेती. हांलांकि धनश्री को ट्रेलर में ज़्यादा जगह नहीं मिली है, तो उनकी एक्टिंग देखने के लिए हमें फिल्म का इंतज़ार करना होगा.

इन सभी के अलावा फिल्म में हर्ष राजेंद्र राणे, आशुतोष गायकवाड़, मछिन्द्र गडकर, सार्थक दुसाने, मनीषा मिश्रा, यश कांबले, आदित्य भगत, दीक्षा निशा और आदिल खान जैसे कलाकार भी होंगे.

4) किसने बनाई है?

फिल्म बनाई है श्याम मदिराजू ने. जो इससे पहले साल 2014 में आई ‘केक’, ‘इडेन’ और साल 2016 में आई ‘जेड’ जैसी फिल्मों के प्रोड्यूसर रह चुके हैं. श्याम मदिराजू ने इस फिल्म के निर्देशन के साथ कहानी भी लिखी है. फिल्म के लिए हिंदी डायलॉग्स लिखे हैं प्रशांत पांडे ने. जो इससे पहले फिल्म ‘रक्त चरित्र’, ‘कॉन्ट्रैक्ट’, ‘पूर्णा’ और ‘रण’ जैसी फिल्मों के डायलॉग्स लिख चुके हैं. फिल्म को इमरान हाशमी ने यूएस बेस्ड प्रोडक्शन के साथ मिलकर प्रोड्यूस किया है.

Mumbai 1

5) कब आएगी?

इमरान हाशमी की ये फिल्म बूसान इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल में दिखाई जाएगी. जो इस साल अक्टूबर में आयोजित होगा. इस फिल्म को बेस्ट फिल्म, बेस्ट डायरेक्टर और बेस्ट ऑडिएंस के लिए नॉमिनेट किया गया है. 21 अक्टूबर को होने वाले बूसान फिल्म फेस्टिवल में ही ‘हरामी’ मूवी का वर्ल्ड प्रीमियर होगा. माने 21 अक्टूबर के बाद ही इसे देखा जा सकेगा.


वीडियो:

मैटिनी शो: दिलीप कुमार और अमिताभ बच्चन की इस फिल्म के प्रड्यूसर को किसने किडनैप किया?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

पोस्टमॉर्टम हाउस

ये गेम आस्तीन का सांप ढूंढना सिखा रहा है और लोग इसमें जमकर पिले पड़े हैं!

ये गेम आस्तीन का सांप ढूंढना सिखा रहा है और लोग इसमें जमकर पिले पड़े हैं!

पॉलिटिक्स और डिप्लोमेसी वाला खेल है Among Us.

फिल्म रिव्यू- कार्गो

फिल्म रिव्यू- कार्गो

कभी भी कुछ भी हमेशा के लिए नहीं खत्म होता है. कहीं न कहीं, कुछ न कुछ तो बच ही जाता है, हमेशा.

फिल्म रिव्यू: सी यू सून

फिल्म रिव्यू: सी यू सून

बढ़िया परफॉरमेंसेज़ से लैस मजबूत साइबर थ्रिलर,

फिल्म रिव्यू- सड़क 2

फिल्म रिव्यू- सड़क 2

जानिए कैसी है संजय दत्त, आलिया भट्ट स्टारर महेश भट्ट की कमबैक फिल्म.

वेब सीरीज़ रिव्यू- फ्लेश

वेब सीरीज़ रिव्यू- फ्लेश

एक बार इस सीरीज़ को देखना शुरू करने के बाद मजबूत क्लिफ हैंगर्स की वजह से इसे एक-दो एपिसोड के बाद बंद कर पाना मुश्किल हो जाता है.

फिल्म रिव्यू- क्लास ऑफ 83

फिल्म रिव्यू- क्लास ऑफ 83

एक खतरनाक मगर एंटरटेनिंग कॉप फिल्म.

बाबा बने बॉबी देओल की नई सीरीज़ 'आश्रम' से हिंदुओं की भावनाएं आहत हो रही हैं!

बाबा बने बॉबी देओल की नई सीरीज़ 'आश्रम' से हिंदुओं की भावनाएं आहत हो रही हैं!

आज ट्रेलर आया और कुछ लोग ट्रेलर पर भड़क गए हैं.

करोड़ों का चूना लगाने वाले हर्षद मेहता पर बनी सीरीज़ का टीज़र उतना ही धांसू है, जितने उसके कारनामे थे

करोड़ों का चूना लगाने वाले हर्षद मेहता पर बनी सीरीज़ का टीज़र उतना ही धांसू है, जितने उसके कारनामे थे

कद्दावर डायरेक्टर हंसल मेहता बनायेंगे ये वेब सीरीज़, सो लोगों की उम्मीदें आसमानी हो गई हैं.

फिल्म रिव्यू- खुदा हाफिज़

फिल्म रिव्यू- खुदा हाफिज़

विद्युत जामवाल की पिछली फिल्मों से अलग मगर एक कॉमर्शियल बॉलीवुड फिल्म.

फ़िल्म रिव्यू: गुंजन सक्सेना - द कारगिल गर्ल

फ़िल्म रिव्यू: गुंजन सक्सेना - द कारगिल गर्ल

जाह्नवी कपूर और पंकज त्रिपाठी अभिनीत ये नई हिंदी फ़िल्म कैसी है? जानिए.