Submit your post

Follow Us

डिज़्नी+हॉटस्टार पर 2021 में रिलीज़ हुईं ये 20 फ़िल्में और शोज़ भूले से भी मिस मत करिएगा

साल 2022 की शुरुआत वीकएंड से हो रही है. यानी साल के पहले दिन आराम से बढ़िया फ़िल्में और सीरीज़ देखी जा सकती हैं. लेकिन स्कूल वाले लॉजिक से पहले दिन कोई ख़राब सीरीज़/फ़िल्म देख ली तो पूरा साल सिर्फ़ कबाड़ कॉन्टेंट ही नसीब होगा. टेंशन लेने की बिल्कुल ज़रूरत नहीं. आप किसी बेहतरीन शो या फ़िल्म से अपने साल की शुरुआत करें इसकी जिम्मेदारी लल्लनटॉप सिनेमा टीम की है. हम आपके लिए साल 20 में रिलीज़ हुए शोज़ और फ़िल्मों के ढेर से एकदम छान के अच्छे कॉन्टेंट की लिस्ट तैयार कर रहे हैं.

इसी प्रोसेस के तहत हमने साल 2021 में डिज़्नी+ हॉटस्टार पर रिलीज़ हुए बेस्ट कॉन्टेंट को लाइन में सजा दिया है. देखते चलें इनमें से कितने शोज़ आपने पहले से देख रखे हैं. जितने नहीं देखें हों, उन्हें फौरन वॉचलिस्ट में डाल लीजिएगा. आइए अब शुरू करते हैं-


1. स्पेशल ऑप्स 1.5 (हिंदी सीरीज़)
कास्ट – केके मेनन, आफ़ताब शिवदासानी, विनय पाठक
डायरेक्टर – शिवम नायर, नीरज पांडे

Special Ops
केके ने पिछले सीज़न से तकरीबन 20 साल कम उम्र का कैरेक्टर प्ले किया है.

कहानी- ‘स्पेशल ऑप्स 1.5’ 2020 में रिलीज़ हुई ‘स्पेशल ऑप्स’ की अगली कड़ी है. पिछले सीज़न की तरह इस बार भी कहानी नैरेशन स्टाइल में चलती है. लास्ट सीज़न में हिम्मत सिंह ‘पार्लियामेंट ऑपेरशन’ के बारे में डी.के. बैनर्जी और नरेश चड्ढा को बता रहा था. इस बार अब्बास शेख, हिम्मत सिंह की कहानी उन दोनों को बता रहा है. इंटेलिजेंस और डिफेंस के अहम पदों पर तैनात ऑफिसर्स एक के बाद एक मृत पाए जा रहे हैं. शुरुआती जांच में तो इनकी मौत का कारण नेचुरल डेथ आता है. मगर बाद में मालूम चलता है कि ये सभी हनी ट्रैप के शिकार हुए हैं. शातिर लड़कियों ने इन्हें प्रेमजाल में फंसाकर देश के कुछ बहुत ही अहम दस्तावेज़ कब्ज़ा लिए हैं. क्या हिम्मत सिंह इन हनी ट्रैपर्स को पकड़ने में कामयाब होता है, जानने के लिए डिज्नी+हॉटस्टार पर स्ट्रीम करें ‘स्पेशल ऑप्स 1.5’.

ख़ास बात- शो में केके ने पिछले सीज़न से तकरीबन 20 साल कम उम्र का किरदार निभाया है.


2. द फॉल्कन एंड द विंटर सोल्जर (इंग्लिश सीरीज़)
कास्ट – एंथनी मैके, सेबेस्टियन स्टैन
डायरेक्टर – कैरी स्कॉग्लैंड

Falcon Winter Soldier Main2
द फॉल्कन एंड द विंटर सोल्जर का एक सीन.

कहानी- कैप्टन अमेरिका अपनी शील्ड सैम को देकर रिटायर हो गए. लेकिन शील्ड के ‘भार’ और ‘कैप्टन अमेरिका’ की उपाधि के लिए सैम खुद को सक्षम नहीं मानता. वहीं बकी बार्न्स यानी विंटर सोल्जर भी अपनी पास्ट लाइफ़ में की गईं गलतियों के ट्रॉमा से जूझ रहा है. इसी बीच शहर में फ्लैग स्मैशर गैंग आतंक फैलाने लगती है, जिनसे निपटने के लिए दोनों न चाहते हुए भी एक साथ काम करने लगते हैं.

ख़ास बात- 6 एपिसोड का ये शो रेसिज़्म जैसे गंभीर मुद्दों पर भी बात करता हुआ चलता है.


3. ग्रहण (हिंदी सीरीज़)
कास्ट – पवन मल्होत्रा, ज़ोया हुसैन
डायरेक्टर – शैलेंद्र कुमार झा, रंजन चंदेल

Grahan Controversy
पवन मल्होत्रा और ज़ोया हुसैन ने शो में बेहतरीन काम किया है.

कहानी- अमृता सिंह एक सिख IPS ऑफिसर हैं. उन्हें 1984 दंगों की जांच का जिम्मा मिलता है. जांच के दौरान उन्हें पता चलता है कि उनके पिता गुरसेवक सिंह का भी 84 दंगों से कुछ कनेक्शन है. वो कनेक्शन क्या है और अमृता उससे कैसे डील करेंगी, ये जानने के लिए देखें ‘ग्रहण’.

ख़ास बात- ‘ग्रहण’ ‘बनारस टॉकीज’ , ‘दिल्ली दरबार’ जैसी किताबों के लेखक सत्य व्यास की 2018 में प्रकाशित हुई नॉवेल ‘चौरासी’ पर बेस्ड है.


4. रिजर्वेशन डॉग्स (इंग्लिश सीरीज़)
कास्ट – डेवेरी जैकब्स, लेन फैक्टर
डायरेक्टर – सिडनी फ्रीलैंड, स्टर्लिंन हरजो

Reservation Dogs New Fx Comedy Series
चार अमेरिकन इंडियन टीनएजर्स .

कहानी- ये कहानी है चार अमेरिकन-इंडियन टीनएजर्स की, जो पूरे तरीके से क्राइम में इन्वॉल्वड हैं. इन सबकी कोशिश है कि पैसे जोड़कर वो किसी भी तरह कैलिफ़ॉर्निया जा पाएं.

ख़ास बात- नेटिव अमेरिकन टीनएजर्स की जिंदगी को दिखाता ये शो साल के बेहतरीन टीन कॉमेडी शोज़ में से एक है.


5. मार्वल स्टूडियोज़ असेंबल्ड(डाक्यूमेंट्री सीरीज़)
डायरेक्टर – ब्रैडफोर्ड बरुह

मार्वल के शोज़ कैसे बनते हैं यहां पता चलेगा.
मार्वल के शोज़ कैसे बनते हैं यहां पता चलेगा.

प्रेमाइज़- इस सीरीज़ में मार्वल फेज़ फोर के शोज़ और फ़िल्मों का पूरा मेकिंग प्रोसेस दिखाया गया है.
ख़ास बात- इस शो में आपको ‘लोकी’, ‘द फॉल्कन एंड द विंटर सोल्जर’ जैसे शोज़ के एक्सक्लूसिव बिहाइंड द सीन्स देखने को मिलते हैं.


6. हॉकआई (इंग्लिश सीरीज़)
कास्ट- जेरेमी रेनर, हेली स्टेनफील्ड, फ्लोरेंस प्यू
डायरेक्टर –जोनाथन इगला

 जेरेमी रेनर एंड हेइली स्टेनफील्ड
इस वेब शो के एक सीन में जेरेमी रेनर और हेइली स्टेनफील्ड.

कहानी- स्टोरी बेस्ड है ‘अवेंजर्स: एंडगेम’ के बाद की टाइमलाइन पर. हॉकआई अब एवेंजर नहीं है. अब वो बस अपनी फैमिली के साथ क्रिसमस मनाना चाहता है. हॉकआई तो रिटायर होना चाहता है लेकिन शहर के खलनायक उसे ऐसा करने नहीं नहीं देते. लिहाज़ा फ़िर से दुश्मनों से भिड़ने निकल पड़ता है. ऐसी ही एक मुठभेड़ में हॉकआई की मुलाकात होती है केट बिशप से. केट भी हॉकआई की तरह सुपरहीरो बनना चाहती है. आगे हालात भी ऐसे बन जाते हैं कि हॉकआई को केट के साथ टीमअप करके काम करना पड़ता है.

ख़ास बात- इस शो का ट्रीटमेंट मार्वल के सिग्नेचर स्टाइल से काफ़ी अलग है.


7. वांडा विज़न (इंग्लिश सीरीज़)
कास्ट- एलिज़ाबेथ ऑल्सन, पॉल बेटनी
डायरेक्टर- जैक स्कैफ्फर

 ये मार्वल का पहला सिटकॉम शो है.
ये मार्वल का पहला सिटकॉम शो है.

कहानी- थैनोस से लड़ने के बाद विज़न की मौत हो जाती है. इससे वांडा का मेंटल ब्रेकडाउन हो जाता है. वांडा अपनी मैजिकल पॉवर से एक ऑल्टरनेट रियलिटी बना लेती है, जहां वो विज़न के साथ नॉर्मल इंसानों की तरह रहने लगती है.

ख़ास बात- ये मार्वल का पहला सिटकॉम शो है. ये शो मार्वल की ओर से 60s-70s के टीवी शोज़ को ट्रिब्यूट है. इससे ट्रिपी शो आपने पिछले समय में नहीं देखा होगा. मस्ट वॉच है.


8. शांग ची एंड दी लैजेंड ऑफ दी टेन रिंग्स (इंग्लिश फ़िल्म)
कास्ट- टोनी ल्यूंग, सिमु लियू, डेस्टिन डेनियल
डायरेक्टर- डेस्टिन डेनियल क्रैटन

 शांग ची एंड दी लीजेंड ऑफ दी टेन रिंग्स.
शांग ची एंड दी लैजेंड ऑफ दी टेन रिंग्स.

कहानी- वेन्वु नाम के आदमी के पास 10 सुपर मैजिकल रिंग्स हैं. वेन्वु 400 सालों से धरती पर है. उसकी The 10 Rings नाम की खुद की एक आर्मी भी है. वेन्वु के दो बच्चे हैं- शांग ची और जू जियालिंग. बचपन में ये दोनों घर से भाग जाते हैं. दुनिया के अलग कोनों में जाकर बस जाते हैं. सालों बाद एक दिन शांग-ची के पते पर उसकी बहन का पोस्टकार्ड आता है. यहां से कहानी में ट्विस्ट आता है. क्योंकि ये कार्ड शांग-ची की बहन ने भेजा ही नहीं है.

ख़ास बात-ये मार्वल इतिहास की पहली फिल्म है, जिसका नायक एशियन-अमेरिकी मूल का है. ये एक सुपरहीरो की ओरजिन स्टोरी है. मगर इसका ट्रीटमेंट मार्वल की अन्य सुपरहीरो फिल्मों से काफी हटके है. ये एक सुपरह्यूमन की स्टोरी है. मगर इसका फोकस ह्यूमन रिलेशनशिप के ऊपर है.


9. आर्या 2 (हिंदी सीरीज़)
कास्ट- सुष्मिता सेन, सुगंधा गर्ग, विश्वजीत प्रधान
डायरेक्टर- राम माधवानी

 ‘आर्या’ डच सीरीज़ ‘पैनोज़ा’ का ऑफिशियल रीमेक है.
‘आर्या’ डच सीरीज़ ‘पैनोज़ा’ की ऑफिशियल रीमेक है.

कहानी- आर्या के पिता ज़ोरावर राठौड़, भाई संग्राम राठौड़ और उदयवीर शेखावत ड्रग्स केस और आर्या के पति को मारने के आरोप में जेल में हैं. इनकी रिहाई के लिए कोर्ट में केस चल रहा है. आर्या ने ACP यूनुस खान को वो पेन ड्राइव सौंप दी है. इसके बदले में खान ने आर्या और उसके परिवार को रशियन माफियाओं से बचाते हुए सुरक्षित ऑस्ट्रेलिया में सेटल करवा दिया. लेकिन कोर्ट में ज़ोरावर औऱ बाकियों के ख़िलाफ़ गवाही देने के लिए आर्या को वापस इंडिया आना पड़ता है. ये चीज़ उसे और उसके परिवार को एक बार फिर मुसीबत में डाल देती है. आर्या इस बार इनसे कैसे निपटती है, ये आपको सीरीज़ में देखने मिलेगा.

ख़ास बात- ‘आर्या’ डच सीरीज़ ‘पैनोज़ा’ का ऑफिशियल रीमेक है. ‘पैनोज़ा’ कहानी थी एक घरेलू हाउस वाइफ की जो अंडरवर्ल्ड डॉन बन जाती है. आर्या उन चुनिंदा इंडियन सीरीज़ में से है, जिसका दूसरा सीज़न पहले से बेहतर है.


10. सक्सेशन (इंग्लिश सीरीज़)
कास्ट- निकोलस ब्रॉन, ब्रायन कॉक्स, सेरा स्नूक
डायरेक्टर- जेस्सी आर्मस्ट्रॉन्ग

 रॉय परिवार.
रॉय परिवार.

कहानी- ये एक अमेरिकन डार्क कॉमेडी शो है. कहानी है रॉय परिवार की. लंबा-चौड़ा परिवार है. ये फैमिली वेस्टार नाम की मीडिया कंपनी चलाती है. कंपनी के CEO हैं 80 साल के लोगन रॉय. इनके बेटे-बहू-नाती-पोते सब इस फ़िराक में हैं कि उन्हें CEO की कुर्सी मिल जाए. लेकिन लोगन भी अपने परिवार की नस-नस से वाकिफ़ हैं. वो भी आसानी से ये पोस्ट छोड़ने को तैयार नहीं हैं. भाईचारे का नाटक करता परिवार CEO पद के लिए किन-किन हदों को पार करता है, उसी की कहानी है सक्सेशन.

ख़ास बात- हाल ही में इस शो का नया सीज़न रिलीज़ हुआ है, जिसे दुनियाभर से काफी तारीफ मिल रही है.


11. द लास्ट डुअल (इंग्लिश फ़िल्म)
कास्ट- मैट डेमन, एडम ड्राइवर
डायरेक्टर- रिडली स्कॉट

 मैट डेमन और एडम ड्राइवर
फिल्म के एक सीन में मैट डेमन और एडम ड्राइवर.

कहानी- जॉन नाम का एक योद्धा है. युद्धभूमि में अपने शौर्य और वीरता के लिए जाना जाता है. सभी उसका सम्मान करते हैं. ज़ैक ल ग्री की बुद्धिमत्ता के चर्चे भी चारों ओर रहते हैं. दोनों दोस्त होते हैं. लेकिन एक दिन जॉन की पत्नी मार्गरेट जैकुएस पर रेप का आरोप लगाती है. जिसके बाद जॉन जैक को डुअल (खतरनाक हथियारों से दो लोगों के बीच लड़े जाने वाले युद्ध) के लिए ललकारता है.

ख़ास बात- ये फ़िल्म एरिक जेगर की किताब ‘द लॉस्ट डुअल: आ ट्रू स्टोरी ऑफ ट्रायल बाय कॉम्बैट इन मेडिवल फ्रांस’ पर बेस्ड है. इस फिल्म को देखने की सबसे बड़ी वजह इसकी स्टारकास्ट है.


12. फ्री गाय (इंग्लिश फ़िल्म)
कास्ट- रायन रेनॉल्ड्स, जोडी कोमर
डायरेक्टर- शॉन लेवी

फ़िल्म में आपको दुनिया भर के कई पॉपुलर वीडियोगेम्स के रेफरेंस मिलेंगे.
फ़िल्म में आपको दुनिया भर के कई पॉपुलर वीडियो गेम्स के रेफरेंस मिलेंगे.

कहानी- कहानी है बैंक में काम करने वाले एक बंदे की. जिसे एक दिन मालूम चलता है वो जिस दुनिया में रह रहा है वो एक वीडियो गेम की दुनिया है. एक शॉक के बाद दूसरा शॉक ये मिलता है कि जिसने ये वीडियो गेम की दुनिया रची है वो उसे डेस्ट्रॉय करने वाला है.

ख़ास बात- फ़िल्म में आपको दुनिया भर के कई पॉपुलर वीडियो गेम्स के रेफरेंस मिलेंगे. एक एक्शन कॉमेडी फिल्म है.


13. क्रुएला (इंग्लिश फ़िल्म)
कास्ट- एमा स्टोन, एमा थॉम्सन
डायरेक्टर- क्रेग गिलेस्पी

एमा स्टोन एज क्रुएला
एमा स्टोन एज़ क्रुएला.

कहानी- एस्टेला. लोगों से ठगी-लूटपाट करती है. साथ ही फैशन वर्ल्ड में अपना नाम करना चाहती है. एस्टेला के कुछ चोर दोस्त बन जाते हैं, जो उसकी हर उल्टी-पुल्टी हरकत पर उसे बढ़ावा देते हैं. एस्टेला फैशन जगत का बड़ा नाम बैरोनेस वोन हैलमैन से दोस्ती कर फैशन इंडस्ट्री में पहुंच भी जाती है. वहां पहुंचकर वो अपने असल रंग दिखाती है और एस्टेला से क्रुएल एस्टेला यानी क्रुएला बन जाती है.

ख़ास बात- फ़िल्म की सिनेमेटोग्राफी बेहद कमाल है.


14. लोकी (इंग्लिश सीरीज़)
कास्ट- टॉम हिडलस्टन, सोफ़िया डी मार्टिनो
डायरेक्टर- माइकल वेलड्रोन

टॉम हिडलस्टन एज लोकी
लोकी के किरदार में टॉम हिडलस्टन.

कहानी- किंग ऑफ मिस्चीफ लोकी अपनी तिकड़म लगाकर एवेंजर्स के हाथों से बच निकलता है. लेकिन हत्थे चढ़ जाता है टाइम वरियेन्स अथॉरिटी के. ये लोग लोकी की सहायता से उस विलन को पकड़ने की फ़िराक में हैं जो टाइमलाइन के साथ छेड़छाड़ कर रहा है.

ख़ास बात- शो में आपको पहली बार मार्वल के विलन लोकी के बारे में विस्तार से जानने को मिलता है.


15. ओके कंप्यूटर (हिंदी सीरीज़)
कास्ट- विजय वर्मा, राधिका आप्टे
डायरेक्टर- पूजा शेट्टी, नील पागेडर

साइंस-फिक्शन शो 'ओके कंप्यूटर'.
साइंस-फिक्शन शो ‘ओके कंप्यूटर’ का पोस्टर.

कहानी- कहानी 2031 की है. सेल्फ-ड्राइविंग कार, रोबोट्स, वर्चुअल क्लोनिंग आम बात हो चली है. गोवा में एक पुलिस की गाड़ी में लगे वॉकी-टॉकी पर खबर सुनाई पड़ती है कि एक सेल्फ ड्राइविंग कार ने राह चलते आदमी को कुचलकर मार डाला है.

ख़ास बात- इंडिया में बने चुनिंदा साइंस-फिक्शन कॉन्टेंट में से एक है ‘ओके कंप्यूटर’, जो अपने जॉनर को आगे लेकर तो नहीं जाती. मगर कुछ नया करने की मजबूत कोशिश करती है.


16. 1232 Kms (शॉर्ट फ़िल्म)
डायरेक्टर- विनोद कापड़ी

फ़िल्म डायरेक्टर और पत्रकार विनोद कापरी इस फ़िल्म के डायरेक्टर हैं.
फ़िल्ममेकर और पत्रकार विनोद कापड़ी इस फ़िल्म के डायरेक्टर हैं.

कहानी- जब 2020 में देश में पहली बार लॉकडाउन लगा था, तब बड़े शहरों से कई गरीब लोग पैदल ही अपने घरों को चल दिए थे. विनोद कापड़ी ने इन लोगों के साथ कई किलोमीटर तक यात्रा की और उनका संघर्ष जानने-समझने की कोशिश की.

ख़ास बात- डायरेक्टर विनोद ने बिना किसी क्रू के (सिर्फ एक अस्सिटेंट के साथ) पूरी डॉक्यूमेंट्री बनाई है.


17. मेयर ऑफ़ ईस्टटाउन (इंग्लिश सीरीज़)
कास्ट- केट विंसलेट, एवन पीटर्स
डायरेक्टर- क्रेग ज़ोबेल

'मेयर ऑफ़ ईस्टटाउन' का सीन
‘मेयर ऑफ़ ईस्टटाउन’ का एक सीन.

कहानी- मेयर शीहन नाम की पुलिस डिटेक्टिव एक मर्डर केस को इंवेस्टिगेट कर रही हैं. इसी दौरान उसकी खुद की ज़िंदगी तबाह होने के कगार पर आ गई है.

ख़ास बात- ये सीरीज़ थ्रिलर और फैमिली ड्रामा का ज़बरदस्त कॉम्बो है.


18. मराठा मंदिर सिनेमा (डॉक्यूमेंट्री फ़िल्म)
कास्ट- स्वानंद किरकिरे, सारिका ठाकुर
डायरेक्टर- पंकज दुबे

फिल्म में सिंगर-राइटर-एक्टर स्वानंद क्रिकिरे भी हैं.
फिल्म में सिंगर-राइटर-एक्टर स्वानंद किरकिरे भी हैं.

कहानी- मुंबई के रेड लाइट एरिया में जन्मी मासूम सिमरन, मराठा मंदिर सिनेमाघर में सालों से चल रही ‘दिल वाले दुल्हनिया ले जाएंगे’ का डेली एक शो देखती है. फ़िल्म देख वो भी अपने जीवन में राज जैसे सच्चे प्यार करने वाले की तलाश कर रही है.

ख़ास बात- कम समय में ये फ़िल्म बहुत गहरी बात कहती है.


19. वेलकम टू अर्थ (डॉक्यूमेंट्री फ़िल्म)
कास्ट- विल स्मिथ, कोरी रिचर्ड्स

विल स्मिथ दुनिया भ्रमण करने निकले हैं.
विल स्मिथ दुनिया भ्रमण करने निकले हैं.

कहानी- इस डाक्यूमेंट्री में जाने-माने फ़िल्म स्टार विल स्मिथ दुनिया के सारे कोने नापते नज़र आएंगे. शो में आपको वो फूटते ज्वालामुखियों से लेकर समंदर की गहराई तक को एक्सप्लोर करते हुए दिखाई देते हैं.

ख़ास बात- सोशल मीडिया प्रोफाइल बायो में ‘वांडरलस्ट’ लिखने वालों के लिए ये शो मस्टवॉच है.


20. व्हाट इफ़.. ? (एनिमेटेड सीरीज़)
डायरेक्टर- ब्रायन एंड्रूज़

मार्वल की पहली एनिमेटेड वेब सीरीज़ 'व्हाट इफ़.. ?'
मार्वल की पहली एनिमेटेड वेब सीरीज़ ‘व्हाट इफ़.. ?’

कहानी- स्टोरी शुरू होती है साल 1988 से. ईगो ने रेवेजर्स को अपने बेटे पीटर क्विल को लेने धरती पर भेजा है. लेकिन वो गलती से वकांडा के राजा किंग टी’ चाला को उठा ले जाते हैं. आगे क्या होता है जानने के लिए देखें ‘व्हाट इफ़…’.

ख़ास बात- ये मार्वल की पहली एनिमेटेड वेब सीरीज़ है.


वीडियो: नागा चैतन्य के साथ तलाक को लेकर समांथा को भद्दी बात बोली, मिला करारा जवाब

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

पोस्टमॉर्टम हाउस

फिल्म रिव्यू- RRR

फिल्म रिव्यू- RRR

ये फिल्म देखकर समझ आता है कि जब किसी फिल्ममेकर का विज़न क्लीयर हो और उसे अपना क्राफ्टबोध हो, तो एक साधारण कहानी पर भी अद्भुत फिल्म बनाई जा सकती है.

फिल्म रिव्यू- बच्चन पांडे

फिल्म रिव्यू- बच्चन पांडे

हमारे यहां के फिल्ममेकर्स को ये समझना है कि किसी फिल्म को लोकल ऑडियंस की सेंसिब्लिटीज़ के हिसाब से ढालने का मतलब उन्हें डंब समझना नहीं है.

मूवी रिव्यू: जलसा

मूवी रिव्यू: जलसा

विज़िबल और इनविज़िबल रूप से कन्फ्लिक्ट या कहें तो डिवाइड पूरी फिल्म में दिखता है.

वेब सीरीज़ रिव्यू: ब्लडी ब्रदर्स

वेब सीरीज़ रिव्यू: ब्लडी ब्रदर्स

शो की कास्ट में काबिल एक्टर्स के नाम होने के बावजूद ये शो राइटिंग के टर्म्स में पिछड़ जाता है.

वेब सीरीज़ रिव्यू: अपहरण 2

वेब सीरीज़ रिव्यू: अपहरण 2

इस बार भी मेकर्स ने वही गलती की है.

मूवी रिव्यू: द कश्मीर फाइल्स

मूवी रिव्यू: द कश्मीर फाइल्स

ये फ़िल्म ग्रे में जाकर चीजों को टटोलने की कोशिश नहीं करती. यहां सबकुछ या तो ब्लैक है या वाइट.

मूवी रिव्यू: द एडम प्रोजेक्ट

मूवी रिव्यू: द एडम प्रोजेक्ट

ऊपर से साइंस फिक्शन फिल्म लगने वाली ‘द एडम प्रोजेक्ट’ का असली सेलिंग पॉइंट उसका इमोशनल साइड है.

मूवी रिव्यू: राधे श्याम

मूवी रिव्यू: राधे श्याम

'राधे श्याम' बड़े लेवल पर बनी एक बिलो ऐवरेज फिल्म है.

मूवी रिव्यू: दी बैटमैन

मूवी रिव्यू: दी बैटमैन

कई जगह पर्फ़ेक्शन और डिटेलिंग को लेकर ‘दी बैटमैन’ का आग्रह प्रभावित करता है.

वेब सीरीज़ रिव्यू: अनदेखी सीज़न 2

वेब सीरीज़ रिव्यू: अनदेखी सीज़न 2

इस सीज़न के किरदारों से भले ही आप जुड़ नहीं पाते, लेकिन उनकी कहानी में इन्वॉल्व ज़रूर होते हैं.