Submit your post

Follow Us

वेब सीरीज रिव्यू- कैंडी

8 सितंबर को वूट पर एक नई वेब सीरीज़ रिलीज़ हुई है. नाम है कैंडी. इसे डायरेक्ट किया है ‘अनदेखी’ जैसी पॉपुलर सीरीज़ बनाने वाले आशीष आर. शुक्ला ने. ‘कैंडी’ की कहानी उत्तराखंड के एक फिक्शनल टाउन रुद्रकुंड घटती है. ‘मिर्ज़ापुर’ स्टाइल में यहां मनी रनौत नाम के बाहुबली का राज है. वो इलाके के विधायक हैं. उनका एक बेटा है वायु. इन बाप-बेटे की आपस में नहीं बनती.

ये सेटिंग ऑलमोस्ट मिर्ज़ापुर टाइप है, जैसा कि हमने आपको पहले बताया. मगर यहां बेटा अपने पिता से वैलिडेशन की चाहत नहीं रखता. उसका सपना है रुद्रकुंड का किंग बनना. इसके लिए वो पिता की छत्रछाया में रहने की बजाय अपनी अलग पहचान बनाता है. वो बोर्डिंग स्कूल में रह रहे बच्चों को ड्रग्स बेचता है. मगर दिक्कत तब बढ़ जाती है, जब एक-एक करके स्कूल के बच्चे मरने लगते हैं. इसके पीछे मसान नाम के एक मॉनस्टर का हाथ बताया जाता है. यहां सीन में आते हैं उस स्कूल के टीचर जयंत और डीएसपी रत्ना संखावर. ये लोग मिलकर इस सीरियल किलिंग को रोकने और हत्यारे को पकड़ने की कोशिश करते हैं. मगर ये सब होता है फुल ऑन ट्विस्ट और टर्न के साथ. इस सीरीज़ में इतने ट्विस्ट हैं कि कहानी का सबसे बड़ा राज खुलने के बाद भी एक खुलासा होता है.

रुद्रकुंड के विधायक मनी रनौत. ये पहले एक नेगी नाम के फैक्ट्री मालिक के खास आदमी हुआ करते थे. इन्हें अपने मालिक को मारकर उनकी सारी संपत्ती हड़प ली.
रुद्रकुंड के विधायक मनी रनौत. ये पहले एक नेगी नाम के फैक्ट्री मालिक के खास आदमी हुआ करते थे. इन्होंने अपने मालिक को मारकर उनकी सारी संपत्ती हड़प ली.

‘कैंडी’ अपने होने को सार्थक बनाने के लिए हर वो चीज़ करती है, जो की जा सकती थी. इसी कड़ी में वो ढेर सारे रेलेवेंट मसलों को कवर करने की कोशिश करती है. इसमें ड्रग्स से लेकर सेक्शुअल हैरसमेंट, पारिवारिक कलह, सीरियल किलिंग और स्कूल में सीनियर्स के हाथों बुलिंग तक शामिल है. हर विषय को उतनी ही गंभीरता के साथ डील करने की कोशिश भी की जाती है. मगर वो पूरी तरह से वर्क आउट नहीं हो पाता. मगर बिलकुल बिखराव वाली स्थिति भी नहीं बनती है. हालांकि इस प्रोसेस में ये सीरीज़ कई बार लाउड और ओवर द टॉप भी चली जाती है. मगर इस दौरान इसका थ्रिल फैक्टर बरकरार रहता है. ये सीरीज़ दिखती सुंदर है. फिल्म का कैमरावर्क अच्छा है. वो कहानी के लोकेशन को एस्टैब्लिश करने के साथ-साथ आंखों को भी सुहाता है. रुद्रकुंड नाम के फिक्शनल शहर को फिल्म के नैरेटिव से जोड़ने की कई बार कोशिश की जाती है. मगर ये कोशिश नाकाम साबित होती है. हालांकि एक्टर्स की मजबूत परफॉरमेंस ‘कैंडी’ को सिर्फ आई कैंडी बने रहने से बचा लेती है.

ये हैं मनी रनौत के अयोग्य बेटे वायु, जिन्हें अपनी योग्यता अपने पिता के सामने साबित नहीं करनी है.
ये हैं मनी रनौत के अयोग्य बेटे वायु, जिन्हें अपनी योग्यता अपने पिता के सामने साबित नहीं करनी है.

इस सीरीज़ में ऋचा चड्ढा ने डीएसपी रत्ना संखावर का रोल किया है. इस महिला की एक बड़ी सैड सी बैकस्टोरी है, जो फ्लैशबैक की मदद से हमें दिखाई जाती है. सीरीज़ के शुरुआती एपिसोड्स में स्कूली बच्चों से डील करतीं ऋचा को देखना मजेदार है. वो एक बच्चे को मिड साइज़ बुली कहकर बुलाती हैं, जो कि बड़ी टेंस सिचुएशन में फनी साउंड करता है. सीरीज़ में एक सीन है, जब रत्ना अपनी 3-4 साल की बच्ची को जान से मारने की कोशिश करती है. क्योंकि उसे लगता है कि वो एक अच्छी मां नहीं है. ये सीन ‘होमलैंड’ सीरीज़ एक सीन से काफी मिलता-जुलता है. और दोनों ही सीरीज़ में नायिका की इस कदम के पीछे की वजह भी कमोबेश सेम है.

डीएसपी रत्ना संखावर जिन्हें लगता है कि न वो अच्छी पत्नी बन पाईं, न अच्छी मां बन पाईं और न ही अच्छी पुलिस ऑफिसर बन पा रही हैं. इस रियलाइज़ेशन के बाद इनके करियर की दिशा और दशा दोनों बदल जाती है.
डीएसपी रत्ना संखावर जिन्हें लगता है कि न वो अच्छी पत्नी बन पाईं, न अच्छी मां बन पाईं और न ही अच्छी पुलिस ऑफिसर बन पा रही हैं. इस रियलाइज़ेशन के बाद इनके करियर की दिशा और दशा दोनों बदल जाती है.

सिर्फ ऋचा चड्ढा ही नहीं, इस सीरीज़ के तकरीबन सभी प्राइमरी कैरेक्टर्स की प्रॉपर बैकस्टोरी है. जैसे रोनित रॉय का निभाया जयंत नाम का स्कूल टीचर अपनी बेटी की मौत से उबर नहीं पा रहा है. इस वजह से उसे रात को नींद नहीं आती. इसलिए वो पूरी श्रद्धा से इस सीरियल किलिंग वाले मामले को सुलझाने में लगा है. मानों इस केस से उसका कुछ पर्सनल कनेक्शन हो. मनी रनौत उर्फ भैय्याजी की अलग कहानी चल रही है. जो उनके बेटे से जुड़ी हुई नहीं है. भैय्याजी का रोल किया है मनु ऋषि चड्ढा ने. उनके बेटे वायु की अपनी पिक्चर चल रही है. मगर जब इन सभी किरदारों के ट्रैक आपस में मर्ज होते हैं, तो इस सीरीज़ के लेयर्स खुलने शुरू होते हैं. जो माइंड ब्लो करने वाला तो नहीं मगर ठीक-ठाक एंगेजिंग है.

ये हैं स्कूल टीचर जयंत. जो अपनी बेटी के गुज़रने के ग़म से बाहर नहीं आ पा रहे. इसलिए अपने स्कूल के बच्चों के मरने को मामलों को पर्सनल बना लेते हैं.
ये हैं स्कूल टीचर जयंत. जो अपनी बेटी के गुज़रने के ग़म से बाहर नहीं आ पा रहे. इसलिए  स्कूल के बच्चों के मरने वाले मामलों को पर्सनल बना लेते हैं.

‘कैंडी’ अपनी तरह की पहली सीरियल किलर सीरीज़ है, जिसमें एक से ज़्यादा सीरियल किलर्स हैं. हालांकि उन किलर्स के पास लोगों को मारने की कोई ठोस या वाजिब वजह नहीं है. इस सीरीज़ की सबसे बड़ी दिक्कत यही है. तमाम अच्छी चीज़ों के बावजूद ये ऑथेंटिसिटी वाले मामले में मार खा जाती है. इस सीरीज़ में जो कुछ भी हो रहा है, वो बहुत यकीनी नहीं है. हमेशा आपको ये फील होता रहता है कि आप कोई बनाई हुई कहानी देख रहे हैं. मगर ‘कैंडी’ कभी धीमी या बोरिंग नहीं होती. वो पूरे टाइम फुल स्पीड में चलती है. और लगातार 8 एपिसोड में वो रफ्तार बनाए रखना कोई आसान या हल्की बात नहीं है. उसमें ढेर सारी मेहनत लगती है.

अगर इंडिया में बन रहे कॉन्टेंट के लिहाज़ से देखें, तो ‘कैंडी’ ठीक सीरीज़ लगती है. मगर जब आप इसकी तुलना किसी विदेशी सीरीज़ से करेंगे, तो निराश होंगे. इस सीरीज़ में वो पैनापन नहीं होना, एक दर्शक होने के नाते आपको चुभता है. डायरेक्टर आशीष आर. शुक्ला यहां वो नहीं कर पाए हैं, जो उन्होंने अपनी पिछली सीरीज़ ‘अनदेखी’ में की थी. मगर आप इस सीरीज़ की अनदेखी कर सकते हैं.

‘कैंडी’ में ऑन एन ऐवरेज 40-40 मिनट के कुल आठ एपिसोड्स हैं. इसे आप स्ट्रीमिंग प्लैटफॉर्म वूट पर देख सकते हैं.


वीडियो देखें: वेब सीरीज़ रिव्यू- मनी हाइस्ट 5

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

10 नंबरी

यू-ट्यूबर कैरीमिनाटी पर केस क्यों दर्ज हो गया?

यू-ट्यूबर कैरीमिनाटी पर केस क्यों दर्ज हो गया?

महिलाओं पर अपमानजनक टिप्पणी करने का आरोप लगा है.

'थलाइवी' की रिलीज़ से पहले कंगना ने महाराष्ट्र सरकार से पंगा ले लिया

'थलाइवी' की रिलीज़ से पहले कंगना ने महाराष्ट्र सरकार से पंगा ले लिया

'थलाइवी', 10 सितंबर को रिलीज़ होने वाली है.

कॉमेडियन कृष्णा ने फिर 'कपिल शर्मा शो' पर आने से मना कर दिया

कॉमेडियन कृष्णा ने फिर 'कपिल शर्मा शो' पर आने से मना कर दिया

पहले भी एक बार कृष्णा ने गोविंदा के आने से पहले शूटिंग के लिए मना कर दिया था.

सिद्धार्थ की अंतिम यात्रा पर बदहवास सी दिखीं शहनाज़

सिद्धार्थ की अंतिम यात्रा पर बदहवास सी दिखीं शहनाज़

'बिग बॉस' के एक्स कंटेस्टेंट रहे राहुल महाजन ने भी शहनाज़ का हाल बताया.

कल रात सोने से लेकर आज सुबह सिद्धार्थ की मौत तक क्या-क्या हुआ?

कल रात सोने से लेकर आज सुबह सिद्धार्थ की मौत तक क्या-क्या हुआ?

सिद्धार्थ शुक्ला मामले में पुलिस ये जांच करेगी कि उन्होंने सोने से पहले क्या कोई दवा ली थी?

सिद्धार्थ शुक्ला का 'मौत' पर किया ट्वीट वायरल, ये पांच पुराने ट्वीट अब पढ़ने पर विचलित करते हैं

सिद्धार्थ शुक्ला का 'मौत' पर किया ट्वीट वायरल, ये पांच पुराने ट्वीट अब पढ़ने पर विचलित करते हैं

व्यक्ति चला जाता है, उसकी बातें पीछे रह जाती हैं.

सिद्धार्थ शुक्ला की याद में सलमान ने बस इतना कहा

सिद्धार्थ शुक्ला की याद में सलमान ने बस इतना कहा

शहनाज़ गिल ने अधूरी छोड़ दी शूटिंग.

सिद्धार्थ शुक्ला के गुज़रने पर अक्षय कुमार और कपिल शर्मा समेत इन 16 सेलेब्रिटीज़ ने क्या कहा?

सिद्धार्थ शुक्ला के गुज़रने पर अक्षय कुमार और कपिल शर्मा समेत इन 16 सेलेब्रिटीज़ ने क्या कहा?

सिद्धार्थ के अचानक गुज़रने की खबर से पूरी फिल्म इंडस्ट्री सदमे में है.

शाहरुख खान की एटली डायरेक्टेड फिल्म का सारा तिया-पांचा यहां जानिए

शाहरुख खान की एटली डायरेक्टेड फिल्म का सारा तिया-पांचा यहां जानिए

शाहरुख खान-एटली फिल्म की शूटिंग शुरू होने को है. जानिए फिल्म से जुड़ी 4 करारी बातें.

'कपिल शर्मा शो' की शूटिंग के बाद सेट पर एक्टर्स जो करते हैं उसका वीडियो आया है

'कपिल शर्मा शो' की शूटिंग के बाद सेट पर एक्टर्स जो करते हैं उसका वीडियो आया है

अर्चना पूरन सिंह ने वीडियो शेयर किया है.