Submit your post

रोजाना लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

Follow Us

बुलंदशहर: कुंदन ने काटी है, फिल्म डायरेक्टर ने वायरल वीडियो डालकर दावा किया

23.33 K
शेयर्स

3 दिसंबर को बुलंदशहर में एक मॉब लिंचिंग हुई. इसमें भीड़ ने एक SHO को कत्ल कर दिया. पूरी घटना क्या किसी सोची-समझी साज़िश का नतीजा थी, ये सारे ऐंगल हम आपको पहले ही बता चुके हैं. इसी से जुड़ा एक नया वीडियो सामने आया है. ये वीडियो फिल्म डायरेक्टर और पत्रकार विनोद कापड़ी ने ट्वीट किया है. विनोद कापड़ी ‘मिस टनकपुर’ हाजिर हो और ‘पिहू’ फिल्म बना चुके हैं. वो लंबे वक्त तक इंडिया टीवी के मैनेजिंग एडिटर रह चुके हैं. जो वीडियो उन्होंने डाला है, वो बुलंदशहर वाली घटना के समय का बताया जा रहा है. इसमें कुछ लड़के ट्रॉली में कटी हुई गाय के टुकड़े भरकर लाए जाने की बात कर रहे हैं. सामने सड़क पर जली हुई गाड़ियां रखी हैं. आग धधक रही है. धुआं-धुआं हो रहा है. इसी वीडियो में आगे एक लड़का दूसरे लड़के से पूछता है कि (गाय) किसने काटी.  विनोद कापड़ी के मुताबिक जवाब देते हुए वो लड़का कहता है –

कुंदन ने काटी है.

वीडियो में हमें सड़क पर ईंट-रोड़ी दिखती है. देखकर लगता है कि पत्थरबाजी हुई है. गाड़ियां भी जलती नज़र आती हैं. सड़क को दोनों तरफ से ब्लॉक किया हुआ है (फोटो: ट्विटर)

वीडियो में हमें सड़क पर ईंट-रोड़ी दिखती है. देखकर लगता है कि पत्थरबाजी हुई है. गाड़ियां भी जलती नज़र आती हैं. सड़क को दोनों तरफ से ब्लॉक किया हुआ है (फोटो: ट्विटर)

क्या है वीडियो में
विनोद कापड़ी ने वीडियो शेयर करते हुए लिखा है कि उन्होंने गाय की तस्वीरें एडिट कर दी हैं. वीडियो में हमें एक लाल रंग का ट्रैक्टर भी दिखता है. ये इतनी कम देर के लिए दिखता है कि इसके अंदर क्या है, ये ठीक-ठीक समझ नहीं आता. 01:05 मिनट का ये वीडियो हम यहां एम्बेड नहीं कर रहे. क्योंकि इसमें गालियों का भी इस्तेमाल हुआ है. विनोद कापड़ी ने वीडियो के साथ बातचीत का ये टेक्स्ट डाला है-

“ये ट्रॉली (जिसमें मृत गाय है) किसकी है?”
“मांगे की है”
“हैं?”
“मांगे की है”
“उसकी ट्रॉली में ये (मृत गाय को) कैसे भर के ले आए?
“वे भर के लाए हैं”
“यहाँ काटी है गेट(गेट या खेत)में”
“तूने काटी है?”
“कुंदन ने काटी है”
“कुंदन ने काटी है”
“( गाली) ने काटी है ..इन ने….

vinod-kapri-tweet

 

कुंदन कहा या कुछ और?
वीडियो में आ रही आवाज बहुत साफ नहीं है. कई लोगों को ये शब्द कुंदन लगता है, कई को कुल्लन और कई को मुल्लन. विनोद कापड़ी ने भी बाद में ट्वीट किया:

1-2 मित्रों ने मुझे लिखा कि में वो “शायद” कुंदन नहीं,मुल्लन या कुल्लन बोल रहा है।हालाँकि वीडियो से साफ़ है कि
1.बातचीत एकदम दोस्ताना है
2. कुंदन भी वहीं मौजूद है
3. तूने काटी?ये पूछने वाला दंगाई ही है।
4. कुंदन में साफ़ “द” की ध्वनि है।
5.कुंदन हो या मुल्लन दोनों को सज़ा हो।

vinod-kapri-tweet2

कई बार ‘दरोगा’ शब्द सुनाई देता है, साथ में गालियां भी
वीडियो में दरोगा शब्द कई बार सुनाई देता है. तो क्या इस वीडियो के कॉन्टेक्स्ट में ये शब्द SHO सुबोध कुमार सिंह के लिए इस्तेमाल किया जा रहा था. क्या इस वक्त तक भीड़ उन्हें मार चुकी थी? वीडियो में एक लड़का हंसते हुए कहता है कि दो-तीन पुलिसवाले कहीं छुपे हुए हैं. वो जैसे गर्व से कहता है, दुबका दिया उनको. तो क्या ये उस वक्त का वीडियो है, जब सुबोध कुमार सिंह के साथ मौजूद ड्राइवर और पुलिस टीम के बाकी लोग उन्हें खेत में छोड़कर अपनी जान बचाने के लिए भागकर छुप गए थे? अगर हां, तो इस वक्त तक भीड़ का एक हिस्सा सुबोध की हत्या कर चुका था.

वीडियो में सड़क के दोनों ओर आग जलती दिख रही है. आग लगाकर दोनों तरफ से रास्ता ब्लॉक कर दिया है लोगों ने (फोटो: ट्विटर)
वीडियो में सड़क के दोनों ओर आग जलती दिख रही है. आग लगाकर दोनों तरफ से रास्ता ब्लॉक कर दिया है लोगों ने (फोटो: ट्विटर)

उत्तर प्रदेश पुलिस तक पहुंचा दिया गया है वीडियो
विनोद कापड़ी ने उत्तर प्रदेश पुलिस को टैग करते हुए लिखा कि अगर उन्हें पूरा वीडियो चाहिए, तो बताएं. UP पुलिस ने उनसे वीडियो मांगा. विनोद कापड़ी ने फिर ट्वीट किया कि उन्होंने पूरा वीडियो पुलिस को सुपुर्द कर दिया है. इस वीडियो को अरविंद केजरीवाल और कुमार विश्वास (जो कि पिछले कुछ समय से एक-दूसरे के कट्टर विरोधी हैं), दोनों ने रीट्वीट किया है.

kapdi-retweet

गोकशी की FIR किन लोगों पर है
गोकशी की जो FIR दर्ज हुई है, उसमें गाय काटने का इल्जाम कुछ मुस्लिमों पर लगाया गया है. इसमें 11-12 साल के बच्चों के भी नाम हैं. इंडियन एक्सप्रेस ने अपनी एक खबर में स्याना के नए SHO किरणपाल सिंह के हवाले से बताया है कि इसमें कुछ ऐसे लोगों के भी नाम हैं, जो दिल्ली में काम करते हैं. ऐसे में UP पुलिस इस बात की जांच कर रही है कि जिन लोगों ने ये FIR दर्ज करवाई है, उनकी कोई निजी खुन्नस या दुश्मनी तो नहीं है उन लोगों से.

इस केस का मुख्य आरोपी है योगेश राज. उसका फेसबुक अकाउंट, उसपर शेयर किए गए वीडियो, तस्वीरें और उसके पोस्ट के अलावा काफी चीजें हैं, जो ये बताती हैं कि योगेश बजरंग दल से जुड़ा हुआ था. आरोपियों में और भी कुछ नाम है, जो कट्टर हिंदूवादी संगठनों से जुड़े हुए हैं.
इस केस का मुख्य आरोपी है योगेश राज. उसका फेसबुक अकाउंट, उसपर शेयर किए गए वीडियो, तस्वीरें और उसके पोस्ट के अलावा काफी चीजें हैं, जो ये बताती हैं कि योगेश बजरंग दल से जुड़ा हुआ था. आरोपियों में और भी कुछ नाम है, जो कट्टर हिंदूवादी संगठनों से जुड़े हुए हैं.

DGP ने बड़ी साजिश बताया
उत्तर प्रदेश के डीजीपी ओपी सिंह ने बुलंदशहर घटना को बड़ी साजिश बताया है. उन्होंने कहा, ‘ये केवल लॉ ऐंड ऑर्डर का मामला नहीं है. जानवर के अवशेष वहां कैसे पहुंचे? उन्हें कौन, क्यों और किन परिस्थितियों में वहां ले गया?’

…जब दंगा भड़काने के लिए मस्जिद के सामने सुअर कटवाकर फिंकवा दी
अगर ये वीडियो सही है और इसी मौके का है, तो तगड़ा शक होता है कि बुलंदशहर में जो भी हुआ वो ऑर्ग्नाइज़्ड था. उसकी तैयारी की गई. गोकशी के बहाने लोगों को भड़काकर दंगे जैसी स्थिति पैदा की गई. अगर ये बातें सच निकलती हैं, तो ये भी हो सकता है कि ये साजिश ‘इज्तेमा’ को ध्यान में रखकर रची गई हो. ये मुस्लिमों का एक धार्मिक कार्यक्रम था. 1 दिसंबर को बुलंदशहर में शुरू हुआ. 3 दिसंबर, यानी घटना वाले दिन इसका आखिरी दिन था. यहां लाखों मुस्लिम जमा थे. उनमें से कई इसी हाई-वे से लौटते, जिस पर भीड़ गाय के कटे हुए टुकड़ों के साथ हिंसा कर रही थी. क्या दिन, मौका और जगह ये सब सोचकर ये सारी प्लानिंग की गई होगी? मुझे भीष्म साहनी की तमस याद आ रही है. इसमें दंगा भड़काने के लिए एक हिंदू गरीब मुसलमान को पैसे देता है. उससे सुअर कटवाता है. फिर रात के अंधेरे में वो सुअर मस्जिद के सामने फिंकवा देता है. मुसलमान भड़क जाते हैं. शहर में दंगा हो जाता है. मैं सोच रही हूं. 1947 के वक्त की इस कहानी और 2018 के बुलंदशहर के बीच कुछ नहीं बदला है क्या?

पत्रकार विनोद कापड़ी ने यूपी पुलिस को टैग करके वीडियो डाला था. फिर एक और ट्वीट करके उन्होंने लिखा कि वीडियो UP पुलिस को दिया जा चुका है.
पत्रकार विनोद कापड़ी ने यूपी पुलिस को टैग करके वीडियो डाला था. फिर एक और ट्वीट करके उन्होंने लिखा कि वीडियो UP पुलिस को दिया जा चुका है.

बुलंदशहर में SHO सुबोध कुमार सिंह के मारे जाने की पूरी कहानी

लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें
Bulandshahr Mob Lynching: Kundan slaughtered the cow, a boy could be heard saying in a viral video

10 नंबरी

कौन था पुलवामा हमले का मास्टर माइंड गाज़ी रशीद

इन 10 पॉइंट्स में जानिए.

धर्मेन्द्र की 'दिल भी तेरा हम भी तेरे', लड़के सनी की 'बेताब', अब जानिए उनके पोते की डेब्यू फिल्म

करण देओल के पहले प्रोजेक्ट की इनसाइड स्टोरी.

ऋतिक रोशन की फिल्म अनुराग कश्यप बनाएंगे लेकिन बिना नाम के

पहले वाले डायरेक्टर को फिल्म से निकाल दिया गया था.

'नरेंद्र मोदी' की बायोपिक में हूबहू अमित शाह दिखने वाला एक्टर खोज लिया गया है

फिल्म जब आएगी तब आएगी, कास्टिंग देखकर ही पईसा वसूल हो गया गुरु!

बदला ट्रेलर: ये होता है जब सदी के महानायक अमिताभ की फिल्म शाहरुख़ खान प्रोड्यूस करते हैं

वैसे 'ठग्स ऑफ़ हिन्दोस्तान' और 'ज़ीरो' से जली हुई ऑडियंस को 'बदला' भी फूंक-फूंक के पीनी चाहिए.

इन 5 बड़ी वजहों से फाइनल में न्यूजीलैंड से हार गई टीम इंडिया

दिनेश कार्तिक निदाहस ट्रॉफी का फाइनल दोहराने वाले थे, मगर...

आज एक-दो नहीं, कुल 45 फिल्में रिलीज़ हुई हैं

शायद ऐसा भारत में पहले कभी नहीं हुआ.

उड़ी फिल्म में ‘हाउ इज़ द जोश’ कहां से आया, असली कहानी जानिए

फिल्म के डायरेक्टर ने अपनी मुंह से सुनाया है इस डायलॉग का किस्सा...

UP Budget: योगी सरकार के बजट की 13 बातें, जो बताती हैं कि इलेक्शन 2019 में ही है

एक्सप्रेस-वे, एयरपोर्ट पर खूब खर्च की तैयारी है.

PUBG के साथ इन गेम्स में दिलचस्पी क्यों ले रही है दिल्ली सरकार?

दिल्ली के कमीशन फॉर प्रोटेक्शन ऑफ चाइल्ड राइट्स ने चेताया, बचा के रखें बच्चों को.