Submit your post

Follow Us

नाम के आगे से 'चौकीदार' हटा रहा है 4 सब्जेक्ट में फेल होने वाला लड़का

अभी हालिया सीबीएससी के बारहवीं के रिज़ल्ट्स आए. और सामने आईं ढेर सारी कहानियां. कुछ टॉपर्स और बाकी सर्वाइवर्स. सबके पास कहने को कुछ न कुछ था. हमने कई स्टोरीज़ की भीं. ज़्यादातर मोटिवेट करती हुई रिपोर्ट्स थीं. ताकि बच्चों का हौसला बना रहे.  इसी में कुछ ऐसी कहानियां भी हैं जो ना पूरी तरह जलती हैं और ना राख ही बनती हैं. समय की ऊपरी परत के नीचे सुलगती रहती हैं.

ऐसी ही एक कहानी है अभिषेक जना की. बारहवीं का एग्ज़ाम दिया था. बंगाल का फ़ेमस ‘बाउल म्यूज़िक’ गाते हैं. ये बंगाल का फ़ोक म्युज़िक है. बाउल तक़रीबन पांच सौ साल पुरानी ट्राइब, मने जनजाति है जिसने 1857 में अंग्रेज़ों के खिलाफ़ क्रांति में बड़ा काम किया था.


# हुआ क्या:

बाउल सिंगर अभिषेक कोलकाता में रहते हैं और आजकल चर्चा में हैं. अभिषेक ने CBSE  से बारहवीं का एग्ज़ाम दिया था. और रिज़ल्ट मन माफ़िक आया नहीं. फ़ेल हुए हैं. बहरहाल अभिषेक ने 3 मई को अपने ट्विटर पर एक ट्वीट किया. शिक्षा मंत्री प्रकाश जावड़ेकर से अपील करते हुए लिखा कि ‘इस साल बारहवीं की परिक्षा पास करने के लिए उन्होंने बहुत मेहनत की लेकिन CBSE ने उन्हें पास नहीं किया. मैं आपसे अपील करता हूं कि मेरे रिज़ल्ट पर कार्रवाई करते हुए मुझे पास किया जाए. प्लीज़ मेरी ज़िंदगी बर्बाद ना करें. मैं कोलकाता में रहता हूं और मेरा रोल नंबर 6635011 है.’

यही है वो पोस्ट, जो अब नहीं है. क्यों? आगे पढ़िए पता चलेगा
यही है वो पोस्ट, जो अब नहीं है. क्यों? आगे पढ़िए पता चलेगा

 


# फिर शुरू हुई अभिषेक की रगड़म पैजार:

‘अपना आदमी’ किसे कहते हैं. जो आपके मन का होता है उसे कहते हैं न.  अभिषेक ने ट्विटर पर मदद मांगी तो ‘मैं भी चौकीदार’ देखकर लोगों ने उन्हें ट्विटर पर दौड़ा लिया. क्या हुआ ये जानने के लिए हमने कोलकाता में अभिषेक से बात की.

कोलकाता में अभिषेक से जब हमने बात की तो उन्होंने बताया-

मैं पहले मोदी जी का फ़ैन था. उन्हें अपना ‘पॉलिटिकल फ़ादर’ मानता था. लेकिन सीबीएससी ने जब रिज़ल्ट्स दिए तो मैं बारहवीं में फ़ेल हो गया. मेरे पिछले पढ़ाई के रिकॉर्ड को देखें तो मैं पढ़ाई में ‘उतना’ भी कमज़ोर नहीं था कि मैथ में बिल्कुल ज़ीरो नंबर आए. मुझे पूरा यक़ीन है कि अगर प्रधानमंत्री मोदी जी ने मेरी मदद की तो मैं फ़िर से पास हो सकता हूं. मैंने एग्ज़ाम से पहले बहुत मेहनत की थी और अगर मेरी कॉपियां फिर से चेक कराई जाएं तो मैं कम से कम पास तो हो ही जाऊंगा. 

ये वो मार्कशीट
ये है अभिषेक की मार्कशीट

जब हमने पूछा कि आपके ट्विटर पर आप ‘मैं भी चौकीदार’ लिखते हैं. तो उन्होंने कहा-

अब ना तो मैं चौकीदार हूं और ना ही मोदी फ़ैन. मैंने जैसे ही ट्विटर पर मोदी जी और HRD मिनिस्टर से मदद मांगी तो अचानक लोग मेरे ट्विटर हैंडल पर टूट पड़े. लोगों ने मुझे भद्दी-भद्दी गालियां देनी शुरू कर दीं. जबकि उनमें से ज़्यादातर मेरी ही तरह चौकीदार थे. उनका कहना था कि तू पास होने लायक ही नहीं होगा, इसमें मोदी जी क्या करेंगे. क्यों मोदी जी को चुनाव में बदनाम कर रहा है. ये सब 3 मई को हुआ. 4 मई को मैंने अपना वो पोस्ट ही डिलीट कर दिया. और अब तो मैंने अपना ट्विटर अकाउंट ही डिलीट कर दिया. मुझे ये सब बहुत अजीब लगा. लोग बिना रुके मुझे गालियां देते रहे. कोई मेरी बात सुनने को ही तैयार नहीं था. 

आखिर में अभिषेक ने रुंआसी आवाज़ में कहा-

प्लीज़ मेरे लिए कुछ करिए. मेरे फ़्यूचर का सवाल है. अब मैं किसी पार्टी के चक्कर में नहीं पडूंगा. अब मैं आगे सिर्फ़ पढ़ाई पर ध्यान देना चाहता हूं. 


# सोचने वाली बात क्या है?

सोचने वाली बात यही है कि, अब हम सोचते नहीं. ‘जस्टिस ऑन दी स्पॉट’ वाला दौर है. हर आदमी जज है. सबके पास अपनी लाठी है. सबके अपने दुश्मन हैं और सबके अपने-अपने राम हैं. कहां, किस पर, कितनी और कैसी बात होनी चाहिए ये ठहरकर सोचा जाना चाहिए. लेकिन बातों की फैक्ट्री है मित्रो. सब मालिक, सब मजदूर और सब ग्राहक हैं. और कुछ लोगों की फैक्ट्रियां लगातार धधकती रहती हैं.

ये सब होने के बाद कुछ लोग फ़ेसबुक पर अभिषेक के इस ट्वीट का स्क्रीनशॉट डालने लगे. अब जनता ने अभिषेक को अलग ही आड़े हाथ लेना शुरू किया. कोई अभिषेक के इस फ़ेल्योर से मज़ा लेने लगा. कोई कहने लगा कि ये शिक्षा मंत्री बनेगा. कुछ ने कहा कि प्रधानमंत्री बनेगा. सब स्वादानुसार मौज लेने लगे.

बहरहाल अभिषेक परेशान हैं. आगे लाइफ़ में कुछ करना चाहते हैं. आपको भी अभिषेक से मज़ा लेने से ख़ुद को रोकना चाहिए. अगर हो सके तो कुछ मदद ही कर दीजिए. नहीं तो जो रोज़ करते हैं वही करते रहिए.


वीडियो देखें:  

स्मृति ईरानी से लेकर अनिल अंबानी तक सब हैं राहुल गांधी के लेटर में

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

10 नंबरी

श्रेया घोषाल के जन्मदिन पर सुनिए नशा भर देने वाले गाने

पहले ही गाने में नैशनल अवॉर्ड जीतने वाली सिंगर का बड्डे है.

इस महिला दिवस इन 10 किताबों को अपनी लिस्ट में जोड़ लीजिए और फटाफट पढ़ लीजिए

स्त्री विमर्श और स्त्री सत्ता की संरचना को समझने के लिए हमने कुछ उपन्यासों को चुना है.

जब प्रेमचंद रुआंसे होकर बोले, 'मेरी इज्जत करते हो, तो मेरी ये फिल्म कभी न देखना.'

वो 5 मौके जब हिंदी के साहित्यकारों ने हिंदी फिल्मों में अपनी किस्मत आजमाई.

अक्षय ने 1.5 करोड़ डोनेट किए, अब शाहरुख़-सलमान समेत इन 5 एक्टर्स की चैरिटी भी जान लो

कुछ एक्टर्स तो दान-पुण्य करके उसके बारे में बात करना भी पसंद नहीं करते.

पवन सिंह का होली वाला नया गाना 'कमरिया' ऐसा क्या खास है, जो यूट्यूब की ऐसी-तैसी हो गई?

लगे हाथ ये भी जान लीजिए कि कौन-कौन से बॉलीवुड सुपरस्टार्स हैं, जिन्होंने भोजपुरी फिल्मों में काम किया है.

अभिजीत सावंत से सलमान अली तक, अब क्या कर रहे हैं इंडियन आइडल के ये विनर?

कई विनर्स तो म्यूजिक इंडस्ट्री से पूरी तरह से गायब हो चुके हैं.

श्रीदेवी के वो 11 गाने, जो उन्हें हमेशा ज़िंदा रखेंगे

इन गानों ने आज ख़ुशी देने की जगह रुला दिया है.

ट्रंप जिस कार को लेकर भारत आए हैं, उसकी ये 11 खासियतें एकदम बेजोड़ हैं

ट्रंप की इस कार का नाम है- The Beast.

आयुष्मान खुराना और जीतू से पहले ये 14 मशहूर बॉलीवुड एक्टर्स बन चुके हैं समलैंगिक

'शोले' से लेकर 'दोस्ती' मूवी के बारे में कुछ समीक्षक और विचारक जो कहते हैं, वो गे कम्युनिटी को और सक्षम करता है.

कैसा होता है अमेरिकी राष्ट्रपति का विमान 'एयर फोर्स वन', जिसका एक बार उड़ने का खर्चा सवा करोड़ है!

न्यूक्लियर अटैक हुआ, क्या तब भी राष्ट्रपति को बचा ले जाएगा ये विमान?