Submit your post

Follow Us

बॉलीवुड पर इन फिल्मों का 'कर्ज' है

बड़ा खास दिन है आज. मुंबई से दो खास चीजें आज की तारीख से जुड़ी हैं. एक तो हाजी मस्तान, गैंग्स्टर जिसका आज बड्डे होता है. और खून का कर्ज. ये फिल्म आज ही के दिन यानी 1 मार्च 1991 को रिलीज हुई थी. एक तो ये कर्ज नाम ऐसा है कि सुनते ही आदमी न्यूटल पड़ जाता है. जहां असल जिंदगी में कर्ज का लेना और देना दोनों खतरनाक है वहीं फिल्मों में कर्ज घुसेड़ना उसकी सफलता का पैमाना होता था. इस नाम की लास्ट फिल्म बनने तक. तो जिन हिंदी फिल्मों के नाम में कर्ज आता है, उनकी लिटिल कुंडली देख लेते हैं.

1. खून का कर्ज

सन 91 में आई ये फिल्म मल्टी स्टारर थी. अब जानी दुश्मन जितने भी स्टार नहीं थे इसमें लेकिन अपने जमाने के तीन धाकड़ हीरो तो थे ही. मगर तब रजनीकांत सुपरस्टार नहीं थे, उनके मंदिर नहीं बनते थे. संजय दत्त जेल नहीं गए थे और विनोद खन्ना का लड़का अक्षय फिल्मों में नहीं आया था. कहानी वही थी जो उस टाइम चलती थी. दो अनाथों के साथ समाज न्याय नहीं करता और वो जुर्म की दुनिया में चले जाते हैं. फिर लास्ट में वापस आ जाते हैं. खून का कर्ज नाम से एक मूवी और बन चुकी है पहले ही. 1985 में, उसमें कमल हासन थे.

2. दूध का कर्ज

ये पिच्चर धाकड़ थी गुरू. बीन बजाता जा सपेरे बीन बजाता जा. ये वाला गाना इसी में था. इसमें जैकी श्रॉफ होते हैं और होती हैं नीलम कोठारी. और ढेर सारे विलेन. प्रेम चोपड़ा, गुलशन ग्रोवर, सदाशिव अमरापुरकर और इन सबके ऊपर अमरीश पुरी. ये लोग मिलके सूरज(जैकी) के पापा को बचपन में ही मार देते हैं. उनका लड़का बदला लेता है और क्या. हिरोइन के पैर से सांप का जहर निकालने वाला सीन बहुत जबर है, देखना.

3. प्यार का कर्ज

मित्थुन के फैन्स खुश हो जाओ भई. उनकी पिच्चर का नंबर आ गया. ये पिछली फिल्म से एक साल पहले यानी 2 मार्च 1990 को रिलीज हुई थी. तब तक धर्मेंद्र गॉडफादर जैसे रोल्स में आने लगे थे. कॉमेडी के लिए कादर खान और असरानी भी थे. बाकी फिल्म क्या थी, डीवीडी खोजकर खुद देख लेना.

4. कर्ज चुकाना है

ये 26 अप्रैल 1991 को रिलीज हुई थी. गोविंदा और जुही चावला की जोड़ी थी इस फिल्म में. इसमें कादर खान जो हैं, वो अपने बेटों की जिंदगी की वाट लगाए रहते हैं. बातें ले लो बस लल्लो चप्पो वाली. और कुछ नहीं होता. कहानी क्या है, वो फिल्म खुद देख लेना टाइम मिले तो.

5. कर्ज

इसी का तो सारा लफड़ा है दोस्त. इसी के लिए हमने इत्ते ऊपर से ट्रेन चलाई. कर्ज की कहानी शुरू यहीं स हुई थी. 1980 में ऋषि कपूर की ये ब्लॉक बस्टर फिल्म आई थी. जिसमें अपनी मौत का बदला लेने के लिए बंदा पुनर्जन्म लेकर आता है और अपनी दुश्मन को तबाह कर देता है. गाने भी सुपरहिट थे इसके. उस कर्ज का तो कर्ज उतर गया. प्रड्यूसर्स को धकापेल कमाई कराई. लेकिन उसी नाम से दो फिल्में आगे और बनीं. एक कर्ज 2002 में आई, सनी देओल और सुनील शेट्टी की. विलेन थे मेरे फेवरेट आशुतोष राणा. लेकिन फिल्म फुस्स थी. ये कर्ज चढ़ा गई. उसके बाद 2008 में एक कर्ज आई. हिमेश रेशमिया की. इसने जो कर्ज चढ़ाया है न कि अब इस नाम की पिच्चर आने की कोई उम्मीद नहीं है.


ये भी पढ़ें:

गाने जो हर दिल टूटे आशिक के ज़ख्मों पर बर्फ रगड़ते थे

गुरमेहर की मां ने कुछ ऐसा कहा है जिसे पढ़कर सब ख़िलाड़ी लोगों के सिर झुक जाएंगे

ज़िया इल्मी को जामिया में बैन करने की घटना का सच ये है

35 साल बाद सुभाष नागरे ने पिस्तौल उठाई है, रामू बैक इन फॉर्म

 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

पोस्टमॉर्टम हाउस

फिल्म रिव्यू- क्लास ऑफ 83

एक खतरनाक मगर एंटरटेनिंग कॉप फिल्म.

बाबा बने बॉबी देओल की नई सीरीज़ 'आश्रम' से हिंदुओं की भावनाएं आहत हो रही हैं!

आज ट्रेलर आया और कुछ लोग ट्रेलर पर भड़क गए हैं.

करोड़ों का चूना लगाने वाले हर्षद मेहता पर बनी सीरीज़ का टीज़र उतना ही धांसू है, जितने उसके कारनामे थे

कद्दावर डायरेक्टर हंसल मेहता बनायेंगे ये वेब सीरीज़, सो लोगों की उम्मीदें आसमानी हो गई हैं.

फिल्म रिव्यू- खुदा हाफिज़

विद्युत जामवाल की पिछली फिल्मों से अलग मगर एक कॉमर्शियल बॉलीवुड फिल्म.

फ़िल्म रिव्यू: गुंजन सक्सेना - द कारगिल गर्ल

जाह्नवी कपूर और पंकज त्रिपाठी अभिनीत ये नई हिंदी फ़िल्म कैसी है? जानिए.

फिल्म रिव्यू: शकुंतला देवी

'शकुंतला देवी' को बहुत फिल्मी बता सकते हैं लेकिन ये नहीं कह सकते इसे देखकर एंटरटेन नहीं हुए.

फ़िल्म रिव्यूः रात अकेली है

नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी और राधिका आप्टे अभिनीत ये पुलिस इनवेस्टिगेशन ड्रामा आज स्ट्रीम हुई है.

फिल्म रिव्यू- यारा

'हासिल' और 'पान सिंह तोमर' वाले तिग्मांशु धूलिया की नई फिल्म 'यारा' ज़ी5 पर स्ट्रीम होनी शुरू हो चुकी है.

फिल्म रिव्यू- दिल बेचारा

सुशांत के लिए सबसे बड़ा ट्रिब्यूट ये होगा कि 'दिल बेचारा' को उनकी आखिरी फिल्म की तरह नहीं, एक आम फिल्म की तरह देखा जाए.

सैमसंग के नए-नवेले गैलेक्सी M01s और रियलमी नार्ज़ो 10A की टक्कर में कौन जीतेगा?

सैमसंग गैलेक्सी M01s 9,999 रुपए में लॉन्च हुआ है.