Submit your post

Follow Us

कोरोना से शापित साल 2020 में ये 15 सितारे हमें छोड़कर चले गए

साल 2020 उतार-चढ़ाव भरा रहा. कोरोना महामारी की वजह से कितने लोग अपनों से बिछड़ गए. कितनों के सपने टूट गए. ये साल हर मायने में खराब रहा. हर क्षेत्र के लोगों को हर तरह से मुसीबतें उठानी पड़ी. बहुतों की नौकरी चली गई. बहुतों के रोज़गार में उन्हें नुकसान हुआ. बॉलीवुड भी इससे अछूता नहीं रहा.

इस साल बॉलीवुड के कुछ नामचीन सितारे हमें छोड़कर चले गए. साल के इस अंत में ये बताना बहुत तकलीफ देह है. चलिए आपको बताते हैं साल इस साल में हमने बॉलीवुड और टीवी इंडस्ट्री के किन-किन लोगों को खो दिया.


1.
नाम – इरफान खान
मौत की तारीख – 29 अप्रैल 2020
मौत की वजह – कोलोन इन्फेक्शन
उम्र – 53 साल

Irrfan Khan
पीकू फिल्म का एक दृश्य (स्क्रीनग्रैब: यूट्यूब)

इरफान खान किसी पहचान के मोहताज नहीं. इरफान ने ना सिर्फ बॉलीवुड फिल्मों में काम किया बल्कि हॉलीवुड में भी अपनी पहचान बनाई. करियर की शुरुआत टीवी सीरीयल्स से की. पद्म श्री से सम्मानित इरफान, शुरुआती दिनों में ‘चाणक्य’, ‘भारत एक खोज’, ‘चंद्रकांता’ जैसे सीरियल्स में नज़र आए. फिर बॉलीवुड में पहली ही फिल्म से उनकी एक्टिंग की सराहना की जाने लगी. वो फिल्म थी साल 1998 में आई मीरा नायर की ‘सलाम बॉम्बे’. इसके बाद आई ‘मकबूल’, ‘रोग’, ‘हासिल’, ‘लाइफ ऑफ पाई’, ‘लाइफ इन मेट्रो’, ‘स्लमडॉग मिलेनियर’, ‘पान सिंह तोमर’, ‘द लंचबॉक्स’, ‘मदारी’ और ‘हिंदी मीडियम’ जैसी फिल्मों ने उन्हें स्टार बना दिया. इरफान को उनकी शानदार परफॉरमेंस के लिए तीन बार फिल्मफेयर अवॉर्ड भी दिया गया. सिर्फ यही नहीं ‘पान सिंह तोमर’ के लिए उन्हें राष्ट्रीय पुरस्कार भी मिला.


2.
नाम – ऋषि कपूर
मौत की तारीख – 30 अप्रैल 2020
मौत की वजह – ल्यूकेमिया यानी ब्लड कैंसर
उम्र – 67 साल

Rishi Kapoor 2
ऋषि कपूर 67 बरस के थे. वो ल्यूकेमिया से लड़ रहे थे. फोटो क्रेडिट- इंडिया टुडे.

अभी पूरी इंडस्ट्री इरफान के जाने का गम मना ही रही थी कि दो दिन बाद खबर आई कि लीजेंडरी एक्टर ऋषि कपूर का निधन हो गया. ऋषि कपूर का ताल्लुक इंडस्ट्री के सबसे बड़े कपूर खानदान से था. वो ना सिर्फ एक्टर थे बल्कि प्रोड्यूसर भी थे. ऋषि कपूर ने अपने करियर में दर्जनों फिल्में कीं. उन्हें साल 2008 में फिल्म फेयर लाइफ टाइम अचीवमेंट का अवॉर्ड भी दिया गया. बॉलीवुड के शो मैन यानी राज कपूर के मंझले बेटे ऋषि कपूर ने अपने एक्टिंग करियर की शुरुआत अपने पिता की ही फिल्म ‘मेरा नाम जोकर’ से कर दी थी. जो साल 1970 में रिलीज़ हुई थी. फिल्म भले की बॉक्स ऑफिस पर ना टिक पाई हो मगर ऋषि ने लोगों के दिल में अपनी जगह बना ली थी.

बतौर लीड एक्टर ऋषि कपूर का डेब्यू साल 1973 में डिंपल कपाडियां के साथ ‘बॉबी’ में हुआ. इसके बाद तो उन्होंने साल 2000 तक करीब 92 फिल्मों में रोमांटिक हीरो का रोल निभाया. अपनी पत्नी यानी नीतू सिंह के साथ उन्होंने 12 फिल्मों में काम किया. 1998 में अक्षय खन्ना और ऐश्वर्या राय की फिल्म ‘आ अब लौट चले’ का डायरेक्शन भी किया. साल 2018 में ऋषि कपूर को कैंसर हो गया. जिसके इलाज के लिए वो लगभग साल भर न्यूयॉर्क में रहे. ऋषि कपूर की फिल्मों की लिस्ट तो लंबी है मगर उनकी बेहतरीन फिल्मों में, ‘चांदनी’, ‘अमर अकबर एंथोनी’, ‘कर्ज़’, ‘प्रेम रोग’, ‘सागर’ और ‘कभी-कभी’ जैसी फिल्में रहीं.


3.
नाम- सुशांत सिंह राजपूत
मौत की तारीख – 14 जून 2020
मौत की वजह – आत्महत्या
उम्र – 34 साल

सुशांत सिंह राजपूत 14 जून को मुंबई के अपने घर में मृत मिले थे. फोटो- पीटीआई
सुशांत सिंह राजपूत 14 जून को मुंबई के अपने घर में मृत मिले थे. फोटो- पीटीआई

सुशांत का इस तरह जाना लोगों को हिला गया. जिस समय देश में कोरोना महामारी पैर पसार रही थी, उस समय एक दिन अचानक खबर आई कि सुशांत ने आत्महत्या कर ली. फिल्म इंडस्ट्री का ये उभरता हुआ सितारा इस साल बुझ गया. टीवी शो ‘पवित्र रिश्ता’ से शुरुआत करके सुशांत ने एक्टिंग फील्ड में कदम रखा था. फिल्मी करियर की शुरुआत की साल 2013 में आई फिल्म ‘काई पो चे से’. इसके बाद ‘शुद्ध देसी रोमांस’, ‘एमएस धोनी’, ‘पीके’, ‘केदारनाथ’ और ‘छिछोरे’ जैसी फिल्में की. 14 जून की सुबह सुशांत ने मुंबई में अपने घर पर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी. उनकी गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती पर सुशांत को कथित तौर पर आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप लगा. बाद में ये पूरा केस सीबीआई को सौप दिया गया. सुशांत की मौत इस साल की कॉन्ट्रोवर्सीज़ में सबसे बड़ी कही जा सकती है.


4.
नाम- वाजिद खान
मौत की तारीख – एक जून 2020
मौत की वजह – कार्डिएक अरेस्ट
उम्र – 47 साल

Wajid With Salman Feature
‘बिग बॉस 8’ के सेट्स पर वाजिद के साथ सलमान खान

सलमान खान की फिल्म ‘दबंग’ का टाइटल ट्रैक हो या ‘तेवर’ फिल्म के गीत, साजिद-वाजिद की जोड़ी ने इंडस्ट्री को कई बेहतरीन गाने दिए. मगर साल 2020 में ये जोड़ी भी टूट गई. म्यूज़िशियन वाजिद खान का कार्डिएक अरेस्ट से निधन हो गया. सलमान खान की ही फिल्म ‘प्यार किया तो डरना क्या’ से वाजिद खान ने अपने करियर की शुरुआत की थी. इसके बाद एक के बाद एक कई सारे गाने दिए. आखिरी बार साजिद खान ने ‘पागलपंती’ में काम किया था.


5.
नाम- सरोज खान
मौत की तारीख – 3 जुलाई 2020
मौत की वजह – हार्ट अटैक
उम्र – 71 साल

Saroj Kalank Film Madhuri
माधुरी दीक्षित के साथ सरोज खान.

बॉलीवुड की जानी-मानी कोरियोग्राफर सरोज खान ने भी इस साल इंडस्ट्री को अलविदा कह दिया. 71 साल की सरोज खान के जाने से बॉलीवुड में ग़म की लहर फ़ैल गई. निर्मला नागपाल यानी सरोज खान ने अपनी पूरी ज़िंदगी में 200 से अधिक फिल्मों के लिए काम किया. लगभग 2000 गानों को कोरियोग्राफ किया. सरोज खान को ‘मदर ऑफ डांस’ भी कहा जाता है. बतौर कोरियोग्राफर उन्होंने साल 1974 में आयी फिल्म ‘गीता मेरा नाम’ से करियर शुरू किया. इसके बाद श्रीदेवी की फिल्म ‘मिस्टर इंडिया’, ‘नगीना’ और ‘चांदनी’ में भी गानों को कोरियोग्राफ किया. ‘तेज़ाब’ के गाने ‘एक, दो तीन,’ ‘थानेदार’ के गाने ‘तम्मा तम्मा लोगे’, और ‘बेटा’ फिल्म के ‘धक धक करने लगा’ गाने की कोरियोग्राफी के लिए उन्हें आज भी याद किया जाता है. सरोज खान ने ना सिर्फ कोरियोग्राफी की बल्कि बतौर जज भी वो कई सारे टीवी शोज़ में नज़र आईं.


6.
नाम- बासु चटर्जी
मौत की तारीख – 4 जून 2020
मौत की वजह – बढ़ती उम्र से जुड़ी समस्याएं
उम्र – 90 साल

अपने पसंदीद खिलौने के साथ बासु दा.
अपने पसंदीद खिलौने के साथ बासु दा.

इंडियन फिल्म इंडस्ट्री को ‘छोटी सी बात’, ‘चमेली की शादी’, ‘चितचोर’ और ‘रजनी गंधा’ जैसी क्लासिक फिल्में देने वाले इंडियन फिल्म डायरेक्टर और राइटर बासु चटर्जी भी इंडस्ट्री को छोड़कर चले गए. उनकी फिल्मों का हीरो ना गुंडों से लड़ता था और ना ही ऊंची-ऊंची बिल्डिंगों से छलांग लगाता था. वो एक साधारण, हमारे-आपके जैसा दिखने वाला शख्स हुआ करता था. जो बसों में सफर करके ऑफिस जाता था. जिसे अगर कोई लड़की पसंद आ जाए तो उससे बात करने से घबराता था. बासु चैटर्जी के जाने से भी इंडस्ट्री को गहरा धक्का लगा. उनकी लिखी गई कहानियों के लिए बासु को 5 बार फिल्मफेयर अवॉर्ड से भी नवाज़ा गया था.


7.
नाम- जगदीप
मौत की तारीख – 8 जुलाई 2020
मौत की वजह – उम्र संबधी समस्याएं
उम्र – 81 साल

फिल्म 'शोले' में सूरमा भोपाली के किरदार में जगदीप.
फिल्म ‘शोले’ में सूरमा भोपाली के किरदार में जगदीप.

‘शोले’ फिल्म के सूरमा भोपाली याद है आपको. वो भी इस साल बॉलीवुड को छोड़ गए. लीजेंडरी एक्टर जगदीप का पूरा नाम सैयद इश्तियाक अहमद जाफरी था. जो जाने-माने कॉमेडी एक्टर थे. उन्होंने 400 से भी ज़्यादा फिल्मों में एक्टिंग की. एक्टिंग करियर की शुरुआत बी आर चोपड़ा की फिल्म ‘अफसाना’ से की. इसके बाद ‘अब दिल्ली दूर नहीं’, ‘हम पंछी है एक डाल के’, ‘भाभी’, ‘बरखा और बिंदिया’, ‘ब्रह्मचारी’, ‘पुराना मंदिर’ जैसी फिल्मों में भी काम किया. बढ़ती समस्याओं के चलते उनका निधन हो गया.


8.
नाम- निशिकांत कामत
मौत की तारीख – 17 अगस्त 2020
मौत की वजह – लीवर सिरोसिस
उम्र – 50 साल

फिल्म 'मदारी' के प्रमोशन के दौरान निशिकांत और इरफान. अब दोनों ही इस दुनिया में नहीं हैं.
फिल्म ‘मदारी’ के प्रमोशन के दौरान निशिकांत और इरफान. अब दोनों ही इस दुनिया में नहीं हैं.

निशिकांत कामत, इंडस्ट्री के कुछ नामचीन डायरेक्टर्स में से एक थे. इनकी पहली फिल्म मराठी भाषा की थी, जिसका नाम था ‘डोंबिवली फास्ट’. इसके बाद उन्हें मराठी सिनेमा में काफी प्रसिद्धी मिली. हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में उन्होंने बतौर एक्टर अपने करियर की शुरुआत की. साल 2006 में आई फिल्म ‘हवा आने दे’ में उन्होंने छबिया का किरदार निभाया था. इसके बाद निशिकांत ने ‘दृश्यम’, ‘रॉकी हैंडसम’ और ‘मदारी’ जैसी फिल्में बनाई.


9.
नाम- एसपी बालसुब्रमणियम
मौत की तारीख – 25 सितंबर, 2020
मौत की वजह – लंग्स से जुड़ी बीमारी
उम्र – 74 साल

Sp Balasubrahmanyam
एसपी बालसुब्रमण्यम 74 बरस के थे.

अपनी मखमली आवाज़ के लिए मशहूर एसपी बालसुब्रमण्यम भी इस साल हमें अलविदा कह गए. बतौर सिंगर तेलुगू फिल्म ‘श्री श्री मर्यादा रामन्ना’ से डेब्यू करने वाले बालसुब्रमण्यम ने हिंदी फिल्मों में सलमान खान के लिए एक से बढ़कर एक गाने गाए. ‘मैंने प्यार किया’ के गाने ‘दिल दीवाना’ के लिए उन्हें फिल्मफेयर अवॉर्ड भी दिया गया. उन्होंने 50 साल के सिंगिंग करियर में तेलुगू, तमिल, कन्नड़, हिंदी और मलयालम ने तकरीबन 40,000 गाने गाए हैं. बालासुब्रमण्यम ने 1992 में ए आर रहमान के साथ ‘रोजा’ में पहली बार काम किया था. इस फिल्म के तीनों वर्जन के लिए बाला ने गाने गाए थे. उनके कुछ फेमस गानों में ‘पहला-पहला प्यार है’, ‘बहुत प्यार करते हैं’, ‘आते-जाते’ जैसे दर्जनों गानें हैं.


10.
नाम- मोहित बघेल
मौत की तारीख – 26 मई 2020
मौत की वजह – कैंसर
उम्र – 26 साल

मोहित अपनी 'रेडी' और 'जय हो' जैसी फिल्मों के लिए जाने जाते हैं.
मोहित अपनी ‘रेडी’ और ‘जय हो’ जैसी फिल्मों के लिए जाने जाते हैं.

साल 2011 में आई सलमान खान की ‘रेडी’ फिल्म तो याद होगी आपको. इस फिल्म के अमर चौधरी का किरदार निभाने वाले मोहित बघेल ने भी इस साल दुनिया को अलविदा कह दिया. उन्होंने अपने एक्टिंग की शुरुआत इसी फिल्म से की थी. इसके बाद वो सलमान के साथ ‘जय हो’ में भी नज़र आए थे. उनकी मौत की वजह भी कैंसर ही बना. मोहित ने ‘गली गली चोर है’, ‘इक्कीस तोपों की सलामी’, ‘कैश है तो ऐश है’ जैसी फिल्मों में भी काम किया था.


11.
नाम- हरीश शाह
मौत की तारीख – 7 जुलाई 2020
मौत की वजह – गले का कैंसर
उम्र – 76 साल

प्रेसिडेंट अवार्ड लेते फिल्ममेकर हरीश शाह.
प्रेसिडेंट अवार्ड लेते फिल्ममेकर हरीश शाह.

राजेश खन्ना और तनुजा की फिल्म ‘मेरे जीवन साथी’ के निर्माता हरीश शाह भी इस साल दुनिया को अलविदा कह गए. वे लंबे समय से कैंसर से जूझ रहे थे. हरीश ने साल 1975 में आई फिल्म ‘काला सोना’ को भी प्रोड्यूस किया था. जिसमें फिरोज़ खान और परवीन बॉबी नज़र आए थे. सिर्फ यही नहीं उन्होंने साल 1980 में आई नीतू कपूर और ऋषि कपूर की फिल्म ‘धन दौलत’ का डायरेक्शन भी किया था. इसके अलावा ‘जलजला’, ‘अब इंसाफ होगा’ और ‘जाल-द ट्रैप’ को भी डायरेक्ट किया.


12.
नाम- अभिलाष
मौत की तारीख – 28 सितंबर 2020
मौत की वजह – पेट संबंधी बीमारी
उम्र – 74 साल

अभिलाष के लिखे गीत, ''इतनी शक्ति हमें दे ना दाता''... को भारत के ज़्यादातर स्कूलों में प्रार्थना गीत के तौर पर गाया जाता है.
अभिलाष के लिखे गीत, ”इतनी शक्ति हमें दे ना दाता”… को भारत के ज़्यादातर स्कूलों में प्रार्थना गीत के तौर पर गाया जाता है.

अभिलाष गीतकार थे. अपने पांच दशक के लंबे करियर में उन्होंने ‘रफ्तार’, ‘आवारा लड़की’, ‘सावन को आने दो’ जैसी फिल्मों के गाने लिखे. अभिलाष को 1986 में आई फिल्म ‘अंकुश’ के गाने ‘इतनी शक्ति हमे दे ना दाता’ के लिए याद किया जाता है. अभिलाष के लिखे इस गाने को देश भर की 8 भाषाओं में ट्रांसलेट किया गया. इस गाने को आज भी कई स्कूलों में बतौर प्रार्थना के रूप में गाया जाता है.


13.
नाम- भूपेश कुमार पंड्या
मौत की तारीख – 23 सितंबर 2020
मौत की वजह – लंग कैंसर
उम्र – 48

एक्टर भूपेश कुमार पंड्या.
एक्टर भूपेश कुमार पंड्या.

भूपेश कुमार पंड्या ने नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा से एक्टिंग सीखी थी. अपने करियर में 100 से ज़्यादा नाटकों में पार्ट लिया. इसके बाद बॉलीवुड में, ‘हज़ारों ख्वाहिशें ऐसी’, ‘मिस टनकपुर हाज़िर हों’, ‘विक्की डोनर’ और ‘परमाणु’ समेत कई सारी फिल्मों में छोटा-बड़ा रोल किया. भूपेश कुमार टेलीविज़न पर भी कई सारे शोज़ में नज़र आए. लंबे समय से कैंसर से जूझ रहे भूपेश के परिवार के पास उनके इलाज तक के लिए पैसे नहीं थे.


14.
नाम- फराज़ खान
मौत की तारीख – 4 नवंबर 2020
मौत की वजह – लंबी बीमारी के कारण
उम्र – 50

फराज़ खान
फराज़ खान

साल 1998 में आई फिल्म ‘मेहंदी’ में रानी मुखर्जी के साथ काम करने वाले फराज़ खान भी इस साल दुनिया से विदा ले गए. इस फिल्म में उनके काम को काफी सराहा भी गया था. उन्होंने बेंगलुरु के अस्पताल में अंतिम सांस ली. वे लंबे समय से बीमार चल रहे थे. पूजा भट्ट ने सोशल मीडिया पर ये खबर शेयर की थी. पूजा भट्ट ने ही फराज़ के इलाज की आर्थिक सहायता के लिए लोगों से अपील भी की थी.


15.
नाम- दिव्या भटनागर
मौत की तारीख – 7 दिसंबर 2020
मौत की वजह – कोरोना संक्रमण
उम्र – 34 साल

दिव्या भटनागर अपने पति गगन के साथ फोटो - इंस्टाग्राम
दिव्या भटनागर अपने पति गगन के साथ फोटो – इंस्टाग्राम

टीवी की दुनिया से भी इस साल अच्छी खबरें नहीं आई. टीवी के कई शोज़ में नज़र आने वाली एक्ट्रेस दिव्या भटनागर का भी इस साल निधन हो गया. उनका ऑक्सीज़न लेवल घटकर 71 हो गया था. ‘ये रिश्‍ता क्‍या कहलाता है’ में गुलाबो के किरदार ने उन्‍हें खूब शोहरत दी थी. दिव्‍या बीते दिनों अपनी पर्सनल लाइफ के कारण भी चर्चा में रही थीं. साल 2015 में दिव्‍या भटनागर ने बॉयफ्रेंड गगन से सगाई की थी. दिव्या की मौत के बाद उनकी दोस्त और को-स्टार रहीं देवोलीना भट्टाचार्या ने दिव्या के पति पर कई संगीन आरोप भी लगाए.


वीडियो: कंगना ने बिकिनी में फोटो पोस्ट की, फिर ट्रोल ‘भक्तों’ से भिड़ गईं

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

पोस्टमॉर्टम हाउस

मूवी रिव्यू: AK vs AK

'AK vs Ak' की सबसे बड़ी ताकत इसका कॉन्सेप्ट ही है, जो काफी हद तक एंगेजिंग है.

फिल्म रिव्यू: कुली नंबर 1

ये रीमेक न होकर कोई ओरिजिनल फ़िल्म होती, तब भी इतना ही निराश करती.

जब नए साल की शुरुआत किसी की तेरहवीं से की जाए

राम प्रसाद की तेरहवीं का ट्रेलर रिलीज़ हो गया.

मूवी रिव्यू: पावा कढ़ईगल - 4 कहानियां, जो आपको अंदर से झकझोर देंगी

4 कमाल के डायरेक्टर्स की पेशकश.

मूवी रिव्यू: अनपॉज्ड - कोविड काल की कमाल कहानियां, जो आपका दिल खुश कर देंगी

पांच शानदार डायरेक्टर्स की फिल्मों का गुलदस्ता.

मूवी रिव्यू: तोरबाज़

कैसी है कैंसर की खबर के बाद रिलीज़ हुई संजय दत्त की पहली फिल्म?

मूवी रिव्यू: दुर्गामती- अ मिथ

कैसी है साउथ की फिल्म 'भागमती' की रीमेक?

ऐमब्रेन वेव नेक-बैंड इयरफ़ोन रिव्यू

कीमत 1,300 रुपए. जानिए, वनप्लस बुलेट इयरफ़ोन के सामने कैसे हैं ये?

पंजाब की पड़ताल करती अमनदीप संधू की किताब पंजाब: जर्नीज़ थ्रू फॉल्ट लाइन्स

यह किताब पंजाब के 'कल, आज और कल' के बारे में है.

'कुली नं. 1' के 'हुस्न है सुहाना' गाने को देख लोग बोले- 'बेटा, तुमसे ना हो पाएगा'

यूट्यूब से लाइक-डिसलाइक का ऑप्शन हटाना पड़ा.