Submit your post

Follow Us

शशि कपूर ने बताया था, दुनिया थर्ड क्लास का डिब्बा है

आज बलबीर राज कपूर का जन्मदिन है. यानी शशि कपूर का. वो कौन हैं, क्या हैं, क्यों फेमस हैं? ये बातें भी बतानी पड़ जाएं तो हम पर लानत हैं. जब कुछ नहीं भी था तब भी दूरदर्शन पर उनकी फ़िल्में देखते हुए हमारा बचपन गुजरा है. आज जन्मदिन है तो उन्हीं की फिल्मों के कुछ डायलॉग पढ़िए.

1.

Gosht

2.

libaas

3.

khwab

4.

romantic

5.

Third

6.

car

7.

neend

8.

prem rog

9.

bhaai

10.

Mere paas maa hai


ये भी पढ़ें:

हासिल: हम भी बद्री भइया को देखे हैं

‘तुमसे गोली वोली न चल्लई. मंतर फूंक के मार देओ साले’

जब बोलती फिल्में बनने लगीं, तब उनमें दिखाते क्या थे?

अपनी आजादी तो भइय्या लौंडिया के तिल में है

मेरे स्ट्रगल को रोमांस के साथ मत पेश करो!

वीडियो: बजरंग दल के लड़के मुसलमान लड़कियों को रिझाने सड़क पर उतरेंगे!

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

पोस्टमॉर्टम हाउस

असुर: वेब सीरीज़ रिव्यू

वो गुमनाम-सी वेब सीरीज़, जो अब इंडिया की सबसे बेहतरीन वेब सीरीज़ कही जा रही है.

फिल्म रिव्यू- अंग्रेज़ी मीडियम

ये फिल्म आपको ठठाकर हंसने का भी मौका देती है मुस्कुराते रहने का भी.

गिल्टी: मूवी रिव्यू (नेटफ्लिक्स)

#MeToo पर करण जौहर की इस डेयरिंग की तारीफ़ करनी पड़ेगी.

कामयाब: मूवी रिव्यू

एक्टिंग करने की एक्टिंग करना, बड़ा ही टफ जॉब है बॉस!

फिल्म रिव्यू- बागी 3

इस फिल्म को देख चुकने के बाद आने वाले भाव को निराशा जैसा शब्द भी खुद में नहीं समेट सकता.

देवी: शॉर्ट मूवी रिव्यू (यू ट्यूब)

एक ऐसा सस्पेंस जो जब खुलता है तो न सिर्फ आपके रोंगटे खड़े कर देता है, बल्कि आपको परेशान भी छोड़ जाता है.

ये बैले: मूवी रिव्यू (नेटफ्लिक्स)

'ये धार्मिक दंगे भाड़ में जाएं. सब जगह ऐसा ही है. इज़राइल में भी. एक मात्र एस्केप है- डांस.'

फिल्म रिव्यू- थप्पड़

'थप्पड़' का मकसद आपको थप्पड़ मारना नहीं, इस कॉन्सेप्ट में भरोसा दिलाना, याद करवाना है कि 'इट्स जस्ट अ स्लैप. पर नहीं मार सकता है'.

फिल्म रिव्यू: शुभ मंगल ज़्यादा सावधान

ये एक गे लव स्टोरी है, जो बनाई इस मक़सद से गई है कि इसे सिर्फ लव स्टोरी कहा जाए.

फिल्म रिव्यू- भूत: द हॉन्टेड शिप

डराने की कोशिश करने वाली औसत कॉमेडी फिल्म.