Submit your post

रोजाना लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

Follow Us

अब Netflix पर अंग्रेजी में गरियाते नज़र आएंगे नवाज़

417
शेयर्स

आज कल बॉलीवुड एक्टर नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी बीबीसी की एक सीरीज़ में नज़र आ रहे हैं. नाम है ‘मैकमाफिया’ (McMafia). इसे फिलहाल बीबीसी वन और एमेज़ॉन प्राइम पर स्ट्रीम किया जा रहा है. इसमें नवाज़ लीड तो नहीं मगर मजबूत किरदार निभाते नज़र आ रहे हैं. इससे जुड़ी कुछ खास बातें हम आपको बताएंगे:

#1. मैकमाफिया एक नॉन फिक्शन किताब ‘मैकमाफिया- अ जर्नी थ्रू द ग्लोबल क्रिमिनल अंडरवर्ल्ड’ पर बेस्ड है. इस किताब को लिखा है मिशा ग्लेनी नाम के एक पत्रकार ने जो बीबीसी में ही कार्यरत हैं. साउथ-ईस्ट एशिया, ग्लोबल ऑर्गनाइज़्ड क्राइम और साइबर सिक्योरिटी के विशेषज्ञ माने जाने वाले ग्लेनी की अब तक 6 किताबें प्रकाशित हो चुकी हैं. उनकी लेटेस्ट किताब 2015 में आई थी. नाम था ‘नेमेसिस- वन मैन एंड द बैटल फॉर रियो.’

'मैकमाफिया' का कवर और उसके लेखक मिशा ग्लेनी.
‘मैकमाफिया’ का कवर और उसके लेखक मिशा ग्लेनी.

#2. मिशा की इस किताब को बीबीसी ने उसी नाम से एक ड्रामा सीरीज़ में तब्दील करने का मन बनाया. नॉन फिक्शन जॉनर की इस किताब को सीरीज़ के लायक बनाने के लिए मशहूर ईरानी फिल्म राइटर होसेन अमीनी से इसका स्क्रीनप्ले लिखवाया गया. अमीनी ने इससे पहले शेखर कपूर के लिए ए. डब्लू. मेसन की किताब ‘द फोर फेदर्स’ को स्क्रिप्ट में बदला था, जिस पर शेखर ने 2002 में इसी नाम से फिल्म बनाई थी. इसके अलावा अमीनी ‘जूड’ (1996), ‘द विंग्स ऑफ डव’ (1997), और ‘शांघाई’ (2010) जैसी फिल्मों के लिए स्क्रिप्ट लिख चुके हैं. ‘द विंग्स ऑफ डव’ के लिए उन्हें ऑस्कर में भी नॉमिनेशन (बेस्ट राइटिंग- अडैप्टेड स्क्रीनप्ले) मिल चुका है.

होसेन अमीनी और उनकी ऑस्कर नॉमिनेटेड फिल्म 'द विंग्स ऑफ डव' का पोस्टर.
होसेन अमीनी और उनकी ऑस्कर नॉमिनेटेड फिल्म ‘द विंग्स ऑफ डव’ का पोस्टर.

#3. मैकमाफिया की कहानी है मॉडर्न रशियन गैंगस्टर्स की. सीरीज़ में ये दिखाया गया है कि वक्त के साथ रशियन गैंगस्टर्स के सोचने, ऑपरेट करने, बदला लेने, फंड्स इकट्ठा करने और उसको इंवेस्ट करने का तरीका बदलकर कितना ऑर्गनाइज़्ड हो गया है. कहानी का नायक है एक रशियन क्रिमिनल एलेक्सी सेरेब्रेकोव का बेटा एलेक्स गॉडमैन. एलेक्स लंदन में ही पला-बढ़ा है और उसका अपने खानदानी धंधे से कुछ भी लेना-देना नहीं है. वो लंदन में ही एक बैंकर की नौकरी करता है और अपनी अमरीकी गर्लफ्रेंड के साथ रहता है.

अपनी अमरीकी गर्लफ्रेंड रेबेक्का के साथ एलेक्स.
 ‘मैकमाफिया’ में अपनी अमरीकी गर्लफ्रेंड रेबेक्का के साथ एलेक्स.

#4. पहले अपराध की दुनिया में रहा एलेक्स का पिता एलेक्सी अब उस ऑर्गनाइज़्ड क्राइम से दूर भाग रहा है. क्योंकि कुछ साल पहले उसके एक दुश्मन ‘वादिम’ ने उसकी सारी संपत्ती हड़प कर उसे देश से निकाल दिया था. लेकिन उसे अपने परिवार की इज्ज़त खराब होने का बहुत अफसोस है. अब एलेक्स का चाचा बोरिस गॉडमैन अपने खानदान की उसी खोई हुई ‘प्रतिष्ठा’ को वापस लाने के लिए पर्दे के पीछे से काम कर रहा है.

मैकमाफिया के एक सीन में उसके सारे मुख्य किरदार.
‘मैकमाफिया ‘के एक सीन में उसके सभी मुख्य किरदार.

#5. इसी क्रम में बोरिस, वादिम से बदला लेने के लिए उस पर जानलेवा हमला करता है, जो असफल हो जाता है. इसके बाद वादिम पूरे गॉडमैन खानदान को खत्म करने की ठान लेता है. अपने परिवार को बचाने की मजबूरी में एलेक्स को भी इस खेल में शामिल होना पड़ता है.

'मैकमाफिया' के एक सीन में एलेक्स (जेम्स नॉर्टन).
‘मैकमाफिया’ के एक सीन में एलेक्स (जेम्स नॉर्टन).

#6. वादिम से बचने के लिए एलेक्स अपनी जान-पहचान के लोगों की मदद लेता है. इसमें उसके इंवेस्टर, क्लाइंट से लेकर बिज़नेस पार्टनर तक शामिल हैं. अपने एक इज़रायली इंवेस्टर (जो कि गैंगस्टर भी है) की मदद से एलेक्स वादिम के सारे दो नंबर के काम ठप करवाने लगता है. यहीं सीन में आते हैं नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी. नवाज़ का किरदार डिली महमूद नाम के गैंग लीडर का होगा, जो अपने गलत धंधे की कमाई से बिज़नेस करता है.

'मैकमाफिया' के एक सीन में डीली का किरदार निभा रहे हैं नवाज़.
‘मैकमाफिया’ के एक सीन में डीली का किरदार निभा रहे हैं नवाज़.

#7. इस कहानी में डिली वादिम के एशिया में फैले संपर्क और ड्रग बिज़नेस का पर्दाफाश करने में एलेक्स की मदद करता है. इस सीरीज़ में नवाज़ पहली बार अंग्रेजी में डायलॉग बोलते नज़र आएंगे. ऐसा भी बताया जा रहा है कि ‘मैकमाफिया’ में नवाज का किरदार ना सिर्फ मजबूत बल्कि लंबा भी होगा. नवाज इसके चौथे एपिसोड में नज़र आएंगे.

नवाज वाले एपिसोड का ट्रेलर यहां देखिए:

#8. लंदन में मौजूद रशियन दूतावास ने अभी से ही इस सीरीज़ का विरोध शुरू कर दिया है. उनका मानना है कि इसमें दिखाई/बताई जा रही सभी बातें सही नहीं हैं. ये रशिया की छवि बिगाड़ने की साज़िश है.

#9. ‘मैकमाफिया’ में एलेक्स का किरदार हॉलीवुड एक्टर जेम्स नॉर्टन निभा रहे हैं. जेम्स इससे पहले ‘रश’, ‘बेली’ और ‘फ्लैटलाइनर्स’ जैसी फिल्मों में काम कर चुके हैं. फिल्मों से पहले वो टीवी में भी बहुत काम कर चुके हैं. आखिरी बार वो मशहूर टीवी शो ‘ब्लैक मिरर’ में नज़र आए थे.

सीरीज़ के एक सीन में इज़रायली इंवेस्टर के साथ एलेक्स.
सीरीज़ के एक सीन में इज़रायली इन्वेस्टर के साथ एलेक्स.

#10. ‘मैकमाफिया’ को डायरेक्ट कर रहे हैं जेम्स वॉटकिंस. जेम्स इससे पहले ‘द वुमन इन ब्लैक’ जैसी हॉलीवुड फिल्म बना चुके हैं. 8 एपिसोड में बनी इस सीरीज़ को 1 जनवरी, 2018 से प्रसारित किया जा रहा है.


ये भी पढ़ें:

‘करण अर्जुन’ के 5 मजेदार किस्से जो आप नहीं जानते होंगे

फ़िल्म रिव्यू : कालाकांडी

मुक्काबाज़ के ऐक्टर विनीत सिंह ने इस इंटरव्यू में अपनी पूरी ज़िन्दगी उघाड़ कर रख दी

जो कंप्यूटर से बांसुरी बजा दे, सो रहमान होए!


पॉर्न स्टार मिया रामगोपाल वर्मा की फिल्म God, Sex and Truth में लीड एक्टर हैं. देखें उनकी 5 खास बातें:

 

 

 

 

लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें
Bollwood actor Nawazuddin Siddiqui to feature in Netflix series McMafia, produced by BBC and directed by James Watkins

पोस्टमॉर्टम हाउस

ये फिल्म बताती है कि आत्महत्या के बारे में सोच रहे किसान के दिमाग में क्या चलता है?

जिस बारिश को रोमांटिक मानने का चलन है, वो कई किसानों को फांसी लेने पर मजबूर कर देती है.

कोक स्टूडियो के दीवानों के लिए मंटों का म्यूज़िक एल्बम एक ट्रीट है

एल्बम काले रंग से बनी उम्मीद की खूबसूरत तस्वीर है.

पटाखा' के म्यूज़िक से गुलज़ार और विशाल भारद्वाज की जोड़ी 2018 में फिर टॉप पर पहुंच जाएगी!

'आजा नेटवर्क के भीतर, मेरे व्हाट्सएप के तीतर'

फिल्म रिव्यू: मनमर्ज़ियां

तापसी पन्नू और विकी कौशल ने कहर ढा दिया है मितरों...

फिल्म रिव्यू: लव सोनिया

ये फिल्म एक सोशल ड्रामा है, जिसमें मुद्दे से भटके बिना अपनी बात कही गई है.

एलिजाबेथ एकादशी: एक सायकल बचाने के लिए दो बच्चों का तगड़ा संघर्ष

ये स्वीट फिल्म मिस नहीं करनी चाहिए.

अक्षय कुमार के साथ रजनीकांत की फिल्म '2.0' में क्या अन्याय किया गया है?

डायरेक्टर शंकर की इस बड़ी फिल्म के टीज़र की वो बातें जो निगाह से छूट गई होंगी.

फ़िल्म रिव्यू: पलटन

मूवी चीख-चीख के कहती है कि मुझे 5 या 10 में से नहीं 'बॉर्डर' में से मार्क्स दो!

फिल्म रिव्यू: गली गुलियां

मनोज बाजपेयी की शानदार फिल्म जो मिस नहीं करनी चाहिए.

फिल्म रिव्यू: लैला मजनू

बहाना चाहे कोई भी हो ये फिल्म देखी जानी चाहिए.