Submit your post

Follow Us

खाद्य सामग्री के नाम पर BJP ने बांटा चिप्स, कुरकुरे, कहा- गरीब बच्चों का मन प्रफुल्लित होगा!

कोरोना के इस दौर में कई NGO, कई संगठन और स्वंयसेवक जरूरतमंद लोगों की मदद के लिए आए हैं. लोग भूखों को खाना खिला रहे हैं. जरूरतमंदों को राशन दे रहे हैं. इस बीच केंद्रीय गृह राज्य मंत्री जी किशन रेड्डी ने कॉविड वॉरियर्स के बीच बांटने के लिए राहत सामग्री के रूप में चिप्स दान किए हैं. उन्होंने शनिवार, 22 मई को भारतीय जनता पार्टी दिल्ली को चिप्स दान दिए. दिल्ली बीजेपी के अध्यक्ष आदेश कुमार गुप्ता ने इस डोनेशन को स्वीकार किया.

आदेश गुप्ता ने ट्वीट किया,

आज गृह राज्य मंत्री जी किशन रेड्डी जी द्वारा दिल्ली बीजेपी को खाद्य सामग्री दी गई. यह सामग्री #SevaHiSangathan के अंतर्गत दिल्ली भर में भाजपा द्वारा चलाए जा रहे कैंप में जरूरतमंदों के साथ-साथ दिल्ली की सेवा में कार्यरत निगम कर्मचारियों व पुलिस कर्मियों के बीच वितरित की जाएंगी.

वहीं दिल्ली बीजेपी की एक प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया है कि खाद्य सामग्री को नगर निगम के कर्मचारियों और वॉरियर्स के बीच बांटा जाएगा. जिन्होंने पूरी महामारी के दौरान कोरोना वॉरियर्स बनकर अपनी जान की परवाह किए बगैर लोगों की सेवा करते रहे. सामग्री के अंतर्गत बिस्किट चिप्स के अलावा अन्य सामग्री है.

विज्ञप्ति में आदेश गुप्ता के हवाले से कहा गया है कि इस महामारी में कोविड मरीज तो परेशान हैं ही साथ ही मरीजों के परिजन भी काफी परेशान हैं. कई मरीज तो दो से चार दिन तक बिना खाए रखते थे. इसका बड़ा कारण है लॉकडाउन. इसी को ध्यान में रखते हुए प्रदेश भाजपा ने भोजन का वितरण शुरू किया है.

वहीं दिल्ली बीजेपी के प्रवक्ता प्रवीण शंकर कपूर ने ट्वीट किया,

माननीय किशन रेड्डी जी एवं आदेश जी हर चीज़ का अपना महत्व होता है, हर व्यक्ति खासकर बच्चे बहुत मानसिक दबाव में हैं, ऐसे में यह कुरकुरे वैफर आदि जब गरीब परिवारों के बच्चों के बीच पहुंचेगे तो उनका मन प्रफुल्लित करेंगे.

एक यूजर ने लिखा,

कुछ ऐसा देना चाहिए था ना जो पौष्टिक हो, इम्यूनिटी बढ़ाने में योगदान दे. ये क्या है? कुरकुरे, टकाटक, डोरिटोज? इसको खाद्य सामग्री नहीं, चखना कहते हैं. खैर, ये सब काम करने हैं तो करें, लेकिन कम से कम मोदीजी को तो टैग मत कीजिए.

एक यूजर ने लिखा कि खाद्य सामग्री में कुछ और नहीं मिला?

वहीं एक और यूजर ने लिखा,

भाई इसका छोटा पैकेट 35 रु का है और बड़ा 60 का. ये खाद्य सामग्री के नाम पर डोरिटोज़ बांट कर मज़ाक मत कीजिए. अमीरों का चखना है ये. गरीब का पेट नहीं भरेगा.

बीजेपी के राजेश भाटिया ने लिखा,

इस बात का महत्व नहीं है कि कौन क्या दे रहा है. महत्व इस बात का है कि देने वाले की भावना और सोच क्या है. व्यक्ति की अच्छी सोच को पकड़िये शब्दों को नहीं.


अर्थात: क्या कोरोना से मरने वालों की असल संख्या सरकारी आंकड़ों से गायब है?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

10 नंबरी

सलमान से भिड़ने के बाद अब उन्हें बड़ा भाई क्यों बता रहे KRK?

सलमान से भिड़ने के बाद अब उन्हें बड़ा भाई क्यों बता रहे KRK?

KRK के इस ह्रदय परिवर्तन का राज़ क्या है?

2022 में आने वाली 14 एक्शन फिल्में, जिन्हें देखकर आपका माइंडइच ब्लो हो जाएगा

2022 में आने वाली 14 एक्शन फिल्में, जिन्हें देखकर आपका माइंडइच ब्लो हो जाएगा

इस तरह का एक्शन आपने इससे पहले इंडियन सिनेमा में नहीं देखा होगा.

कौन है केतन, जिसके खिलाफ सलमान खान ने डिफेमेशन केस कर दिया है?

कौन है केतन, जिसके खिलाफ सलमान खान ने डिफेमेशन केस कर दिया है?

पड़ोसी केतन ने सलमान के पनवेल वाले फार्महाउस के बारे में कुछ ऐसा बोल दिया, जो उन्हें ठीक नहीं लगा.

अल्लू अर्जुन की 'अला वैकुंठपुरमुलो' को टीवी पर आने से रोकने के लिए किसने खर्चे 8 करोड़?

अल्लू अर्जुन की 'अला वैकुंठपुरमुलो' को टीवी पर आने से रोकने के लिए किसने खर्चे 8 करोड़?

'अला वैकुंठपुरमुलो' के हिंदी रीमेक 'शहज़ादा' में कार्तिक आर्यन और कृति सैनन लीड रोल्स कर रहे हैं.

2022 में आने वाली वो 23 बड़ी फिल्में, जिनका पब्लिक को बेसब्री से इंतज़ार है

2022 में आने वाली वो 23 बड़ी फिल्में, जिनका पब्लिक को बेसब्री से इंतज़ार है

इस लिस्ट में हिंदी से लेकर अन्य भाषाओं की बहु-प्रतीक्षित फिल्मों के नाम भी शामिल हैं.

क्या होती हैं ये एनिमे फ़िल्में या सीरीज़, जिनके पीछे सब बौराए रहते हैं

क्या होती हैं ये एनिमे फ़िल्में या सीरीज़, जिनके पीछे सब बौराए रहते हैं

ये कार्टून और एनिमे के बीच क्या अंतर होता है? साथ ही जानिए ऐसे पांच एनिमे शोज़, जो देखने ही चाहिए.

सायना नेहवाल ट्वीट मामले में एक्टर सिद्धार्थ की मुश्किलें बढ़ीं, बीजेपी हुई इन्वॉल्व

सायना नेहवाल ट्वीट मामले में एक्टर सिद्धार्थ की मुश्किलें बढ़ीं, बीजेपी हुई इन्वॉल्व

सिद्धार्थ ने सायना को लेकर एक ट्वीट किया, जो सेक्सिस्ट और अपमानजनक था.

RRR के लिए अजय और आलिया ने जितनी फीस ली, उतने में एक फिल्म बन जाती

RRR के लिए अजय और आलिया ने जितनी फीस ली, उतने में एक फिल्म बन जाती

कमाल की बात ये कि दोनों राजामौली की इस फिल्म में सिर्फ कैमियो कर रहे हैं.

अमरीश पुरी: उस महान एक्टर के 18 किस्से, जिसे हमने बेस्ट एक्टर का एक अवॉर्ड तक न दिया

अमरीश पुरी: उस महान एक्टर के 18 किस्से, जिसे हमने बेस्ट एक्टर का एक अवॉर्ड तक न दिया

जिनके बारे में स्टीवन स्पीलबर्ग ने कहा था, 'अमरीश जैसा कोई नहीं, न होगा'.

मलयालम एक्ट्रेस भावना मेनन ने 5 साल बाद अपनी किडनैपिंग और मोलेस्टेशन पर बात की

मलयालम एक्ट्रेस भावना मेनन ने 5 साल बाद अपनी किडनैपिंग और मोलेस्टेशन पर बात की

इस सब का आरोप एक्टर दिलीप के ऊपर है.