Submit your post

Follow Us

पिंपल के लिए E-Pass मांगने वाले का IAS ने मज़ाक बनाया, लोगों ने मेडिकल इमरजेंसी पर क्लास लगा दी

कोरोना वायरस (Coronavirus) के चलते कई राज्यों में लॉकडाउन लगा हुआ है. बिहार में भी 15 मई तक लॉकडाउन है. मेडिकल इमरजेंसी या किसी अत्यंत ज़रूरी काम से बाहर निकलना हो तो उसके लिए ई-पास बनवाना पड़ता है. ई-पास के लिए आवेदन करते समय बाहर निकलने की वजह बतानी पड़ती है, अथॉरिटीज़ को लगेगा कि आपकी वजह ज़रूरी है तो ही आपको बाहर जाने की परमिशन मिलेगी.

बिहार के पूर्णिया जिले के DM राहुल कुमार ने ट्वीट किया. उन्होंने एक फोटो ट्वीट किया, ये फोटो एक एप्लिकेशन की थी जिसमें इलाज के लिए दूसरे जिले जाने की अनुमति मांगी गई थी. इलाज किस चीज़ का? चेहरे और सिर पर होने वाले पिंपल का.

साथ में राहुल कुमार ने लिखा,

लॉकडाउन के वक्त ई-पास बनवाने के ज्यादातर एप्लिकेशन वास्तविक होते हैं. लेकिन हमें कुछ ऐसी रिक्वेस्ट भी मिलती हैं. भाई, तुम्हारे मुहांसों का इलाज इंतजार कर सकता है.

राहुल कुमार के इस ट्वीट पर अलग-अलग तरह के रिएक्शन आ रहे हैं. कुछ लोगों इसे फनी मान रहे हैं. तो कुछ का कहना है कि ये असंवेदनशील है. एक शख्स ने लिखा,

“क्या आपको पता है कि हेड पिंपल फंगल इंफेक्शन का एक प्रकार है. ट्रीटमेंट में देर होने पर ये पूरे शरीर में फैल सकता है.”

 

इन्होंने एक अन्य ट्वीट में बताया कि उनके पैर पर दाने हुए थे, इलाज में देरी हुई, और अब 18 महीने से इलाज चल रहा है उनका. एक अन्य शख्स ने लिखा,

मज़ाक के लिए ठीक है. पर मुझे यकीन है कि आप भी इसे लाइटली नहीं लेंगे. अगर आप किसी मेडिकल एक्सपर्ट से बात करेंगे तो वो आपको बताएंगे कि एक्ने से डिप्रेशन और एंग्जायटी हो सकती है. ये भी हो सकता है कि संबंधित व्यक्ति अपनी असल बीमारी छिपा रहा हो, क्योंकि ये उसकी प्राइवेसी का मसला है.

 

कई लोगों ने लिखा कि ये सिचुएशन की गंभीरता पर निर्भर करता है कि उन्हें डॉक्टर के पास जाना चाहिए या नहीं. हालांकि, कई ऐसे लोग थे जिनको राहुल कुमार का पोस्ट देखकर हंसी आई. उन्होंने उनको थैंक यू कहा कि ऐसे वक्त में वो लोगों को कॉमिक रिलीफ दे रहे हैं ये अच्छी बात है.

और हमेशा की तरह कुछ ऐसे लोग भी थे जो हिंसा पर उतारू थे. डीएम साहब को सुझाव देने लगे कि पुलिस वाले को उनके घर भेजिए और इलाज करवाइये कि उन्हें जीवनभर याद रहे.

बिहार में कोरोना का प्रकोप

बिहार में कोरोना वायरस के मामलों तेजी से बढ़ रहे हैं. राज्य में 5 मई को कोरोना संक्रमण के 14,816 नए मामले आए हैं. राज्य में कोरोना संक्रमण की दर 15.55 फीसदी है. पटना में सबसे ज्यादा 2420 और पूर्णिया में 333 केस मिले हैं.


वीडियो – दिल्ली-मुंबई के नाईट कर्फ्यू में कहीं जाने के लिए E-pass बनवाने का पूरा प्रोसेस यहां समझिए!

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

10 नंबरी

ये तरीक़ा अपनाया तो वैक्सीन ख़ुद बताएगी कि मैं आ गई हूं

ये वेबसाइट वैक्सीन आने पर अलर्ट भेजेंगे

सत्यजीत राय के 32 किस्से: इनकी फ़िल्में नहीं देखी मतलब चांद और सूरज नहीं देखे

ये 50 साल पहले ऑस्कर जीत लाते, पर हमने इनकी फिल्में ही नहीं भेजीं. अंत में ऑस्कर वाले घर आकर देकर गए.

कोविड काल में इन देशों ने भारत के लिए बड़ी मदद भेजी है

ऑक्सीजन कंसंट्रेटर से लेकर दवाओं के रॉ मटेरियल तक, सब भेजा है.

ऋषि कपूर के ये 13 गीत सुनकर समझ आता है, ये लवर बॉय पर्दे पर कैसे मेच्योर हुआ

ऋषि कपूर को गुज़रे एक साल हो गए.

इरफ़ान को पहली बरसी पर इन एक्टर्स और वाइफ सुतपा ने कुछ यूं याद किया

मानव कौल, अर्जुन कपूर, राधिका मदान, दिव्या दत्ता, रणदीप हुड्डा जैसे एक्टर्स ने इरफ़ान के लिए ट्रिब्यूट लिखे.

सुधीर मिश्रा की बताईं ये 11 जोरदार फ़िल्में और सीरीज़ जल्द से जल्द देख डालिए

बॉलीवुड, हॉलीवुड, साउथ कोरिया, जापान हर जगह की फ़िल्में हैं.

ये 5 वेबसाइट कोविड मरीज़ के लिए ऑक्सीजन, बेड, दवा की खोज को आसान बना देती हैं

ये 36 जगहों पर डाली हुई ज़रूरत की पोस्ट को एक जगह पर समेट देती हैं!

कोरोना संकट के बीच ये ऐप्स आपकी मानसिक सेहत का ख्याल रखने में मदद करेंगे!

मेडिटेशन और योगा ऐप्स की मदद लीजिए और खुद को शांत रखिए.

ऑस्कर 2021 की नौ जोरदार बातें और सबसे बड़े हाइलाइट्स

क्या हुआ जब ऑस्कर जीतने बाद डेनियल कलूया ने सेक्स की बात की और उनकी मां ने सुन लिया?

ऑस्कर अवॉर्ड्स में धमाका मचाने वाली 12 जाबड़ फिल्में, जिन्हें आप घर बैठे देख सकते हैं

इनमें से कई फिल्मों ने तो ऑस्कर का इतिहास बदल के रख दिया.