Submit your post

Follow Us

मूवी रिव्यू - अंतिम: द फाइनल ट्रुथ

बाकी दुनिया के लिए 2021 चाहे जैसा भी हो, लेकिन सलमान भाई के फैन्स को इससे कोई शिकायत नहीं. पहले भाई की पिच्चर ‘राधे, योर मोस्ट वॉन्टेड भाई’ आई, जिसके बारे में बात न की जाए तो बेहतर है. अब भाई की एक और फिल्म आई है, ‘अंतिम-द फाइनल ट्रुथ’. ‘राधे’ की तरह ये भी एक रीमेक है, 2018 में आई मराठी फिल्म ‘मुलशी पैटर्न’ का. वहां लीड में थे ओम भुतकर और उपेंद्र लिमये. यहां हैं आयुष शर्मा और सलमान खान. उनकी ये नई फिल्म कैसी है, यही जानने के लिए मैंने फर्स्ट डे, फर्स्ट शो देख डाला. फिल्म में क्या कुछ था, अब उस पर बात करेंगे.

# न फेथफुल रीमेक, न ओरिजिनल कहानी

फिल्म के शुरुआत में एक किसान परिवार अपना गांव छोड़कर शहर जा रहा होता है. वो अपनी जमीन खो चुके होते हैं. पिता ने सस्ते दाम पर जमीन बेची और अब खुद के लिए कुछ नहीं बचा. ये हमें वो परिवार नहीं बताता, बल्कि बताता है राजवीर सिंह. एक पुलिसवाला, जिसका उस परिवार से कोई वास्ता नहीं. राजवीर बने सलमान खान के नैरेशन से कहानी शुरू होती है. ये कहानी भले ही राजवीर ने शुरू की, लेकिन ये उसकी नहीं है. ये कहानी है उस किसान के बेटे राहुल्या की. एटलीस्ट ओरिजिनल में कहानी का सेंटर राहुल्या ही था.

राहुल्या 7
हिसाब से राहुल्या की कहानी होनी चाहिए थी, लेकिन मेकर्स ने कुछ और ही बना दिया.

राहुल्या पढ़ा-लिखा नहीं, लेकिन अपने पिता की तरह मजदूरी करना भी ज़रूरी नहीं समझता. जल्दी दबंग बनना है उससे. राहुल्या का गुस्सा उसकी नाक पर रहता है. एक दिन इसी गुस्से के चलते एक प्रॉब्लम में फंस जाता है. जिसके बाद पहले जेल का कैदी और फिर अपने एरिया का भाई बन जाता है. आगे हिसाब से कहानी राहुल्या के राइज़ एंड फॉल की होनी चाहिए थी. लेकिन ऐसा होता नहीं. मेकर्स हमें ये यकीन दिलाने की कोशिश करते हैं कि कहानी की शुरुआत और अंत राहुल्या पर ही होता है. इस शुरुआत और अंत में इतना कुछ घटता है कि एक ही सवाल बनता है, कि भाई कहना क्या चाहते हो. नहीं समझे? आइए तनिक डिटेल में बताते हैं.


# सलमान भाई फिल्म के हीरो नहीं, कहानी के दुश्मन निकले

हर कैरेक्टर का एक आर्क होता है. जैसे एक इंसान अपना सफर शुरू करता है, उसके साथ कुछ अनुभव होते हैं और वो बदलता जाता है. जब तक आर्क खत्म होता है, वो एक अलग इंसान बन चुका होता है. यहां आपको राहुल्या का आर्क पल्ले नहीं पड़ेगा. क्योंकि कहानी में उसे जैसे ही ज़रा सी स्पेस मिलने लगती, सलमान भाई आ जाते. फिल्म के राहुल्या की पास्ट लाइफ कुरेदने से बेहतर राजवीर को स्पेस देना समझा. वो स्लो मोशन में बाइक चला रहा है, गुंडों का एनकाउंटर करता है, सब हीरो माफिक.

इतना सब करने के बाद मेकर्स को याद आया कि कहानी का सेंट्रल कैरेक्टर तो राहुल्या है, उसे भी स्पेस दो भाई. फिर आनन-फानन में राहुल्या की कहानी दिखाने की कोशिश हुई. जिसे बस उसके चीखने-चिल्लाने वाले सीन्स से भर दिया, इमोशनल डेप्थ मिसिंग थी. जैसे उसे शुरुआत में मसीहा की तरह दिखाया, जो बस कानून के ओपोज़िट साइड पहुंच जाता है. लेकिन फिर अचानक ही डार्क होने लगता है, ये ट्रान्ज़िशन इतना एबरप्ट है कि खटकता है.

अंग प्रदर्शन कर धो के रख देता है
सलमान भाई पूरी कहानी अपने इर्द-गिर्द बना देते हैं.

बाकी उसके कैरेक्टर की जर्नी के बड़े मोमेंट्स उससे सलमान भाई चुरा लेते हैं. जैसे एक जगह वो कद्दावर गुंडे को मार डालता है, जिसके अंडर वो खुद काम कर रहा था. हिसाब से ये सीन होना चाहिए था राहुल्या के वर्चस्व को एस्टैब्लिश करने का, कि ध्यान से देख लो, नया भाई आ गया है. लेकिन ये सब हो पाता, उससे पहले राजवीर धमक जाता है. राहुल्या से लड़ने लगता है, अंग प्रदर्शन कर उसे धो के रख देता है. अपने सारे आदमियों के सामने बुरी तरह पीटने के बाद अगले ही सीन में राहुल्या इतना पावरफुल कैसे हो जाता है, ये समझ से परे है.

अब अगर आप कहेंगे कि भाई में जबरन खोट निकालते हो, ऐसा भी नहीं होगा. तो फिल्म से ही एग्ज़ाम्पल दे देते हैं. ‘भाई का बर्थडे’ गाना शुरू होने वाला होता है. जहां सारे गुंडे मिलकर सेलिब्रेट करने वाले होते हैं. गाना शुरू होने से पहले एक लाइन आती है, ‘इस इलाके का एक ही टाइगर है’. इस लाइन पर इमैजिन कर लीजिए कि कौन स्लो मोशन में चलते हुए दिखाई देते हैं. बाकी आगे, ‘तू पुणे का नया भाई है, मैं पहले से पूरे हिंदुस्तान का भाई हूं’ टाइप डायलॉग तो हैं हीं.


# कमर्शियल फिल्म में इतना तो चलता है न?

अगर आप ‘मुलशी पैटर्न’ देख चुके हैं, तो ‘अंतिम’ देखकर बेहद निराश होंगे. फिल्म ने राहुल्या से उसके मेक एंड ब्रेक मोमेंट्स छीन लिए हैं. जैसे वो एक जगह रसूखदार आदमी को मारने पहुंचता है, खंजर उठा लेता है कि नज़र ऊपर बाल्कनी में पड़ती है. वहां राहुल्या की बहन खड़ी है, जो सहमी हुई आंखों में शर्म लिए उसे देख रही है. राहुल्या बौखलाकर चला जाता है. ‘अंतिम’ में इस पूरे सीन के वक्त, जज़्बात बदल दिए.

राहुल्या 9
आयुष के पास बस आंख उठाने वाले सीन ही आए.

‘अंतिम’ में आयुष बने हैं राहुल्या. उन्हें देखकर लगता है कि उन्होंने कुछ अलग ट्राई करने की कोशिश की है, लेकिन स्क्रिप्ट ने ही धोखा दे दिया. बाकी उनके और सलमान के अलावा फिल्म में महिमा मकवाना, सचिन खेडेकर और उपेन्द्र लिमये जैसे एक्टर्स भी हैं. फिल्म का क्लाइमैक्स एक्शन सीन फुल सीटीमार टाइप है, जो एक्साइटमेंट बार को बढ़ाने का काम करते हैं.


# दी लल्लनटॉप टेक

आज सुबह जब थिएटर पहुंचा, तो मेरे बगल वाली सीट पर एक लड़का बैठा था. उम्र में मुझसे कुछ छोटा था, और सलमान खान का जबरा फैन. जब भी सलमान भाई स्क्रीन पर आते तो अपनी सीट पर लिटरली उछलने लगता, खिलखिलाने लगता. और उधर, उसके बगल में था मैं. बिल्कुल अनकन्सर्न्ड. अगर कोई हम दोनों को रिकॉर्ड कर पाता, तो इतना बड़ा रिव्यू बताने की ज़रूरत नहीं पड़ती. बाकी आप समझदार हैं ही.


वीडियो: क्या जॉन अब्राहम स्टारर सत्यमेव जयते 2 दर्शकों को इंप्रेस कर पाई?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

10 नंबरी

मलयालम एक्ट्रेस भावना मेनन ने 5 साल बाद अपनी किडनैपिंग और मोलेस्टेशन पर बात की

मलयालम एक्ट्रेस भावना मेनन ने 5 साल बाद अपनी किडनैपिंग और मोलेस्टेशन पर बात की

इस सब का आरोप एक्टर दिलीप के ऊपर है.

शाहरुख का बंग्ला 'मन्नत' उड़ाने की धमकी देने वाले जितेश ठाकुर को पुलिस ने किया गिरफ्तार

शाहरुख का बंग्ला 'मन्नत' उड़ाने की धमकी देने वाले जितेश ठाकुर को पुलिस ने किया गिरफ्तार

जितेश ने मन्नत समेत मुंबई में अन्य जगहों पर भी बम ब्लास्ट करने की धमकी दी थी.

येसुदास के 18 गाने: आखिरी वाला पहले नहीं सुना होगा, अब बार-बार सुनेंगे!

येसुदास के 18 गाने: आखिरी वाला पहले नहीं सुना होगा, अब बार-बार सुनेंगे!

इन तोप सिंगर ने इतने अवॉर्ड जीते कि 30 साल पहले कह दिया, 'अब मुझे नहीं, नए लोगों को अवॉर्ड दो'.

रश्मिका मंदाना का नाम लिए बगैर उनकी वजह से ट्रोल हो गए महेश बाबू

रश्मिका मंदाना का नाम लिए बगैर उनकी वजह से ट्रोल हो गए महेश बाबू

चाहे कोई कितना भी बड़ा सुपरस्टार हो, गलती दिखने पर पब्लिक किसी को नहीं बख्शती.

आर्मी-एयर फोर्स पर आनेवाली वो 7 फिल्में, जो 2022 को देशभक्ति के रंग में रंग देंगी

आर्मी-एयर फोर्स पर आनेवाली वो 7 फिल्में, जो 2022 को देशभक्ति के रंग में रंग देंगी

कुछ हिस्ट्री की वो कहानियां दिखाएंगी, जो हर इंडियन को जाननी चाहिए.

कपिल शर्मा ने बताया, कैसे पीएम मोदी को किया ट्वीट उन्हें 9 लाख रुपए का फटका दे गया

कपिल शर्मा ने बताया, कैसे पीएम मोदी को किया ट्वीट उन्हें 9 लाख रुपए का फटका दे गया

कपिल शर्मा ने नेटफ्लिक्स स्पेशल I Am Not Done Yet के ट्रेलर में अपने ड्रंक ट्वीट्स पर बात की.

वो लेखक, जिसके नाटकों को अश्लील, संस्कृति के मुंह पर कालिख मलने वाला बोला गया

वो लेखक, जिसके नाटकों को अश्लील, संस्कृति के मुंह पर कालिख मलने वाला बोला गया

जब एक नाटक में गुंडों ने तोड़फोड़ की, तो बालासाहेब ठाकरे को राज़ी करके उसका मंचन करवाया गया.

'स्वदेस' के 16 डायलॉग्स, जिन्होंने सिखाया कि देशभक्ति सिर्फ चीखने से नहीं साबित होती

'स्वदेस' के 16 डायलॉग्स, जिन्होंने सिखाया कि देशभक्ति सिर्फ चीखने से नहीं साबित होती

के. पी. सक्सेना की कलम का जादू पढ़िए.

जब सिनेमा मैग्ज़ींस ने रवीना टंडन का नाम उनके भाई के साथ जोड़ दिया

जब सिनेमा मैग्ज़ींस ने रवीना टंडन का नाम उनके भाई के साथ जोड़ दिया

हालिया इंटरव्यू में रवीना टंडन ने बताया कि उन्होंने कई रातें रोते-रोते गुज़ारी हैं.

नेटफ्लिक्स एंड चिल: 2021 में नेटफ्लिक्स पर आए कंटेंट में ये 26 फ़िल्में और शोज़ टॉप के हैं

नेटफ्लिक्स एंड चिल: 2021 में नेटफ्लिक्स पर आए कंटेंट में ये 26 फ़िल्में और शोज़ टॉप के हैं

हिंदी, इंग्लिश, तमिल, फ्रेंच, स्पेनिश, इटालियन, ब्राज़ीलियन जैसी तमाम भाषाओं के शोज़ और फ़िल्में हैं इस लिस्ट में.