Submit your post

Follow Us

'अनेक' ट्रेलर के ये 10 सेकंड हिंदी थोपने वाले तमाम लोगों के लिए ही बने हैं

आयुष्मान खुराना ने अनुभव सिन्हा की फिल्म ‘आर्टिकल 15’ से जॉनर ब्रेक करने की कोशिश की थी. अब वो फिर अनुभव सिन्हा के साथ मिलकर कुछ वैसा ही करने जा रहे हैं, उनकी नई फिल्म ‘अनेक’ के ज़रिए. ‘अनेक’ का ट्रेलर रिलीज़ हुआ है. फिल्म को लेकर कितनी एक्साइटमेंट जगा पाता है, उस पर बात करेंगे.

Anek Trailer 1
‘आर्टिकल 15’ के सिनेमैटोग्राफर इवान मुलीगन ने फिल्म पर यही रोल निभाया है.

# कहानी क्या है?

फिल्म में आयुष्मान ने जोशुआ नाम के एक एजेंट का रोल निभाया है. एक मिशन के चलते जोशुआ को देश के नॉर्थ-ईस्ट रीजन में भेजा जाता है. उसे अलगाववादियों से होने वाले खतरे को खत्म करना है. उनमें भी एक अलगाववादी ग्रुप है, जिसे जॉनसन नाम का शख्स लीड कर रहा है. जोशुआ अपने मिशन पर आगे क्या करता है, यही फिल्म की कहानी है.

# ट्रेलर कैसा है?

फिल्म सिर्फ एक एजेंट के मिशन पूरा करने की कहानी नहीं लगती. यहां ‘हम और वो’ वाला फ़र्क प्रधान रूप से दिखता है. कैसे नॉर्थ ईस्ट से आए लोगों के लिए रेसिस्ट बातों का इस्तेमाल होता है. एक और वजह से ये ट्रेलर अभी रेलेवेंट लगता है. कुछ दिन पहले अजय देवगन और किच्चा सुदीप के बीच हिंदी को लेकर ट्विटर पर बहस छिड़ी थी. उस बहस के बाद ‘अनेक’ के ट्रेलर से एक सीन और भी ज़बरदस्त लगता है. इस सीन में जोशुआ तेलंगाना के एक शख्स से पूछता है कि वो कहां से है. जवाब मिल जाता है. फिर पूछता है कि मुझे देखकर क्या लगता है कि मैं कहां से हूं. दूसरा शख्स कहता है कि नॉर्थ इंडिया से.

जोशुआ: ऐसा क्यों लगता है आपको?

दूसरा शख्स: क्योंकि तुम्हारी हिंदी साफ है.

जोशुआ: तो हिंदी डिसाइड करती है कि कौन नॉर्थ से है और कौन साउथ से.

Ayushmann Khurrana And Jd Chakravarthy
ट्रेलर के एक सीन में आयुष्मान खुराना और जेडी चक्रवर्ती.

जिस पर दूसरा शख्स मना करता है. जोशुआ झुंझलाहट में पूछता है कि फिर कैसे तय होता है कि कौन इंडियन है और कौन नहीं. ये सीन देखकर ‘आर्टिकल 15’ वाला सीन याद आता है, जहां पुलिस ऑफिसर बने आयुष्मान जाति पर सवाल पूछते हैं. ट्रेलर में ऐसे और भी हिस्से हैं, जहां पॉज़ कर के फिर से सुनने का मन करता है. ऐसे में जोशुआ को देखकर ऐसा लगता है कि वो इलाके में शांति चाहता है. लेकिन अलगाववादी ग्रुप की विचारधारा भी समझना चाहता है. फिल्म में इस कन्फ्लिक्ट को कैसे दिखाया जाएगा, ये देखने लायक होगा.

चूंकि ये एक एक्शन थ्रिलर है, इसलिए एक्शन वाले हिस्से को भी जगह मिलती है. बाकी फिल्म सिर्फ अपने एक्शन को कैश नहीं करना चाहती, इसका दिल अपनी सही जगह है. इसके पास कहने के लिए कुछ है. इतने प्लस पॉइंट्स के बाद ट्रेलर से बस एक शिकायत रह जाती है, कि यहां बहुत कुछ बता दिया. जिसे टाला जा सकता था. लेकिन इतने रीवील के बाद भी फिल्म को देखने की उत्सुकता रहती है.

# कब आ रही है?

‘अनेक’ 27 मई को सिनेमाघरों में रिलीज़ होगी. टी-सीरीज़ और अनुभव सिन्हा के प्रॉडक्शन हाउस बनारस मीडिया वर्क्स ने मिलकर फिल्म को प्रड्यूस किया है. फिल्म में आयुष्मान के अलावा मनोज पाहवा और कुमुद मिश्रा जैसे एक्टर्स भी हैं. नागालैंड की मॉडल और एक्ट्रेस एंड्रिया केविचूसा भी फिल्म में एक मेजर कैरेक्टर पोर्ट्रे करेंगी. उनका किरदार बॉक्सिंग में इंडिया को रीप्रिज़ेंट करना चाहता है, और इस दौरान फ़र्क महसूस करता है.

Anek Ayushmann Khurrana
आयुष्मान ने फिल्म में जोशुआ नाम के अंडरकवर एजेंट का रोल निभाया है.

‘मुल्क’ और ‘आर्टिकल 15’ पर सिनेमैटोग्राफर रहे इवान मुलीगन ही ‘अनेक’ के सिनेमैटोग्राफर भी हैं. अनुभव सिन्हा ने ‘खाली पीली’ के राइटर्स सीमा अग्रवाल और यश केसवानी के साथ मिलकर फिल्म का स्क्रीनप्ले लिखा है.


वीडियो: डॉक्टर स्ट्रेंज, स्ट्रेंजर थिंग्स-4, जयेशभाई जोरदार समेत ये फिल्में/सीरीज होंगी मई में रिलीज़

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

पोस्टमॉर्टम हाउस

फिल्म रिव्यू- हीरोपंती 2

फिल्म रिव्यू- हीरोपंती 2

ये फिल्म सिनेमा माध्यम का उपहास करती है.

मूवी रिव्यू: रनवे 34

मूवी रिव्यू: रनवे 34

‘रनवे 34’ की सबसे अच्छी बात ये है कि वो लाउड हीरोज़ के दौर में वैसा बनने की कोशिश नहीं करती.

सीरीज रिव्यू : गिल्टी माइंड्स

सीरीज रिव्यू : गिल्टी माइंड्स

कुछ बढ़िया ढूंढ़ रहे हैं, तो इसे देखना बनता है.

फिल्म रिव्यू- ऑपरेशन रोमियो

फिल्म रिव्यू- ऑपरेशन रोमियो

'ऑपरेशन रोमियो' एक फेथफुल रीमेक है. मगर ये किसी भी फिल्म के होने का जस्टिफिकेशन नहीं हो सकता.

फिल्म रिव्यू: जर्सी

फिल्म रिव्यू: जर्सी

फिल्म अपने इमोशनल मोमेंट्स को जितना जल्दी बिल्ड अप करती है, ठीक उतना ही जल्दी नीचे भी ले आती है.

वेब सीरीज़ रिव्यू: माई

वेब सीरीज़ रिव्यू: माई

सीरीज़ की सबसे अच्छी और शायद बुरी बात सिर्फ यही है कि इसका पूरा फोकस सिर्फ शील पर है.

शॉर्ट फिल्म रिव्यू- लड्डू

शॉर्ट फिल्म रिव्यू- लड्डू

एक मौलवी और बच्चे की ये फिल्म इस दौर में बेहद ज़रूरी है.

फिल्म रिव्यू- KGF 2

फिल्म रिव्यू- KGF 2

KGF 2 एक धुआंधार सीक्वल है, जो 2018 में शुरू हुई कहानी को एक सैटिसफाइंग तरीके से खत्म करती है.

फ़िल्म रिव्यू: बीस्ट

फ़िल्म रिव्यू: बीस्ट

विजय के फैन हैं तो ही फ़िल्म देखने जाएं. नहीं तो रिस्क है गुरु.

वेब सीरीज रिव्यू: अभय-3

वेब सीरीज रिव्यू: अभय-3

विजय राज ने महफ़िल लूट ली.