Submit your post

Follow Us

लॉकडाउन में अक्षय कुमार ने जिस शॉर्ट फिल्म की शूटिंग की थी, वो रिलीज़ हो गई

अक्षय कुमार ने कुछ दिनों पहले एक शॉर्ट फिल्म शूट की थी, जो बेसिकली सरकार का एक सोशल कैंपेन था. उस वक्त शूटिंग की कई सारी तस्वीरें सामने आई थीं. और अब वो शॉर्ट फिल्म रिलीज़ हो गई है. अक्षय ने खुद सोशल मीडिया पर उसे शेयर किया है. ट्विटर पर पोस्ट करते हुए उन्होंने लिखा,

‘इंडिया इस वक्त कोरोना से लड़ रहा है, इसलिए मेरी तरफ से काम पर लौटने की बात करती हुई एक शॉर्ट फिल्म आप लोगों के लिए पेश की जा रही है. काम पर लौटें, लेकिन तभी जब आपके शहर या राज्य का प्रशासन आपको ऐसा करने की सलाह दे. और इसे सुरक्षा के साथ करना न भूलें. चलो इंडिया, बदलकर अपना व्यवहार, करें कोरोना पर वार.’

डेढ़ मिनट का वीडियो है. इसमें अक्षय का किरदार ‘बबलू’ अपने काम पर लौटता है, तब गांव का सरपंच उसे ये कहकर रोकता है कि महामारी फैली हुई है. इस पर बबलू कहता है कि वो काम पर जा रहा है और पूरी सावधानी बरतते हुए काम करेगा. और फिर अगर उसे कुछ हो गया, तो सरकार ने इलाज के लिए पूरा इंतज़ाम कर रखा है.

इसके आगे ‘बबलू’ बताता है कि कोरोना के संकट के दौरान अगर कोई काम पर जाए, तो उसे क्या सावधानियां बरतनी होंगी. जैसे कि मास्क लगाना होगा, हाथ बार-बार धोना होगा और दूसरों से हर वक्त दो मीटर की दूरी पर रहना होगा. ऐसा करते हुए काम भी होगा और कोरोना से भी रक्षा होगी. फिर मेडिकल वर्कर्स और सफाई वर्कर्स के जज़्बे को सलाम करता है. ये सारी बातें सुनकर आखिर में सरपंच भी काम पर निकल पड़ते हैं.

फिल्म की शूटिंग 25 मई को कमलिस्तान स्टूडियो में हुई थी. अक्षय ने दो घंटे में ही इसे शूट कर दिया था. केवल चुनिंदा लोग मौजूद थे और वहां पर भी साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखा गया था. शूटिंग के लिए बाकायदा मुंबई पुलिस और बीएमसी से परमिशन ली गई थी.

इसे भी पढ़ें-

लॉकडाउन में अक्षय ने ऐसे शूटिंग की है कि आप देखकर सैनिटाइज़र लगा लेंगे


वीडियो देखें: अक्षय कुमार ने 1500 मजदूरों के बैंक अकाउंट में सीधे पैसा भेज दिया

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

10 नंबरी

शेन वॉर्न की बॉल ऑफ़ द सेंचुरी के अलावा 5 गेंदें जो भुलाई नहीं जा सकतीं

आज ही के दिन सदी की महानतम गेंद फेंकी गई थी.

इबारत : मशहूर लेखक फ्रेंज काफ़्का ने अपना लिखा ज़्यादातर जला क्यों दिया?

उसके बाद भी दुनिया ने काफ्का को वो जगह दी जिसके वो हक़दार थे.

थॉमस हार्डी जिनकी पहली क़िताब किसी ने नहीं छापी लेकिन बाद में दुनिया ने सराहा

एक से बढ़कर एक उपन्यास लिखे हैं थॉमस हार्डी ने.

इबारत : हेलेन केलर, जो देख-सुन नहीं सकतीं थीं लेकिन दुनिया को रास्ता दिखाया !

और उनके सीखने सिखाने की लगन ने साहित्य को नायाब तोहफ़ा दिया.

वो फिल्म जिसमें काजोल का मर्डर कर, आशुतोष राणा ने फिल्मफेयर जीत लिया

काजोल के साथ ब्लॉकबस्टर फिल्में दे चुके शाहरुख ने इस फिल्म में काम करने से मना क्यों कर दिया?

इंडिया का वो ऐक्टर, जिसे देखकर एक्टिंग की दुनिया के तमाम तोपची नर्वस हो जाएं

नर्वस होने की लिस्ट में शाहरुख़, सलमान, आमिर सबके नाम लिख लीजिए.

वेंडल रॉड्रिक्स, जिन्होंने दीपिका को रातों-रात मॉडल और फिर स्टार बना दिया?

आज वेंडेल रोड्रिक्स का बड्डे है.

घोड़े की नाल ठोकने से ऑस्कर तक पहुंचने वाला इंडियन डायरेक्टर

इन्हें अंग्रेज़ी नहीं आती थी, अमेरिका जाते वक्त सुपरस्टार दिलीप कुमार को साथ लेकर गए थे. हॉलीवुड के डायरेक्टरों की बात समझने के लिए.

इबारत : नेहरू की ये 15 बातें देश को हमेशा याद रखनी चाहिए

नेहरू के कहे-लिखे में से बेहतरीन बातें पढ़िए

अमिताभ की उस फिल्म के 6 किस्से, जिसकी स्क्रीनिंग से डायरेक्टर खुद ही उठकर चला गया

अमिताभ डायरेक्टर के पीछे-पीछे भागे, तब जाकर वो रुके.