Submit your post

Follow Us

क्या हुआ जब एक रोती हुई बच्ची का वीडियो वायरल होकर मुख्यमंत्री तक पहुंचा

मणिपुर के सीएम बीरेन सिंह ने एक 9 साल की लड़की को राज्य के ग्रीन मिशन का एंबैसडर बनाया है. इसकी वजह बहुत ही प्यारी है. सीएम बीरेन सिंह ने ये फैसला बच्ची का वायरल वीडियो देखने का बाद लिया. जिस वीडियो में पर्यावरण और पेड़ों के प्रति बच्ची का प्यार देखते ही बनता है.

वायरल वीडियो में क्या है?

एक 9 साल की लड़की है. जिसका नाम वैलेंटीना एलैंगबैम है. जो ज़ोर-ज़ोर से रो रही थी. वीडियो बनाने वाला रोने की वजह पूछता है तो लड़की बताती है उसने 2 पेड़ लगाए थे जिन्हें काट दिया गया है. वो पूछता है कि अब कितने पेड़ लगाओगी. तब रोते हुए जवाब देती है कि 20 पेड़. उसके बाद वो वीडियो बनाने वाले को उस जगह लेकर जाती है जहां उसके पेड़ों को काट दिया जाता है.

ये वीडियो मणिपुर के कैकचिंग ज़िला का है. जहां सड़कों के चौड़ीकरण के लिए जेसीबी मशीन चलाई गई. जिसमें झाड़ियों के साथ कई पेड़ उखाड़ दिए गए. इन पेड़ों में लड़की का गुलमोहर का पेड़ भी था.

वीडियों में  उखड़ा हुआ पेड़ देखकर लड़की फूट-फूटकर रोती है. वीडियो बनाने वाला फिर पूछता है कि पेड़ों को कब लगाया. तभी लड़की ने जवाब दिया कि जब वो पहली क्लास में थी तभी उसने पौधा लगाया. आज वो पांचवी क्लास में पहुंच गई थी और पेड़ों की ऊंचाई उसकी हाइट से ज्यादा हो चुकी थी.

लड़की का रोता हुआ वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया. ये वीडियो राज्य के सीएम बीरेन सिंह के पास भी पहुंचा. इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत में मणिपुर के सीएम बीरेन सिंह ने कहा-

मैंने उसे फ़ेसबुक पर पोस्ट किए गए एक वीडियो में रोते हुए देखा कि दो पेड़ जो उसने लगाए थे वो काट दिए गए. वीडियो देखने के बाद मैंने कैकचिंग के एसपी को लड़की के घर जाकर उसे सांत्वना देने के लिए कहा. साथ ही कुछ पौधे भी देने को कहा. 18 जुलाई को हमने मुख्यमंत्री ग्रीन मणिपुर मिशन की शुरुआत की थी. वीडियो देखने के बाद मुझे अचानक से ध्यान आया कि क्यों न इस बच्चे को ग्रीन एंबैसडर बना दिया जाए.

उसके बाद वैलेंटीना के एबैंसडर बनाए जाने की जानकारी सीएम बीरेन सिंह ने ट्विटर और फेसबुक दोनों के ज़रिए साझा की. ट्विटर पर उन्होंने लिखा-

वे 2 पेड़ों को काटने के लिए रोती है, जो उसने तब लगाए थे जब वह केवल पहली क्लास में थी. हम उसके घर गए, उसे कई पौधे देकर उसे सांत्वना देने की कोशिश की. अब वह राज्य सरकार के ग्रीन मणिपुर मिशन के लिए “ग्रीन एंबैसडर” बनेगी. आइये इन्हें फॉलो करते हैं, प्रकृति का बचाते हैं.

वैलेंटीन को एक साल के लिए मुख्यमंत्री ग्रीन मणिपुर मिशन का एंबेसडर बनाया गया है. जिससे लोग पेड़ लगाने और पर्यावरण के प्रति जागरूक हो सके.


वीडियो: दुनिया भर के जानवर खाने वाले बेयर ग्रिल को एक मेंढक बहुत महंगा पड़ा था

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

10 नंबरी

देखिए सुषमा स्वराज की 25 दुर्लभ तस्वीरें, हर तस्वीर एक दास्तां है

सुषमा की ज़िंदगी एक खूबसूरत जर्नी थी, और ये तस्वीरें माइलस्टोंस.

नौशाद ने शकील बदायूंनी को कमरे में बंद कर लिया, तब जाकर 'टाइमलेस' गीत जन्मा

नन्हा मुन्ना राही हूं, मन तड़पत हरि दर्शन को, जैसे कई गीत रचने वाले बदायूंनी का आज जन्मदिन है.

वो गाना जिसे गाते हुए रफी साहब के गले से खून आ गया

मोहम्मद रफी के कुछ रोचक मगर कम चर्चित किस्से.

रफाल तो अब आया, इससे पहले भारत किन-किन फाइटर प्लेन से दुश्मनों का दिल दहलाता था

'इंडियन एयरफोर्स कोई चुन्नु-मुन्नु की सेना नहीं है.'

टेलीग्राम ने 2GB फ़ाइल शेयर करने का ऑप्शन शुरू किया, साथ में वॉट्सऐप के मज़े भी ले लिए

वॉट्सऐप तो बस 16MB की फ़ाइल पर सरेंडर कर देता है

15,000 रुपए के अंदर 32 इंची स्मार्ट टीवी के कितने बेहतर ऑप्शन मौजूद हैं

अब तो टीवी भी बहुत स्मार्ट हो चला है.

कोरोना काल में भी रेलवे ने ये 'तीसमार खां' टाइप काम कर डाले

क्या रेलवे के दिन फिर जाएंगे?

विकास दुबे एनकाउंटर मामले की जांच करने वाले पैनल के तीन सदस्य कौन हैं?

योगी सरकार में एनकाउंटर की जांच को लेकर सवाल उठते रहे हैं.

'इक कुड़ी जिदा नां मुहब्बत' वाले शिव बटालवी ने बताया कि हम सब 'स्लो सुसाइड' के प्रोसेस में हैं

इन्होंने अपनी प्रेमिका के लिए जो 'इश्तेहार' लिखा, वो आज दुनिया गाती है

इस महीने कौन-कौन से फोन लॉन्च हुए, क्या-क्या नया आने वाला है

जुलाई में फ़ोन तो बरसाती मेढक की तरह फुदक रहे हैं!