Submit your post

Follow Us

बेटी के इलाज के बदले बंगाल के जमींदार ने वायसराय को अपना बगीचा दिया था, जो बाद में बना 'ईडन गार्डन'

गुजरात के अहमदाबाद में दुनिया का सबसे बड़ा स्टेडियम बनकर तैयार है. नरेंद्र मोदी स्टेडियम. लगे हाथ भारत के सबसे बड़े 5 क्रिकेट स्टेडियम के बारे में जान लेते हैं.

#1 नरेंद्र मोदी स्टेडियम

कहां है – अहमदाबाद, भारत

दर्शक क्षमता – करीब 1 लाख, 10 हज़ार

किसके नाम पर – देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी. (2014 से वर्तमान)

Narendra Modi Stadium (3)
दर्शक संख्या के लिहाज से दुनिया का सबसे बड़ा क्रिकेट स्टेडियम. नरेंद्र मोदी स्टेडियम. (फोटो- PTI)

गुजरात के अहमदाबाद में बसा स्टेडियम. नाम पहली बार सुना हुआ लग रहा हो तो चकराइए नहीं. अब तक इसी स्टेडियम को आप सरदार पटेल स्टेडियम या मोटेरा के नाम से जानते आए हैं. स्टेडियम 1982 में बनकर तैयार हुआ था. 2016 में इसे रिनोवेट किया गया और दर्शक क्षमता को करीब दो गुना बढ़ाया गया. भारत-इंग्लैंड के बीच चार मैच की टेस्ट सीरीज का तीसरा, चौथा मैच यहीं खेला जा रहा है.

पुराने स्टेडियम को गिराकर नया स्टेडियम बनाने का जब प्रस्ताव लाया गया तो नरेंद्र मोदी गुजरात के मुख्यमंत्री थे. नए स्टेडियम के उद्घाटन के मौके पर गृहमंत्री अमित शाह ने बताया कि नरेंद्र मोदी ने स्टेडियम के निर्माण में बड़ी मदद की. इसी वजह से स्टेडियम को ये नाम दिया गया.

#2 ईडन गार्डन

कहां है – कोलकाता, भारत

दर्शक क्षमता – करीब 66 हज़ार

किसके नाम पर – वायसराय लॉर्ड ऑकलैंड ईडन. (1864 में वायसराय)

Eden Garden (1)
ईडन गार्डन, कोलकाता. (फाइल फोटो- Getty)

ईडन गार्डन को भारत में क्रिकेट का मक्का कहा जाता है. देश के सबसे सफल कप्तानों में शुमार सौरव गांगुली का होम टाउन. भारत में होने वाली किसी भी बड़ी सीरीज़ में ईडन गार्डन को मैच ज़रूर मिलते हैं. IPL का भी बड़ा वेन्यू है क्योंकि कोलकाता नाइट राइडर्स की टीम खेलती है. यहां पहला टेस्ट मैच जनवरी 1934 में खेला गया था.

कहा जाता है कि 1864 के करीब कोलकाता के एक जमींदार थे. बाबू राजचंद्र दास. उनकी एक बिटिया को बड़ी बीमारी हो गई. विदेश से इलाज में मदद चाहिए थे. बाबू दास ने अपना एक बगीचा उस वक्त के वायसराय लॉर्ड ऑकलैंड ईडन को दिया. बदले में वायसराय ने उनकी बिटिया का इलाज कराया. बाद में वायसराय ने इस बगीचे की जगह खेल का मैदान बनवा दिया. उन्हीं के नाम पर स्टेडियम को नाम मिला – ईडन गार्डन.

#3 शहीद वीर नारायण सिंह स्टेडियम

कहां है – रायपुर

दर्शक क्षमता – करीब 65 हज़ार

किसके नाम पर – स्वतंत्रता सेनानी वीर नारायण सिंह

Raipur Stadium
रायपुर का स्टेडियम. (फाइल फोटो)

इस टॉप-5 की लिस्ट में ये नरेंद्र मोदी स्टेडियम के बाद सबसे नया बना स्टेडियम है. 2008 में ये स्टेडियम बनकर तैयार हुआ. 2010 में यहां पहला घरेलू मैच खेला गया, जो कि टाई रहा था. दर्शक क्षमता के हिसाब से तो ये बड़ा मैदान है, लेकिन अभी तक यहां एक भी इंटरनेशनल मैच नहीं हुआ है. लिहाजा मैदान की बाकी सुविधाएं अभी टेस्ट होनी बाकी हैं.

शहीद वीर नारायण सिंह का यूं तो पूरे देश में, लेकिन ख़ास तौर पर रायपुर में बड़ा मान है. स्वतंत्रता सेनानी थे. 1857 के प्रथम स्वतंत्रता संग्राम में उन्होंने जेल से भागकर अंग्रेजों के ख़िलाफ लड़ाई में हिस्सा लिया था. क्रांति असफल रही और वीर नारायण सिंह भी गिरफ्तार हो गए. 1857 में ही उन्हें रायपुर के एक चौक पर फांसी दे दी गई. उन्हीं के नाम पर इस स्टेडियम का नाम है.

#4 राजीव गांधी स्टेडियम

कहां है – हैदराबाद

दर्शक क्षमता – करीब 60 हज़ार

किसके नाम पर – राजीव गांधी, प्रधानमंत्री (1984 से 89 तक)

Rajiv Gandhi Stadium
हैदराबाद का राजीव गांधी स्टेडियम. (फाइल फोटो)

2003 में ये स्टेडियम बनकर तैयार हुआ था और फिलहाल IPL में सनराइजर्स हैदराबाद का होम ग्राउंड है. भारत के अच्छे मैदानों में गिना जाता है और पहला टेस्ट मैच यहां 2010 में खेला गया था.

जवाहर लाल नेहरू के नाती, इंदिरा गांधी के पोते, 1984 से 89 तक देश के प्रधानमंत्री. राजीव गांधी का नाम भारतीय राजनीति में किसी परिचय का मोहताज नहीं है. उनके नाम पर ही इस स्टेडियम का नाम रखा गया है.

#5 एमए चिदंबरम स्टेडियम

कहां है – चेन्नई,तमिलनाडु

दर्शक क्षमता – करीब 50 हज़ार

किसके नाम पर – एमए चिदंबरम, पूर्व क्रिकेट प्रशासक

Chennai Stadium
चेन्नई का एमए चिदंबरम स्टेडियम, जिसे चेपॉक भी कहा जाता है. (फाइल फोटो- PTI)

एमए चिदंबरम स्टेडियम देश के बेहतरीन टेस्ट सेंटर्स में से गिना जाता है. ये देश का सबसे पुराना क्रिकेट स्टेडियम भी है. 1934 में यहां पहला मैच खेला गया था. IPL में चेन्नई सुपरकिंग्स टीम का होमग्राउंड होने की वजह से इस मैदान को और भी लोकप्रियता मिली. चेन्नई के दर्शकों को क्रिकेट का प्रेमी माना जाता है. इसका बड़ा उदाहरण है 1999 का भारत-पाकिस्तान टेस्ट. भारत वो मैच हार गया था, लेकिन दर्शक दोनों टीमों के प्रदर्शन से इतने प्रभावित हुए कि टीमों को स्टैंडिंग ओवेशन दिया.

एमए चिदंबरम देश के मशहूर इंड्रस्ट्रियलिस्ट और क्रिकेट प्रशासक थे. 1956 में वे BCCI के उपाध्यक्ष बने. इसके बाद 1960-61 और 1962-63 में दो बार अध्यक्ष भी रहे. बाद में करीब 32 साल तक तमिलनाडु क्रिकेट असोसिएशन के अध्यक्ष रहे. उनके नाम पर ही स्टेडियम का नाम रखा गया.


नरेंद्र मोदी स्टेडियम के अलावा इन स्टेडियमों के बारे में आप कितने जानते हैं?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

पोस्टमॉर्टम हाउस

'जुरासिक पार्क' जैसी मूवी के डायरेक्टर ने सत्यजीत राय की कहानी कॉपी करके झूठ बोला!

'जुरासिक पार्क' जैसी मूवी के डायरेक्टर ने सत्यजीत राय की कहानी कॉपी करके झूठ बोला!

जानिए क्यों राय अपनी वो हॉलीवुड फिल्म न बना पाए, जिसकी कॉपी सुपरहिट रही थी, और जिसे फिर बॉलीवुड ने कॉपी किया.

'राधे: योर मोस्ट वांटेड भाई' का ट्रेलर, जिसमें सलमान खान विलन की बिरयानी तक खाने की धमकी दे रहे

'राधे: योर मोस्ट वांटेड भाई' का ट्रेलर, जिसमें सलमान खान विलन की बिरयानी तक खाने की धमकी दे रहे

भाई जो कर दें, वही एक्टिंग है और जो बोल दें, वही डायलॉग.

कैसा है 'F9' का ट्रेलर, जिसमें विलेन के रूप में WWE का बहुत बड़ा खिलाड़ी आया है?

कैसा है 'F9' का ट्रेलर, जिसमें विलेन के रूप में WWE का बहुत बड़ा खिलाड़ी आया है?

फिल्म इस साल जुलाई में आने वाली है.

Realme LED Smart Bulb रिव्यू: फ़ोन से कंट्रोल होने वाले इस बल्ब की आपको कितनी ज़रूरत है?

Realme LED Smart Bulb रिव्यू: फ़ोन से कंट्रोल होने वाले इस बल्ब की आपको कितनी ज़रूरत है?

12W का रियलमी LED स्मार्ट बल्ब 999 रुपए का है.

26/11 अटैक में शहीद मेजर संदीप पर बनी फिल्म के टीज़र की सबसे रोचक बात पता है आपको?

26/11 अटैक में शहीद मेजर संदीप पर बनी फिल्म के टीज़र की सबसे रोचक बात पता है आपको?

फिल्म का 'टीज़र' लॉन्च हुआ है.

फिल्म रिव्यू- कर्णनन

फिल्म रिव्यू- कर्णनन

सारी लड़ाई इसी ऊंच-नीचे अंतर को खत्म करने की है. जमीन पर नहीं, तो दिमाग में सही.

फिल्म रिव्यू- वकील साब

फिल्म रिव्यू- वकील साब

एक मजबूत कोर्ट रूम ड्रामा है, जिसमें किसी मसाला फिल्म जितना मज़ा है.

Realme C21 रिव्यू: फ़ोन की भीड़ में एक और बजट डिवाइस!

Realme C21 रिव्यू: फ़ोन की भीड़ में एक और बजट डिवाइस!

C-सीरीज़ का सर कंफ्यूजन दूर कर लीजिए

मूवी रिव्यू: द बिग बुल

मूवी रिव्यू: द बिग बुल

'स्कैम 1992' से जिस फिल्म की तुलना हो रही थी, वो आखिर है कैसी?

फिल्म रिव्यू: गॉडज़िला वर्सेज़ कॉन्ग

फिल्म रिव्यू: गॉडज़िला वर्सेज़ कॉन्ग

विशाल दैत्यों पर बनी ये फिल्म 'जुरासिक पार्क' जैसी फिल्म से कितनी अलग है?