Submit your post

Follow Us

नोटबंदी के दौरान PM मोदी ने भी एक अफवाह उड़ाई थी, जानते हो क्या?

5
शेयर्स

मित्रो…यूं तो पीएम मोदी अकसर इसे बोला करते हैं, मगर 8 नवंबर वाला मित्रो जिन्होंने सुना, वो इसे भुला नहीं पाएंगे. बोरों में भरके पैसा रखने वाले जो तथाकथित लोग होते हैं, उन पर ये परमाणु बम की तरह गिरा था. और जिनके पास पैसा नहीं, था तो उनके लिए भी ये परमाणु बम ही. काहे से वो खुद को एंटी परमाणु बंकर में समझ रहे थे और मान के बैठे थे कि सारे अमीर तो मरे. हुआ क्या, खुली आंखों से देखने पर सब दिखता है. खैर एक बार फिर ये किसी के लिए मुबारक, किसी के लिए बेकार दिन आ गया है. 8 नवंबर. पर साल 2019 है. कोई हैपी बर्थडे मना रहा है. कोई बरसी बता रहा है. हम इन सब झमेलों में नहीं पड़ेंगे. काहे से हमाए पास फालतू टाइम नहीं है. और आपको बताने के लिए वो 10 अफवाहे हैं जो नोटबंदी से अब तक सोशल मीडिया और बातों के बताशे से लोगों तक पहुंचीं और तहलका मचाए रहीं-

नोटों में चिप लगी होने की खबर से पैन ड्राइव खुआ चुके लोगों को बड़ी राहत मिली थी.
नोटों में चिप लगी होने की खबर से पैन ड्राइव खुआ चुके लोगों को बड़ी राहत मिली थी.

1. नोटों में चिप है, सैटेलाइट से पकल्ल लेंगे
दादा रे दादा. ये अफवाह सुनके धन्नासेठों को सांप सूंघ गया तो आम लोग फूले नहीं समा रहे थे. दो हजार के नए नोटों में चिप लगे होने की बात पर सबने खूब खेला. फिर इसमें बताई जा रहीं थ्योरियां तो और भी गजब थीं. माने चिप में जीपीएस डिवाइस होगी. जोकि सीधा सैटेलाइट से कनेक्टेड रहेगी. जब चाहे इन नोटों को ट्रैक किया जा सकेगा. जमीन से 120 मीटर अंदर भी इन्हें ट्रैक किया जा सकता है. कहीं ज्यादा पैसा मिला तो इनकम टैक्स विभाग वहां जाकर उसे जब्त कर लेगा. कसम से, नोट ना हो गया रॉकेट हो गया. इस पर वित्त मंत्री अरुण जेटली ने साफ किया था कि नोट में ऐसी कोई चिप नहीं है.

2. नमक खत्म हो गया, अब तो गांधी जी भा ना आएंगे
थ्री इडियट्स में राजू की मां ने बोला था- बेटा पनीर तो कुछ दिन बाद सोनार की दुकान में सोने के भाव बिकेगा. पनीर तो पीछे रह गया, नमक के लिए लोग पगला गए. नोटबंदी के तीन दिन बाद यही हुआ था. अचानक बैंक में लाइन लगाए लोग नमक की दुकानों पर लाइन लगाए खड़े थे. 10-20 रुपये किलो वाला नमक लोग 100-200 के भाव में खरीदने में जुटे थे. दरअसल किसी ने ये अफवाह उड़ा दी कि देश में नमक खत्म हो गया है. मिलेगा भी तो बहुत महंगा. बाद में ये बात भी हवाबाजी निकली थी.

नमक के लिए ऐैसी लाइन लगी कि लोगों को इसका ऐसे प्रचार करना पड़ा.
नमक के लिए ऐसी लाइन लगी कि लोगों को इसका ऐसे प्रचार करना पड़ा.

3. 50-100 के नोट भी बंद होंगे, आधार चलता रहेगा
500-1000 के नोट बदलवा के लोग 50-100 के नोट में तहा ही रहे थे कि अफवाह उड़ गई 50-100 के नोट भी बंद हो रहे हैं. जिनके पहले अटैक नहीं पड़ा था, उनके लिए ये अफवाह तो अटैक वाली ही थी. इसी बीच 5-10 के सिक्कों के बंद होने की बात भी फैल गई. इससे बाजारों में बड़ी अफरातफरी फैली रही. हालांकि ऐसा कुछ भी नहीं हुआ.

4. सोना जब्त करेगी सरकार, अब कैसे सजोगी सजना के लिए
नोटों की तहाई और छुपाई चल ही रही थी कि एक खबर जंगल में आग की तरह फैली. कहा गया कि सरकार बैंक लॉकर को सील करने के साथ-साथ सोने, चांदी, हीरे और अन्य ज्वैलरी को जब्त करेगी. माताओं-बहनों पर तो ये एकदम सर्जिकल स्ट्राइक की तरह थी. इस पर प्रेस इंफॉर्मेशन ब्यूरो ने ट्वीट कर साफाई दी थी कि ऐसी किसी अफवाह पर यकीन न करें.

सोना जब्त होने की खबर पर आखिरी बार सजकर खुद को देखती महिला.
सोना जब्त होने की खबर पर आखिरी बार सजकर खुद को देखती महिला.

5. बैंक जाएंगे हड़ताल पर, घुसो का बोर्ड लगाओ
नोट बदलवाने में पसीना बहा रहे लोगों को बैंक मंदिर नजर आ रहे थे. जितना प्रसाद यानी नोट मिल जाए लोग संतोष कर रहे थे. इस बीच खबर उड़ी कि बैंक हड़ताल करने जा रहे हैं. उनके कर्मचारियों पर काफी वर्कलोड हो गया है. लोगों को लगा अब का करेंगे. 50 दिन मिले हैं नोट बदलवाने के लिए उसमें भी ये हड़ताल. हालांकि खबर झूठ निकली. 15 नवंबर को वित्त मंत्रालय ने इसे आधारहीन अफवाह बताया.

6. नोटों को रंग छूटा और लोगों का पसीना
2000 के नोट में चिप के सदमे से लोग अभी उबर नहीं पाए थे कि एक और लकड़ी आ गई. कहा गया कि बैंक 2000 के नकली नोट दे रहे हैं. यह अफवाह ऐसे उड़ी कि कुछ नोटों ने पानी से भीगने पर रंग छोड़ दिया होगा. बस लोग उड़ा दिए कि जो गुलाबी नोट रंग छोड़ रहे हैं, वो नकली हैं. अब जिसे चेक करने का शौक हो, वो नहला के देखे. यह अफवाह इतनी फैली कि आर्थिक मामलों के वित्त सचिव शक्तिकांत दास ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर सफाई दी. बताया कि नोट अगर गीले कपड़े से साफ किए जाने पर रंग छोड़ता है तो वह असली है.

7. बोरन में भरकर गंगा में नोट मिल रहे हैं
ये अफवाह उन लोगों को बहुत सुख-शांति दे रही थी जो मान के बैठ गए थे सारे अमीर, कालेधन वाले धन्नासेठ तो गए. माने गंगा माता अब तक सिक्कों से ही खुश की जा रही थीं. मगर अब तो सीधा बोरा भरकर नोट चढ़ाए जा रहे हैं. जगह-जगह से नदियों में नोट मिलने की बातें सामने आईं. माने मिले 1 तो बताओ 1000 वाला मामला था ये.

गंगाजी में बोरन में मिले पाव भर नोट.
गंगाजी में बोरन में मिले पउवा भर नोट.

8. बंद होगा 2000 का नोट, मेहनत बेकार
ये बात सुनके धन्नासेठों का हाथ उनके दिल के ऊपर चला जाता है. रह-रहके ये अफवाह आएदिन सोशल मीडिया पर तमाम लोगों की नींद हराम करती रहती है. और अब तो 2000 के नकली नोट और आधे-अधूरे नोट सीधा बैंक एटीएम से निकलने की बात सामने आ रही है. तो सरकार के पास फिर ये मौका है. यही तर्क देकर लोग इस पर अकसर मजे लेते रहते हैं. खैर लोग ले रहे हैं मजा तो ले लें, मोदी जी ने मजा ले लिया तो बहुतों को अस्पताल जाना पड़ेगा.

9. प्रॉपर्टी पर सर्जिकल स्ट्राइक, वीडियो भी बनेगा प्रॉपर्टी
बेनामी संपत्ति पर तो पहले दिन से ही रायता फैला हुआ है. पीएम मोदी भी बीच-बीच में इस पर शिगूफा छोड़ा ही करते हैं. हाल ही में हिमाचल में भी बेनामी संपत्ति पर नकेल की बात कह आए हैं. मगर मोदीजी से फास्ट वॉट्सऐप यूनिवर्सिटी के लौंडे हैं. आएदिन प्रॉपर्टी पर बम गिराया करते हैं. फैलाया तो ये भी जा रहा है कि नोटबंदी का हैपी बड्डे मनाते हुए पीएम ये प्रॉपर्टी का केक काट सकते हैं.

जो फायदे गिनाए थे, उनसे आइस-पाइस खेलते पीएम मोदी.
जो फायदे गिनाए थे, उनसे आइस-पाइस खेलते पीएम मोदी.

10. आखिरी और सबसे बड़ी अफवाह भी सुन ल्यो
सबसे बड़ी अफवाह तो 8 नवंबर, 2016 को खुद पीएम मोदी ने उड़ाई थी. कहा था- देश की अर्थव्यवस्था मजबूत होगी. ग्रोथरेट 1-2% बढ़ने की उम्मीद जताई थी. मगर उसकी कमर कैसी टूटी ये बताने की कोई ज़रूरत नहीं है. निर्मला सीतारमण के पसीने छूटे जा रहे हैं. कहा कि नकली नोट खत्म हो जाएंगे. जबकि आए दिन नकली नोट पकड़े जा रहे हैं. नकली वाले भी अब ऐसे हैं कि लोग असली वाले को नकली मान बैठें. माने नए नोट के 31 में से 25 फीचर्स तक कॉपी कर लिए जा रहे हैं. कहा था कि कालाधन खत्म हो जाएगा. पर ये कालाधन था क्या- 99 फीसदी से ज़्यादा नोट तो वापस बैंक लौट आए. अमीर और कालाधन रखने वाले जेल जाएंगे. जेलों और सबको उस अजीज दिन का इंतजार है. कहा गया कि आतंकवाद खत्म हो जाएगा. कश्मीर और बॉर्डर पर आए दिन हमले कौन कर रहा है फिर. अभी तक तो ये सब अफवाह ही लग रहा है. आगे कुछ जादू हो जाए तो कह नहीं सकते.


लल्लनटॉप वीडियो देखिए- 

ये भी पढ़ें:

नोटबंदी के एक साल पूरे होने पर नया नोट जारी हुआ है!

नोटबंदी के वक्त चिल्ड्रेन बैंक वाले नोटों का जो इस्तेमाल हुआ वो चौंकाने वाला है

जानिए, आदमी के पेट में कैसे पहुंच गईं लोहे की 639 कीलें

इंडिया में वो जगह जहां लोग हाथियों की लीद में से खाना निकाल कर खा रहे हैं

दुनिया में आपने बहुत कुछ देखा होगा, ऐसी लाइब्रेरी नहीं दखी होगी

 

 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

पोस्टमॉर्टम हाउस

फिल्म रिव्यू: मर्दानी 2

ये फिल्म आपके दिमाग में बहुत कुछ सोचने-समझने के लिए छोड़ती है और अपने हालातों पर रोती हुई खत्म हो जाती है.

क्या किया उस बच्ची ने, जिसकी मां की जान मछली में थी और बच्ची को उसे बचाना ही था?

अगर मछली मर जाती, तो मां भी नहीं बचती. #चला_चित्रपट_बघूया.

इनसाइड एज 2 रिव्यू: नेताओं की सत्ता, एक्टर्स की साख पे बट्टा और क्रिकेट का सट्टा

खेल की पॉलिटिक्स और पॉलिटिक्स का खेल. जानिए क्या होता है जब पार्टनर्स, राइवल्स हो जाते हैं?

अमिताभ के रहस्यमय लुक वाली फिल्म, जिसे रिलीज़ करने के लिए वो न जाने किस-किस से हाथ जोड़ रहे हैं

'पिंक', 'विकी डोनर' और 'पीकू' जैसी फिल्मों को बनाने वाले शूजीत सरकार की बतौर डायरेक्टर ये दूसरी फिल्म थी.

फिल्म रिव्यू- पानीपत

सवाल ये है कि आशुतोष गोवारिकर की मैग्नम ओपस 'पानीपत' अपना पानी बचा पाती है या इनकी भैंस भी पानी में चली जाती है?

पति पत्नी और वो: मूवी रिव्यू

ट्रेलर देखकर कितनों को लग रहा था कि ये एक बेहद फूहड़ मूवी है? उस सबके लिए एक सरप्राइज़ है.

फिल्म रिव्यू: कमांडो 3

इस फिल्म में विद्युत का एक्शन देखकर आप टाइगर श्रॉफ पर 'किड्स' वाला जोक मारने के लिए मजबूर हो जाएंगे.

होटल मुंबई: मूवी रिव्यू

‘होटल मुंबई’ एक बेहतरीन मूवी है. लेकिन इसे 'बेहतरीन' कहते हुए आप गिल्ट तले दब जाते हो.

रामगोपाल वर्मा की मूवी में पीएम मोदी, अमित शाह और चंद्रबाबू नायडू ही नहीं, और भी कई राजनेता हैं

पिक्चर तो रामू ने बना दी. अब रिलीज़ कैसे करेंगे?

पागलपंती: मूवी रिव्यू

फिल्म के ट्रेलर में ही अनिल कपूर कह देते है,'और हां तुम लोग दिमाग मत लगाना'.