Submit your post

Follow Us

West Bengal Election Results: जहां आसमान से हथियार गिरे थे, वहां किसके लिए वोट गिरे हैं

सीट का नामः जॉयपुर (पुरुलिया)

17 दिसंबर 1995 की रात पश्चिम बंगाल की पुरुलिया नामक जगह पर आकाश से AK 47 और गोला-बारूद गिरने लगा. कौन ये हथियार लाया, क्यों लाया, इसका कुछ सही-सही पता तो नहीं चला लेकिन इस घटना की वजह से पुरुलिया नाम का यह गुमनाम जिला देश भर में मशहूर हो गया.

पुरुलिया की जॉयपुर विधानसभा सीट पर इस बार इलेक्शन से पहले ही बड़ा उलट-फेर हो गया था. तृणमूल कांग्रेस के प्रत्याशी उज्ज्वल कुमार का नामांकन खारिज हो गया. इसके बाद कलकत्ता हाईकोर्ट ने नामाकंन रद्द करने के चुनाव आयोग के फैसले को बदल दिया है. हालांकि इस सीट पर टीएमसी का कैंडिडेट चुनाव नहीं लड़ा. लेकिन अचानक 23 मार्च को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने निर्दलीय प्रत्याशी दिव्यज्योति सिंह को समर्थन देने की घोषणा कर दी. इधर बीजेपी ने नरहरि महतो को उम्मीदवार बनाया था. ऐसा होने से यहां मुकाबला कांग्रेस के फणीभूषण कुमार और भाजपा के नरहरि महतो के बीच सीधा मुकाबला हुआ.

बीजेपी के नरहरि महतो ने कांग्रेस के फणीभूषण कुमार को 12,200 वोटों से हरा दिया.

कौन जीता?

नरहरि महतो ( BJP)
कितने वोट मिले: 74,380

कौन हारा?

फणीभूषण कुमार (Congress)
कितने वोट मिलेः 62,180

 

पिछले चुनाव के नतीजे

# 2016 के चुनाव में इस सीट से तृणमूल कांग्रेस पार्टी के उम्मीदवार शक्तिपद महतो जीते थे. उन्होंने ऑल इंडिया फॉरवर्ड ब्लॉक के धीरेंद्र नाथ महतो को 8763 वोटों से हराया था.

# 2011 में ऑल इंडिया फॉरवर्ड ब्लॉक के धीरेंद्र नाथ महतो ने इस सीट पर चुनाव जीता. उन्होंने निर्दलीय शक्तिपद महतो को 10,611 वोटों से हराया था.

सीट ट्रिविया

# पुरुलिया जिले की भगौलिक स्थिति देखें तो यह तीन तरफ से झारखंड से मिलता है. जबकि एक तरफ पश्चिम बंगाल के बांकुड़ा जिले से. झारखंड से जो भी हिस्सा लग रहा है वह क्षेत्र स्टील और एल्युमीनियम इंडस्ट्री के लिए दुनियाभर में प्रसिद्ध है.
# यहां का पाकबीर्रा जैन मंदिर काफी मशहूर है. यह तीन मंदिरों का संग्रह है. यहां के अवशेष नौवीं और दसवीं शताब्दी ईसा पूर्व के बताए जाते हैं.


वीडियो – बंगाल चुनाव: पुरुलिया के लोगों की ममता सरकार से क्या शिकायत है, जो दूर ही नहीं हो रही?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

गुजरात चुनाव 2017

गुजरात और हिमाचल में सबसे बड़ी और जान अटका देने वाली जीतों के बारे में सुना?

एक-एक वोट कितना कीमती होता है, कोई इन प्रत्याशियों से पूछे.

गुजरात विधानसभा चुनाव के चार निष्कर्ष

बहुमत हासिल करने के बावजूद चुनाव के नतीजों से बीजेपी अंदर ही अंदर सकते में है.

गुजरात में AAP का क्या हुआ, जो 33 सीटों पर लड़ी थी!

अरविंद केजरीवाल का गुजरात में जादू चला या नहीं?

गुजरात चुनाव के बाद सुशील मोदी को खुला खत

चुनाव के नतीजे आने के बाद भी लिचड़ई नहीं छोड़ रहे.

इस चुनाव में राहुल और हार्दिक से ज्यादा अफसोस इन सात लोगों को हुआ है

इन लोगों ने थोड़ी मेहनत और की होती, तो ये गुजरात की विधानसभा में बैठने की तैयारी कर रहे होते.

राहुल गांधी ने चुनाव में हार के बाद ये 8 बातें बोली हैं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की क्रेडिबिलिटी पर ही सवाल खड़े कर दिए.

गुजरात में हारे कांग्रेस के वो बड़े नेता जिन पर राहुल गांधी को बहुत भरोसा था

इनके बारे में कांग्रेस पार्टी ने बड़े-बड़े प्लान बनाए होंगे.

बीजेपी के वो 8 बड़े नेता जो गुजरात चुनाव में हार गए

इनको प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सभाएं और तमाम टोटके नहीं जिता सके.

पीएम नरेंद्र मोदी ने गुजरात और हिमाचल प्रदेश में जीत के बाद ये 5 बातें कहीं

दोनों प्रदेशों में भगवा लहराया मगर गुजरात की जीत पर भावुक दिखे पीएम.

ये सीट जीतकर कांग्रेस ने शंकरसिंह वाघेला से बदला ले लिया है

वाघेला ने इस सीट पर एक निर्दलीय प्रतायशी को वॉकओवर दिया था.