Submit your post

Follow Us

West Bengal Election Results: दिलीप घोष की पुरानी सीट पर इस बार बीजेपी का क्या हाल है?

सीट का नाम – खड़गपुर सदर (Kharagpur Sadar) (पश्चिमी मेदिनीपुर)

खड़गपुर सदर विधानसभा सीट पश्चिम बंगाल (West Bengal) के पश्चिमी मेदिनीपुर (Paschim Medinipur) जिले में पड़ती है. इस सीट 2016 में बंगाल बीजेपी के प्रेसिडेंट दिलीप घोष ने जीत हासिल की थी. लेकिन तीन साल बाद 2019 में जब वो सांसद बन गए, तो उन्होंने ये सीट खाली कर दी. इसके बाद यहां उपचुनाव हुए और ये सीट बीजेपी के हाथ से निकल गई. चूंकि यह सीट बंगाल बीजेपी के अध्यक्ष ने जीती थी इसलिए इस पर प्रतिष्ठा की लड़ाई थी. बीजेपी ने इस सीट पर जीत हासिल कर वह प्रतिष्ठा बचा ली है.

बीजेपी प्रत्याशी हिरनमॉय चट्टोपाध्याय ने टीएमसी के प्रदीप सरकार को 3771 वोटों से हरा दिया.

कौन जीता?

हिरनमॉय चट्टोपाध्याय ( BJP)
कितने वोट मिले: 79,607

कौन हारा?

प्रदीप सरकार (TMC)
कितने वोट मिलेः 75,836

पिछले दो चुनावों के नतीजे

# 2016 में भारतीय जनता पार्टी के दिलीप कुमार घोष ने खड़गपुर सदर विधानसभा सीट विधानसभा सीट से जीत हासिल की थी. उन्होंने अपने निकटतम प्रतिद्वंदी और कांग्रेस के उम्मीदवार ज्ञान सिंह सोहनपाल को 6309 वोटों को अंतर से हराया था. कांग्रेस के उम्मीदवार ज्ञान सिंह को कुल 61446 और कांग्रेस के उम्मीदवार ज्ञान सिंह सोहनपाल को कुल को 55137 वोट मिले थे.

# साल 2011 में कांग्रेस के प्रत्याशी ज्ञान सिंह सोहनपाल ने सीपीआई(एम) के प्रत्याशी अनिल कुमार दास को हराया था. सोहनपाल को 75425 और दास को 43056 वोट मिले थे.

सीट ट्रिविया

# इस सीट पर कांग्रेस के ज्ञान सिंह सोहनपाल 1982 से 2006 तक लगातार विधायक चुने गए. उन्होंने अपना पहला इलेक्शन 1962 में लड़ा था. उन्होंने 52 सालों तक और दस बार जीत हासिल की.
# इस सीट पर ज्ञान सिंह सोहनपाल ने 92 साल की उम्र में पिछला असेंबली चुनाव लड़ा था. ऐसा करके उन्होंने सबसे उम्रदराज शख्स के तौर पर असेंबली इलेक्शन लड़ने का रेकॉर्ड बनाया था.


वीडियो – बंगाल में शाह के करीबी दिलीप घोष ने ममता को हराने के लिए अपनी ‘खास प्लानिंग’ का खुलासा किया

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

गुजरात चुनाव 2017

गुजरात और हिमाचल में सबसे बड़ी और जान अटका देने वाली जीतों के बारे में सुना?

गुजरात और हिमाचल में सबसे बड़ी और जान अटका देने वाली जीतों के बारे में सुना?

एक-एक वोट कितना कीमती होता है, कोई इन प्रत्याशियों से पूछे.

गुजरात विधानसभा चुनाव के चार निष्कर्ष

गुजरात विधानसभा चुनाव के चार निष्कर्ष

बहुमत हासिल करने के बावजूद चुनाव के नतीजों से बीजेपी अंदर ही अंदर सकते में है.

गुजरात में AAP का क्या हुआ, जो 33 सीटों पर लड़ी थी!

गुजरात में AAP का क्या हुआ, जो 33 सीटों पर लड़ी थी!

अरविंद केजरीवाल का गुजरात में जादू चला या नहीं?

गुजरात चुनाव के बाद सुशील मोदी को खुला खत

गुजरात चुनाव के बाद सुशील मोदी को खुला खत

चुनाव के नतीजे आने के बाद भी लिचड़ई नहीं छोड़ रहे.

इस चुनाव में राहुल और हार्दिक से ज्यादा अफसोस इन सात लोगों को हुआ है

इस चुनाव में राहुल और हार्दिक से ज्यादा अफसोस इन सात लोगों को हुआ है

इन लोगों ने थोड़ी मेहनत और की होती, तो ये गुजरात की विधानसभा में बैठने की तैयारी कर रहे होते.

राहुल गांधी ने चुनाव में हार के बाद ये 8 बातें बोली हैं

राहुल गांधी ने चुनाव में हार के बाद ये 8 बातें बोली हैं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की क्रेडिबिलिटी पर ही सवाल खड़े कर दिए.

गुजरात में हारे कांग्रेस के वो बड़े नेता जिन पर राहुल गांधी को बहुत भरोसा था

गुजरात में हारे कांग्रेस के वो बड़े नेता जिन पर राहुल गांधी को बहुत भरोसा था

इनके बारे में कांग्रेस पार्टी ने बड़े-बड़े प्लान बनाए होंगे.

बीजेपी के वो 8 बड़े नेता जो गुजरात चुनाव में हार गए

बीजेपी के वो 8 बड़े नेता जो गुजरात चुनाव में हार गए

इनको प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सभाएं और तमाम टोटके नहीं जिता सके.

पीएम नरेंद्र मोदी ने गुजरात और हिमाचल प्रदेश में जीत के बाद ये 5 बातें कहीं

पीएम नरेंद्र मोदी ने गुजरात और हिमाचल प्रदेश में जीत के बाद ये 5 बातें कहीं

दोनों प्रदेशों में भगवा लहराया मगर गुजरात की जीत पर भावुक दिखे पीएम.

ये सीट जीतकर कांग्रेस ने शंकरसिंह वाघेला से बदला ले लिया है

ये सीट जीतकर कांग्रेस ने शंकरसिंह वाघेला से बदला ले लिया है

वाघेला ने इस सीट पर एक निर्दलीय प्रतायशी को वॉकओवर दिया था.