Submit your post

Follow Us

सपा में शामिल होकर दारा सिंह चौहान ने कहा-'85 हमारा है, 15 में भी बंटवारा है'

योगी सरकार में मंत्री रहे दारा सिंह चौहान रविवार, 16 जनवरी को समाजवादी पार्टी में शामिल हो गए. वन, पर्यावरण एवं जन्तु-उद्यान मंत्री दारा सिंह चौहान ने 12 जनवरी को अपने पद से इस्तीफा दिया था. बीजेपी छोड़ने के साथ ही ये तय हो गया था कि वह समाजवादी पार्टी का दामन थामेंगे. रविवार को लखनऊ में अखिलेश यादव की मौजूदगी में वह सपा में शामिल हो गए. इस मौके पर चौहान के समर्थकों ने जमकर नारे लगाए.

दारा सिंह चौहान ने क्या कहा?

सपा में शामिल होने के बाद दारा सिंह चौहान ने कहा,

लोग आत्मनिर्भर भारत की बात करते हैं. लेकिन आज गुलाम बनाने की साजिश हो रही है. उनको आनाज देकर, कुछ छोटी-छोटी चीजें देकर. हमेशा लालच देकर ठगने की साजिश हो गई है. लेकिन प्रदेश का पिछड़ा और दलित समाज अब ठगने वाला नहीं है. टीचर भर्ती में आरक्षण के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है. संविधान के साथ छेड़छाड़ करने की साजिश हो रही है. 28 संगठनों के लोग धरना प्रदर्शन कर रहे हैं उन पर लाठियां बरसाई जा रही हैं.

दारा सिंह चौहान ने कहा कि लोग कहते हैं मैंने 5 साल क्या किया. उन्होंने कहा कि मैं बताना चाहता हूं-

मैं कहता हूं कि 5 साल इंतजार करते रहे. क्योंकि पिछड़े समाज के लोग धैर्य रखते हैं, भरोसा करते हैं, लेकिन जब भरोसे की बुनियाद हिलने लगी, पिछड़े समाज की अनदेखी होने लगी. दलित समाज की अनदेखी होने लगी. संविधान से छेड़छाड़ की साजिश हो रही थी तब हमने निर्णय लिया कि सपा में शामिल होकर गरीबों की सरकार बनाएंगे.

दारा सिंह चौहान ने’85 हमारा है, 15 में भी बंटवारा है’ का नारा भी लगाया. उन्होंने कहा,

ब्राह्मण भी आज भारतीय जनता पार्टी से नाराज हैं, इसलिए मैं कहता हूं 85 तो हमारा है, 15 में भी बंटवारा है. लेकिन 85-15 ही नहीं हम तो 100 में से 100 आज कहते हैं. अभी तो 15 की बात हो रही है इसलिए बंटवारा हमारा है.

अखिलेश की जमकर तारीफ की

दारा सिंह चौहान ने अखिलेश यादव को एक विजनरी नेता बताया. कहा कि अखिलेश का जो विजन है, जो रोल मॉडल है उस रोल मॉडल पर काम करने की हर कोई सोच रहा है. उन्होंने कहा कि अखिलेश ने पिछड़े समाज की जनगणना की बात की. अखिलेश ने कहा कि जानवरों की गिनती हो रही है. पेड़ों की गिनती हो रही है, लेकिन पिछड़े समाज की गिनती नहीं हो रही है. क्या जानवर से भी बद्तर है पिछड़ा समाज. आपने (अखिलेश) जो भरोसा दिलाया है, अपने संसाधन से प्रदेश में पिछड़े समाज की गिनती कर जिसकी जितनी संख्या भारी उसकी उतनी हिस्सेदारी से सरकार चलाने का काम करेंगे.

दारा सिंह ने कहा कि आज कई लोग छटपटा रहे हैं अखिलेश से जुड़ने के लिए, लेकिन इन्होंने बैन लगा दिया है. लेकिन पिछड़ा समाज अखिलेश को सीएम बनाने के लिए तैयार है. जिस तरह से अभिमन्यु को घेरने के लिए कौरव की सेना लगी थी, जब अखिलेश रथ लेकर चले तो 6 फाटक पर दूसरे दल चलने लगे. मैं तो कहता हूं सारे फाटक तोड़कर अखिलेश जी सातवें फाटक पर पहुंच गए हैं. और प्रदेश की जनता सातवां फाटक तोड़कर उन्हें गद्दी पर बैठाने के लिए तैयार है.


जमघट: यूपी चुनाव 2022 से पहले ओम प्रकाश राजभर का इंटरव्यू

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

गुजरात चुनाव 2017

गुजरात और हिमाचल में सबसे बड़ी और जान अटका देने वाली जीतों के बारे में सुना?

गुजरात और हिमाचल में सबसे बड़ी और जान अटका देने वाली जीतों के बारे में सुना?

एक-एक वोट कितना कीमती होता है, कोई इन प्रत्याशियों से पूछे.

गुजरात विधानसभा चुनाव के चार निष्कर्ष

गुजरात विधानसभा चुनाव के चार निष्कर्ष

बहुमत हासिल करने के बावजूद चुनाव के नतीजों से बीजेपी अंदर ही अंदर सकते में है.

गुजरात में AAP का क्या हुआ, जो 33 सीटों पर लड़ी थी!

गुजरात में AAP का क्या हुआ, जो 33 सीटों पर लड़ी थी!

अरविंद केजरीवाल का गुजरात में जादू चला या नहीं?

गुजरात चुनाव के बाद सुशील मोदी को खुला खत

गुजरात चुनाव के बाद सुशील मोदी को खुला खत

चुनाव के नतीजे आने के बाद भी लिचड़ई नहीं छोड़ रहे.

इस चुनाव में राहुल और हार्दिक से ज्यादा अफसोस इन सात लोगों को हुआ है

इस चुनाव में राहुल और हार्दिक से ज्यादा अफसोस इन सात लोगों को हुआ है

इन लोगों ने थोड़ी मेहनत और की होती, तो ये गुजरात की विधानसभा में बैठने की तैयारी कर रहे होते.

राहुल गांधी ने चुनाव में हार के बाद ये 8 बातें बोली हैं

राहुल गांधी ने चुनाव में हार के बाद ये 8 बातें बोली हैं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की क्रेडिबिलिटी पर ही सवाल खड़े कर दिए.

गुजरात में हारे कांग्रेस के वो बड़े नेता जिन पर राहुल गांधी को बहुत भरोसा था

गुजरात में हारे कांग्रेस के वो बड़े नेता जिन पर राहुल गांधी को बहुत भरोसा था

इनके बारे में कांग्रेस पार्टी ने बड़े-बड़े प्लान बनाए होंगे.

बीजेपी के वो 8 बड़े नेता जो गुजरात चुनाव में हार गए

बीजेपी के वो 8 बड़े नेता जो गुजरात चुनाव में हार गए

इनको प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सभाएं और तमाम टोटके नहीं जिता सके.

पीएम नरेंद्र मोदी ने गुजरात और हिमाचल प्रदेश में जीत के बाद ये 5 बातें कहीं

पीएम नरेंद्र मोदी ने गुजरात और हिमाचल प्रदेश में जीत के बाद ये 5 बातें कहीं

दोनों प्रदेशों में भगवा लहराया मगर गुजरात की जीत पर भावुक दिखे पीएम.

ये सीट जीतकर कांग्रेस ने शंकरसिंह वाघेला से बदला ले लिया है

ये सीट जीतकर कांग्रेस ने शंकरसिंह वाघेला से बदला ले लिया है

वाघेला ने इस सीट पर एक निर्दलीय प्रतायशी को वॉकओवर दिया था.