Submit your post

Follow Us

तमिलनाडु: DMK की जीत के बाद महिला ने काट ली अपनी जीभ

तमिलनाडु चुनाव में DMK की जीत के बाद एक महिला ने अपनी जीभ काट ली. दरअसल, उसने प्रण किया था कि अगर DMK की जीत होती है, तो वो मंदिर में अपनी जीभ काटकर चढ़ाएगी. बात रामनाथपुरम जिले के परमकुडी इलाके की है. जीभ काटने के बाद महिला बेहोश हो गई. जिसके बाद उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया. जहां उसकी हालत स्थिर बताई जा रही है.

इंडिया टुडे से जुड़े प्रमोद माधव की रिपोर्ट के मुताबिक जिस महिला ने अपनी जीभ काटी, उसका नाम वनीता है. 32 साल की वनीता ने तमिलनाडु विधानसभा चुनाव से पहले यह प्रण लिया था. कल आए चुनाव परिणामों में DMK को जीत मिली.

DMK के जीतने के बाद वनीता परमकुडी स्थित मुथलम्मन मंदिर पहुंची. जहां उसने अपनी जीभ काटी और फिर मंदिर में स्थापित मूर्ति पर चढ़ाने के लिए आगे बढ़ी. लेकिन कोविड-19 के कारण तमिलनाडु में धार्मिक स्थल बंद हैं. इसकी वजह से वनीता ने अपनी कटी हुई जीभ मंदिर के दरवाजे पर ही छोड़ दी. अधिक खून बह जाने से वो तुरंत बेहोश हो गई. आसापास से गुजर रहे लोगों ने वनीता के पति कार्तिक को सूचना दी. जिसके बाद उसे पास के अस्पताल में भर्ती कराया गया.

एक शख्स ने उंगली काट ली

तमिलनाडु में राजनीतिक पार्टियों और नेताओं के समर्थकों की तरफ से इस तरह के एक्सट्रीम कदम उठाने का यह कोई पहला वाकया नहीं है. साल 2015 में जब राज्य की मुख्यमंत्री जयललिता एक मामले में दोषी पाई गई थीं, तब AIADMK के कई समर्थकों ने आत्महत्या कर ली थी. जयललिता की मौत के बाद भी आत्महत्या का यह सिलसिला नहीं रुका.

इसी चार अप्रैल को DMK के एक दूसरे समर्थक ने अपने बाएं हाथ की उंगली काट ली थी. उसने अपनी उंगली मरियम्मन मंदिर में चढ़ाई थी और DMK प्रमुख एम के स्टालिन को इस बार राज्य का मुख्यमंत्री बनाने की प्रार्थना की थी. जिस शख्स ने ऐसा किया उसका नाम गुरुवैय्या है. 66 साल के गुरुवैय्या पिछले एक साल से नियमति तौर पर मंदिर जाकर DMK की जीत के लिए प्रार्थना कर रहे थे. चुनाव प्रचार के आखिरी दिन उन्होंने अपनी काटी थी.

वीडियो- ममता बनर्जी के बंगाल में जीतने पर खिसियाई कंगना ने पश्चिम बंगाल की तुलना कश्मीर से कर दी

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

गुजरात चुनाव 2017

गुजरात और हिमाचल में सबसे बड़ी और जान अटका देने वाली जीतों के बारे में सुना?

गुजरात और हिमाचल में सबसे बड़ी और जान अटका देने वाली जीतों के बारे में सुना?

एक-एक वोट कितना कीमती होता है, कोई इन प्रत्याशियों से पूछे.

गुजरात विधानसभा चुनाव के चार निष्कर्ष

गुजरात विधानसभा चुनाव के चार निष्कर्ष

बहुमत हासिल करने के बावजूद चुनाव के नतीजों से बीजेपी अंदर ही अंदर सकते में है.

गुजरात में AAP का क्या हुआ, जो 33 सीटों पर लड़ी थी!

गुजरात में AAP का क्या हुआ, जो 33 सीटों पर लड़ी थी!

अरविंद केजरीवाल का गुजरात में जादू चला या नहीं?

गुजरात चुनाव के बाद सुशील मोदी को खुला खत

गुजरात चुनाव के बाद सुशील मोदी को खुला खत

चुनाव के नतीजे आने के बाद भी लिचड़ई नहीं छोड़ रहे.

इस चुनाव में राहुल और हार्दिक से ज्यादा अफसोस इन सात लोगों को हुआ है

इस चुनाव में राहुल और हार्दिक से ज्यादा अफसोस इन सात लोगों को हुआ है

इन लोगों ने थोड़ी मेहनत और की होती, तो ये गुजरात की विधानसभा में बैठने की तैयारी कर रहे होते.

राहुल गांधी ने चुनाव में हार के बाद ये 8 बातें बोली हैं

राहुल गांधी ने चुनाव में हार के बाद ये 8 बातें बोली हैं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की क्रेडिबिलिटी पर ही सवाल खड़े कर दिए.

गुजरात में हारे कांग्रेस के वो बड़े नेता जिन पर राहुल गांधी को बहुत भरोसा था

गुजरात में हारे कांग्रेस के वो बड़े नेता जिन पर राहुल गांधी को बहुत भरोसा था

इनके बारे में कांग्रेस पार्टी ने बड़े-बड़े प्लान बनाए होंगे.

बीजेपी के वो 8 बड़े नेता जो गुजरात चुनाव में हार गए

बीजेपी के वो 8 बड़े नेता जो गुजरात चुनाव में हार गए

इनको प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सभाएं और तमाम टोटके नहीं जिता सके.

पीएम नरेंद्र मोदी ने गुजरात और हिमाचल प्रदेश में जीत के बाद ये 5 बातें कहीं

पीएम नरेंद्र मोदी ने गुजरात और हिमाचल प्रदेश में जीत के बाद ये 5 बातें कहीं

दोनों प्रदेशों में भगवा लहराया मगर गुजरात की जीत पर भावुक दिखे पीएम.

ये सीट जीतकर कांग्रेस ने शंकरसिंह वाघेला से बदला ले लिया है

ये सीट जीतकर कांग्रेस ने शंकरसिंह वाघेला से बदला ले लिया है

वाघेला ने इस सीट पर एक निर्दलीय प्रतायशी को वॉकओवर दिया था.