Submit your post

Follow Us

प्रतापगढ़ में चुनाव लड़ने से डरते हैं प्रत्याशी, राजा भैया ने सफाई में क्या कहा?

रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया. यूपी की सियासत का वो नाम जिसका जिक्र होते ही कुंडा समेत पूरे प्रतापगढ़ जिले में खौफ पसर जाता है. और ये वक्त है यूपी विधानसभा चुनाव का. तो दी लल्लनटॉप के खास चुनावी शो ‘जमघट’ में इस बार बुलाया गया राजा भैया को. हमारे संपादक सौरभ द्विवेदी ने राजा भैया से दो घंटे तक सवाल पूछे. इनमें कुंडा और पूरे प्रतापगढ़ जिले में उनके खौफ और चुनावी तैयारियों पर बात की गई.

रघुराज प्रताप सिंह से पूछा गया,

“2017 में यहां से जो भाजपा कैंडिडेट थे, उनसे हमारे साथी रिपोर्टर जब मिले तो उन्होंने कहा कि शाम को प्रचार नहीं करते हैं. अराजक तत्व दिक्कत पैदा कर रहे हैं. कुछ अराजक तत्वों ने हमला किया. तो रिपोर्टर ने कुरेत के पूछा कि उनके (राजा भैया) समर्थक, तो उन्होंने नाम भी नहीं लिया. उनसे पूछा गया कि आपकी इनके खिलाफ क्या योजना है तो बार-बार वो मोदी जी की बात करते रहे.”

राजा भैया: ये तो अच्छी बात है.

सौरभ द्विवेदी: ये कैसा खौफ है कि कोई लोकल चुनाव नहीं लड़ पाता. कौशांबी के लोग यहां से टिकट पाते हैं.

राजा भैया: देखिए, कोई प्रत्याशी प्रचार कर रहा है. मान लीजिए उसको कोई अराजक तत्व मिल गया, आपके पत्रकार ने कुरेत के पूछा कि वो अराजक तत्व राजा भैया का भेजा हुआ है, इस पर उन्होंने कुछ कहा है या नहीं कहा है तो ये तो अच्छी बात है.

सौरभ द्विवेदी: नहीं हमने पूछा कि वो किसका समर्थक था.

राजा भैया: तो उन्होंने हमारा नाम नहीं लिया, यही तो आपने कहा.

सौरभ द्विवेदी: बिल्कुल उन्होंने किसी भी संदर्भ में आपका नाम नहीं लिया.

राजा भैया: तो कोई होगा अराजक तत्व. अच्छा ये कहां है कि अराजक तत्व शाम को ही मिलते हैं, सुबह या दोपहर में नहीं मिल सकते. इसकी कोई परिभाषा थोड़े ही है कि शाम को ना निकला जाए, शाम को अराजक तत्व आ जाएंगे दोपहर तक नहीं आते हैं. ऐसा तो है नहीं.

इसके बाद राजा भैया से पूछा गया कि क्या इस बार कुंडा में उनकी सीट फंसी हुई है और इसीलिए इस बार वे गठजोड़ की कोशिश में हैं. इस पर राजा भैया ने कहा कि उन्हें अपने कार्यकर्ता हर बार से ज्यादा उत्साहित लग रहे हैं, और नौजवान बढ़ी संख्या में जुड़कर ना सिर्फ प्रचार में लगे हैं बल्कि संचालन भी कर रहे हैं. राजा भैया ने दावा किया कि हर बार की तरह इस बार भी कुंडा अपना कीर्तिमान खुद ही तोड़ेगा. मतलब उनकी जीत का मार्जिन पिछली जीत से भी ज्यादा रहेगा.


वीडियो- जमघट: यूपी चुनाव 2022 से पहले राजा भैया का इंटरव्यू 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

गुजरात चुनाव 2017

गुजरात और हिमाचल में सबसे बड़ी और जान अटका देने वाली जीतों के बारे में सुना?

गुजरात और हिमाचल में सबसे बड़ी और जान अटका देने वाली जीतों के बारे में सुना?

एक-एक वोट कितना कीमती होता है, कोई इन प्रत्याशियों से पूछे.

गुजरात विधानसभा चुनाव के चार निष्कर्ष

गुजरात विधानसभा चुनाव के चार निष्कर्ष

बहुमत हासिल करने के बावजूद चुनाव के नतीजों से बीजेपी अंदर ही अंदर सकते में है.

गुजरात में AAP का क्या हुआ, जो 33 सीटों पर लड़ी थी!

गुजरात में AAP का क्या हुआ, जो 33 सीटों पर लड़ी थी!

अरविंद केजरीवाल का गुजरात में जादू चला या नहीं?

गुजरात चुनाव के बाद सुशील मोदी को खुला खत

गुजरात चुनाव के बाद सुशील मोदी को खुला खत

चुनाव के नतीजे आने के बाद भी लिचड़ई नहीं छोड़ रहे.

इस चुनाव में राहुल और हार्दिक से ज्यादा अफसोस इन सात लोगों को हुआ है

इस चुनाव में राहुल और हार्दिक से ज्यादा अफसोस इन सात लोगों को हुआ है

इन लोगों ने थोड़ी मेहनत और की होती, तो ये गुजरात की विधानसभा में बैठने की तैयारी कर रहे होते.

राहुल गांधी ने चुनाव में हार के बाद ये 8 बातें बोली हैं

राहुल गांधी ने चुनाव में हार के बाद ये 8 बातें बोली हैं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की क्रेडिबिलिटी पर ही सवाल खड़े कर दिए.

गुजरात में हारे कांग्रेस के वो बड़े नेता जिन पर राहुल गांधी को बहुत भरोसा था

गुजरात में हारे कांग्रेस के वो बड़े नेता जिन पर राहुल गांधी को बहुत भरोसा था

इनके बारे में कांग्रेस पार्टी ने बड़े-बड़े प्लान बनाए होंगे.

बीजेपी के वो 8 बड़े नेता जो गुजरात चुनाव में हार गए

बीजेपी के वो 8 बड़े नेता जो गुजरात चुनाव में हार गए

इनको प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सभाएं और तमाम टोटके नहीं जिता सके.

पीएम नरेंद्र मोदी ने गुजरात और हिमाचल प्रदेश में जीत के बाद ये 5 बातें कहीं

पीएम नरेंद्र मोदी ने गुजरात और हिमाचल प्रदेश में जीत के बाद ये 5 बातें कहीं

दोनों प्रदेशों में भगवा लहराया मगर गुजरात की जीत पर भावुक दिखे पीएम.

ये सीट जीतकर कांग्रेस ने शंकरसिंह वाघेला से बदला ले लिया है

ये सीट जीतकर कांग्रेस ने शंकरसिंह वाघेला से बदला ले लिया है

वाघेला ने इस सीट पर एक निर्दलीय प्रतायशी को वॉकओवर दिया था.