Submit your post

Follow Us

मदद के बहाने खुद ही वोट डाल रहा था पोलिंग एजेंट, वीडियो वायरल होने के बाद गिरफ्तार

5.13 K
शेयर्स

मतदाताओं को प्रभावित करते पोलिंग एजेंट का वीडियो सामने आने के बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया है. यह वीडियो फरीदाबाद संसदीय सीट के एक पोलिंग बूथ का है. इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक पोलिंग एजेंट भारतीय जनता पार्टी का है. हरियाणा की पलवल पुलिस ने उसे गिरफ्तार किया. आरोपी के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई. उसकी पहचान गिरिराज सिंह के रूप में हुई है. उसे कोर्ट में पेश किया गया. बाद में जमानत मिल गई.

इस मामले में पीठासीन अधिकारी अमित अत्री ने शिकायत दर्ज कराई थी. इसके आधार पर केस दर्ज किया गया. पीठासीन अधिकारी ने कहा कि ‘आरोपी मतदाताओं की मदद करने के बहाने, खुद ही वोट डाल रहा था. मैंने उसे हर बार रोका, लेकिन गिरिराज सिंह ने नहीं सुनी, जब गिरिराज वोट डालने की कोशिश कर रहा था, तब किसी व्यक्ति ने वीडियो बना ली और उसे वायरल कर दिया. अन्य मतदाताओं की भीड़ आने से गिरिराज मौके से भागने में सफल रहा.

वीडियो में, गिरिराज सिंह (नीली टी-शर्ट में) 1.30 मिनट से कम समय में तीन बार ईवीएम तक जाते हुए दिखाई देता है. और कथित तौर पर या तो ईवीएम पर पार्टी के चिन्ह की ओर इशारा करता है या बटन दबाता है. उसने कम से कम तीन बार ऐसा किया. वह तीसरी बार ईवीएम तक जाने के लिए खड़ा होता है तो बताया जाता है कि उसे बाहर बुलाया जा रहा है. हालांकि वह तीसरी बार भी नियमों का उल्लंघन करता है. पोलिंग बूथ पर मतदान प्रक्रिया की निगरानी के लिए चुनाव में खड़े उम्मीदवारों द्वारा पोलिंग एजेंटों की नियुक्ति की जाती है. वीडियो वायरल होने के बाद, चुनाव आयुक्त अशोक लवासा ने कहा कि पर्यवेक्षक द्वारा उनकी रिपोर्ट प्रस्तुत करने के बाद उचित कार्रवाई की जाएगी. जिला निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि फरीदाबाद जिले के प्रशासन द्वारा इस मामले को बहुत गंभीरता से लिया गया है.

सदर पलवल पुलिस थाने के थानाध्यक्ष कुलदीप सिंह का कहना है कि,

‘रविवार दोपहर हमें इस बारे में पता चला जब किसी ने हमें वीडियो भेजा. इस मामले में केस दर्ज किया गया है. आरोपी को रविवार दोपहर (12 मई) को ही गिरफ्तार कर लिया गया था. उसे अदालत में पेश किया गया और अगले दिन जमानत पर रिहा कर दिया गया. भारतीय दंड संहिता (IPC) की धारा 171C (चुनाव प्रभावित करने) और 188 (पब्लिक सर्वेंट द्वारा आदेश की अवज्ञा), और जनप्रतिनिधित्व अधिनियम, 1951, और 1988 की धारा 135 के तहत केस दर्ज किया गया है‘.

सात अन्य राज्यों के साथ 12 मई को फरीदाबाद में भी मतदान हुआ. सात चरणों में होने वाले चुनाव 11 अप्रैल से शुरू हुए थे. ये 19 मई को खत्म होंगे. नतीजे 23 मई को आएंगे.


Video: हरियाणा के कर्मठ बालक, वर्दी से लेकर सेना, मोदी राहुल, हुड्डा, चौटाला और मनोहर लाल पर खुलकर बोले

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

गुजरात चुनाव 2017

गुजरात और हिमाचल में सबसे बड़ी और जान अटका देने वाली जीतों के बारे में सुना?

एक-एक वोट कितना कीमती होता है, कोई इन प्रत्याशियों से पूछे.

गुजरात विधानसभा चुनाव के चार निष्कर्ष

बहुमत हासिल करने के बावजूद चुनाव के नतीजों से बीजेपी अंदर ही अंदर सकते में है.

गुजरात में AAP का क्या हुआ, जो 33 सीटों पर लड़ी थी!

अरविंद केजरीवाल का गुजरात में जादू चला या नहीं?

गुजरात चुनाव के बाद सुशील मोदी को खुला खत

चुनाव के नतीजे आने के बाद भी लिचड़ई नहीं छोड़ रहे.

इस चुनाव में राहुल और हार्दिक से ज्यादा अफसोस इन सात लोगों को हुआ है

इन लोगों ने थोड़ी मेहनत और की होती, तो ये गुजरात की विधानसभा में बैठने की तैयारी कर रहे होते.

राहुल गांधी ने चुनाव में हार के बाद ये 8 बातें बोली हैं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की क्रेडिबिलिटी पर ही सवाल खड़े कर दिए.

गुजरात में हारे कांग्रेस के वो बड़े नेता जिन पर राहुल गांधी को बहुत भरोसा था

इनके बारे में कांग्रेस पार्टी ने बड़े-बड़े प्लान बनाए होंगे.

बीजेपी के वो 8 बड़े नेता जो गुजरात चुनाव में हार गए

इनको प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सभाएं और तमाम टोटके नहीं जिता सके.

पीएम नरेंद्र मोदी ने गुजरात और हिमाचल प्रदेश में जीत के बाद ये 5 बातें कहीं

दोनों प्रदेशों में भगवा लहराया मगर गुजरात की जीत पर भावुक दिखे पीएम.

ये सीट जीतकर कांग्रेस ने शंकरसिंह वाघेला से बदला ले लिया है

वाघेला ने इस सीट पर एक निर्दलीय प्रतायशी को वॉकओवर दिया था.