Submit your post

Follow Us

ओवैसी की पार्टी ने पिछली दो सीटें गंवा दी और दो नई सीटें जीत लीं

5
शेयर्स

ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुसलिमीन. शॉर्ट में AIMIM. असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी. महाराष्ट्र विधानसभा में AIMIM को दो सीटों पर जीत मिली है. ये सीटें हैं-

1. मालेगांव सेंट्रल- मुहम्मद इस्माइल अब्दुल ख़ालिक़ (कांग्रेस) के आसिफ शेख राशिद को 38,519 वोटों से हराया.
2. धुले सिटी- शाह फारुक अनवर ने राजवर्धन रघुजीराव कदमबंदे उर्फ़ राजू बाबा (निर्दलीय) को 3,307 वोटों से हराया.

2014 के विधानसभा चुनाव में भी AIMIM ने महाराष्ट्र में दो सीटें निकाली थीं. वो दोनों सीटें थीं-

1. औरंगाबाद सेंट्रल- इम्तियाज़ जलील (ये अब औरंगाबाद से AIMIM सांसद हैं)
2. बायकुला (मुंबई)- वारिस पठान

2019 के लोकसभा चुनाव में AIMIM ने महाराष्ट्र में औरंगाबाद सीट जीती थी. औरंगाबाद सेंट्रल से AIMIM के विधायक इम्तियाज़ जलील ने ही ये सांसदी निकाली थी. मगर 2014 के विधानसभा चुनाव में जीती हुई दोनों सीटें AIMIM ने इस बार गंवा दी हैं.

बिहार में भी जीत मिली है AIMIM को
महाराष्ट्र के अलावा AIMIM के लिए बड़ी जीत आई बिहार में. वहां किशनगंज विधानसभा सीट पर उपचुनाव हुए थे. यहां से विधायक थे कांग्रेस के जावेद आलम. मई 2019 में हुए लोकसभा चुनाव में जावेद आलम सांसदी लड़े और जीते. इसके बाद से ही ये सीट खाली थी. 21 अक्टूबर को महाराष्ट्र और हरियाणा में विधानसभा चुनाव के लिए मतदान था. इसी के साथ देशभर में खाली पड़ी 51 विधानसभा सीटों के लिए भी वोटिंग हुई. नतीजा आया 24 अक्टूबर को. इसमें AIMIM के प्रत्याशी क़मरुल होडा ने BJP की स्वीटी सिंह को 10,024 वोटों से हराया. इस जीत के साथ ही AIMIM ने बिहार में अपना खाता खोला है. AIMIM बिहार में काफी मेहनत कर रही थी. 2015 के विधानसभा चुनावों में भी पार्टी से अपने छह उम्मीदवार उतारे थे. मगर जीत एक भी नहीं पाई. 2019 के आम चुनाव में इसी किशनगंज की लोकसभा सीट पर भी AIMIM ने अपने बिहार प्रदेश अध्यक्ष अख़्तरुल इमान को चुनाव लड़वाया था. मगर जीत नहीं पाए वो.

हैदराबाद से सांसद हैं ओवैसी
AIMIM के अध्यक्ष हैं ओवैसी. हैदराबाद लोकसभा सीट से चार बार सांसद चुने जा चुके हैं. संसद में दिए गए उनके भाषण काफी लोकप्रिय हैं. ऑनलाइन दुनिया में भी काफी फॉलोइंग है उनकी. हैदराबाद बेस है AIMIM का. मगर पार्टी ने बाहर भी अपना विस्तार किया है. लोकसभा में दो सांसद हैं AIMIM के. तेलंगाना में भी सात विधायक हैं. महाराष्ट्र में पिछली बार भी दो विधानसभा सीटें जीती थीं. इस बार उससे आगे नहीं बढ़ पाए, मगर दो सीटें फिर भी जीत गए.

बिहार में किशनगंज विधानसभा सीट पर हुए उपचुनाव में भी AIMIM को जीत मिली है. इस तस्वीर में ओवैसी एक सभा को संबोधित करते हुए नज़र आ रहे हैं (फोटो: PTI)
बिहार में किशनगंज विधानसभा सीट पर हुए उपचुनाव में भी AIMIM को जीत मिली है. AIMIM के प्रत्याशी क़मरुल होडा ने BJP उम्मीदवार स्वीटी सिंह को हराकर ये सीट निकाली है. इस तस्वीर में ओवैसी एक सभा को संबोधित करते हुए नज़र आ रहे हैं (फोटो: PTI)

ओवैसी की पार्टी पर लगने वाले बड़े इल्ज़ाम
AIMIM, ख़ासतौर पर ओवैसी ख़ुद मुस्लिमों के अधिकारों की पुरजोर वकालत करते हैं. उनकी ख़ासियत ये है कि वो जो बातें करते हैं, उसका आधार अक्सर संवैधानिक होता है. वो उसी फ्रेमवर्क में अपनी बातें फिट कर देते हैं. ओवैसी के स्टाइल से अलग है उनके भाई अकबरुद्दीन का तरीका. अकबरुद्दीन पर 2013 में भड़काऊ भाषण देने का केस दर्ज़ हुआ था. AIMIM को लेकर भी कई सवाल भी उठते हैं. एक बड़ा सवाल है हिंसा से जुड़ा. आरोप लगते हैं कि AIMIM हिंसा का इस्तेमाल करती है. हैदराबाद नगरपालिका चुनाव के दौरान ख़बरें आईं कि AIMIM के लोगों ने आंध्र प्रदेश कांग्रेस के नेतृत्व को असॉल्ट किया. हो-हल्ला और हंगामेबाजी के भी इल्ज़ाम लगते हैं AIMIM पर. इन आरोपों को ओवैसी अक्सर राजनैतिक साज़िश बताकर ख़ारिज कर देते हैं.


हरियाणा-महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव नतीजों के बाद बीजेपी के आगे ‘सीटों’ का पेच फंसा, अब क्या होगा?

हरियाणा में बीजेपी जीतेगी या कांग्रेस, इंडिया टुडे-Axis माय इंडिया का एग्ज़िट पोल चौंका रहा है

महाराष्ट्र चुनाव में शिरडी सीट से लड़ने वाले बीजेपी के राधा कृष्णा विखे पाटिल का क्या हुआ?

पेशाब से बांध भरने की बात करने वाले अजित पवार जीते या हारे?

फडणवीस से पंगा लेने वाली पंकजा मुंडे अपने ही भाई के खिलाफ इतने वोटों से हारीं

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

गुजरात चुनाव 2017

गुजरात और हिमाचल में सबसे बड़ी और जान अटका देने वाली जीतों के बारे में सुना?

एक-एक वोट कितना कीमती होता है, कोई इन प्रत्याशियों से पूछे.

गुजरात विधानसभा चुनाव के चार निष्कर्ष

बहुमत हासिल करने के बावजूद चुनाव के नतीजों से बीजेपी अंदर ही अंदर सकते में है.

गुजरात में AAP का क्या हुआ, जो 33 सीटों पर लड़ी थी!

अरविंद केजरीवाल का गुजरात में जादू चला या नहीं?

गुजरात चुनाव के बाद सुशील मोदी को खुला खत

चुनाव के नतीजे आने के बाद भी लिचड़ई नहीं छोड़ रहे.

इस चुनाव में राहुल और हार्दिक से ज्यादा अफसोस इन सात लोगों को हुआ है

इन लोगों ने थोड़ी मेहनत और की होती, तो ये गुजरात की विधानसभा में बैठने की तैयारी कर रहे होते.

राहुल गांधी ने चुनाव में हार के बाद ये 8 बातें बोली हैं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की क्रेडिबिलिटी पर ही सवाल खड़े कर दिए.

गुजरात में हारे कांग्रेस के वो बड़े नेता जिन पर राहुल गांधी को बहुत भरोसा था

इनके बारे में कांग्रेस पार्टी ने बड़े-बड़े प्लान बनाए होंगे.

बीजेपी के वो 8 बड़े नेता जो गुजरात चुनाव में हार गए

इनको प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सभाएं और तमाम टोटके नहीं जिता सके.

पीएम नरेंद्र मोदी ने गुजरात और हिमाचल प्रदेश में जीत के बाद ये 5 बातें कहीं

दोनों प्रदेशों में भगवा लहराया मगर गुजरात की जीत पर भावुक दिखे पीएम.

ये सीट जीतकर कांग्रेस ने शंकरसिंह वाघेला से बदला ले लिया है

वाघेला ने इस सीट पर एक निर्दलीय प्रतायशी को वॉकओवर दिया था.