Submit your post

Follow Us

मायावती-अजित जोगी के ये 11 कैंडिडेट न होते, तो छत्तीसगढ़ में भाजपा की 5 सीटें भी नहीं आती

9.18 K
शेयर्स

छत्तीसगढ़ में अजीत जोगी और मायावती की जोड़ी ने भाजपा की लाज बचा ली. जोगी-माया की पार्टियां न होतीं तो भाजपा का हश्र प्रदेश में शायद और भी बुरा होता. पार्टी ने प्रदेश में 15 सीटों पर जीत हासिल की है. इनमें से 10 सीटें ऐसी हैं, जहां भाजपा उम्मीदवार जितने मार्जिन से चुनाव जीते हैं, उससे कहीं ज्यादा वोट जोगी- मायावती के उम्मीदवारों को मिले हैं. 2 सीटों पर भाजपा की जीत की वजह कांग्रेस के बागी बने. 1 सीट पर भाजपा की जीत गोंडवाना गणतंत्र पार्टी की वजह से हुई है. मतलब ये कि कांग्रेस ने महागठबंधन किया होता, तो प्रदेश में भाजपा महज 3 सीटों पर सिमट सकती थी.

बीजेपी का महज 3 सीटों पर ही जीत का अंतर सम्मानजनक रहा. इनमें मुख्यमंत्री रमन सिंह के अलावा कृषि मंत्री बृजमोहन अग्रवाल और वैशाली नगर से जीतने वाली विद्या रतन भसीन शामिल हैं. बाकी विधानसभा चुनाव में कांग्रेस की ऐसी आंधी चली, जिसमें भारतीय जनता पार्टी के दिग्गज सूरमा खेत रहे. उसके बड़े-बड़े किले ध्वस्त हो गए. कांग्रेस ने प्रदेश की 90 में से 68 सीटों पर जीत दर्ज की है.

एक रिपोर्ट के मुताबिक मायावती की बसपा और अजीत जोगी की जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) ने छत्तीसगढ़ में भाजपा विरोधी मतों में बंटवारा कर दिया. नतीजा ये हुआ कि भाजपा के उम्मीदवार बेहद कम मार्जिन से विधानसभा चुनाव जीतने में कामयाब रहे. कुछ सीटों पर भाजपा उम्मीदवारों को जिताने में कांग्रेस के बागी और दूसरे दलों के कैंडीडेट का भी हाथ रहा. आइए जानते हैं कहां-कैसा हाल रहा-

1-भाजपा जीती 26,534 से, जोगी की पार्टी को 29,613 वोट 

धरमलाल कौशिक.
धरमलाल कौशिक.

सीट- बिल्हा, जिला- मुंगेली-बिलासपुर

कौन जीता– धरमलाल कौशिक, भाजपा

वोट  मिले- 84,431

हारने वाले- राजेंद्र शुक्ला, कांग्रेस

वोट मिले- 57,907

जीत का अंतर- 26,524

जोगी/माया फैक्टर- जोगी की पार्टी के सियाराम कौशिक को 29,613 वोट  मिले. जो भाजपा उम्मीदवार के जीत के मार्जिन से कम है.


2-भाजपा जीती 6,259 से, जोगी की पार्टी को मिले 38,308 वोट

सीट- बेलतरा, जिला- बिलासपुर

कौन जीता– रजनीश कुमार सिंह, भाजपा

वोट  मिले- 49,601

हारने वाले- राजेंद्र साहू, डब्बू, कांग्रेस

वोट मिले- 43,342

जीत का अंतर- 6,259

जोगी/माया फैक्टर- यहां जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ के उम्मीदवार अनिल ताह ने 38,308 वोट हासिल किए. ये वोट भाजपा के जीत के अंतर से काफी ज्यादा हैं.


3-भाजपा जीती 11,909 से, जोगी की पार्टी ने पाए 45,907 वोट

शिवरतन शर्मा. फोटो (एफबी)
शिवरतन शर्मा. फोटो (एफबी)

सीट- भाटापारा, जिला-रायपुर

कौन जीता– शिवरतन शर्मा, भाजपा

वोट  मिले- 63,399

हारने वाले- सुनील महेश्वरी, कांग्रेस

वोट मिले- 51,490

जीत का अंतर- 11,909

जोगी/माया फैक्टर- अजीत जोगी की पार्टी से चुनाव लड़े चैतराम साहू को यहां 45,907 वोट मिले. 


4- बीजेपी जीती 4,188 से, बसपा को मिले 33,505 वोट

नारायण चंदेल.
नारायण चंदेल.

सीट- जांजगीर चंपा

कौन जीता– नारायण चंदेल, भाजपा

वोट  मिले- 54,040

हारने वाले- मोतीलाल देवगन, कांग्रेस

वोट मिले- 49,852

जीत का अंतर- 4,188वोट

जोगी-माया फैक्टर- यहां बहुजन समाज पार्टी के उम्मीदवार ब्यास नारायण कश्यप को 33,505 हासिल हुए.


5- भाजपा जीती 8,487 वोट से, जोगी की पार्टी को 32,257

पुन्नूलाल मोहिले.
पुन्नूलाल मोहिले.

सीट- मुंगेली, जिला-मुंगेली- बिलासपुर से अलग होकर नया जिला बना है.

कौन जीता-पुन्नूलाल मोहले, भाजपा

वोट  मिले- 60,469

हारने वाले- राकेश पातरे, कांग्रेस

वोट मिले- 51,982

जीत का अंतर- 8,487 वोट

जोगी/माया फैक्टर- यहां जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ जे के उम्मीदवार चंद्रभान बरमाते को 32,257 वोट हासिल हुए. नतीजा भाजपा जीत गई


6-भाजपा जीती 18,175 से, त्रिकोणीय मुकाबले में मिली जीत

सीट- रामपुर,  जिला- कोरबा

कौन जीता- ननकी राम कंवर, भाजपा

वोट  मिले- 65,048

हारने वाले- फूल सिंह राठिया, जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़

वोट मिले- 46,873

जीत का अंतर- 18,175 वोट

जोगी/माया फैक्टर- यहां कांग्रेस उम्मीदवार श्यामलाल कंवर तीसरे नंबर पर रहे. खास बात ये है कि यहां जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ और कांग्रेस उम्मीदवार बराबर लड़ते नजर आए. कांग्रेस कैंडीडेट को 44,261 वोट  मिले. भाजपा को इसका फायदा मिला. ननकी राम कंवर प्रदेश सरकार में गृहमंत्री थे.


7-तीन तरफा मुकाबले में जीती भाजपा 

सीट- दांतेवाड़ा, जिला-दांतेवाड़ा

कौन जीता– भीमा मांडवी, भाजपा

वोट  मिले- 37,990

हारने वाले- देवती कर्मा, कांग्रेस

वोट मिले- 35,818

जीत का अंतर- 2,172

जोगी/माया फैक्टर- यहां भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी उम्मीदवार नंदराम सोरी को 12,195 वोट मिले. इस सीट पर बसपा के केशव नेताम को भी 6,119 वोट प्राप्त हुए. देवती कर्मा महेंद्र कर्मा की पत्नी हैं. महेंद्र कर्मा एक नक्सल हमले में मारे गए थे.


8-कांग्रेस के बागी ने जिताया भाजपा को 

रंजना साहू.
रंजना साहू.

सीट- धमतरी, जिला-धमतरी

कौन जीता– रंजना दीपेंद्र साहू, भाजपा

वोट  मिले- 63,198

हारने वाले- गुरुमुख सिंह होरा, कांग्रेस

वोट मिले- 62,734

जीत का अंतर- 464 वोट

कांग्रेस बागी और जोगी-माया फैक्टर-  यहां कांग्रेस के बागी आनंद पवार को 29,163 वोट  मिले. साथ ही जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ के उम्मीदवार दिग्विजय सिंह कृदत्त को 3,299 वोट मिले. यहां कांग्रेस के टिकट वितरण में गड़बड़ी की वजह से भाजपा ने सीट निकाल ली.


9-कांग्रेस के बागी जीत की बड़ी वजह

अजय चंद्राकर.
अजय चंद्राकर.

सीट- कुरुद, जिला-धमतरी

कौन जीता– अजय चंद्राकर, भाजपा

वोट  मिले- 72,922

हारने वाले- नीलम चंद्राकर, निर्दलीय कांग्रेस बागी

वोट मिले- 60,605

जीत का अंतर- 12,317 वोट

कांग्रेस बागी फैक्टर- नीलम चंद्राकर यहां से निर्दलीय चुनाव लड़ीं. कांग्रेस की बागी थीं. कांग्रेस उम्मीदवार लक्ष्मीकांता साहू को 26,484 वोट मिले. नतीजा रमन सिंह सरकार में मंत्री अजय चंद्राकर चुनाव जीत गए.


10-बसपा-कांग्रेस को लगभग बराबर वोट मिले

डॉक्टर बंधी.
डॉक्टर कृष्णमूर्ति बंधी.

सीट- मस्तुरी, बिलासपुर

कौन जीता-डॉक्टर कृष्णमूर्ति बंधी, भाजपा

वोट  मिले- 67,950

हारने वाले- जयेंद्र सिंह पाटले, बसपा

वोट मिले- 53,843

जीत का अंतर- 14,107 वोट

कांग्रेस फैक्टर- यहां कांग्रेस उम्मीदवार दिलीप लहरिया और बसपा उम्मीदवार जयेंद्र सिंह पाटले बराबर से लड़ गए. कांग्रेस उम्मीदवार भी 53,620 वोट मिले. इससे भाजपा जीत गई.


11-रिचा जोगी की वजह से समीकरण गड़बड़़ाया

सीट- अकालतारा, जिला-जांजगीर चंपा

कौन जीता– सौरभ सिंह, भाजपा

वोट  मिले- 60,502

हारने वाले- रिचा जोगी, बसपा

वोट मिले- 58,648

जीत का अंतर- 1,954

कांग्रेस फैक्टर- यहां कांग्रेस के चुन्नीलाल साहू को 27,667 वोट  मिले.  रिचा जोगी यहां जीतते जीतते हार गईं. रिचा अजीत जोगी की बहू हैं. बसपा से चुनाव लड़ी थीं. सौरभ सिंह इससे पहले का चुनाव बसपा से चुनाव लड़े थे. इन दोनों की लड़ाई में कांग्रस यहां तीसरे नंबर पर पहुंच गई.


वीडियोः छत्तीसगढ़ के सबसे अमीर विधायक के साथ क्या हुआ जीते या हारे ?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

गुजरात चुनाव 2017

गुजरात और हिमाचल में सबसे बड़ी और जान अटका देने वाली जीतों के बारे में सुना?

एक-एक वोट कितना कीमती होता है, कोई इन प्रत्याशियों से पूछे.

गुजरात विधानसभा चुनाव के चार निष्कर्ष

बहुमत हासिल करने के बावजूद चुनाव के नतीजों से बीजेपी अंदर ही अंदर सकते में है.

गुजरात में AAP का क्या हुआ, जो 33 सीटों पर लड़ी थी!

अरविंद केजरीवाल का गुजरात में जादू चला या नहीं?

गुजरात चुनाव के बाद सुशील मोदी को खुला खत

चुनाव के नतीजे आने के बाद भी लिचड़ई नहीं छोड़ रहे.

इस चुनाव में राहुल और हार्दिक से ज्यादा अफसोस इन सात लोगों को हुआ है

इन लोगों ने थोड़ी मेहनत और की होती, तो ये गुजरात की विधानसभा में बैठने की तैयारी कर रहे होते.

राहुल गांधी ने चुनाव में हार के बाद ये 8 बातें बोली हैं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की क्रेडिबिलिटी पर ही सवाल खड़े कर दिए.

गुजरात में हारे कांग्रेस के वो बड़े नेता जिन पर राहुल गांधी को बहुत भरोसा था

इनके बारे में कांग्रेस पार्टी ने बड़े-बड़े प्लान बनाए होंगे.

बीजेपी के वो 8 बड़े नेता जो गुजरात चुनाव में हार गए

इनको प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सभाएं और तमाम टोटके नहीं जिता सके.

पीएम नरेंद्र मोदी ने गुजरात और हिमाचल प्रदेश में जीत के बाद ये 5 बातें कहीं

दोनों प्रदेशों में भगवा लहराया मगर गुजरात की जीत पर भावुक दिखे पीएम.

ये सीट जीतकर कांग्रेस ने शंकरसिंह वाघेला से बदला ले लिया है

वाघेला ने इस सीट पर एक निर्दलीय प्रतायशी को वॉकओवर दिया था.