Submit your post

Follow Us

इस चुनाव में राहुल और हार्दिक से ज्यादा अफसोस इन सात लोगों को हुआ है

300
शेयर्स

गुजरात की तस्वीर अब पूरी तरह से साफ हो गई है. बीजेपी लगातार छठी बार सरकार बनाने जा रही है. बीजेपी में मुख्यमंत्री के नाम पर चर्चा हो रही है, तो कांग्रेस अपनी हार के कारणों की समीक्षा कर रही होगी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पूरे गुजरात में चुनावी दौरे किए. नतीजे आए, तो ये साफ हो गया कि मोदी राहुल पर भारी पड़े हैं. हालांकि अगर कुछ लोगों ने थोड़ी-बहुत मेहनत और कर ली होती. कुछ वोट और बटोर लिए होते तो तस्वीर दूसरी होती. गुजरात में रिजल्ट आने के बाद कुल सात ऐसी सीटें हैं, जहां जीत-हार का अंतर 1000 से भी कम रहा है.

1. डांग

Vijay patel Dang

डांग में कांग्रेस के मंगलभाई गावित ने बीजेपी के विजयभाई पटेल को हरा दिया है.

मंगलभाई गावित को वोट मिले : 57820

विजयभाई पटेल को वोट मिले : 57052

अंतर : 768

2.दीयोदर

Keshaji chauhan

दीयोदर में कांग्रेस के शिवाभाई भूरिया ने बीजेपी के केशाजी चौहान को हरा दिया है.

शिवाभाई भूरिया को वोट मिले : 80432

केशाजी चौहान को वोट मिले : 79460

अंतर : 972

3. कपराडा

Madhu Raut

कपराडा में कांग्रेस के जीतूभाई चौधरी ने बीजेपी के मधुभाई राउत को हरा दिया है.

जीतूभाई चौधरी को वोट मिले : 93000

मधुभाई राउत को वोट मिले : 92830

अंतर : 170

4.मनसा

Amit Chaudhari

मनसा में कांग्रेस के सुरेश कुमार पटेल ने बीजेपी के अमितभाई चौधरी को हरा दिया है.

सुरेश कुमार पटेल को वोट मिले :77902

अमितभाई चौधरी को वोट मिले : 77378

अंतर : 524

5. ढोलका

Ashwin Rathod

बीजेपी के भूपेंद्रभाई चूडास्मा ने कांग्रेस के अश्विनभाई राठौड़ को हरा दिया है.

भूपेंद्रभाई चूडास्मा को वोट मिले : 71530

अश्विनभाई राठौड़ को वोट मिले : 71203

अंतर : 327

6. गोधरा

Rajendra Parmar

बीजेपी के सीके राउलजी ने कांग्रेस के राजेंद्रसिंह परमार को हरा दिया है.

सीके राउलजी को वोट मिले : 75149

राजेंद्रसिंह परमार को वोट मिले : 74891

अंतर : 258

7. बोटाद

DM Patel

बोटाद में बीजेपी के सौरभ पटेल ने कांग्रेस प्रत्याशी डीएम पटेल को हरा दिया है.

सौरभ पटेल को वोट मिले : 79623

डीएम पटेल को वोट मिले : 78713

अंतर : 906

इसके अलावा 9 और सीटें हैं, जहां हार-जीत का अंतर 2000 या उससे कम का रहा है.

1.छोटा उदयपुर

कांग्रेस के छोटूभाई राठवा ने बीजेपी के जसूभाई राठवा को हरा दिया.

अंतर : 1099

2. गरियाधर

बीजेपी के केशुभाई नकरानी ने कांग्रेस के परेशभाई खेनी को मात दी.

अंतर : 1876

3. हिम्मतनगर

बीजेपी के राजेंद्र सिंह चावड़ा ने कांग्रेस के कमलेश कुमार पटेल को हराया था.

अंतर : 1712

4. मोडासा

कांग्रेस के राजेंद्रसिंह ठाकोर ने बीजेपी के भीखूसिंह जी परमार को हरा दिया.

अंतर : 1640

जरा से अंतर से हार गए.
जरा से अंतर से हार गए.

5. पोरबंदर

बीजेपी के बाबूभाई बोखिरीया ने कांग्रेस के अर्जुन मोढवाडिया को हरा दिया.

अंतर : 1855

6. तलाजा
कांग्रेस के कनुभाई बारिया ने बीजेपी के गौतमभाई चौहान को हराया है.
अंतर : 1779

7.उमरेठ

बीजेपी के गोविंदभाई परमार ने कांग्रेस की कपिलाबेन चावड़ा को मात दी है.

अंतर : 1883

8.वीजापुर

बीजेपी के रमनभाई पटेल ने कांग्रेस के नाथाभाई पटेल को हराया है.

अंतर : 1164

9.वांकानेर

कांग्रेस के महम्मदजावीद पीरजादा ने बीजेपी के जीतू सोमानी को मात दी है.

अंतर : 1361


ये भी पढ़ें:

राहुल गांधी ने चुनाव में हार के बाद ये 8 बातें बोली हैं

बीजेपी के वो 8 बड़े नेता जो गुजरात चुनाव में हार गए

वो पांच वजहें जिससे हिमाचल में राहुल गांधी की कांग्रेस हार गई

इन चार निर्दलियों के आगे गुजरात और हिमाचल में बीजेपी कैंडिडेट्स ने पानी नहीं मांगा

वीडियो में  देखिए किसका एग्जिट पोल सही साबित हुआ

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

चुनाव 2018

कमल नाथ मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री, कैबिनेट में ये नाम हो सकते हैं शामिल

कमल नाथ पहली बार दिल्ली से भोपाल की राजनीति में आए हैं.

राजस्थान: हो गया शपथ ग्रहण, CM बने गहलोत और पायलट बने उनके डेप्युटी

राहुल गांधी, मनमोहन सिंह समेत कांग्रेस के ज्यादातर बड़े नेता जयपुर के अल्बर्ट हॉल पहुंचे हैं.

मायावती-अजित जोगी के ये 11 कैंडिडेट न होते, तो छत्तीसगढ़ में भाजपा की 5 सीटें भी नहीं आती

कांग्रेस के कुछ वोट बंट गए, भाजपा की इज़्ज़त बच गई.

2019 पर कितना असर डालेंगे पांच राज्यों के चुनावी नतीजे?

क्या मोदी के लिए परेशानी खड़ी कर पाएंगे राहुल गांधी?

क्या अशोक गहलोत ने मुख्यमंत्री की कुर्सी के लिए अपनी गोटी सेट कर ली है

लेकिन सचिन पायलट का एक दाव अशोक गहलोत को चित्त कर सकता है.

मोदी सरकार के लिए खतरे की घंटी क्यों हैं ये नतीजे?

आज लोकसभा चुनाव हो जाएं तो पांच राज्यों में भाजपा को क्यों लगेगा जोर का झटका?

भंवरी देवी सेक्स सीडी कांड से चर्चित हुई सीटों पर क्या हुआ?

इस केस में विधायक और मंत्री जेल में गए.

क्या शिवराज के कहने पर कलेक्टरों ने परिणाम लेट किए?

सोशल मीडिया का दावा है. जानिए कि परिणामों में देरी किस तरह हो जाती है.

राजस्थान चुनाव 2018 का नतीजा : ये कांग्रेस की हार है

फिनिश लाइन को पार करने की इस लड़ाई में कांग्रेस ने एक बड़ा मौका गंवा दिया.

बीजेपी को वोट न देने पर गद्दार और देशद्रोही कहने वाले कौन हैं?

जनता ने मूड बदला तो इनके तेवर बदल गए और गालियां देने लगे.