Submit your post

Follow Us

सिद्धू के सलाहकार पर 'हिंदुओं' के खिलाफ भड़काऊ बयानबाजी का आरोप, FIR दर्ज

पांच राज्यों के चुनाव में वैसे तो यूपी को मीडिया ज्यादा तवज्जो देता है, लेकिन इस बार पंजाब में लगातार बरकरार सियासी हलचल की वजह से ये चुनावी सूबा भी सुर्खियों में बना हुआ है. ताज़ा मामला जुड़ा है नवजोत सिंह सिद्धू के प्रिंसिपल एडवाइज़र मोहम्मद मुस्तफा से. दरअसल, मुस्तफा का एक वीडियो वायरल हो गया. और इस वीडियो में बीजेपी उन पर एक समुदाय के खिलाफ आपत्तिजनक बयान देने का आरोप लगा रही है. उनके खिलाफ FIR भी हो गई है.

क्या है पूरा मामला?

बीजेपी नेता शाज़िया इल्मी ने ट्विटर पर एक मिनट 9 सेकेंड का वीडियो शेयर किया.

इस वीडियो में मुस्फता ये कहते हुए सुनाई दे रहे है.

“मैं कानून के हिसाब से चलने वाला इंसान हूं. मेरा जलसा यहां होना था. इन्होंने शोर मचाने की कोशिश की है. अगर दोबारा इन्होंने ऐसा किया तो मैं अल्लाह की कसम खा कर कहता हूं मैं इनका कोई भी जलसा नहीं होने दूंगा. मैं कौमी फॉजी हूं. मैं कौमी सिपाही हूं. मैं RSS का एजेंट नहीं हूं कि डर कर घर में बैठ जाऊंगा. अगर दोबारा इन्होंने ऐसी हरकत की तो खुदा की कसम इनके घर में घुस कर मारूंगा. आज मैं सिर्फ इनको वॉर्निंग दे रहा हूं. मैं वोटों के लिए नहीं लड़ रहा मैं कौम के लिए लड़ रहा हूं. मैं जिला पुलिस और जिला प्रशासन को भी बताना चाहता हूं अगर दोबारा ऐसी हरकत हुई. मेरे जलसे के बराबर के दोबारा अगर इन फितनों को इजाजत दी गई तो मैं ऐसे हालात पैदा करूंगा कि संभालना मुश्किल हो जाएगा.”

वीडियो सामने आने के बाद पंजाब में बीजेपी ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की. बीजेपी ने आरोप लगाया कि मुस्तफा धार्मिक सौहार्द बिगाड़ने की कोशिश कर रहे हैं. प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान शाजिया इल्मी ने कहा कि मुस्फता दंगा भड़काने की कोशिश कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि मुस्तफा एक धर्म विशेष का नाम लेकर उसके खिलाफ टिप्पणी रहे हैं और जिला प्रशासन को चुनौती दे रहे हैं. इस मामले पर शाजिया ने राहुल गांधी और प्रियंका गांधी पर भी निशाना साधा और कहा कि कांग्रेस पार्टी को इस पर जवाब देना होगा.

मुस्तफा पर FIR दर्ज

मोहम्मद मुस्तफा का ये वीडियो 20 जनवरी की रात का बताया जा रहा है, जब वो पंजाब के मलेरकोटला में चुनाव प्रचार कर रहे थे. इस मामले में मलेरकोटला पुलिस ने मुस्फता के खिलाफ FIR दर्ज कर ली है. द ट्रिब्यून की खबर के मुताबिक पुलिस ने मुस्तफा के खिलाफ दो समुदायों के बीच नफरत पैदा करने के आरोप में मामला दर्ज किया है. इस मामले में पंजाब के पूर्व सीएम और पंजाब लोक कांग्रेस के अध्यक्ष कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि मुस्तफा को जेल की सलाखों के पीछे होना चाहिए. उन्होंने कहा मैंने वो वीडियो देखी और उस वीडियो में मुस्तफा पंजाब में शांति भंग करना चाह रहे हैं.

कौन हैं मोहम्मद मुस्तफा?

मोहम्मद मुस्तफा पंजाब के पूर्व DGP रहे चुके हैं. फिलहाल वो कांग्रेस पार्टी से जुडे़ हैं और पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू के सलाहकार हैं. मोहम्मद मुस्तफा की पत्नी रज़िया सुल्ताना पंजाब सरकार में कैबिनेट मंत्री हैं. रज़िया मलेरकोटला सीट से कांग्रेस उम्मीदवार हैं. रज़िया के चुनाव प्रचार के दौरान ही मलेरकोटला में मुस्तफा ने ये बयान दिया था. मलेरकोटला मुस्लिम बाहुल्य विधान सभा क्षेत्र है.

Mustafa
मोहम्मद मुस्तफा. फोटो: ANI

मुस्तफा की सफाई

इस मामले में मुस्तफा ने सफाई दी है. मुस्तफा ने कहा,

“मैंने किसी धर्म का नाम नहीं लिया. मैंने ‘फितनों’ शब्द का इस्तेमाल किया था जिसका मतलब हूलिगन्स या बदमाश होता है. चुनाव प्रचार के दौरान आम आदमी पार्टी के लोग मुझे परेशान करने की कोशिश कर रहे थे इसलिए मेरा गुस्सा फूट पड़ा.”

इंडिया टुडे के पास मुस्तफा के उस बयान का पूरा वीडियो है जिसे शाज़िया इल्मी ने ट्वीट किया था. इस वीडियो के अंत मुस्तफा ये कहते हुए सुनाई दे रहे हैं.

“मैं इसी जगह जलसा करूंगा. मैं झाड़ू वालों को घर में जाकर झाड़ू से पीटूंगा.”

मुस्तफा ने अपने भाषण में हिंदू शब्द का इस्तेमाल करने से मना किया है. उनका कहना है कि इस मामले को बेवजह धार्मिक रंग देने की कोशिश की जा रही है.


 

वीडियो: बीटिंग रिट्रीट में इस बार नहीं बजेगी महात्मा गांधी की पसंदीदा धुन

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

गुजरात चुनाव 2017

गुजरात और हिमाचल में सबसे बड़ी और जान अटका देने वाली जीतों के बारे में सुना?

गुजरात और हिमाचल में सबसे बड़ी और जान अटका देने वाली जीतों के बारे में सुना?

एक-एक वोट कितना कीमती होता है, कोई इन प्रत्याशियों से पूछे.

गुजरात विधानसभा चुनाव के चार निष्कर्ष

गुजरात विधानसभा चुनाव के चार निष्कर्ष

बहुमत हासिल करने के बावजूद चुनाव के नतीजों से बीजेपी अंदर ही अंदर सकते में है.

गुजरात में AAP का क्या हुआ, जो 33 सीटों पर लड़ी थी!

गुजरात में AAP का क्या हुआ, जो 33 सीटों पर लड़ी थी!

अरविंद केजरीवाल का गुजरात में जादू चला या नहीं?

गुजरात चुनाव के बाद सुशील मोदी को खुला खत

गुजरात चुनाव के बाद सुशील मोदी को खुला खत

चुनाव के नतीजे आने के बाद भी लिचड़ई नहीं छोड़ रहे.

इस चुनाव में राहुल और हार्दिक से ज्यादा अफसोस इन सात लोगों को हुआ है

इस चुनाव में राहुल और हार्दिक से ज्यादा अफसोस इन सात लोगों को हुआ है

इन लोगों ने थोड़ी मेहनत और की होती, तो ये गुजरात की विधानसभा में बैठने की तैयारी कर रहे होते.

राहुल गांधी ने चुनाव में हार के बाद ये 8 बातें बोली हैं

राहुल गांधी ने चुनाव में हार के बाद ये 8 बातें बोली हैं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की क्रेडिबिलिटी पर ही सवाल खड़े कर दिए.

गुजरात में हारे कांग्रेस के वो बड़े नेता जिन पर राहुल गांधी को बहुत भरोसा था

गुजरात में हारे कांग्रेस के वो बड़े नेता जिन पर राहुल गांधी को बहुत भरोसा था

इनके बारे में कांग्रेस पार्टी ने बड़े-बड़े प्लान बनाए होंगे.

बीजेपी के वो 8 बड़े नेता जो गुजरात चुनाव में हार गए

बीजेपी के वो 8 बड़े नेता जो गुजरात चुनाव में हार गए

इनको प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सभाएं और तमाम टोटके नहीं जिता सके.

पीएम नरेंद्र मोदी ने गुजरात और हिमाचल प्रदेश में जीत के बाद ये 5 बातें कहीं

पीएम नरेंद्र मोदी ने गुजरात और हिमाचल प्रदेश में जीत के बाद ये 5 बातें कहीं

दोनों प्रदेशों में भगवा लहराया मगर गुजरात की जीत पर भावुक दिखे पीएम.

ये सीट जीतकर कांग्रेस ने शंकरसिंह वाघेला से बदला ले लिया है

ये सीट जीतकर कांग्रेस ने शंकरसिंह वाघेला से बदला ले लिया है

वाघेला ने इस सीट पर एक निर्दलीय प्रतायशी को वॉकओवर दिया था.